Ginger : अदरक क्या है?

By Medically reviewed by Dr. Pooja Bhardwaj

अदरक का परिचय

अदरक किस लिए इस्तेमाल किया जाता है?

अदरक का इस्तेमाल मिचली ,मोशन सिकनेस, प्रेगनेंसी और कैंसर कीमोथेरेपी के दौरान होने होने वाली उल्टी को रोकने के लिए किया जाता है। इसके अलावा इसका इस्तेमाल पेट संबंधी समस्याएं जैसे अपच को ठीक करने या ओस्टियो-आर्थराइटिस के दर्द को कम करने या हृदय से जुड़ी बीमारियों में भी होता है।

अदरक कैसे काम करता है?

इसमें ऐसे कई सारे केमिकल होते हैं जो सूजन और मिचली को कम करने का काम करते हैं।

रिसर्च करने वाले लोग ऐसा मानते हैं कि इसमें मौजूद केमिकल मुख्यतः पेट और आंतो में काम करते है लेकिन इसके अलावा ये केमिकल दिमाग और नर्वस सिस्टम पर भी असर डालते हैं जिसकी वजह से मिचली को नियंत्रित किया जाता है।

अदरक से जुड़ी सावधानियां और चेतावनी

अदरक के सेवन से पहले मुझे इसके बारे में क्या जानकारी होनी चाहिए?

इसका इस्तेमाल करने से पहले आपको डॉक्टर या फार्मासिस्ट या फिर हर्बल विशेषज्ञ से सलाह लेनी चाहिए, यदि

  • आप गर्भवती हैं या स्तनपान कराती हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि जब आप बच्चे को फीडिंग कराती हैं तो अपने डॉक्टर के मुताबिक़ ही आपको दवाओं का सेवन करना चाहिए।
  • आप कोई दूसरी दवा ले रहे हैं जोकि बिना डॉक्टर की पर्ची के आसानी से मिल जाते हैं।
  • आप पहले से किसी तरह की बीमारी जैसे पथरी की समस्या से ग्रसित हैं।
  • आपको पहले से ही खाने पीने वाली चीजों, डाइ या किसी जानवर आदि से एलर्जी हो।
  • आप किसी सर्जरी या किसी एनास्थीसिया के इस्तेमाल से पहले अदरक का सेवन करना चाहते हैं तो पहले डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

हर्बल सप्लीमेंट के उपयोग से जुड़े नियम, दवाओं के नियमों जितने सख्त नहीं होते हैं। इनकी उपयोगिता और सुरक्षा से जुड़े नियमों के लिए अभी और शोध की ज़रुरत है। इस हर्बल सप्लीमेंट के इस्तेमाल से पहले इसके फायदे और नुकसान की तुलना करना ज़रुरी है। इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए किसी हर्बल विशेषज्ञ या आयुर्वेदिक डॉक्टर से संपर्क करें।

अदरक कैसे सुरक्षित है?

बच्चों में :

ऐसा माना जाता है कि दो साल से छोटे बच्चों के लिए अदरक सुरक्षित नहीं है।

प्रेगनेंसी के दौरान :

प्रेगनेंसी के समय अदरक का इस्तेमाल अभी विवादास्पद है। ऐसे कई मामले हैं जहां अदरक, होने वाले बच्चों के सेक्स हॉर्मोन को प्रभावित करता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गर्भवती महिला को रोज़ाना एक ग्राम से ज्यादा अदरक का सेवन नहीं करना चाहिए।

स्तनपान के दौरान :

स्तनपान के दौरान अदरक के इस्तेमाल को लेकर अभी बहुत ज्यादा जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसलिए बेहतर यही होगा कि स्तनपान के समय अदरक का सेवन करने से परहेज करें।

अदरक के साइड इफेक्ट

अदरक के इस्तेमाल से मुझे क्या क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

आमतौर पर अदरक के सेवन से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं

  • चिढ़चिढ़ापन
  • डायरिया
  • पेट से जुडी समस्याएं
  • पीरियड के दौरान ब्लीडिंग
  • त्वचा में खुजली होना

हालांकि हर किसी को ये साइड इफ़ेक्ट हों ऐसा ज़रुरी नहीं है। कुछ ऐसे भी साइड इफ़ेक्ट हो सकते हैं जो ऊपर बताए नहीं गए हैं। अगर आपको इनमें से कोई भी साइड इफ़ेक्ट महसूस हो या आप इनके बारे में और जानना चाहते हैं तो नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

अदरक से जुड़े परस्पर प्रभाव या अदरक से पड़ने वाले प्रभाव

अदरक के सेवन से अन्य किन-किन चीजों पर प्रभाव पड़ सकता है ?

अदरक के सेवन से आपकी बीमारी या आप जो वतर्मान में दवाइयां खा रहे हैं उनके असर पर प्रभाव पड़ सकता है। इसलिए सेवन से पहले डॉक्टर से इस विषय पर बात करें।

अदरक निम्नलिखित दवाओं के असर को प्रभावित कर सकता है। जैसे,

  • ब्लड को पतला करने वाली दवाइयां: अदरक ब्लीडिंग के खतरे को बढ़ा सकता है। क्लॉटिंग को कम करने वाली दवाइयों के साथ अगर अदरक का इस्तेमाल किया गया तो ब्लीडिंग की संभावना बढ़ सकती है। जैसे एस्प्रिन, क्लोपीडोग्रेल (प्लाविक्स), डिक्लोफेनाक (वोल्टारेन, कैटाफ्लेम, अन्य), आइबूप्रोफ्रेन (एड्विल, मोट्रीन एवं अन्य), नेप्रोक्सेन ( ऐनारोक्स, नेप्रोसिन एवं अन्य), डेल्टापैरिन (फ्रैग्मिन), इनोक्सापैरिन (लिवोनोक्स), हिपेरिन, वॉरफैरिन (कोमाडीन), फेनप्रोकॉमन (एक एंटी-क्लॉटिंग दवा जोकि यूएस के बाहर उपलब्ध है) एवं अन्य।
  • डायबिटीज से जुडी दवाएं: अदरक ब्लड शुगर लेवल को कम कर सकता है जिसकी वजह से हाइपोग्लाईसीमिया का खतरा बढ़ सकता है।
  • हाई ब्लड प्रेशर से जुडी दवाएं: अदरक आपके ब्लड प्रेशर को कम कर सकता है जिसकी वजह से आपकी हार्टबीट अनियंत्रित हो सकती है।

अदरक की खुराक

यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प ना मानें। किसी भी दवा या सप्लीमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह ज़रुर लें।

आमतौर पर कितनी मात्रा में अदरक खाना चाहिए?

अदरक की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई चीजों पर निर्भर करती है। अदरक सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

बच्चों में:

दो साल से कम आयु के बच्चों को अदरक का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

दो साल से ऊपर के बच्चे मिचली, पेट दर्द, सिर दर्द में अदरक का सेवन कर सकते हैं। इसकी सही खुराक के लिए अपने डॉक्टर से सम्पर्क ज़रुर करें।

वयस्कों में :

खाने के रूप में इस्तेमाल : चार ग्राम से ज्यादा मात्रा में अदरक का सेवन नहीं करना चाहिए।

  • मिचली, गैस या अपच में: कुछ अध्ययनों के मुताबिक रोज़ाना एक ग्राम अदरक अलग अलग खुराक में लेनी चाहिए।
  • प्रेगनेंसी के दौरान उल्टी में: इस दशा में 650 mg से एक ग्राम अदरक का सेवन कर सकते हैं। बिना डॉक्टर से सलाह लिए अदरक का सेवन ना करें।
  • आर्थराइटिस के दर्द में: रोज़ाना दिन में चार बार 250 mg अदरक का सेवन करना चाहिए।
  • पीरियड के दौरान होने वाले दर्द में: पीरियड्स शुरू होने के तीन दिन बाद आप 250 mg अदरक एक्सट्रेक्ट( जिन्टोमा, गोल्दारू) रोज़ाना दिन में चार बार ले सकते हैं। इसके अलावा पीरियड्स शुरू होने के दो दिन पहले और पीरियड्स के शुरूआती तीन दिन तक आप 1500 mg अदरक पाउडर रोज़ाना तीन अलग अलग खुराकों में इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • मोशन सिकनेस में: इसके लिए 500 से 2500 mg अदरक रोज़ाना 2 से 4 अलग अलग खुराकों में 3 दिन से लेकर 3 हफ्ते तक इस्तेमाल करना चाहिए।
  • सर्जरी के बाद उल्टी और मिचली में: एनास्थीसिया लेने के 30 से 60 मिनट पहले 1-2 ग्राम अदरक पाउडर इस्तेमाल किया जा सकता है। कभी कभी सर्जरी के 2 घंटे बाद भी 1 ग्राम अदरक इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • एचआईवी/ एड्स के इलाज के दौरान होने वाली मिचली और उल्टी में: हर एंटी-रेट्रोवायरल इलाज से 30 मिनट पहले तक रोज़ाना लगातार 14 दिनों तक 1 ग्राम अदरक 2 अलग अलग खुराकों में इस्तेमाल किया जा सकता है।

लगाने के रुप में इस्तेमाल (Topical Route) :

ओस्टियो-आर्थराइटिस में: एक खास किस्म का जेल जिसमे अदरक और प्लाई (प्लाईजर्सिक जेल, थाईलैंड इंस्टीट्यूट ऑफ़ साइंटिफिक एंड टेक्नोलोजिकल रिसर्च) चार ग्राम रोजाना, चार अलग अलग खुराकों में छह हफ्ते के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

अदरक किन रूपों में उपलब्ध है?

अदरक सप्लीमेंट निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध हो सकता है

  • अदरक एक्सट्रेक्ट, टिंचर, जेल, कैप्सूल, और तेल
  • ताज़ा अदरक की जड़ जो चाय बनाने में इस्तेमाल होती है।
सूत्र

रिव्यू की तारीख जुलाई 8, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया सितम्बर 21, 2019

शायद आपको यह भी अच्छा लगे