backup og meta

एक्सक्लूसिव: डॉ नरेश त्रेहान ने दी कोविड -19 के ट्रीटमेंट ट्रायल से जुड़ी अहम जानकारी, इस खास नेज़ल स्प्रे के उपयोग पर रखा अपना मत!


Toshini Rathod द्वारा लिखित · अपडेटेड 20/05/2021

एक्सक्लूसिव: डॉ नरेश त्रेहान ने दी कोविड -19 के ट्रीटमेंट ट्रायल से जुड़ी अहम जानकारी, इस खास नेज़ल स्प्रे के उपयोग पर रखा अपना मत!

कोविड 19 की दूसरी लहर देश में कई लोगों की जाने ले चुकी हैं और ये स्थिति बद से बदतर होते हुए देखी जा सकती है। जहां एक ओर देश में कोविड 19 वैक्सीनेशन का दौरा जारी है, वहीं कोविड 19 के इस नए म्युटेंट ने देश के युवाओं को अपना निशाना बनाया हुआ है। हाल ही में आई खबर के अनुसार DRDO ने कोरोना की एकमात्र दवा लॉन्च करने की घोषणा की है, जिसके बाद देश में इस जानलेवा लहर से उबरने के आसार दिखाई दे रहे हैं। जिस प्रकार देश में कोरोना की दवा (Corona Medicine) के लिए जद्दोजहद हो रही है, उसी प्रकार यूके और कैनेडा में एक ऐसी ही दवा एमरजेंसी यूज़्ड अप्रूवल के लिए भेजी गई है। इस दवा के बारे में हैलो स्वास्थ्य ने हाल ही में बात की डॉ नरेश त्रेहान (Dr Naresh Trehan) से। कोविड 19 पर डॉ नरेश त्रेहान ने जो जानकारी दी, उसके अनुसार जल्द ही भारत में भी कोरोना की दवा का आगमन हो सकता है। आइये जानते हैं कोविड 19 पर डॉ नरेश त्रेहान ने लोगों को किन-किन बातों से रूबरू करवाया। लेकिन उससे पहले जान लेते हैं कोरोना की इस खास दवा के बारे में ये जरूरी बातें। 

और पढ़ें: कोरोना के दौरान कैंसर मरीजों की देखभाल में रहना होगा अधिक सतर्क, हो सकता है खतरा

कोविड 19 का इलाज – क्या हो सकता है नेज़ल स्प्रे? (Covid 19 Treatment) 

कोविड 19 पर डॉ नरेश त्रेहान (Dr Naresh Trehan on covid 19)

हममें से कई लोग होंगे, जिन्होंने सर्दी के दौरान नेज़ल स्प्रे का इस्तेमाल किया होगा। लेकिन यदि आपसे ये कहा जाए कि ये नेज़ल स्प्रे कोविड 19 वायरस को ख़त्म करने में सहायक हो सकता है, तो आप भी अचंभित रह जाएंगे। हाल ही में यूके में हुई एक स्टडी से ये बात साफ़ हुई है। बायोटेक कंपनी सेनोटाइज रिसर्च एंड डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन (SaNOtize) द्वारा बनाए गए सेनोटाइज नाइट्रिक ऑक्साइड नेज़ल स्प्रे (SaNOtize’s Nitric Oxide Nasal Spray -NONS) को कोविड 19 ट्रीटमेंट में एक इफ्फेक्टिव एंटी वायरल नेज़ल स्प्रे (Nasal Spray – NONS) के रूप में पहचान मिलती नजर आ रही है। कहा जा रहा है कि सेनोटाइज नाइट्रिक ऑक्साइड नेज़ल स्प्रे कोविड 19 से ग्रसित लोगों में सीवीएरिटी और कोर्स को कम करने में असरदार है। कोविड 19 पर डॉ नरेश त्रेहान (Dr Naresh Trehan on covid 19) ने जो जानकारी दी, वो भी इसी से जुड़ी हुई है, लेकिन उससे पहले आइये इससे जुड़ी एक रिसर्च के बारे में आपको बताते हैं। 

क्या कहती है सेनोटाइज नाइट्रिक ऑक्साइड नेज़ल स्प्रे से जुड़ी रिसर्च? (Research on SaNOtize’s Nitric Oxide Nasal Spray -NONS)

डबल ब्लाइंड, प्लासबो कंट्रोल्ड फेज 2 ट्रायल के दौरान कोविड 19 के कन्फर्म्ड केसेस में से 79 लोगों पर ये रिसर्च की गई। इस रिसर्च में पाया गया कि सेनोटाइज नाइट्रिक ऑक्साइड नेज़ल स्प्रे इस्तेमाल से SARS-CoV-2 के लेवल पर सीधा असर पड़ा, यहां तक उन लोगों में भी इसका असर साफ़ तौर पर दिखाई दिया, जो हाय वायरल लोड से ग्रसित थे। पहले 24 घंटों में इसका एवरेज वायरल लॉग रिडक्शन 95 प्रतिशत तक देखा गया, वहीं अगले 72 घंटों में इसका वायरल लोड 99 प्रतिशत तक कम होता देखा गया। इस रिसर्च में ज्यादातर लोग वो थे, जो कोविड 19 के यूके  वेरिएंट से ग्रसित थे। इस ट्रायल में ये भी देखा गया कि सेनोटाइज नाइट्रिक ऑक्साइड नेज़ल स्प्रे (SaNOtize’s Nitric Oxide Nasal Spray -NONS) के कोविड 19 पेशंट पर कोई भी एडवर्स इफ्फेक्ट यानी कि साइड इफेक्ट नहीं देखे गए।

और पढ़ें: फेफड़ों के बाद दिमाग पर अटैक कर रहा कोरोना वायरस, रिसर्च में सामने आईं ये बातें

कोविड 19 पर डॉ नरेश त्रेहान : क्या कहते हैं एक्सपर्ट? (Dr Naresh Trehan on covid 19)

कोविड 19 पर डॉ नरेश त्रेहान (Dr Naresh Trehan on covid 19)  ने इसी स्प्रे का जिक्र किया। देश के जानेमाने हार्ट सर्जन और मेदांता सिटी हॉस्पिटल के फाउंडर डॉ नरेश त्रेहान ने एक वेबिनार के ज़रिये बताया, “सेनोटाइज नाइट्रिक ऑक्साइड नेज़ल स्प्रे, नाइट्रिक एसिड से बना हुआ है, जिसे उन बच्चों के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है, जिनकी हार्ट सर्जरी हुई हो या जो कंजेनाईटल हायपरटेंशन पल्मनरी से गुजर रहे हों। सेनोटाइज नाइट्रिक ऑक्साइड नेज़ल स्प्रे (SaNOtize’s Nitric Oxide Nasal Spray -NONS) एक वायरोसायडल भी है, जिसका इस्तेमाल अगर आप तब करते हैं, जब वायरस आपकी नाक और गले में, यानी कि अपर रेस्पायरेटरी ट्रैक में अपनी संख्या बढ़ा रहा हो, तो ये वायरल लोड को घटा देता है। तो इसका मतलब है कि या तो ये वायरस को पूरी तरह मार देगा या आपके वायरल लोड को ये घटा देगा। इसलिए इस पर अब टेस्ट किये जा रहे हैं और जल्द ही देश में भी इस्तेमाल के लिए उपलब्ध होगा। साथ ही साथ इजरायल में भी इसी दवा को लेकर टेस्ट किये जा रहे हैं, जिसमें हम भी उनके साथ जुड़े हुए हैं। समय के साथ ये दवा हमारे देश में भी उपलब्ध होने के आसार नजर आ रहे हैं।’ 

और पढ़ें: कोरोना का प्रभाव: जानिए 14 दिनों में यह वायरस कैसे आपके अंगों को कर देता है बेकार

हवा में कोरोना वायरस? क्या है सच? (Corona virus in air) 

इसके अलावा एक सवाल जो इन दिनों लोगों के मन में घर कर रहा है, वो है कि क्या कोरोना वायरस हवा में मौजूद है? इस सवाल का जवाब भी कोविड 19 पर डॉ नरेश त्रेहान (Dr Naresh Trehan on covid 19) की दी जानकारी में मिल जाएगा। डॉ त्रेहान के मुताबिक, “कोविड 19 वायरस ड्रॉपलेट के जरिये ही फैलता है। लेकिन पिछले बार की तुलना में अब ये वायरस लम्बे समय तक हवा में मौजूद रह सकता है। इसलिए जब आप उस जगह पर मौजूद होते हैं, जहां किसी के खांसते, छींकते या बात करते वक्त ड्रॉपलेट हवा में फ़ैल रहे हैं, तो आप आसानी से इस वायरस के शिकार हो सकते हैं। इस स्थिति से निपटने के लिए आपको पहले से ज्यादा ध्यान रखने और खुद को मास्क के जरिये बचाने की जरूरत होगी। जब भी आप बाहर जाएं, हमेशा डबल मास्क (Double mask) का इस्तेमाल करें और घर में सिंगल मास्क लगाकर किसी से मिलें।’ 

और पढ़ें: कोरोना वायरस के बाद नए इंफेक्शन का खतरा, जानिए क्या है म्युकोरमाइकोसिस (Mucormycosis)

समय के साथ जिस तरह कोविड 19 (Covid 19) ने अपनी दिशा बदली है, उसी तरह हमें भी बेहतर तकनीक और सेफ्टी मेजर्स के साथ इसका सामना करना होगा। जब बात हो रही हो कोविड 19 से बचाव की, तो आपको एक्सपर्ट्स द्वारा जारी की गई सूचनाओं को ध्यान में रख कर उनका पालन करना चाहिए। जिससे आप और आपका परिवार इस जानलेवा वायरस की चपेट में आने से बच जाए। 

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।


Toshini Rathod द्वारा लिखित · अपडेटेड 20/05/2021

advertisement iconadvertisement

Was this article helpful?

advertisement iconadvertisement
advertisement iconadvertisement