home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Rabies: रेबीज क्या है?

परिचय|कैसे फैलता है|लक्षण|कारण|निवारण|निवारण|निदान|इलाज
Rabies: रेबीज क्या है?

परिचय

रेबीज (Rabies) क्या है?

रेबीज एक घातक वायरस है जो संक्रमित जानवरों की लार से लोगों में फैलता है। रेबीज वायरस आमतौर पर एक काटने के माध्यम से फैलता है। रेबीज एक ऐसा खतरनाक वायरस है जो सीधे आपकी तंत्रिका तंत्र (Nervous system) पर हमला करता है। यह केवल स्तनधारियों (The mammals) में पाया जाता है। एक बार जब किसी व्यक्ति में रेबीज के लक्षण दिखना शुरू कर देता है, तो यह बीमारी ज्यादातर आपके मौत का कारण बनती है। इस कारण से, जिस किसी को भी रेबीज के अनुबंध का खतरा हो सकता है, उसे सुरक्षा के लिए रेबीज के टीकाकरण प्राप्त करना चाहिए। रेबीज अमेरिका में जो जानवर रेबीज को फैलाते हैं उनमें रैकून (Raccoons), चमगादड़ (Bat), लोमड़ी (Foxes), कोयोट (Coyotes) और झालर (Skunks) शामिल हैं। अफ्रीका और दक्षिण पूर्व एशिया के विकासशील देशों में यह, आवारा कुत्तों से लोगों में रेबीज फैलने की सबसे अधिक संभावना होती है।

कैसे फैलता है

रेबीज (Rabies) कैसे फैलता है?

आम तौर पर, रेबीज किसी संक्रमित जानवर के तेज काटने या खरोंच से फैलता है।संक्रमण तब भी हो सकता है जब संक्रामक सामग्री (Infectious material) जैसे कि लार जब मानव त्वचा के सीधे संपर्क में आती है। अमेरिका में, रेबीज ज्यादातर जंगली जानवरों जैसे रैकून (Raccoons), चमगादड़ (Bat), लोमड़ी (Foxes), कोयोट (Coyotes) और झालर (Skunks) में पाया जाता है, लेकिन वायरस से संक्रमित लगभग सभी मनुष्यों को यह पालतू कुत्तों से मिला। रेबीज से बचने का सबसे अच्छा तरीका है कि आपके पालतू जानवरों को टीका लगाया जाए।

लक्षण

रेबीज के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Rabies)

जब आपको इंफेक्टेड जानवर काटता है या आप रेबीज के संपर्क में आते हैं तो रेबीज वायरस के लक्षणों को पैदा करने से पहले वायरस को शरीर के माध्यम से मस्तिष्क तक पहुंचना होता है,जिसके बाद ही आपको इसके लक्षण दिखाई देंगे। रेबीज आपके शरीर में 1 से 3 महीने तक निष्क्रिय (Inactive) रह सकता है। डॉक्टर इसे “ऊष्मायन अवधि” (Incubation period) कहते हैं। आपके केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के माध्यम से जब वायरस आपके मस्तिष्क को हिट करते हैं उसके बाद इसके लक्षण दिखाई देते हैं।

इसमें पहला संकेत है कि आपको बुखार (Fever) होने जैसा महसूस होगा। आप आमतौर पर थका हुआ या कमजोर महसूस कर सकते हैं। आप घाव की जगह पर दर्द, झुनझुनी या जलन भी महसूस कर सकते हैं। जैसे ही वायरस आपके केंद्रीय तंत्रिका तंत्र में फैलता है, तब आपमें गंभीर लक्षण विकसित दिखाई देने लगेंगे।

ध्यान देने योग्य बात है कि रेबीज के शुरुआती लक्षण फ्लू के समान हो सकते हैं और कई दिनों तक रह सकते हैं। लेकिन धीरे-धीरे बाद में संकेत और लक्षण भी शामिल हो सकते हैं जैसे की-

  • घबराहट होना।
  • इसके लक्षण में पानी को निगलने में आपको कठिनाई हो सकती है जिसके कारण लिक्विड पीने से भय होने लगता है।
  • बुखार आना।
  • अधिक चिंता होना।
  • उलझन होना।
  • उल्टी (Vomiting) होना
  • सिरदर्द (Headache) होना
  • जी मिचलाना।
  • दु: स्वप्न।
  • सक्रिय होना।
  • निगलने में कठिनाई महसूस होना।
  • अत्यधिक लार आना।
  • नींद (Sleep) न आना
  • पार्शियल पैरालिसिस।

कारण

रेबीज के कारण क्या है? (Cause of Rabies)

रेबीज इंफेक्शन रेबीज वायरस के कारण होता है। यह वायरस संक्रमित जानवरों की लार से फैलता है। संक्रमित जानवर दूसरे जानवर या किसी व्यक्ति को काटकर वायरस फैला सकते हैं। बहुत ही रेयर मामलों में, रेबीज फैल सकता है जब संक्रमित लार एक खुले घाव या श्लेष्म झिल्ली (Mucous membrane), जैसे कि मुंह या आंखों में जाती है। यह तब हो सकता है जब एक संक्रमित जानवर आपकी त्वचा दांत लगा दे या आपको चाटकर अपना लार लगा दे।वो जानवर जो रेबीज वायरस को प्रसारित कर सकते हैं। कोई भी स्तनधारी (एक जानवर जो अपने बच्चे को चूसता है) तो वह रेबीज वायरस को प्रसारित कर सकता है। रेबीज वायरस को लोगों तक पहुंचाने की सबसे अधिक संभावना जानवरों में शामिल हैं। यह पालतू जानवर और खुले हुए बाहरी जानवर दोनों द्वारा होता है।जैसे-

  • बकरी (Goats)
  • गाय(Cows)
  • फेरेट्स (Ferrets)
  • बीवर(Beavers)
  • बिल्ली(Cats)
  • कुत्ते(Dogs)
  • घोड़े(Horses)
  • चमगादड़(Bats)
  • लोमड़ी(Foxs)
  • कोयोट्स(Coyotes)
  • बंदर(Monkeys)
  • वूडचुक्स(Woodchucks)
  • रैकून्स (Raccoons)

निवारण

रेबीज के जोखिम क्या है? (Risk factor of Rabies)

रेबीज के जोखिम को बढ़ाने वाले कारकों इस प्रकार से हैं।

  • सबसे पहले तो ऐसी गतिविधियां जो आपको जंगली जानवरों के संपर्क में ला सकती हैं, जिनमें रेबीज हो सकता है, जैसे कि गुफाओं की खोज करना जहां चमगादड़ रहते हैं अगर आप ऐसा करते तो आपको सावधानी के तौर पर ऐसा कुछ इंतजाम करना चाहिए जिससे जंगली जानवर आपके कैम्पस से दूर ही रहें।
  • सिर या गर्दन पर घाव, जो रेबीज वायरस को आपके मस्तिष्क में अधिक तेज़ी से प्रवेश दिला सकता है।
  • विकासशील देशों में यात्रा करना या रहना जहां अफ्रीका और दक्षिण पूर्व एशिया के देशों सहित रेबीज अधिक आम बात है, ये रेबीज होने के जोखिम को बढ़ावा दे सकता है।
  • रेबीज वायरस के साथ एक प्रयोगशाला में काम करना ये भी एक जोखिम का कारण हो सकता है।

[mc4wp_form id=”183492″]

निवारण

रेबीज के निवारण क्या है? (Diagnosis of Rabies)

  • इसके निवारण के लिए आपको अपने पालतू जानवरों का टीकाकरण करवाना चाहिए। रेबीज के खिलाफ कुत्तों, बिल्लियों और फेरेट्स को टीका लगवाया जा सकता है। आप इस बारें में अपने पशु चिकित्सक से जानकारी ले सकते हैं, कि आपके पालतू जानवरों को कितनी बार टीका लगाया जाना चाहिए।
  • हो सके तो शिकारियों से छोटे पालतू जानवरों को सुरक्षित रखें। खरगोश और अन्य छोटे पालतू जानवर, जैसे कि गिनी सूअर को अंदर या बंद पिंजरों में रखें ताकि वे जंगली जानवरों से सुरक्षित रहें। इन छोटे पालतू जानवरों को रेबीज के खिलाफ टीका नहीं लगाया जा सकता है।
  • अगर आपको आवारा पशुओं का झुंड या कोई आवारा पशु दिखाई देते हैं तो उनकी रिपोर्ट आप स्थानीय अधिकारियों को दे सकते हैं। आवारा कुत्तों और बिल्लियों की रिपोर्ट करने के लिए अपने स्थानीय पशु नियंत्रण अधिकारियों को बुला सकते हैं।
  • आप जो भी जानवर पाले हैं उसको सीमित रखें, अपने पालतू जानवरों को अंदर रखें और बाहर जाने पर उनकी सही देखरेख करें। यह आपके पालतू जानवरों को जंगली जानवरों के संपर्क में आने से रोकने में आपकी हेल्प कर सकता है।
  • यह ध्यान में रखें कि आपके घर के आस-पास चमगादड़ का डेरा न हो। अगर ऐसा है तो किसी विशेषज्ञ से मिलकर उन्हें हटाने का बंदोबस्त करें।
  • जंगली जानवरों से किसी भी तरह से संपर्क न करें। रेबीज वाले जंगली जानवर लोगों को बेखौफ लग सकते हैं। जंगली जानवर का लोगों के साथ दोस्ताना व्यवहार करना सामान्य नहीं है, इसलिए बेखौफ जानवरों से दूर रहना चाहिए।
  • यदि आप यात्रा कर रहे हैं तो रेबीज वैक्सीन पर एक बार जरुर विचार करें। यदि आप एक ऐसे देश की यात्रा कर रहे हैं, जहां रेबीज आम है और आप समय की विस्तारित अवधि के लिए वहां रहेंगे, तो अपने डॉक्टर से पूछें कि क्या आपको रेबीज का टीका प्राप्त करना चाहिए।

निदान

रेबीज के निदान क्या है? (Diagnosis of Rabies)

रेबीज के परीक्षण के लिए जो निदान किए जाते हैं वो कई प्रकार के हैं यदि आप रेबीज के शिकार है तो आपका कौन सा जांच किया जाएगा यह इसपर निर्भर करता है कि आपको रेबीज किसके संपर्क में आने से हुआ है। नीचे कुछ परीक्षण के नाम दिए गए हैं जो रेबीज के निदान द्वारा किए जाते हैं।

  • रेबीज एंटीजन का पता लगाना (Detection of rabies antigen)
  • रेबीज वायरस रेप्लिका का पता लगाना(Detection of rabies virus replication)
  • रेबीज वायरस आरएनए का पता लगाना (Detection of rabies virus RNA)
  • सेरोलॉजिकल टेस्ट्स (Serological tests)

इलाज

रेबीज के उपचार क्या है? (Treatment for Rabies)

बता दें कि रेबीज का प्राथमिक उपचार शामिल है जिसमें साबुन और पानी, डिटर्जेंट, पोविडोन आयोडीन या अन्य पदार्थ भी हैं जो रेबीज वायरस (Virus) को मारने में सहायक होते हैं, शक्तिशाली और प्रभावी रेबीज के साथ 15 मिनट के लिए तत्काल और पूरी तरह से फ्लशिंग और घाव को धोना भी शामिल है। इसके लिए टीके, डब्ल्यूएचओ (WHO) के मानकों और रेबीज इम्युनोग्लोबुलिन (RIG) के प्रशासन से मिलता है। इस कारण से, यदि आपको लगता है कि आप रेबीज के संपर्क में हैं, तो आपको संक्रमण (Infection) को रोकने के लिए शॉट्स की एक चेन प्राप्त करनी चाहिए। अगर जानवर के हमले में व्यक्ति गंभीर रूप से घायल है तो सबसे पहले ये काम करें।

  • पशु के संभावित ठिकाने के बारे में स्थानीय स्वास्थ्य विभाग या पशु नियंत्रण को सूचित करें।
  • यदि जानवर एक पालतू जानवर है, तो मालिक से संपर्क करके जानकारी प्राप्त करें।
  • लक्षणों के प्रकट होने की प्रतीक्षा न करें।
  • चोट वाले स्थान पर दबाव बनाएं जिससे रक्तस्राव बंद हो सके।
  • घाव पर गंदगी न होने दें।
  • साफ पानी और माइल्ड सोप से धोएं।
  • पशु के बारे में जानकारी इकट्ठा करें।
  • जानवर के बारे में जानकारी लेकर आएं।
  • अंतिम शॉट की तारीख के आधार पर व्यक्ति को टेटनस शॉट की आवश्यकता हो सकती है।
  • यदि रेबीज संक्रमण का कोई खतरा है, तो स्वास्थ्य सेवा प्रदाता एंटी-रेबीज उपचार की सिफारिश करेगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
shalu द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 22/07/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड