home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Mallet Finger: मैलेट फिंगर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

परिचय|लक्षण|कारण|जोखिम|उपचार|घरेलू उपाय
Mallet Finger: मैलेट फिंगर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

*

परिचय

मैलेट फिंगर क्या है?

मैलेट फिंगर को बेसबॉल फिंगर के रूप में भी जाना जाता है। यह एक ऐसी चोट होती है जो उंगली या अंगूठे के अंतिम जोड़ पर लगती है। यह चोट किसी को भी हो सकती है। ये चोट तब लगती है जब एक तेजी से आती हुई कोई चीज जैसे गेंद उंगली या अंगूठे की नोक पर लगती है। ​फिर आप अपनी उंगली या अंगूठे की नोक को सीधा नहीं कर पाते हो। इसे ही मैलेट फिंगर की चोट कहते हैं।

कितना सामान्य है मैलेट फिंगर?

मैलेट फिंगर एक आम चोट है। यह किसी भी उम्र में किसी को भी हो सकती है। ये चोट ज्यादातर तभी लगती है जब बच्चे या बड़े आउट डोर गेम्स खेल रहे होते हैं। ऐसे में उंगली में तेज गति से आती हुई कोई चीज लग​ सकती है और आपको मैलेट फिंगर नाम की ये बीमारी हो जाती है। अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने चिकित्सक से चर्चा करें।

और पढ़ें : Head Injury : हेड इंजरी या सिर की चोट क्या है?

लक्षण

मैलेट फिंगर के लक्षण क्या हैं?

उंगली में आमतौर पर बहुत दर्द होता है, क्योंकि इसमें उंगली में सूजन आ जाती है। उंगली का अंतिम जोड़ अलग हो जाएगा और ये केवल तभी सीधी होगी जब डॉक्टर उस पर ट्रीटमेंट देंगे। इनके अलावा कुछ ऐसे भी लक्षण हो सकते हैं जो यहां न दिए गए हों, इसलिए इस बीमारी या चोट के बारे में अपने डॉक्टर से चर्चा जरूर करें।

मुझे डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

और पढ़ें : Scurvy : स्कर्वी रोग क्या है?

[mc4wp_form id=”183492″]

कारण

मैलेट फिंगर के कारण क्या हैं?

  • मैलेट फिंगर तब होती है जब एक तेज गति से आने वाली वस्तु (गेंद की तरह) एक उंगली या अंगूठे की नोक से टकराती है
  • इससे आप अपनी उंगली या अंगूठे की नोक को सीधा करने में सक्षम नहीं होते हैं
  • आपकी उंगली टेढ़ी हो जाती है
  • मैलेट फिंगर बच्चों में अधिक होती है। क्योंकि, कई बार बच्चों की अंगुलियां दरवाजे में दब जाती है

और पढ़ें : ब्लड प्रेशर की है समस्या, ऐसे करें घर पर ही बीपी चेक

जोखिम

कैसी स्थितियां मैलेट फिंगर के जोखिम को बढ़ा सकती हैं?

  • चोट लगने के तुरंत बाद अगर डॉक्टर को नहीं दिखाया तो यह खतरनाक हो सकता है।
  • किसी गतिमान चीज से चोट लगने पर घाव गहरा होता है।
  • खून निकले या नाखून टूट जाए तो भी डॉक्टर को दिखाना जरूरी है।

और पढ़ें : चोट लगने पर बच्चों के लिए फर्स्ट एड और घरेलू उपचार

उपचार

यहां प्रदान की गई जानकारी को किसी भी मेडिकल सलाह के रूप ना समझें। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

मैलेट फिंगर का निदान कैसे किया जाता है?

मैलेट फिंगर की चोट के लिए उपचार की आवश्यकता होती है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि उंगली ठीक से काम कर पा रही है या नहीं। ज्यादातर डॉक्टर चोट के एक हफ्ते के अंदर इलाज कराने की सलाह देते हैं। हालांकि, ऐसे मामले सामने आए हैं जिनमें चोट लगने के एक महीने बाद तक इलाज नहीं हुआ और उंगली ठीक भी हो गई।

शारीरिक परीक्षण

डॉक्टर आपकी उंगली या अंगूठे की जांच करेगा। परीक्षण के दौरान डॉक्टर प्रभावित उंगली पकड़ लेगा और आपको इसे अपने दम पर सीधा करने के लिए कहेगा। इसे मैलेट फिंगर टेस्ट कहा जाता है।

एक्स-रे

मैलेट फिंगर का इलाज कैसे होता है?

  • मैलेट फिंगर की उन चोटों का इलाज नहीं हो सकता है जिसमें उंगली बहुत कठोर होती है।
  • वहीं ज्यादातर मामलों में सर्जरी से मैलेट फिंगर इंजरी का इलाज किया जा सकता है।
  • बच्चों में, मैलेट फिंगर की चोट उंगली के विकास पर असर डाल सकती है।
  • डॉक्टर को बच्चों में इस चोट का सावधानीपूर्वक उपचार करना चाहिए, ताकि उंगली अकड़ न जाए।

नॉनसर्जिकल ट्रीटमेंट

  • अधिकांश मैलेट फिंगर की चोटों का इलाज मोच की तहर किया जाता है।
  • जब तक वह ठीक नहीं हो जाए उंगली को सीधा रखना होता है।
  • उंगली को सीधा करने के लिए एक स्प्लिंट दिया जाता है जिसे 8 हफ्तों तक पहनना चाहिए।
  • इसका मतलब है कि इसे नहाते वक्त भी पहने रहना चाहिए, फिर नहाने के बाद सावधानी से बदल दिया जाना चाहिए।
  • जब तक स्प्लिंट सूख न जाए तब तक आपको अपनी उंगली को सीधा रखना चाहिए।
  • अगर उंगलियों की नसें बिल्कुल फट जाती हैं, तो उपचार में मुश्किल आती है।
  • जो लोग हमेशा स्प्लिंट नहीं पहने रह सकते, डॉक्टर उनकी उंगलियों में पिन डालकर उंगली सीधी रखने की कोशिश करते हैं।

सर्जरी

  • यदि मेजर फैक्चर है तो डॉक्टर सर्जरी कर सकता है।
  • इन मामलों में, चोट के उपचार के दौरान हड्डी के टुकड़ों को एक साथ रखने के लिए पिन का उपयोग करके फ्रैक्चर को ठीक करने के लिए सर्जरी की जाती है।
  • यदि फ्रैक्चर नहीं हैं, तो सर्जरी से मैलेट फिंगर का इलाज करना आम नहीं है।
  • ऐसी स्थिति में एक आर्थोपेडिक सर्जन से परामर्श किया जाना चाहिए।

और पढ़ें : घर पर फर्स्ट ऐड बॉक्स कैसे बनाएं?

घरेलू उपाय

जीवनशैली में होने वाले बदलाव क्या हैं, जो मैलेट फिंगर को रोकने में मदद कर सकते हैं?

  • आउट डोर गेम खेलते वक्त अपने शरीर का ध्यान रखना चाहिए।
  • घर में ऐसी ​चीजों से न खेलें जिससे मैलेट फिंगर होने का खतरा हो।
  • मां-बाप को भी बच्चों पर नजर रखनी चाहिए।
  • मैलेट फिंगर बच्चों में होने की संभावना ज्यादा होती है।
  • कभी-कभी बच्चे आपस में लड़ाई-झगड़ा करने के दौरान भी खुद को चोट पहुंचा लेते हैं।
  • चोट लगने पर चोट वाले स्थान पर बर्फ लगाएं।
अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो उसकी बेहतर समझ के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Mallet finger. http://orthoinfo.aaos.org/topic.cfm?topic=a00018 Accessed 09, December, 2019

Mallet finger. https://www.orthobullets.com/hand/6014/mallet-finger Accessed 09, December, 2019

Current concepts: mallet finger. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4022957/ Accessed 09, December, 2019

Mallet finger – aftercare. https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000538.htm. Accessed On 10 October, 2020.

Mallet finger. https://www.nidirect.gov.uk/conditions/mallet-finger. Accessed On 10 October, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 10/10/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड