home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर करने से पहले जानें ये 10 बातें

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर करने से पहले जानें ये 10 बातें

ट्रैवल करना किसे पसंद नहीं, लेकिन अगर साथ में बच्चे हों तो सफर के पहले कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद आवश्यक हो जाता है। हैलो स्वास्थ्य टीम की डॉक्टर श्रुति ने फ्लाइट में बच्चों के साथ सफर करने वाली कई माओं से बात करके उनके अनुभव जानें। गुस्सा, परेशानी और चिड़चिड़ाहट का अनुभव लगभग सभी माओं ने किया, लेकिन बच्चों के बिना कहीं जाया नहीं जा सकता। इसलिए बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर (Flying With kids) करने के लिए कुछ बातों को समझना जरूरी है। वहीं कुछ टिप्स फॉलो करने से आपकी जर्नी सच में हैप्पी जर्नी हो सकती है। बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर (Flying With kids) के कुछ खास टिप्स इस आर्टिकल के माध्यम से शेयर किए जा रहे हैं।

और पढ़ें : क्या आप जानते हैं बच्चों को खुश रखने के टिप्स?

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर (Flying With kids) का पहला टिप्स: बोर्डिंग के लिए जल्दी आएं

आपने अक्सर यह अनाउंसमेंट सुनी होगा, छोटे बच्चों के साथ यात्रा करने वाली सभी यात्री कृपया गेट की तरफ बढ़ें। बच्चों के साथ सफर करने पर आपको जल्दी बोर्डिंग की सुविधा मिलती है। एयरलाइन को भी पता है कि आपके लिए सफर के कुछ घंटे मुश्किल भरे होने वाले हैं, इसलिए वह आपकी मदद (Help) करना चाहते हैं, तो क्यों न आप भी थोड़ा जल्दी आकर बच्चे (Child) के लिए सब कुछ सेट कर लें।

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर करने के लिए दूसरा टिप्स: दूसरे पैरेंट्स से बात करें

सफर के दौरान हर किसी को साथी की तलाश होती है और यदि आप बच्चे के साथ ट्रैवल (Travelling with kids) कर रही हैं तो आपको प्लेन में सहयोगी की जरूरत पड़ सकती है। इसलिए वेटिंग एरिया में इतंजार करने के दौरान साथी दूसरे पैरेंट्स से बातचीत करें जो आपके साथ उसी फ्लाइट में जाने वाले हैं। आपको पूरी जिंदगी उनसे दोस्ती निभाने की जरूरत नहीं है, लेकिन कम से कम फ्लाइट के सफर के दौरान (Flying With kids) जब बच्चे की शरारत आपको परेशान कर दे, तो आप लोग एक-दूसरे की मुश्किल थोड़ी कम कर सकते हैं।

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर (Flying With kids) में शामिल है तीसरा टिप्स: स्नैक्स लेकर जाएं

फ्लाइट में दिया जाने वाला खाना किसी बच्चे को पसंद नहीं आता और हो सकता है जब तक स्नैक्स (Snacks) कार्ट आप तक पहुंचे आपके बच्चे का पसंदीदा फिंगर चिप्स खत्म हो जाए और बस कुछ नॉर्मल चिप्स और डाइजेस्टिव बिस्किट (Digestive biscuits) ही बचे हों, इसलिए बोर्डिंग (Boarding) से पहले बच्चों का पंसदीदा स्नैक्स (Snacks) रखना न भूलें।

और पढ़ें: जानें स्पेशल चाइल्ड को होम स्कूलिंग देना कैसे है मददगार

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर (Flying With kids) में शामिल है चौथा टिप्स: बच्चे की एक्टिविटी वाली चीजें साथ ले लाएं

फ्लाइट में सफर के दौरान फ्लाइट अटेंडेंट से पेंसिल, पेपर और रबड़ न मांगे, बल्कि बच्चे की एक्टिविटी बुक, कलर, पेपर, पजल्स और वो सबकुछ जो सफर में उन्हें पंसद है लेकर जाएं।

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर के लिए पांचवां टिप्स: पसंदीदा खिलौना (Toys) ले जाएं

सॉफ्ट टॉयस, प्लेइंग कार्ड और कोई भी खास खिलौना जो उसे पसंद है और जिसे देखकर वह शांत हो जाता है, लेकर जाएं। खिलौने को अपने केबिन लगेज में रखें, क्योंकि पता नहीं बच्चे के बिगड़े मूड को ठीक करने और सबके सामने खुद की बेइज्जती होने से बचने के लिए आपको कब इसकी जरूरत पड़ जाए।

और पढ़ें: बच्चों के लिए एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल करना क्या सुरक्षित है?

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर (Flying With kids) के लिए छठा टिप्स: उन्हें बिजी रखें

फ्लाइट से यात्रा के दौरान बच्चे बहुत जिज्ञासु बन जाते हैं और हमेशा आप उन्हें नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं। इसलिए उनके नखरों से बचने के लिए बेहतर है कि आप उनके सवालों के जवाब देते रहें। यदि आपके बच्चे के ढे़र सारे सवाल पूछने की आदत है तो फ्लाइट में यात्रा से जुड़ी कोई किताब उसे लाकर दें और कहें कि एयरप्लेन को बेहतर तरीके से समझने के लिए वह किताब पढ़े।

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर (Flying With kids) करने के लिए सातवां टिप्स: कुछ मीठी चीजें जरूर रखें

आपके बच्चे को प्लेन टेक ऑफ और लैंडिग के समय कान में दर्द की शिकायत हो सकती है। इस परेशानी से डरें नहीं। साथ ही बच्चों को ठंड भी लग सकती है, तो उससे बचने का इंतजाम पहले ही कर लें। ईयर पॉपिंग सेंसेशन (कान में झनझनाहट) दर्दनाक हो सकता है, इसलिए बच्चे को जम्हाई लेने या कुछ मीठा चबाने के लिए कहें, इससे उन्हें थोड़ी राहत मिलेगी। खुद को ईयर पॉपिंग सेंसेशन से बचाने के लिए हेडफोन बेस्ट ऑप्शन है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में बेस्ट डीएचए सप्लिमेंट : मां और बच्चे दोनों के संपूर्ण विकास के लिए है जरूरी!

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर में मददगार आठवां टिप्स: दवाइयां साथ में रखें

बच्चे के साथ आप चाहे फ्लाइट (Flight), ट्रेन (Train) या बस (Bus) में सफर कर रहे हों, हमेशा कुछ जरूरी दवाइयां साथ रखें, क्योंकि पता नहीं कब बच्चा बीमार पड़ जाए। यदि आपके बच्चे को मोशन सिकनेस (Motion sickness) या ट्रैवलिंग के दौरान कोई अन्य समस्या होती है तो उससे बचने के लिए दवाइयां (Medicines) साथ रखें। यह भी हो सकता है आपके बच्चे को इसकी जरूरत न पड़ें, लेकिन आपकी बगल वाली सीट में शायद किसी को इसकी जरूरत पड़ जाए।

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर (Flying With kids) के लिए नवां टिप्स: बच्चे से सोने की उम्मीद न रखें

बच्चे से यह उम्मीद न करें कि फ्लाइट से ट्रैवल के दौरान वह हमेशा सोया ही रहेगा। वह जमाना गया जब पैरेंट्स के कहने पर बच्चे आंखें (Eye) बंद कर लिया करते थे। अब तो बच्चे को फ्लाइट में जबरन सोने के लिए कहने पर स्थिति बिगड़ सकती है। वे इससे इरीटेट होकर आपको ज्यादा परेशान कर सकते हैं।

और पढ़ें: स्कूल के बच्चों की मेमोरी तेज करने के टिप्स

बच्चे के साथ फ्लाइट में सफर (Flying With kids) के लिए दसवां टिप्स: एक बच्चे को संभालें दूसरा आराम करे

यह बच्चे के लिए तो नहीं, लेकिन आपके लिए मददगार साबित हो सकता है। यदि माता-पिता दोनों साथ सफर कर रहे हैं तो एक को बच्चे को संभालना चाहिए, जबकि दूसरे को कुछ देर सुकून से आराम करना चाहिए। जब स्थिति बिगड़ने लगे तो आपको बच्चे को संभालने के लिए पसीना बहाना पड़ेगा ताकि दूसरा पार्टनर (Partner) कुछ देर के लिए आराम कर सके।

बच्चे के साथ सफर के दौरान आप क्या करते हैं? फ्लाइट में बच्चे के नखरे को कैसे हैंडल करते हैं? अपना अनुभव हमारे साथ जरूर शेयर करें। अगर आप इससे जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो एयर लाइंस के नियमों को भी अवश्य समझें।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Kanchan Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 3 weeks ago को
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x