home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

सवालों से हैं परेशान तो कुछ इस अंदाज में दे सकते हैं बच्चों को कोरोना वायरस की जानकारी

सवालों से हैं परेशान तो कुछ इस अंदाज में दे सकते हैं बच्चों को कोरोना वायरस की जानकारी

लॉकडाउन से भले ही लोगों का जीवन कुछ समय के लिए रूक सा गया हो, लेकिन बच्चों की तो जैसे आजादी ही छिन गई हो। बच्चों को इस बात से मतलब नहीं है कि बाहर क्या हो रहा है, उन्हें बस इतना पता है कि हमे घर से बाहर न तो स्कूल भेजा जा रहा है और न ही खेलने दिया जा रहा है। जो बच्चे पांच साल से बड़े हैं, उनको शायद अब तक कोरोना वायरस का नाम याद हो गया होगा। लेकिन जो बच्चे अभी तीन साल तक के हैं, उन्हें ये समझाना मुश्किल है कि स्कूल और बाहर का घूमना फिरना अचानक से क्यों बंद कर दिया गया है। आपका बच्चा अगर 10 से 15 साल का है तो आप उसे आसानी से कोरोना वायरस के बारे में जानकारी दे सकती हैं, लेकिन जो बच्चे छोटे हैं आपको अपने तरीके से ही समझाना पड़ेगा। अगर अभी तक आपने बच्चों को कोरोना की जानकारी नहीं दी हो परेशान न होए। बच्चों में अवेयरनेस होना बहुत जरूरी है, इस आर्टिकल के माध्यम से जानिए कि कैसे बच्चों को कोरोना के बारे में जानकारी दी जाए।

बच्चों को कोरोना की जानकारी : वायरस के बारे में कैसे बताएं?

बच्चों को कोरोना वायरस की जानकारी निम्नलिखित तरह से दें:

बच्चों को अगर इस बात की जानकारी नहीं है कि वायरस क्या होता है तो आप पहले उन्हें सरल शब्दों में समझाएं कि आखिर वायरस क्या होता है ? बच्चों को बताएं कि वायरस बहुत छोटे होते हैं, उन्हें हम लोग आंखों से नहीं देख सकते हैं। भले ही हम लोगों को वायरस आंखों से न दिखते हो,लेकिन ये शरीर के अंदर जाकर किसी को भी बीमार कर सकता है। बच्चों को ये भी बताएं कि वायरस को जिंदा रहने के लिए होस्ट यानी अन्य लोगों की जरूरत पड़ती है। वायरस को जिंदा रहने के लिए इंसान की सेल्स तक पहुंच जाते हैं। बच्चों को ये भी बताएं कि वायरस या बैक्टीरिया किन माध्यमों से फैल सकता है। अगर आप बच्चों को इस तरह से समझाएंगी तो बच्चे आसानी से वायरस के बारे में समझ जाएंगे।

और पढ़ें: Coronavirus 2020: इन सेलिब्रिटी को कोरोना वायरस की पुष्टि, रोनाल्डो ने खुद को किया अलग तो बिग बी ने सुनाई कविता

बच्चों को कोरोना की जानकारी कैसे दी जाए ?

सबसे पहले बच्चों को वायरस के बारे में जानकारी दें और फिर उन्हें कोरोना वायरस के बारे में बताएं। ऐसा करने से उन्हें कोरोना वायरस के बारे में आसानी से समझ आ जाएगा। बच्चों को बताएं कि कोरोना वायरस एक नया वायरस है जो पूरी दुनिया में फैल रहा है। बच्चों को कोरोना की जानकारी देते समय ये जरूर बताएं कि कुछ बातों का ध्यान न रखने से ये बच्चों में भी आसानी से फैल सकता है। बच्चों को कोरोना का मतलब भी बताएं। आप चाहे तो मोबाईल की हेल्प से बच्चों को कोरोना वायरस की पिक्चर दिखा कर बता भी सकते हैं कि इस वायरस के चारों ओर क्राउन जैसी आकृति होती है, और लैटिन में क्राउन को कोरोना कहते हैं। अगर आप बच्चों को आसान भाषा में पिक्चर दिखा कर कोरोना वायरस के बारे में समझाएंगे तो बच्चे इसे आसानी से समझ जाएंगे। बच्चों को कोरोना की जानकारी देते हुए ये भी बताएं कि कोरोना वायरस का इंफेक्शन हो जाने पर खांसी, सिरदर्द, बुखार और सांस लेने में समस्या हो सकती है। बच्चों को बताएं बुजुर्गों और किसी भी बीमारी से जूझ रहे लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण अधिक परेशानी खड़ा कर सकता है।

और पढ़ें: Corona virus: कोरोना वायरस से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां

अगर बच्चे पूछें ये बात तो बताएं आसान भाषा में

बच्चों को कोरोना की जानकारी देते हुए सभी पॉइंट्स को कवर करना बहुत जरूरी है। अगर आप किसी भी पॉइंट्स को छोड़ देंगी तो हो सकता है कि बच्चे के मन में जिज्ञासा रह जाए। बच्चे अक्सर किसी भी नई चीज के बारे में जानते हैं तो ये जरूर पूछते हैं कि ये कहां से आई। कोरोना वायरस के बारे में भी बच्चे ऐसा पूछ सकते हैं कि ये वायरस कहां से आया। इस प्रश्न का उत्तर देते हुए बच्चे को बताएं कि ये वायरस चीन देश के वुहान शहर से आया है और अब पूरे देश में फैल रहा है। आप बच्चों के ये भी बताए कि कोरोना वायरस की वजह से होने वाली बीमारी को कोविड-19 कहा जाता है। कोरोना वायरस किसी जानवर की वजह से इंसानों में चला गया और अब एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल रहा है।

तो कैसे शरीर के अंदर घुस जाता है वायरस ?

बच्चों को बताएं कि जैसे उन्हें घर में घुसने के लिए डोर यानी दरवाजे की जरूरत पड़ती है, ठीक वैसे ही कोरोना वायरस को भी इंसान के शरीर में घुसने के लिए दरवाजे की जरूरत पड़ती है। इंसान की नाक और मुंह इन दरवाजों का काम करते हैं। वायरस जैसे ही शरीर के अंदर घुसता है, शरीर के अंदर अपने ही जैसे बहुत सारे वायरस बनाकर अपनी संख्या बढ़ा लेता है। बहुत सारे वायरस शरीर के विभिन्न हिस्सों के काम को प्रभावित करने लगते हैं। यहीं कारण है वायरस का इंफेक्शन हो जाने के बाद लोग बीमार हो जाते हैं। बीमार लोगों से दूर रहना चाहिए, वरना दूसरे लोग भी बीमार हो सकते हैं।

और पढ़ें: Coronavirus Predictions: क्या बिल गेट्स समेत इन लोगों ने पहले ही कर दी थी कोरोना वायरस की भविष्यवाणी

जब वायरस शरीर में अधिक फैल जाते हैं तो लंग्स को काम करने में दिक्कत होने लगती है। ऐसे में इंसान को सांस लेने में दिक्कत होने लगती है। हमारे शरीर में वायरस से लड़ने के लिए एक आर्मी भी होती है, जिसे इम्यून सिस्टम कहते हैं। जिन लोगों में स्ट्रॉन्ग इम्यून सिस्टम होता है, वो वायरस से लड़ते हैं और शरीर में बुखार, बहती नाक या सिरदर्द जैसे लक्षण दिख सकते हैं। जिन लोगों का इम्यून सिस्टम कमजोर होता है वो लोग ज्यादा बीमार हो जाते हैं।

बच्चों को सिखाएं ये हैबिट्स

बच्चों को कोरोना की जानकारी देने के साथ ही कोरोना से बचाव के बारे में भी जानकारी देना जरूरी है। बच्चों को गुड हैबिट्स को बारे में भी बताएं। कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण दुनिया तेजी से बदल गई है, इसलिए बच्चों को कुछ हैबिट्स जरूर सिखाएं।

  • घर के बाहर निकलने की जिद न करें।
  • साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें।
  • अगर कोई भी व्यक्ति घर के अंदर आएं तो उससे दूरी बनाएं।
  • अगर खांसी या छींक आएं तो मुंह में हैंकी लगाएं।
  • हाथों को कुछ समय के अंतराल बाद जरूर धुलें।
  • अगर घर में कोई बीमार हो तो उसके पास न जाएं।

अगर आपको कोरोना वायरस के बारे में कोई भी जानकारी चाहिए तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

The ultimate kids’ guide to the new coronavirus- https://www.livescience.com/coronavirus-kids-guide.html– (Accessed on 1/4/2020)

kids guideline to corona – https://www.nytimes.com/2020/03/27/podcasts/the-daily/kids-coronavirus.html-(Accessed on 1/4/2020)

Coronavirus (COVID-19): How to Talk to Your Child- https://kidshealth.org/en/parents/coronavirus-how-talk-child.html (Accessed on 1/4/2020)

11 critical unanswered questions about the coronavirus and COVID-19, the illness it causes- https://www.businessinsider.in/science/news/11-critical-unanswered-questions-about-the-coronavirus-and-covid-19-the-illness-it-causes/articleshow/74899474.cms (Accessed on 1/4/2020)

Coronavirus (COVID-19)- https://kidshealth.org/en/parents/coronavirus.html (Accessed on 1/4/2020)

 

लेखक की तस्वीर
06/04/2020 पर Bhawana Awasthi के द्वारा लिखा
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
x