आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Covid XE Variant: कोविड XE वेरिएंट से कैसे बचें?

    Covid XE Variant: कोविड XE वेरिएंट से कैसे बचें?

    कोरोना वायरस की समस्या अब कोई नई समस्या नहीं है, लेकिन इसके अलग-अलग वेरिएंट ने लोगों की चिंता बढ़ाती है। वैसे तो हेल्थ एक्सपर्ट्स एवं वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) हमेशा से मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग एवं सेनेटाइजर के इस्तेमाल की सलाह देते आ रहें हैं। वहीं अब एक और नय वेरिएंट, कोविड XE वेरिएंट (Covid XE Variant) ने दस्तक दे दी है। कोरोना वायरस के लक्षणों से तो हम सभी अवगत हैं, लेकिन इसके नय-नय वेरिएंट के लक्षणों को भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। इसलिए आज इस आर्टिकल में कोविड XE वेरिएंट (Covid XE Variant) से जुड़ी पूरी जानकारी शेयर करने जा रहें हैं, क्योंकि WHO ने भी कोविड XE वेरिएंट से सचेत रहने की सलाह दे दी है।

    • कोविड XE वेरिएंट के लक्षण क्या हैं?
    • COVID-19 होम टेस्टिंग किट है?
    • कोविड XE का इलाज कैसे किया जाता है?
    • कोविड XE वेरिएंट या कोविड के अन्य वेरिएंट से कैसे बचें?
    • कोरोना वायरस के कौन-कौन से वेरिएंट ने अब तक देश ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व लोगों को संक्रमित किया है?

    चलिए अब कोविड XE वेरिएंट (Covid XE Variant) एवं वायरस से जुड़े अन्य सवालों का जवाब जानते हैं।

    और पढ़ें: अगर आपके आसपास मिला है कोरोना वायरस का संक्रमित मरीज, तो तुरंत करें ये काम

    कोविड XE वेरिएंट के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Covid XE Variant)

    कोविड XE वेरिएंट (Covid XE Variant)

    कोविड XE वेरिएंट के लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

    अगर आप ऐसे लक्षणों को महसूस कर रहें हैं, तो इसे इग्नोर ना करें। ऐसी स्थिति में अपने आपको सबसे पहले आइसोलेट करें और डॉक्टर से कंसल्ट करें। वहीं कोविड XE वेरिएंट के लक्षण (Covid XE Variant symptoms) महसूस होने पर पैनिक ना करें, क्योंकि इस वायरस से बचना अब आसान है। वहीं कोरोना वायरस या इसके किसी भी संक्रमण की आशंका होने पर आप संक्रमण की जांच घर पर भी कर सकते हैं।

    और पढ़ें : 18+ वालों का भी COVID-19 वैक्सीनेशन💉 , लेकिन किन बातों का रखें ध्यान?

    COVID-19 होम टेस्टिंग किट (COVID-19 Home Test) है?

    कोविड XE वेरिएंट (Covid XE Variant)

    इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (Indian Council of Medical Research)ने COVID-19 होम टेस्टिंग किट के लिए मायलैब डिस्कवरी कोवीसेल्फ (Mylab Discovery CoviSelf) को ग्रीन सिग्नल दे दिया है। जिससे आप कोविड टेस्ट (Covid Test) कर सकते हैं। इसके अलावा कोविड टेस्टिंग किट में PanBio COVID-19 एंटीजन रैपिड टेस्ट डिवाइस, CoviFind COVID-19 रैपिड एंटीजन सेल्फ टेस्ट, एंगकार्ड COVID-19 होम टेस्ट किट, क्लिनीटेस्ट COVID-19 एंटीजन सेल्फ टेस्ट, ULTRA Covi-Catch SARS-CoV-2 होम टेस्ट और एबचेक रैपिड एंटीजन सेल्फ टेस्ट की सहायता से भी कोविड सेल्फ टेस्ट किया जा सकता है।

    और पढ़ें : COVID-19 Home Test: घर बैठे ही कर सकेंगे कोरोना टेस्ट COVID-19 होम टेस्टिंग किट की मदद से, लेकिन कुछ बातों को ध्यान रखना है जरूरी

    नोट: अगर मरीज को ज्यादा परेशानी महसूस हो रही है, तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर से कंसल्ट करें और तकलीफों की जानकारी दें।

    कोविड XE का इलाज कैसे किया जाता है? (Treatment for Covid XE Variant)

    कोरोना वायरस या ओमिक्रोण का इलाज जिस तरह से किया जाता है ठीक वैसे ही कोविड XE का इलाज भी किया जाता है। वहीं वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार कोविड XE वेरिएंट से बचाव यानी खुद को बचाना जरूरी है। इसलिए निम्नलिखित टिप्स फॉलो करने की सलाह दी गई है। जैसे:

    • घर से बहार निकलने के बाद हमेशा मास्क (Mask) पहनें।
    • सोशल डिस्टेंसिंग (Social distancing) फॉलो करें।
    • ज्यादा भीड़ वाली जगहों (Crowded place) में ना जाएं।
    • अगर आपने अभी तक कोविड वैक्सीन (Covid Vaccine) नहीं ली है, तो जल्द से जल्द वैक्सीन लें।
    • अगर बूस्टर डोज (Booster dose) लेने वाले हैं और वैक्सिनेशन की डेट आपको मिल चुकी है, तो बूस्टर डोज ले लें।
    • आवश्यकता ना होने पर घर से बाहर ना जाएं।
    • बाहर से आने के बाद सबसे पहले अच्छे से हैंड वॉश (Hand wash) करें। हाथ धोने के दौरान साबुन का इस्तेमाल करें। अगर साबुन से हैंड वॉश नहीं कर पा रहें हैं, तो सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें।
    • कोविड XE या कोरोना के किसी भी वेरिएंट से इन्फेक्टेड लोगों के संपर्क में ना आएं (संक्रमित मरीजों से भेदभाव ना करें)।
    • सब्जियों एवं फलों को अच्छी तरह से धो कर खाएं।

    इन टिप्स को फॉलो करने से कोविड XE वेरिएंट (Covid XE Variant) या कोविड 19 के किसी भी वेरिएंट से बचने में मदद मिल सकती है।

    और पढ़ें : पल्मोनरी एक्टीनोमायकॉसिस क्या है? जानिए लक्षण और इलाज

    कोविड XE वेरिएंट या कोविड के अन्य वेरिएंट से कैसे बचें? (Tips to prevent from Covid Variant)

    कोरोना वायरस के किसी भी वेरिएंट का खतरा न हो या किसी अन्य संक्रमण से भी बचने के लिए मुंबई के जसलोक हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के इन्फेक्शन डिजीज के डायरेक्टर डॉ. ओम श्रीवास्तव हाथ धोने का क्या है सही तरीका स्टेप बाई स्टेप बता रहें हैं-

    स्टेप 1- सबसे पहले पानी का नॉब खोलें

    स्टेप 2- पानी का टेम्प्रेचर हल्का गर्म हो

    स्टेप 3- हाथ को पानी से गीला करें

    स्टेप 4- फिर सोप लगाएं

    स्टेप 5- अब दोनों हाथों को अच्छी तरह 20 सेकेंड आपस में आगे-पीछे और उंगलियों के बीच में आराम से रगड़े

    स्टेप 6- अंत में हाथ धो लें

    हैंड वॉश करने के लिए इन टिप्स को फॉलो करने से इंफेक्शन से बचने में मदद मिल सकती है।

    और पढ़ें : प्लाज्मा थेरिपी: डोनर के रूप में कैसा रहा इनका अनुभव, जानिए आस्था गुप्ता से

    कोरोना वायरस के कौन-कौन से वेरिएंट ने अब तक देश ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व लोगों को संक्रमित किया है? (Variants of Covid 19)

    वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (World Health Organisation) द्वारा पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार कोविड के नए वेरिएंट के नाम इस प्रकार हैं-

    • ओमीक्रॉन वेरिएंट (Omicron variant)
    • आईएचयू वेरिएंट (IHU variant)
    • फ्लूरोना वेरिएंट (Flurona variant)
    • डेल्मिक्रॉन वेरिएंट (Delmicron variant)
    • डेल्टा वेरिएंट (Delta variant)

    ये हैं कोविड के नए वेरिएंट जो एक-एक कर लोगों को बीमार बनाने की कोशिश कर रहें हैं, लेकिन अगर सतर्कता बरती जाए तो कोविड के नए वेरिएंट (COVID new variant) से बचा जा सकता है।

    और पढ़ें : Covid New Variant: जानिए कोविड के नए वेरिएंट के बारे में यहां!

    हेल्थ एक्सपर्ट कोरोना के किसी भी वेरिएंट को हल्के में नहीं ले रहें और लोगों को भी बार-बार सावधानी बरतने की सलाह देते आ रहें हैं। वहीं डब्ल्यूएचओ ने पहले भी कई बार कहा है कि कोरोना के वेरिएंट आपस में जुड़कर कुछ नए वेरिएंट बना रहे हैं। कुछ दिनों पहले ओमीक्रोन और डेल्टा से मिलकर डेल्टाक्रोन कॉम्बिनेशन तैयार हुआ था। अब ओमीक्रोन के दो सबवेरिएंट BA1 और BA2 का रीकॉम्बिनेंट तैयार हुआ है, जिसे XE कहा जा रहा है। ऐसा माना जाता है कि कोई कॉम्बिनेशन तब तैयार होता है, जब कोई व्यक्ति एक से अधिक प्रकार से संक्रमित हो जाता है। इसलिए सावधान रहें और वायरस के अलग-अलग रूपों से बचने के लिए टिप्स फॉलो करें।

    अगर आप में कोविड XE वेरिएंट (Covid XE Variant), कोरोना वायरस (COVID 19) या इसके नए वेरिएंट से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। ऐसे वक्त में अगर कोई परेशानी समझ आती है, तो खुद से इलाज न करें और डॉक्टर से कंसल्ट करें। अगर आपको डर है कि कहीं आप इंफेक्शन के शिकार हो चुके हैं, तो किसी के संपर्क में ना आएं और सबसे पहले टेस्ट करवाएं। वो कहते हैं ना सावधानी हटी दुर्घटना घटी। यहां भी कुछ यही हाल है। आपको पैनिक नहीं करना है सिर्फ समझदारी से काम करना है।

    स्वस्थ रहने के लिए अपने डेली रूटीन में योगासन शामिल करें। यहां हम आपके साथ योग महत्वपूर्ण जानकारी शेयर कर रहें हैं, जिसकी मदद से आप अपने दिनचर्या में योग को शामिल कर सकते हैं। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक कर योगासन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी जानिए।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/04/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: