backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना

Covid New Variant: जानिए कोविड के नए वेरिएंट के बारे में यहां!

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Sayali Chaudhari · फार्मेकोलॉजी · Hello Swasthya


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 09/02/2022

Covid New Variant: जानिए कोविड के नए वेरिएंट के बारे में यहां!

कोरोना वायरस की खबरें अब हमसभी के लिए पुरानी नहीं है, लेकिन न्यूज एवं सोशल मीडिया रिपोर्ट्स में कोविड के नए वेरिएंट (Covid new variant) सुर्खियों में अपनी जगह बनाये हुई है। अब देखिये ना जबसे देश में कोरोना वायरस से दस्तक दी है उसके बाद एक-एक कर किसी ना किसी वायरस की चर्चा जोरों पर होती है। कुछ कोविड वेरिएंट ज्यादा हानिकारक होते हैं, तो कुछ कम। आज इस आर्टिकल में कोविड के नए वेरिएंट (Covid new variant) से जुड़ी जानकरी आपके साथ शेयर करेंगे। 

और पढ़ें : 18+ वालों का भी COVID-19 वैक्सीनेशन💉 , लेकिन किन बातों का रखें ध्यान?

कोविड के नए वेरिएंट (Covid new variant) कौन-कौन से हैं?

कोविड के नय वेरिएंट (Covid new variant)

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (World Health Organisation) द्वारा पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार कोविड के नए वेरिएंट के नाम इस प्रकार हैं-

  • ओमीक्रॉन वेरिएंट (Omicron variant) 
  • आईएचयू वेरिएंट (IHU variant)
  • फ्लूरोना वेरिएंट (Flurona variant) 
  • डेल्मिक्रॉन वेरिएंट (Delmicron variant) 
  • डेल्टा वेरिएंट (Delta variant)  

ये हैं कोविड के नए वेरिएंट जो एक-एक कर लोगों को बीमार बनाने की कोशिश कर रहें हैं, लेकिन अगर सतर्कता बरती जाए तो कोविड के नए वेरिएंट से बचा जा सकता है। 

और पढ़ें: अगर आपके आसपास मिला है कोरोना वायरस का संक्रमित मरीज, तो तुरंत करें ये काम

कोविड के नए वेरिएंट (Covid new variant) से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी 

ओमीक्रॉन वेरिएंट (Omicron variant) 

कोविड के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन के केस देश ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व में बढ़ते जा रहें हैं। ओमीक्रॉन के मरीज सबसे पहले साउथ अफ्रीका में रजिस्टर किये गए और देखते-देखते भारत समेत कई देशों में ओमीक्रॉन ने दस्तक दे दी है। सेंटर फॉर एपिडेमिक रेस्पॉन्स एंड इनोवेशन ऑफ साउथ अफ्रीका (Center for Epidemic Response and Innovation) द्वारा पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार कोविड के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन अन्य वेरिएंट्स से अलग है। वहीं इस वेरिएंट में तकरीबन 50 म्यूटेशन हुए हैं, जो चिंता का विषय माना जा रहा है। कोरोना वायरस के वेरिएंट ओमीक्रॉन के लक्षणों पर भी गौर करना आवश्यक है। 

ओमीक्रॉन के लक्षण (Symptoms of Omicron) 

सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (Centers for Disease Control and Prevention) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार ओमीक्रॉन के लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे: 

  • मतली (Nausea) आना। 
  • भूख (Loss of appetite) नहीं लगना। 
  • सिरदर्द (Headache) होना। 
  • कफ (Cough) बनना। 
  • थकावट (Fatigue) महसूस होना। 
  • भारीपन (Congestion) महसूस होना। 
  • नाक बहना (Runny nose)

ये हुए ओमीक्रॉन से जुड़ी जानकारी। अब आर्टिकल में आगे समझेंगे आईएचयू वेरिएंट (IHU variant) के बारे में।  

आईएचयू वेरिएंट (IHU variant)

कोविड के नए वेरिएंट की लिस्ट में IHU वेरिएंट भी शामिल है। IHU वेरिएंट के मरीज सबसे पहले दिसंबर 2021 में दक्षिण फ्रांस में रजिस्टर किये गए थें और अब धीरे-धीरे इसके मामले भी बढ़ रहें हैं। साउथ फ्रांस के मेडिटरेनियन इन्फेक्शन यूनिवेर्सिटी हॉस्पिटल इंस्टिट्यूट (Mediterranee Infection University Hospital Institute) के अनुसार IHU वेरिएंट के 46 म्यूटेंट हैं और कोविड के नए वेरिएंट IHU वेरिएंट पर और भी रिसर्च किये जा रहे हैं। 

आईएचयू वेरिएंट के लक्षण (Symptoms of IHU variant)

आईएचयू वेरिएंट पर अभी भी रिसर्च की जा रही है और रिसर्च के अनुसार IHU वेरिएंट के लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं। 

ये हुए IHU वेरिएंट (IHU variant) के लक्षण और उससे जुड़ी जानकारी। अब आर्टिकल में आगे समझेंगे फ्लूरोना ​के बारे में।  

फ्लूरोना वेरिएंट (Flurona variant) 

कोविड 19 के नए वेरिएंट की लिस्ट में शामिल हो रहे फ्लूरोना वेरिएंट का सबसे पहले केस इसराइल में रजिस्टर किया है। हालांकि मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो यह नया वेरिएंट नहीं है, लेकिन यह डबल इंफेक्शन का कारण बन सकता है। अब अगर इसे सामान्य शब्दों में समझें तो फ्लूरोना वेरिएंट (Flurona variant) होने के दौरान व्यक्ति एक ही समय पर कोविड 19 (Covid-19) और इन्फ्लुएंजा वायरस (Influenza  viruses) दोनों के एक साथ होने की वजह से डबल इंफेक्शन माना गया है। फ्लूरोना वेरिएंट (Flurona variant) डेलमिक्रॉन की तरह है और यह तब होता है जब डेल्टा एवं ओमीक्रॉन एकसाथ अटैक कर दे। 

फ्लूरोना वेरिएंट के लक्षण (Flurona variant)

फ्लूरोना वेरिएंट के लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे: 

  • निमोनिया (Pneumonia) की समस्या होना। 
  • सांस (Respiratory complications) से जुड़ी तकलीफ महसूस होना। 
  • मायोकार्डिटी (Myocarditis) की समस्या होना। 

ऐसे लक्षण फ्लूरोना वेरिएंट की ओर इशारा करते हैं। चलिए अब जानते हैं कोविड के नए वेरिएंट डेलमिक्रोण के बारे में। 

डेल्मिक्रॉन वेरिएंट (Delmicron variant) 

कोरोना वायरस के डेल्टा (Delta) और ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron) दोनों को मिलाकर डेल्मिक्रॉन वेरिएंट का नाम रखा गया है। देश ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व में कोविड के नए वेरिएंट के अलावा डेल्टा (Delta) और ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron) अपना पैर पसार चूका है। 

डेल्मिक्रॉन वेरिएंट के लक्षण (Symptoms of Delmicron variant) 

कोरोना वायरस के लक्षणों से मिलते-जुलते लक्षण डेल्मिक्रॉन वेरिएंट के हो सकते हैं। जैसे: 

  • गले में खराश (Sore throat) होना। 
  • सिरदर्द (Headache) होना।  
  • थकान (Fatigue) महसूस होना। 

ये हुए डेल्मिक्रॉन वेरिएंट (Delmicron variant) के लक्षण और उससे जुड़ी जानकारी। अब आर्टिकल में आगे समझेंगे डेल्टा वेरिएंट (Delta variant) के बारे में।  

डेल्टा वेरिएंट (Delta variant)

कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट (Delta variant) ने कुछ महीने पहले लोगों को तेजी से अपना शिकार बनाया था। डेल्टा वेरिएंट (Delta variant) के एक और वेरिएंट डेल्टा प्लस वेरिएंट (Delta Plus variant) के मामले भी रजिस्टर किये गयें। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार कोरोना के किसी भी वेरिएंट ने अगर आपको अपना शिकार बना लिया है तो ऐसे में डॉक्टर से संपर्क करना बेहद जरूरी है। अब ऐसे में ये सवाल उठता है कि कैसे समझें इसके लक्षणों को। 

डेल्टा वेरिएंट के लक्षण (Symptoms of Delta variant)

  • तेज खांसी होना। 
  • जुकाम होना।  
  • गले में खराश महसूस होना। 
  • नाक बहना। 
  • सिरदर्द होना।  
  • सांस लेने में तकलीफ महसूस होना। 

अगर आपको ऊपर बताये कोरोना वायरस के किसी भी वेरिएंट के लक्षण नजर आते हैं, तो सबसे पहले अपने आपको क्वारंटाइन करें और डॉक्टर से कंसल्ट करें।

और पढ़ें : इलाज के बाद भी कोरोना वायरस रिइंफेक्शन का खतरा!

कोरोना वायरस या कोविड के नए वेरिएंट से कैसे बचें? (Tips to prevent from Covid)

कोरोना वायरस के किसी भी वेरिएंट का खतरा न हो या किसी अन्य संक्रमण से भी बचने के लिए मुंबई के जसलोक हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के इन्फेक्शन डिजीज के डायरेक्टर डॉ. ओम श्रीवास्तव हाथ धोने का क्या है सही तरीका स्टेप बाई स्टेप बता रहें हैं- 

स्टेप 1- सबसे पहले पानी का नॉब खोलें

स्टेप 2- पानी का टेम्प्रेचर हल्का गर्म हो

स्टेप 3- हाथ को पानी से गीला करें

स्टेप 4- फिर सोप लगाएं

स्टेप 5- अब दोनों हाथों को अच्छी तरह 20 सेकेंड आपस में आगे-पीछे और उंगलियों के बीच में आराम से रगड़े

स्टेप 6- अंत में हाथ धो लें

अगर आप में कोरोना वायरस (COVID 19) या इसके नए वेरिएंट से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। ऐसे वक्त में अगर कोई परेशानी समझ आती है, तो खुद से इलाज न करें और डॉक्टर से कंसल्ट करें। अगर आपको डर है कि कहीं आप इंफेक्शन के शिकार हो चुके हैं, तो किसी के संपर्क में ना आएं और सबसे पहले टेस्ट करवाएं। वो कहते हैं ना सावधानी हटी दुर्घटना घटी। यहां भी कुछ यही हाल है। आपको पैनिक नहीं करना है सिर्फ समझदारी से काम करना है।  

स्वस्थ रहने की कुंजी छिपी है आहार में। नीचे दिए इस वीडियो में एक्सपर्ट से जानिए कब और क्या खाना है स्वास्थ्य के लाभकारी?

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Sayali Chaudhari

फार्मेकोलॉजी · Hello Swasthya


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 09/02/2022

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement