home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

डॉक्टर्स की सेहत का रखना चाहते हैं ख्याल, तो प्लीज डोंट ब्रेक कोविड 19 रूल्स

डॉक्टर्स की सेहत का रखना चाहते हैं ख्याल, तो प्लीज डोंट ब्रेक कोविड 19 रूल्स

महामारी के समय खुद को रखें सेहतमंद ये तो हमसभी एक्सपर्ट्स से एवं अलग-अलग रिसर्च सेंटर से सुनते आ रहें हैं। हमसभी कोरोना वायरस से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग एवं अन्य कोविड 19 गाइडलाइंस का पालन कर रहें हैं, लेकिन इस महामारी के वक्त में हेल्थ एक्सपर्ट्स या डॉक्टर्स अपने आप को कैसे कोरोना वायरस से बचा रहें हैं, यह समझना बेहद जरूरी है। इसलिए आज इस आर्टिकल में हम इस आर्टिकल में लोगों को गंभीर बीमारियों से बचाने और एक नई जिंदगी देने वाले डॉक्टर्स की सेहत (Doctor’s health) के बारे में समझेंगे।

और पढ़ें : नेशनल डॉक्टर्स डे पर कहें डॉक्टर्स को थैंक यू और जानें भारत के टॉप 10 डॉक्टर्स के नाम

डॉक्टर्स की सेहत और कोरोना वायरस (Doctor’s Health & Coronavirus)

आर्टिकल में डॉक्टर्स की हेल्थ के बारे में समझेंगे, लेकिन सबसे पहले आपको बता दें कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (Indian Medical Council Association) की ओर से ऑर्गेनाइज कार्यक्रम में देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी (PM Shri Narendra Modi) ने डॉक्टर्स डे (Doctor’s Day) के इस खास मौके पर डॉक्टर्स को ईशवर का दूसरा रूप कहा और उनसे प्रेरणा मिलने की बात कही। इसी खास मौके पर जब हमने कोलकाता में प्रायवेट प्रैक्टिस कर रहे गायनोकोलॉजिस्ट डॉ. जयदीप बासु से जब हैलो स्वास्थ्य की टीम ने बात की तो उनका कहना है कि यह वक्त जितना आम लोगों के लिए कठिन है उतना ही डॉक्टर्स या हेल्थ वर्क्स के लिए भी कठिन है। डॉ. जयदीप बासु कहते हैं मुझे तो अस्पताल रोजाना जाना ही है, क्योंकि प्रेग्नेंट लेडी (Pregnant lady) की ट्रीटमेंट और फिर डिलिवरी (Baby delivery) दोनों ही घर पर नहीं हो सकती है। महामारी के इस वक्त में कोरोना वायरस से बचाव के लिए हर छोटी-बड़ी बातों का ध्यान रखता हूं। जैसे मास्क (Mask) लगाना, हैंड वॉश (Hand wash) करना या फिर सोशल डिस्टेंसिंग (Social distancing) फॉलो करना। ऐसा करने से मैं अपने आपको सेफ रखने के साथ-साथ अपने परिवार और गर्भवती महिलाओं को भी संक्रमण से बचने में मदद कर रहा हूं। मैं लोगों से भी यही अपील करना चाहुंगा कि कोविड 19 गाइडलाइंस का पालन करें और वैक्सिनेशन के बाद भी लापरवाही ना बरतें।

डॉक्टर्स की सेहत और कोरोना वायरस के इस वक्त में कोलकाता के अतिन्द्रम मेडीकेयर के डॉ. रजनीश दुबे से जब हैलो स्वास्थ्य की टीम ने बात की, तो डॉ. दुबे कहते हैं डॉक्टर्स को प्रीकॉशन लेना बेहद जरूरी है और हेल्थ केयर वर्कर्स अपनी ओर से पूरी सतर्कता बरतने की कोशिश कर रहें हैं, जिससे लोगों को ठीक तरह से ट्रीटमेंट मिल सके। हालांकि लोगों को अभीभी लापरवाह नहीं होना चाहिए, क्योंकि ब्रिटेन एवं अन्य देशों में कोरोना वायरस की तीसरी लहर (3rd Wave) भी दस्कत दे चुकी है और लॉकडाउन (Lockdown) जैसी स्थिति शुरू हो गई है। हमें भी इन बातों को इग्नोर नहीं करना चाहिए और कोविड 19 (Covid 19) से जुड़ी बताई गई जरूरी जानकारी का पालन करना चाहिए। ऐसा करने से आप अपनी, अपने परिवार की और डॉक्टर्स की सेहत का भी ख्याल रख पाएंगे।

और पढ़ें : 18+ वालों का भी COVID-19 वैक्सीनेशन💉 , लेकिन किन बातों का रखें ध्यान?

डॉक्टर्स की सेहत (Doctor’s health) को बेहतर रखने में हम कैसे सहायता कर सकते हैं?

डॉक्टर की हेल्थ अच्छी रहे, इसलिए हमसभी निम्नलिखित तरह से उनकी सहायता कर सकते हैं। जैसे:

घर पर रहें (Stay at Home)

डॉक्टर्स की सेहत का अगर ख्याल रखना चाहते हैं, तो सबसे पहले घर पर रहें। जबतक कोई अत्यधिक जरूरी काम ना हो तबतक बाहर ना जाएं। #स्टे_एट_होम (#Stay at Home)।

तबीयत ठीक ना लगना (Feeling unwell)

अगर आपको कोई भी शारीरिक परेशानी जैसे कमजोरी (Weakness), बुखार (Fever) या बॉडी पेन (Body pain) जैसी तकलीफ होती है, तो ऐसी स्थिति में सीधे अस्पताल नहीं जाएं। सबसे पहले अपने आपको घर पर ही आइसोलेट (Isolate) करें और फिर डॉक्टर से फोन पर कंसल्ट करें। डॉक्टर फोन कंसल्टेशन के दौरान आपसे आपके शारीरिक लक्षणों के बारे में पूछेंगे, तो इस दौरान आप अपनी तकलीफ डॉक्टर को जरूर बताएं। अगर आपके सिम्पटम्स कोरोना वायरस इंफेक्शन (Coronavirus infection) से मिलते हैं, तो डॉक्टर आपको कोविड 19 टेस्ट (Covid 19 Test) करवाने की सलाह देंगे। आप सावधानी पूर्वक घर पर ही टेस्ट करवा सकते हैं या डॉक्टर से कंसल्ट कर कोविड 19 टेस्ट (Coronavirus Test) प्रक्रिया को समझ सकते हैं। इस दौरान पेशेंट या पेशेंट के परिवार वालों को डरना या घबराना नहीं चाहिए, बल्कि समझदारी से इलाज जल्द से जल्द शुरू करणा चाहिए।

और पढ़ें : कोविड-19 एट-होम टेस्ट के लिए एफडीए ने दी मंजूरी, घर बैठे हो जाएगा टेस्ट

डोनेट करें (Donation)

कोविड 19 इंफेक्शन से बचने के लिए अगर संभव हो सके, तो आप निम्नलिखित प्रॉडक्ट्स जरूरतमंदों तक पहुंचा सकते हैं। जैसे:

  • मास्क (Mask) या सर्जिकल मास्क
  • चेहरे या आंखों के लिए शील्ड (Face or eye shields)
  • डिस्पोसिबल ग्लव्स (Gloves)
  • हैंड सैनेटाइजर (Hand sanitizers)
  • वायरल टेस्टिंग स्वैब्स (Viral testing swabs)

हाल ही में यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो मेडिसिन (University of Chicago Medicine) द्वारा इन ऊपर बताये गए प्रॉडक्ट्स की बढ़ते डिमांड से जुड़ी जानकारी भी शेयर की गई है। वहीं डॉक्टर्स का भी मानना है कि ये प्रॉडक्ट्स फ्रंटलाइन वर्क्स (Frontline workers) के लिए बेहद लाभकारी हैं, जो दिन रात इस महामारी से लोगों को बचाने में हमारा साथ दे रहें हैं।

और पढ़ें : Coronavirus Precautions: कोरोना से बचाव के बारे में A to Z हर जानकारी, अभी जानें

बाहर निकलने के दौरान क्या करें

अगर बाहर जाना अर्जेन्ट है, तो ऐसी स्थिति में निम्नलिखित बातों का ध्यान अवश्य रखें। जैसे:

  • चेहरे पर मास्क (Mask) जरूर लगाएं
  • फेस शील्ड (Face shield) का इस्तेमाल करें।
  • किसी भी अनावश्यक चीजों को ना छुएं।
  • हाथों को सैनेटाइज (Sanitize) करें।
  • अपने साथ सैनेटाइजर जरूर रखें।
  • सोशल डिस्टेंसिंग (Social distancing) फॉलो करें।
  • बाहर से लाये सामानों को अच्छी तरह से साफ करें।
  • बाहर से आने के बाद घर के सदस्यों का बच्चों के संपर्क में ना आएं।
  • बाहर से आने के बाद हल्के गुनगुने पानी से स्नान (Shower) करें।

इन बातों का ध्यान अवश्य रखें। ऐसे करने से आप अपने साथ-साथ डॉक्टर्स की सेहत (Doctor’s health) को ठीक रखने में अपना योगदान दे सकते हैं।

और पढ़ें : कोविड-19 सर्वाइवर आश्विन ने शेयर किया अपना अनुभव कि उन्होंने कोरोना से कैसे जीता ये जंग

कोरोना वायरस के केसेस में कमी राहत की खबर है, लेकिन इसके साथ ही बार-बार इसके तीसरे वेभ से बचने के लिए भी रिसर्च सेंटर्स एवं डॉक्टर्स लगातार लोगों को सतर्क रहने की सलाह भी दे रहें हैं। इसलिए नीचे दिए इस क्विज को खेलिए और कोविड 19 से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियों को ध्यान में रखें।

और पढ़ें : कोरोना वायरस लंग्स को कैसे नुकसान पहुंचाता है?

महामारी से बचना और अन्य लोगों को बचाना हर एक लोगों की जिम्मेदारी है, क्योंकि कोरोना वायरस के कारण मानसिक स्वास्थ्य पर नेगेटिव प्रभाव आम लोगों के साथ-साथ डॉक्टर्स पर भी पड़ता है। नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन (NCBI) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस का नेगेटिव प्रभाव डॉक्टर्स के मेंटल हेल्थ पर भी पड़ रहा है। डॉक्टर्स डिप्रेशन (Depression) या एंग्जायटी (Anxiety) जैसी समस्याओं के शिकार हो रहें हैं। इसलिए इस डॉक्टर्स डे पर हमसभी को अपने हेल्थ के साथ-साथ डॉक्टर्स की सेहत का भी ध्यान रखना चाहिए और यह तभी संभव है, जब हमसभी इस कोरोना वायरस के संक्रमण (Covid 19 Infection) से बचने के लिए बताये गए गाइड लाइंस को फॉलो करेंगे।

नैशनल डॉक्टर्स डे (National Doctors Day) के इस खास मौके पर और पिछले साल से लगातर कोरोना वायरस से संक्रमित (Infected) लोगों का इलाज कर रहें डॉक्टर्स की भूमिका और जिम्मेदारियों को अनदेखा नहीं किया जा सकता है। इसलिए हमसभी को अपनी सेहत के साथ-साथ डॉक्टर्स की सेहत (Doctor’s health) का भी ख्याल रखना चाहिए। अगर हमसभी कोरोना वायरस से बचने के लिए बताये गए गाइड लाइंस का ठीक तरह से पालन करना चाहिए। क्योंकि अगर हमसभी रहेंगे कोविड 19 के इंफेक्शन (Covid 19 Infection) से सुरक्षित, तभी डॉक्टर्स की सेहत भी रह सकती है अच्छी।

हेल्दी रहने के लिए अपने दिनचर्या में योगासन शामिल करें। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक करें और योगा एक्सपर्ट से जानिए योग के फायदे और योग करने का सही तरीका क्या है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

8 ways to protect doctors caring for patients with COVID-19/https://www.ama-assn.org/delivering-care/public-health/8-ways-protect-doctors-caring-patients-covid-19/Accessed on 01/07/2021

INDIAN MEDICAL ASSOCIATION
HOSPITAL BOARD OF INDIA
COVID-19 – ROLE OF HOSPITALS & HEALTHCARE PROFESSIONALS/https://www.ima-india.org/ima/pdfdata/COVID-19-Guidelines-for-Hospitals-n-Doctors.pdf/Accessed on 01/07/2021

Is India’s Health Care Infrastructure Sufficient for Handling COVID 19 Pandemic?/https://www.clinmedjournals.org/articles/iaphcm/international-archives-of-public-health-and-community-medicine-iaphcm-4-041.php?jid=iaphcm/Accessed on 01/07/2021

The Critical Role of Health Care Professionals During the COVID-19 Pandemic/https://www.fda.gov/news-events/speeches-fda-officials/critical-role-health-care-professionals-during-covid-19-pandemic-08102020/Accessed on 01/07/2021

A tribute to frontline corona warriors––Doctors who sacrificed their life while saving patients during the ongoing COVID-19 pandemic/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7350477/Accessed on 01/07/2021

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 01/07/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड