Coronavirus Lockdown : क्या कोरोना के डर ने आपकी रातों की नींद चुरा ली है, ये उपाय आ सकते हैं आपके काम

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट सितम्बर 11, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

आप ये तो जानते ही होंगे कि आठ घंटे की नींद हमारे शरीर के लिए कितनी जरूरी होती है। जिन लोगों की नींद पूरी नहीं हो पाती है, उन्हें शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कोरोना जैसी महामारी में अनिद्रा की समस्या का सामना कई लोगों को करना पड़ रहा है। भारत में लॉकडाउन के कारण भले ही वायरस से सुरक्षा मिल रही है लेकिन लोगों के जीवन में अन्य बुरे प्रभाव भी देखने को मिल रहे हैं। दिनभर घर में रहने के कारण लोगों में स्ट्रेस, किसी बात को लेकर तनाव की समस्या, नींद न आने की समस्या के साथ ही इम्यूनिटी में भी बुरा असर पड़ रहा है।

ऐसा नहीं है कि नींद न आने की समस्या केवल बुजुर्गों या वयस्कों को ही हो, बच्चों की नींद में भी बुरा असर पड़ रहा है। बच्चे दिन में सो रहे हैं क्योंकि उन्हें बाहर खेलने को नहीं मिल पा रहा है, वहीं रात भर जाग कर घर के अन्य सदस्यों को भी परेशान कर रहे हैं। ये कहना गलत नहीं होगा कि लॉकडाउन की वजह से ज्यादातर घरों के सदस्यों को नींद न आने की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। अगर आपको भी महामारी में अनिद्रा की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो यहां कुछ टिप्स दिए जा रहे हैं, उन्हें अपनाकर आप चैन की नींद सो सकते हैं।

और पढ़ें: अगर आपके आसपास मिला है कोरोना वायरस का संक्रमित मरीज, तो तुरंत करें ये काम

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

महामारी में अनिद्रा की समस्या : स्ट्रेस करें कम

ये बात सच है कि महामारी के कारण कई लोग डर गए हैं। डर के पीछे नौकरी, व्यापार, आमदनी, किसी तरह की बीमारी आदि कारण शामिल है। आपको एक बात ध्यान रखनी चाहिए कि कोरोना महामारी दुनियाभर में कोहराम मचा रही है। केवल आपके परेशान होने से महामारी खत्म नहीं होगी। बल्कि सावधानी रखने से इस संक्रमण का अंत संभव है। अगर आप बेवजह परेशान हो रहे हैं तो आपको कुछ बातों के बारे में गंभीरता से सोचना होगा। आप चाहें तो परिवार के सदस्यों से इस बारे में बात कर सकते हैं। स्ट्रेस को कम करने के लिए परिवार के साथ क्वालिटी टाइम स्पेंड करें। अगर स्ट्रेस कम हो जाएगा तो महामारी में अनिद्रा की समस्या यानी नींद न आने की समस्या से भी आपको आसानी से छुटकारा मिल जाएगा।

और पढ़ें: कोरोना वायरस फैक्ट चेक: कोरोना वायरस की इन खबरों पर भूलकर भी यकीन न करना, जानें हकीकत

महामारी में अनिद्रा की समस्या : टाइमटेबल करें मेंटेन


मान लीजिए कि आपके पास लॉकडाउन में वर्क फ्रॉम होम चार से पांच घंटे का है। बाकी समय आप फ्री हैं तो आपको टाइम टेबल मेंटेन करना चाहिए। ऐसा करने से आपको बोरियत या किसी भी प्रकार का स्ट्रेस फील नहीं होगा। सुबह उठकर कुछ देर योगा करना, फिर परिवार के साथ ब्रेकफास्ट, ऑफिस का काम, बच्चों के साथ खेलना, अपनी हॉबी को थोड़ा समय देना, फेवरेट डिश बनाना और किताबें पढ़ना। यकीन मानिए, ऐसा करने से आपका दिन बहुत अच्छे से बीतेगा और आपको रात में नींद भी अच्छी आएगी। नींद न आने की समस्या से निपटने के लिए आपको ऐसा जरूर करना चाहिए।

महामारी में अनिद्रा की समस्या: अपना ध्यान केंद्रित करें

जब हम बेड पर लेटते हैं, तो हमारा ध्यान बहुत इधर-उधर भागता रहता है। इसलिए जब भी आप बिस्तर में लेटने जाएं तो ध्यान रखें की आपको अपना ध्यान किसी एक जगह केंड्रित करना है। उदाहरण के लिए बताएं तो, मान लिजिए आप अपना ध्यान एक ‘ओम’  या ‘स्वास्तिक’ पर या जो भी आपको पसंद हो  जहां भी ध्यान लगाकर आपका मन शांत हो सके। आपको उस जगह पर अपना ध्यान लगाना है। इस प्रकार भी आपको नींद जल्दी आ सकती है।

और पढ़ें: शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाकर कोरोना वायरस से करनी होगी लड़ाई, लेकिन नींद का रखना होगा खास ध्यान

महामारी में अनिद्रा की समस्या : दिन में न लें नींद

अब चूंकि लॉकडाउन चल रहा है तो घर में सारा दिन रहना पड़ता है। हो सकता है कि आपको बेड को देखते ही दिन में कभी-कभार सोने का मन कर जाता हो ? अगर ऐसा है तो सावधान हो जाएं। दिन में लंच करने के बाद अक्सर लोगों को नींद आती है। ऑफिस में रहकर तो इसे कंट्रोल किया जा सकता है, लेकिन घर में रहकर ऐसा करना पॉसिबल नहीं हो पाता है। दिन में नींद लेने से शरीर में फैट अधिक बढ़ने की संभावना रहती है। साथ ही दिन की नींद लेने से रात में नींद न आने की समस्या भी हो जाती है।

महामारी में अनिद्रा की समस्या: पैर धोकर लेटे

बहुत से लोगों को यह थोड़ा अजीब लग सकता है। लेकिन ऐसा माना जाता है कि जब हम रात में सोने से पहले अपने पैर को अच्छी तरह से धोकर और हल्के से पोछकर बिस्तर में जाते हैं। तो हमें बहुत जल्दी और अच्छी नींद आती है। इसी प्रकार यदि आपने लेटने के कुछ समय पहले ही मुंह नहीं धुला है तो आपको बिस्तर में जाने से पहले पैर के साथ-साथ अपने मुंह को भी ठंडे पानी से धो लेना चाहिए। इसके बाद बहुत ही अच्छी नींद आती है।

कोविड-19 की ताजा जानकारी
देश: भारत
आंकड़े

1,435,453

कंफर्म केस

917,568

स्वस्थ हुए

32,771

मौत
मैप

और पढ़ें: कोरोना वायरस के 80 प्रतिशत मरीजों को पता भी नहीं चलता, वो कब संक्रमित हुए और कब ठीक हो गए

नींद न आने की समस्या है तो करें एक्सरसाइज

कुछ दिनों से लोगों के जीवन में बहुत से बदलाव हुए हैं। जो लोग रोज वॉकिंग के लिए जाते थे, उन्हें घर में ही रहना पड़ रहा है। या फिर जो लोग रोज जिम जाते थे, उनके पास भी फिलहाल कोई ऑप्शन नहीं है। अगर आपको अच्छी नींद चाहिए तो घर में ही रहकर एक्सरसाइज करनी होगी। आपने सेलीब्रिटीज के सोशल मीडिया में एक्सरसाइज वाले फोटो तो जरूर देखे होंगे। बस आपको भी बिना एक्सरसाइज में ब्रेक लगाए रोजाना व्यायाम करना चाहिए। ऐसे कई एक्सरसाइज हैं जो आप घर में ही बिना बाहर गए या बिना किसी ट्रेनर की मदद के कर सकते हैं। इसके अलावा आप चाहे तो मॉर्निंग में कुछ समय के लिए योगा भी कर सकते हैं। जब हम एक्सरसाइज करते हैं, तो हमारी बॉडी में थकान होती है, हम चाहे न चाहे लेकिन हमारी बॉडी रेस्ट करना चाहती है। इसलिए जब आप रात में आपको कुछ ही समय में नींद आ जाती है। इसके साथ ही ऐसा करने से आपकी बॉडी को रिलेक्स फील होगा साथ ही रात में नींद भी अच्छी आएगी। आप चाहे तो घर की खुली जगह में बैठ कर कुछ समय के लिए मेडिटेशन भी कर सकते हैं। लेकिन, ध्यान रखें कि एक्सरसाइज करने के लिए लॉकडाउन में घर से बाहर न निकलें

नोट: जिन लोगों को नींद न आने की समस्या है, उन लोगों को रात में बेड पर जाने से पहले एक्सरसाइज नहीं करना चाहिए। जब हम एक्सरसाइज करते हैं। तो उस समय हमारी बॉडी बहुत एक्टिव रहती है, इसलिए उस समय एक्सरसाइज करने से बचना चाहिए।

इस वीडियो में देखें, कैसे करें योग की शुरुआत? किन सावधानियों का रखना होगा ध्यान?

महामारी में अनिद्रा की समस्या: जागने की कोशिश करें

यदि आप लाख कोशिश करने के बाद भी नहीं सो पाते हैं तो आपको अब सोने के बारे में सोचना ही नहीं है। जी हां, अब आपको जागने की कोशिश करनी है। दरअसल जब हम बहुत ज्यादा देर तक आंख बंद करके सोने का प्रयास करते हैं, तो इससे नींद नहीं आती है। लेकिन जब हम कोई काम करने के लिए जागने के बारे में सोचते हैं जैसे कि बुक पढ़ना या कोई अपनी मनपसंद स्टोरी पढ़ना, तो हमें नींद आने लगती है। ध्यान रखें कि पढ़ते समय आपको अपने होंठ हिलाने हैं। केवल मन में नहीं पढ़ना है।

यह भी पढ़ें: Coronavirus Predictions: क्या बिल गेट्स समेत इन लोगों ने पहले ही कर दी थी कोरोना वायरस की भविष्यवाणी

कहीं ज्यादा कैफीन तो नहीं ले रही हैं आप

ऑफिस में फ्रेश रहने के लिए लोग तीन से चार कप कॉफी या चाय तो आराम से पी लेते हैं। लेकिन घर में चाय या कॉफी अधिक हो सकती है। अगर आप भी अनजाने में कैफीन अधिक मात्रा में ले रहे हैं तो इसे तुरंत बंद कर दें। कैफीन की अधिक मात्रा लेने से भी नींद खराब हो जाती है। कुछ लोग स्ट्रेस में चाय ज्यादा पी जाते हैं या किसी का सिर दर्द होता है, उस समय उनको चाय पीने का मन करता है। दिन में एक से दो कप चाय लेने से समस्या नहीं होती है, लेकिन अधिक मात्रा में कैफीन का सेवन नींद न आने की समस्या पैदा कर सकता है। सोने के दो घंटे पहले तक मोबाइल फोन या ऐसे किसी डिवाइस का इस्तेमाल न करें। ज्यादा चाय पीने वाले लोग जब चाय पीना कम कर देते हैं या बंद कर देते हैं, तो उन लोगों को इससे कुछ समस्याएं होने लगती है। इसलिए चाय और कॉफी की आदत को छुड़ाने के लिए आपको ग्रीन टी या लेमन टी की मदद लेनी चाहिए। इसकी मदद से आप धीरे-धीरे अपनी आदत में बदलाव ला सकते हैं।

अगर आपको नींद न आने की समस्या पहले से है तो बेहतर होगा कि इस बारे में एक बार आप अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। अगर आपकी किसी भी प्रकार की बीमारी की दवा चल रही है तो उसे समय पर जरूर लें। हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

क्या पेंटोप्रोजोल, ओमेप्रोजोल, रैबेप्रोजोल आदि एंटासिड्स से बढ़ सकता है कोविड-19 होने का रिस्क?

पीपीआई यानी प्रोटोन पंप प्रोटोन पंप इंहिबिटर, ऐसी दवाएं जो हार्ट बर्न और एसिडिटी के इलाज में उपयोग की जाती है। अमेरिकन स्टडीज में दावा किया गया है कि इनके उपयोग से कोरोना वायरस का रिस्क बढ़ जाता है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
कोविड 19 सावधानियां, कोरोना वायरस सितम्बर 11, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

वर्ल्ड टूरिज्म डे: कोविड-19 के बाद कितना बदल जाएगा यात्रा करना?

कोविड-19 के बाद ट्रैवल करना पहले जितना मजेदार नहीं रहेगा क्योंकि एक तो आपको संक्रमण से बचाव की चिंता लगी रहेगी दूसरी तरफ कई नियमों का पालन भी करना होगा।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
कोविड-19, कोरोना वायरस सितम्बर 8, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

वर्ल्ड पेशेंट सेफ्टी डे: पेशेंट और हेल्थ वर्कर्स की सेफ्टी कैसे है एक दूसरे पर निर्भर?

जानिए विश्व मरीज सुरक्षा दिवस में कोविड-19 के समय कैसे मरीज और स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा एक दूसरे से संबंधित है? पेशेंट और हेल्थ वर्कर्स की सेफ्टी ।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन सितम्बर 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

गणेश चतुर्थी 2020 : गणेश चतुर्थी को लेकर सरकार ने जारी किए ये गाइडलाइन, जानें क्या नहीं करना होगा

गणेश चतुर्थी और कोरोना वायरस को लेकर राज्य सरकार ने दिशानिर्देश जारी किए हैं। महाराष्ट्र सरकार ने सभी 'मंडलों' के लिए गणेशोत्सव मनाने के लिए नगर पालिका या लोकल अथॉरिटी से परमिशन लेना अनिवार्य कर दिया है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
स्वास्थ्य बुलेटिन, त्योहार अगस्त 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

हाथों की सफाई, hand wash

हाथों की स्वच्छता क्यों है जरूरी, जानिए एक्सपर्ट की राय

के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ अक्टूबर 15, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
हार्ट पर कोविड-19 का प्रभाव, heart issues after recovery from coronavirus

कोविड-19 रिकवरी और हार्ट डिजीज का क्या है संबंध, जानिए एक्सपर्ट की राय

के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ सितम्बर 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
कोविड के बाद फेफड़ों का स्वास्थ्य -corona and lung world lungs day

क्या कोरोना होने के बाद आपके फेफड़ों की सेहत पहले जितनी बेहतर हो सकती है?

के द्वारा लिखा गया Ankita Mishra
प्रकाशित हुआ सितम्बर 22, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
कोरोना से ठीक होने के बाद के उपाय

कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद ऐसे बढ़ाएं इम्यूनिटी, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताए कुछ आसान उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ सितम्बर 18, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें