सोरायसिस के मरीजों के लिए डाइट प्लान कैसा होना चाहिए, जानिए

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट December 4, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

सोरायसिस त्वचा से संबंधित एक ऐसी बीमारी है, जिससे खासतौर पर घुटने, कोहनी, धड़ और खोपड़ी पर  लाल, खुजलीदार पपड़ी जम जाती है। सोरायसिस एक आम लेकिन लंबे समय तक रहने वाली बीमारी है, जिसका कोई इलाज नहीं है। किंतु, इस बीमारी में होने वाले लक्षणों का इलाज संभव है। इसके साथ ही अपने लाइफस्टाइल में परिवर्तन ला कर भी आप इस रोग में बेहतर महसूस कर सकते हैं। कुछ लोग जिन्हें सोरायसिस होता है, वो गठिया का ही एक रूप होता है जिसे सोरायटिक गठिया कहा जाता है। ऐसे में आपको सोरायसिस डाइट प्लान, लक्षण और कारण आदि के बारे में पता होना बेहद आवश्यक है।

सोरायसिस का निदान करना मुश्किल हो सकता है क्योंकि इसके लक्षण अन्य त्वचा रोगों की तरह हो सकते हैं। इसके निदान के लिए आपके डॉक्टर माइक्रोस्कोप की मदद से आपके लक्षणों के बारे में जान सकते हैं। सोरायसिस एक ऐसी बीमारी है जो लंबे समय तक रह सकती है, यहां तक ​​की जीवन भर भी। इस रोग को बदतर बनाने वाली चीजें इस प्रकार हैं: 

और पढ़ें : Arthritis : संधिशोथ (गठिया) क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

  • संक्रमण
  • तनाव
  • रूखी त्वचा
  • कुछ दवाएं,  जैसे लिथियम,इंडोमिथैसिन, प्लाक्वेनिल, क्विनाक्राइन, क्लोरोक्वीन और हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन आदि।

सोरायसिस आमतौर पर वयस्कों में होता है। यह कभी-कभी जेनेटिक भी होता है। उपचार में क्रीम, दवाएं और हल्की चिकित्सा शामिल हैं।

कारण 

सोरायसिस डाइट प्लान से पहले इसके कारण के बारे में जान लें। सोरायसिस को इम्यून सिस्टम की समस्या माना जाता है। सोरायसिस के सबसे आम प्रकार को प्लाक सोरायसिस के रूप में जाना जाता है। जो कोशिकाओं में  होने वाला लगातार परिवर्तन है जिसके परिणामस्वरूप लाल पैच और अन्य समस्याएं होती हैं। सोरायसिस प्रतिरक्षा प्रणाली की खराबी के कारण होता है, यह बात पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है। शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि इसमें जेनेटिक्स और पर्यावरणीय कारक दोनों एक भूमिका निभाते हैं।

सोरायसिस के कारण इस प्रकार हैं: 

  • संक्रमण, जैसे गले में खराश या त्वचा में संक्रमण
  • मौसम, विशेष रूप से ठंड, शुष्क स्थिति
  • त्वचा में चोट जैसे कट, किसी कीड़े का काटना या गंभीर रूप से सनबर्न
  • तनाव
  • स्मोकिंग या सेकेंडहैंड स्मोक के सम्पर्क में आना 
  • अधिक अल्कोहल का सेवन
  • कुछ दवाईयां जिसमें लिथियम, उच्च रक्तचाप की दवाएं शामिल हैं


सोरायसिस के मरीजों  को क्या खाना चाहिए

फल और सब्जियां 

सोरायसिस डाइट प्लान के बारे में जानने से पहले जानें कि इस रोग को दूर करने के लिए आपको क्या खाना चाहिएतरह-तरह के रंग के फल और सब्जियां खाने से सोरायसिस में होने वाली समस्याओं जैसे सूजन या जलन से छुटकारा मिलता है। इन फल और सब्जियों को खाने से आपका ब्लड प्रेशर कम होगा। इसके साथ ही दिल संबंधी समस्याएं भी दूर होंगी और ब्लड शुगर लेवल भी नियंत्रित रहेगा।

और पढ़ें: Quiz: इम्यूनिटी बूस्टिंग के लिए क्या करना चाहिए क्या नहीं , जानने के लिए यह क्विज खेलें

मछली 

मछली स्वस्थ डाइट का महत्वपूर्ण हिस्सा है। यह प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत हैं। इसके साथ ही इसमें सैचुरेटेड फैट कम होता है और ओमेगा 3 फैटी एसिड अधिक होते हैं। ओमेगा 3 फैटी एसिड लेने से दिल संबंधी समस्याएं और मेटाबोलिक सिंड्रोम से भी छुटकारा मिलता है।  सालमन, टूना, लेक ट्राउट मछली इसका अच्छा उदहारण है। इनके साथ ही अलसी के बीज, ओलिव आयल, कद्दू के बीज और अखरोट में भी ओमेगा 3s होता है।

पर्याप्त पोषक तत्वों को पाने के लिए इन खाद्य पदार्थों का सेवन करें:

  • गाजर 
  • शकरकंदी
  • पालक
  • ब्रोकोली
  • ब्लूबेरी
  • स्ट्रॉबेरी

सोरायसिस के मरीजों के लिए डाइट प्लान 

सोरायसिस डाइट प्लान इस प्रकार होना चाहिए:

सूजन दूर करने वाली डाइट

सोरायसिस में जोड़ों में सूजन एक बड़ा लक्षण है। ऐसे में इसके रोगी को ऐसा आहार खाना चाहिए जिससे सूजन कम हो जैसे हरी सब्जियां, फल, मछली आदि।

वजन कम करने वाली डाइट 

सोरायसिस डाइट प्लान में आप वजन कम करने वाली डाइट अवश्य लेंअगर आप वजन कम करना चाहते हैं, तो कार्बोहायड्रेट, शुगर और वसा का सेवन कम कर दें। ऐसा करने से आपके जोड़ों पर कम दबाव पड़ेगा। जिन लोगों का वजन अधिक होता है। उन्हें यह समस्या होने की संभावना भी अधिक होती है।

ग्लूटेन-फ्री डाइट

सोरायसिस के लक्षणों को कम करने के लिए ग्लूटेन फ्री डाइट आपकी मदद कर सकता है। जो लोग सोरायसिस से पीड़ित होते हैं। उनमें से 25% लोग ग्लूटोन के प्रति संवेदनशील होते हैं। इसलिए आपको अपने आहार में ग्लूटेन फ्री खाद्य पदार्थीं को शामिल करना चाहिए जैसे फल, सब्जिया आदि। सोरायसिस डाइट प्लान में अनाज, मेवे, दूध से बने खाद्य पदाथों की जगह मछली अंडे, फल और सब्जियां खानी चाहिए। इससे सूजन कम होती है।

और पढ़ें: अडूसा के फायदे : कफ से लेकर गठिया में फायदेमंद है यह जड़ी बूटी

क्या न खाएं

सोरायसिस डाइट प्लान में जानें हमें क्या नहीं खाना चाहिए

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

रेड मीट 

रेड मीट में कोलेस्ट्रॉल और सैचुरेटेड वसा अधिक होता है। इसलिए इसका सेवन न करें इसकी जगह चिकन, मछली, बीन या टोफू लें।

प्रोसेस्ड आहार  

प्रोसेस्ड आहार का भी कम सेवन करें जैसे मैदा आदि। इसकी जगह साबुत आनाज, डाले आदि का सेवन करें।

रिफाइंड चीनी 

रिफाइंड चीनी का सेवन करने से भी इस रोग की समस्या बढ़ सकती है। इसलिए मिठाई, चॉकलेट आदि इसकी जगह आप फलों का सेवन करें।

दूध और दूध वाले खाद्य पदार्थ 

कुछ लोग जो सोरायसिस से पीड़ित होते हैं। अगर वो दूध और दूध वाले पदार्थों का सेवन करते हैं तो उनमें सोरायसिस के लक्षण और भी बदतर हो सकते हैं। सही और संतुलित आहार से आपको फायदा होगा। इससे आपका स्वास्थ्य सुधरेगा। मधुमेह, हृदय रोग और उच्च रक्तचाप सहित सोरायसिस से जुड़ी बीमारियों में अपने खानपान का ध्यान रखने से आपके लक्षण कम होंगे। सोरायसिस डाइट प्लान के बारे में अच्छे से पहले ही जान लें।

और पढ़ें: सोरियाटिक गठिया की परेशानी होने पर अपनाएं ये उपाय

अन्य उपाय 

धूम्रपान न करें

सोरायसिस की समस्या और लक्षणों में राहत पाने के लिए सबसे पहले अगर आप धूम्रपान करते हैं, तो उसे छोड़ दें।

अदरक और हल्दी

सोरायसिस से पीड़ित मरीजों को अपने आहार में अदरक और हल्दी जो सूजन को रोकने में प्रभावी है। इन्हें भी अपने डाइट प्लान का हिस्सा बनाएं।

कम अल्कोहल 

शोध के मुताबिक अगर आप सोरायसिस की समस्याओं से राहत पाना चाहते हैं। तो अल्कोहल को कम मात्रा में लें, इससे आपका उपचार अधिक प्रभावी होता है।

वजन कम करें

अगर आपको यह समस्या है और आप का वजन अधिक है। तो पहले उसे कम करें, इससे इसके लक्षणों को कम करने में मदद मिलेगी।

व्यायाम

व्यायाम करने से सोरायसिस के नकारात्मक प्रभाव कम करने में मदद मिलती है। इससे आपका वजन कम होगा और साथ ही तनाव चिंता और अवसाद आदि से भी छुटकारा मिलता है।

डॉक्टर की सलाह लें

सोरायसिस एक जीवनभर की समस्या है, इसलिए नियमित रूप से डॉक्टर की सलाह लें। डॉक्टर आपके लिए सही उपचार की सलाह दे सकते हैं। इसके साथ ही वो सोरायसिस को बदतर बनाने वाले लक्षणों से बचाने के लिए इसे नियंत्रित कराने में आपकी मदद कर सकते हैं। इससे आपके जीवन की गुणवत्ता में सुधार आ सकता है। शुरुआत में, अगर आपको इस समस्या का पता चल जाए तो उपचार करना आसान हो सकता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

अल्सरेटिव कोलाइटिस रोगी के डाइट प्लान में क्या बदलाव करने चाहिए?

अल्सरेटिव कोलाइटिस डाइट प्लान, अल्सरेटिव कोलाइटिस में क्या खाएं और क्या न खाएं,अल्सरेटिव कोलाइटिस क्या है? Ulcerative colitis in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
स्पेशल डायट, आहार और पोषण July 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Folitrax: फोलिट्रैक्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

जानिए फोलिट्रैक्स की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Folitrax डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

सोरायसिस का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? जानें क्या करें और क्या नहीं

सोरायसिस का आयुर्वेदिक इलाज क्या है, सोरायसिस का आयुर्वेदिक इलाज इन हिंदी, सोरायसिस का इलाज, लक्षण, उपाय, Ayurvedic Medicine and Treatment for psoriasis.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
एलर्जी, एलर्जी, हेल्थ सेंटर्स June 9, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें

Goldthread: गोल्डथ्रेड क्या है?

जानिए गोल्डथ्रेड की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, गोल्डथ्रेड उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Goldthread डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Anu sharma

Recommended for you

सोरायसिस के लिए यूनानी चिकित्सा Unani treatments for Psoriasis

क्या सोरायसिस के लिए कारगर है यूनानी चिकित्सा?

के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
प्रकाशित हुआ January 30, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
वानी कपूर डाइट

अभिनेत्री वाणी कपूर कैसे रहती हैं इतनी फिट, जानिए उनका फिटनेस सिक्रेट

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ July 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
रूमेटाइड अर्थराइटिस डाइट प्लान

रूमेटाइड अर्थराइटिस के लिए डाइट प्लान: इसमें क्या खाएं और क्या न खाएं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ July 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अस्थमा डाइट प्लान की जानकारी

अस्थमा के मरीजों के लिए डाइट प्लान- क्या खाएं और क्या न खाएं

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ July 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें