क्या आप लॉकडाउन के दौरान नमक का अधिक सेवन करने लगे हैं? तो हो जाएं सावधान

Medically reviewed by | By

Update Date जून 2, 2020
Share now

कोविड-19 महामारी के प्रसार को रोकने के लिए सरकार ने लॉकडाउन लगाया हुआ है। लॉकडाउन में लोग अपने घरों में बंद हैं और बीमारी से बचने के लिए सभी सुरक्षा उपाय कर रहे हैं। यह बात तो आप भी जानते होंगे, लेकिन क्या आप यह जानते हैं कि घर में बैठे-बैठे लोगों को दूसरी तरह की समस्याएं होने लगी हैं। जी हां, ऐसी कई रिपोर्ट सामने आ रही हैं, जिसमें कहा जा रहा है कि घर में बैठे-बैठे लोगों की आदत बिगड़ने लगी है। लोग अपने खान-पान पर पूरा ध्यान नहीं दे पा रहे हैं। घर में नए-नए व्यंजन बनाए जा रहे हैं और छुट्टियों में लोग इसका भरपूर सेवन कर रहे हैं। इसके कारण लोगों का स्वास्थ्य बिगड़ने लगा है। लोग नमक का अधिक सेवन करने लगे हैं, जिससे उनको दूसरी बीमारियां होने की संभावना बढ़ती जा रही हैं। कहीं आपके खाने में भी तो नमक की अधिक मात्रा नहीं होती?

 डॉक्टर की चेतावनीः लॉकडाउन में लोग कर रहे अधिक मात्रा में नमक का सेवन 

तुर्की और दूसरे जगहों के वैज्ञानिकों ने लोगों को अपने खाने में नमक की अधिक मात्रा को कम करने की सलाह दी है। वैज्ञानिकों का कहना है कि कोरोना वायरस महामारी के समय अधिकांश लोग अपने घर के अंदर हैं। ऐसे में लोग सामान्य से अधिक नमक का सेवन कर सकते हैं। इससे लोगों को बहुत नुकसान हो सकता है। तुर्की के वैज्ञानिकों ने लोगों को चेतावनी दी है कि लॉकडाउन के दौरान भी लापरवाही न करें। कोविड-19 से बचने के लिए जिस तरह लोग सभी सुरक्षा उपाय कर रहे हैं, उसी तरह से दूसरी बीमारियों से भी बचें और इसके लिए नमक का सेवन कम करें।

नमक का सेवन : salt ka sevan

ये भी पढ़ेंः कोरोना महामारी के समय जानिए इम्यूनिटी पावर से जुड़े मिथ्स और फैक्ट्स

कोरोना महामारी में नमक का सेवन : खाने में नमक की मात्रा का रखें ध्यान

तर्क्या यूनिवर्सिटी के स्वास्थ्य विज्ञान विभाग के डॉ. सेदत उस्टंडैग ने कहा, “कोरोनो वायरस के प्रकोप से बचने के लिए लोग हर जरूरी उपाय कर रहे हैं, लेकिन इन उपायों के बीच दूसरी चीजों के बारे में लापरवाही बरत रहे हैं। ऐसे में लोगों का कोरोना से तो बचाव हो जाएगा, लेकिन दूसरी बीमारियों के होने की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए कोरोना वायरस के सभी उपायों का पालन करने के साथ-साथ लोगों को स्वास्थ्य से जुड़े सामान्य एहतियाती कदम का भी पूरी सख्ती से पालन करनी चाहिए।” 

नमक का सेवन : salt ka sevan

उन्होंने यह भी कहा कि कोविड-19 से बचने के लिए लोग एक दूसरे के संपर्क में आने से बच रहे हैं और रोग प्रतिरक्षा शक्ति को मजबूत करने के लिए पौष्टिक आहार का अधिक सेवन कर रहे हैं। ऐसे में सभी लोगों को खाने में नमक की मात्रा पर भी ध्यान देना चाहिए। महिलाओं को खाना पकाते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए। इसे साथ ही खाते समय भी नमक की अधिक मात्रा के सेवन से बचना चाहिए।

ये भी पढ़ेंः इटली के वैज्ञानिकों ने कोविड-19 वैक्सीन बनाने का किया दावाः जानिए इस खबर की पूरी सच्चाई

कोरोना महामारी में नमक का सेवन : डब्ल्यूएचओ ने भी दी है ऐसी सलाह

डॉ. सेदत उस्टंडैग ने आगे कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी नमक की मात्रा को लेकर लोगों को सलाह दी है। स्वस्थ लोगों को रोजाना सिर्फ 5 ग्राम नमक का सेवन करने को बोला गया है, लेकिन इस समय अधिकांश लोग इस बात की अनदेखी कर रहे हैं।

लॉकडाउन के दौरान अधिकांश घरों में ऐसे खाद्य पदार्थ बनाए जा रहे हैं, जिनमें नमक की अधिक मात्रा होती है। लोग जो प्रोसेस्ड फूड खा रहे हैं, उसमें भी अधिक नमक होता है। इसके अलावा भी लोग अपने खाने में अलग से नमक लेकर खा रहे हैं। यही कारण है कि लोगों में अधिक नमक से होने वाली बीमारियों की संभावन बढ़ती जा रही है। 

ये भी पढ़ेंः किडनी मरीजों को कोविड-19 से कितना खतरा? जानिए भारत के किडनी विशेषज्ञ डॉक्टरों की राय

ज्यादा नमक का सेवन करने से होती हैं ये बीमारियां

अगर आप ज्यादा नमक का सेवन करते हैं, तो ध्यान रखें कि इससे ये बीमारियां हो सकती हैंः-

  • ज्यादा नमक खाने से ह्रदय से जुड़ी गंभीर बीमारियां हो सकती है।
  • अधिक नमक से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाती है।
  • नमक की मात्रा अधिक होने से डिहाइड्रेशन की समस्या होने लगती है।
  • अगर आप अधिक मात्रा में नमक का सेवन करेंगे, तो इससे शरीर में सूजन होने लगती है। इसलिए खाने में नमक की मात्रा को कम करें।

नमक का सेवन : salt ka sevan

ये भी पढ़ेंः चमगादड़ की सुपर इम्यूनिटीः शरीर में कोरोना वायरस रहने के बाद कैसे जिंदा रहता है चमगादड़?

कोरोना महामारी में नमक का सेवनः खाने के टेबल से नमक की डिब्बी को रखें दूर

तर्क्या यूनिवर्सिटी के स्वास्थ्य विज्ञान विभाग के डॉ. उस्टंडैग ने यह भी कहा कि कई लोग रोज अधिक मात्रा में नमक खाते हैं। ऐसे लोग अपने खाने के टेबल पर नमक की डिब्बी रखते हैं। ऐसा नहीं करना है। कोविड-19 के प्रकोप के दौरान आप घर पर जरूर हैं, लेकिन इस दौरान भी आपको अपनी सेहत का पूरा ध्यान रखना है। इसलिए सबसे पहले टेबल से नमक की डिब्बी को दूर रखें। खाना पकाने के दौरान नमक का इस्तेमाल कम से कम करें और प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थों के सेवन से भी परहेज करें। सेच्युरेटेड फैट और हाई ग्लाइसेमिक खाद्य पदार्थों से भी बचें। रोज आप कितना नमक खाते हैं, उसे ट्रैक करें।

कोविड-19 की ताजा जानकारी
देश: भारत
आंकड़े

198,706

कंफर्म केस

95,527

स्वस्थ हुए

5,598

मौत
मैप

धूम्रपान करने वाले लोगों को कोरोना संक्रमण की अधिक संभावना

तर्क्या यूनिवर्सिटी के स्वास्थ्य विज्ञान विभाग के डॉ. सेदत उस्टंडैग के अनुसार, “कोविड-19 के समय में सबसे अधिक खतरा उन लोगों के जीवन को है, जिनको पहले से कोई दूसरी बीमारी है। इसके साथ ही जो लोग सिगरेट, शराब और तंबाकू का सेवन करते हैं, उनके जीवन को भी दूसरे लोगों की तुलना में अधिक जोखिम का खतरा है। धूम्रपान करने वाले लोगों को क्रोनिक बीमारी होने की अधिक संभावना होती है। इसलिए ऐसे लोगों को कोविड-19 से बचने के लिए इन आदतों को छोड़ देना चाहिए।”

उन्होंने यह भी कहा कि धूम्रपान करने से न केवल फेफड़े खराब होते हैं, बल्कि हृदय, वैस्कुलर और किडनी से जुड़ी बीमारियां भी होती हैं। इसी तरह शराब का सेवन करने से रोग प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर होती है। लोगों को अपने जीवन की सुरक्षा के लिए इन सभी बातों का पूरा ध्यान रखना चाहिए।

ये भी पढ़ेंः क्या सचमुच लाइपोसोमल ओरल विटामिन सी (Liposomal Oral Vitamin C) से कोविड-19 के इलाज में मिलती है मदद?

लॉकडाउन के दौरान रखें अपनी सेहत का ख्याल : पौष्टिक आहार का करें सेवन

नोवल कोरोना महामारी के समय हर जगह लोगों को नई-नई सलाह दी जा रही है। कहीं एक दोस्त दूसरे दोस्त को परामर्श दे रहा है, तो कहीं एक पड़ोसी दूसरे पड़ोसी को नसीहत दे रहा है। कहीं कोरोना वायरस से सुरक्षित रहने के लिए लोगों को फल और सब्जियों का अधिक सेवन करने के बारे में बोला जा रहा है, तो कहीं इस महामारी से बचने के लिए साबुन और सेनिटाइजर के इस्तेमाल की सलाह दी जा रही है। 

नमक का सेवन : salt ka sevan

ऐसे में आप उन्हीं परामर्श को माने, जो सही है। विशेषज्ञों की बातों को बिल्कुल नजरअंदाज न करें। घर पर व्यायाम करें, क्योंकि इससे आपका शरीर स्वस्थ होता है। पौष्टिक आहार का सेवन करें और पूरी नींद लें, क्योंकि इससे रोग प्रतिरक्षा प्रणाली ठीक रहती है। इसके साथ ही नमक का सेवन कम करें और धूम्रपान की आदत भी सुधारें।

ये भी पढ़ेंः कोविड-19 (कोरोना वायरस): जानें क्यों पुरुषों को महिलाओं की तुलना में है संक्रमण का अधिक खतरा!

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो, तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

एटीएम के उपयोग के दौरान टचस्क्रीन का यूज करते समय क्या सावधानी रखनी चाहिए, जानिए

एटीएम से कोरोना का खतरा की जानकारी in hindi. एटीएम यूज करते समय अगर टचस्क्रीन को छूते समय सावधानी न रखी जाए को कोरोना वायरस आसानी से फैल सकता है। ATM se Corona ka khatra

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Bhawana Awasthi

एक्सरसाइज के दौरान मास्क का इस्तेमाल कहीं जानलेवा न बन जाए

अगर आप रनिंग, जॉगिंग या फिर एक्सरसाइज के दौरान मास्क का उपयोग कर रहे हैं, तो आपके स्वास्थ्य पर इसका गलत असर पड़ सकता है। इसलिए, पहले यह जानकारी जरूर जान लें।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Surender Aggarwal

लॉकडाउन में डॉग ट्रेनिंग कैसे करें, जानें आसान टिप्स

लॉकडाउन में डॉग ट्रेनिंग करने का सुनहरा मौका है, अगर आपने कुछ दिनों पहले ही कोई पपी खरीदा है तो। इस समय को आप अपने कुत्ते को अच्छी आदतें सीखाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

Written by Surender Aggarwal

हवाई यात्रा आज से हो चुकी है शुरू, आपके लिए ये बातें जानना है जरूरी

कोविड-19 ट्रेवल एडवाइजरी जारी कर दी गई है। दो महीने बाद फिर से हवाई यात्रा शुरू कर दी गई हैं। कोरोना महामारी के दौरान सावधानी ही उचित उपाय है। Covid-19 travel advisory

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Bhawana Awasthi