Ibugesic Plus: इबुगेसिक प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 14, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

उपयोग

इबुगेसिक प्लस का उपयोग किसके लिए किया जाता है?

इबुगेसिक प्लस (Ibugesic Plus) एक मिश्रित दवा है, जिसका उपयोग दर्द और सूजन के उपचार के लिए किया जाता है। महिलाओं के मासिक धर्म के दर्द, गठिया से जुड़े दर्द, सिरदर्द, दांत दर्द, मांसपेशियों में दर्द या पीठ दर्द से जुड़े दर्द से राहत पाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।इस दवा के मुख्य इंग्रीडिएंट्स इबूप्रोफेन (Ibuprofen) और पैरासिटामोल (Paracetamol) हैं। इसका उपयोग अस्थायी रूप से बुखार के दौरान भी किया जा सकता है। साथ ही इसका सेवन वयस्कों के साथ-साथ छह महीने या उससे बड़ी उम्र के बच्चे भी कर सकते हैं।

और पढ़ें : Pulmoclear: पलमोक्लिअर क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इबुगेसिक प्लस (Ibugesic Plus) का उपयोगः

बताए गए लक्षणों के अलावा अन्य समस्याओं के लिए भी इबुगेसिक प्लस का उपयोग किया जा सकता है, अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ेंः Propranolol : प्रॉप्रैनोलॉल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इबुगेसिक प्लस का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

इबुगेसिक प्लस टैबलेट, सिरप और सस्पेंशन के रूप में मिलती है। अगर टैबलेट का सेवन कर रहे हैं, तो गोली को कुचलें या चबाएं नहीं बल्कि पानी के साथ इसे पूरा निगल लें। वहीं अगर सिरप का सेवन कर रहें हैं, तो खुराक से पहले दवा की शीशी को अच्छे से हिलाना चाहिए। पहली बार दवा की खुराक लेने से पहले इसके पैकेट में दिए गये लीफलेट को पढ़ना चाहिए। ध्यान रखें कि इसकी खुराक का सेवन हमेशा डॉक्टर की देखरेख में ही करें।

अगर आप इसकी खुराक लेना भूल जाते हैं, खुराक लेने में देरी करते हैं या खुराक लेने के बाद उल्टी हो जाती है, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात करें। अगर दवा की खुराक लेना भूल गए हैं और इसे कुछ घंटे बीत गए हैं, तो निश्चित किए गए समय पर अपनी अगली खुराक जारी रखें।

मैं इबुगेसिक प्लस (Ibugesic Plus) को कैसे स्टोर करूं?

मार्केट में इबुगेसिक प्लस के अलग-अलग ब्रांड हैं, जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। इबुगेसिकप्लस के रख-रखाव के लिए कमरे का तापमान सबसे बेहतर होता है। इसे धूप के सीधे प्रभाव या नमी में आने से बचाना होता है। इबुगेसिक प्लस को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह में न रखें। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। जब भी इबुगेसिक प्लस खरीदें सबसे पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़े या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें।

बिना निर्देश के इबुगेसिक प्लस को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुका है, तो इसका इस्तेमाल न करें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं और याद रखें कि इसकी खुराक रोगी की सेहत, आयु और रोगी के चिकित्सा स्थिती के आधार पर तय की जा सकती है।

और पढ़ेंः Rifaximin : रिफाक्सीमिन क्या है? जानिए इसका उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानियां और चेतावनियां

इबुगेसिक प्लस (Ibugesic Plus) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

इबुगेसिक प्लस दवा सिपला फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड द्वारा बनायीं और बिक्री की जाती है। जिसमें दो दवाओं आइबूप्रोफेन (Ibuprofen) और पैरासिटामोल (Paracetamol) का मिश्रण होता है।

इबूप्रोफेन (Ibuprofen)

इबूप्रोफेन एक गैर-रासायनिक दवा है, जो सूजन को कम करती है। बुखार कम करने और गठिया, सिरदर्द, दांत दर्द, पीठ दर्द, मासिक धर्म की ऐंठन और मामूली चोटों जैसी कई बीमारियों के कारण होने वाले दर्द या सूजन के इलाज में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

 पैरासिटामोल (Paracetamol)

पैरासिटामोल एनाल्जेसिक (दर्दनिवारक) और एंटीप्रेट्रिक (बुखार कम करना) दवा है। इसका उपयोग पीठ दर्द, अस्थिसंधिशोथ, सिरदर्द, मासिक धर्म की अवधि, दांत दर्दसर्दी, फ्लू से राहत पाने के लिए किया जाता है।

इबुगेसिक प्लस का उपयोग करने से पहले इन स्थितियों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करेः

  •   अगर इबुगेसिक प्लस में शामिल पैरासिटामोल या इबूप्रोफेन जैसी किसी भी सामग्री से एलर्जी हो, तो इसके उपयोग के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।
  •   अस्थमा
  •   पेट में अल्सर है या आंतो में सूजन होने या बड़ी आंत से जुड़ी कोई बीमारी होने पर
  •   प्रेग्नेंट होने पर
  •   ब्रेस्टफीडिंग के दौरान
  •   हाई ब्लड प्रेशर होने पर
  •   खून के थक्के बनने पर
  •   हेपेटिक या गुर्दे से संबंधित रोग
  •   कंजेस्टिव हार्ट फेलियर
  •   एनीमिया
  •   न्यूटोपेनिया
  •   गर्भ निरोधक गोलियों का सेवन करने के समय
  •   पहले से ही कोई विटामिन ले रहें हैं
  •   हाल ही में बायपास ऑपरेशन किया है तो
  •   स्ट्रोक या हार्ट अटैक

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इबुगेसिक प्लस (Ibugesic Plus) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इबुगेसिक प्लस के इस्तेमाल करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानियां हो सकती हैं, इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं है। अगर इस दौरान दवा की खुराक लेनी आवश्यक हो, तो केवल अपने विशेषज्ञ या चिकित्सक की सलाह लें।

और पढ़ेंः Nexito Plus : नेक्सिटो प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

जानिए इसके साइड इफेक्ट्स

इबुगेसिक प्लस (Ibugesic Plus) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

नीचे इबुगेसिक प्लस के सेवन से होने वाले कुछ संभावित दुष्प्रभावों की लिस्ट है। अगर आपको निम्नलिखित दुष्प्रभावों में से कोई भी लक्षण नजर आए तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें और इसका सेवन तुरंत रोक देः 

  •   मतली
  •   उल्टी
  •   गैस्ट्रिक या मुंह का अल्सर
  •   पेशाब में खून आना
  •   थकान महसूस करना
  •   सीने में जलन
  •   गैस
  •   कब्ज
  •   पेशाब में कमी
  •   त्वचा या आंख का पीला होना
  •   कानों में शोर सुनाई देना
  •   भूख की कमी
  •   खून की उल्टी

 इसके इस्तेमाल के कारण होने वाले सभी दुष्प्रभाव यहां पर नहीं बताएं गए हैं। अगर आप किसी भी तरह का जोखिम महसूस करते हैं, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ेंः Enzoflam: एन्जोफ्लाम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

इंटरैक्शन

कौन सी दवाएं इबुगेसिक प्लस (Ibugesic Plus) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

अगर आप किसी तरह की दवा का सेवन कर रहे हैं, तो उसके साथ इबुगेसिक प्लस इस्तेमाल करने से पहले यह जरूर जान लें कि उसके साथ इसका इस्तेमाल करने से आपको किस तरह की परेशानी हो सकती है। साथ ही यह आपकी दवा के असर को भी प्रभावित कर सकती है। बिना डॉक्टर की सलाह के इसका सेवन न करें। 

  •   कार्बामाजेपीन (Carbamazepine)
  •   मिथोट्रेक्सेट (Methotrexate)
  •   फेनीटोइन (Phenytoin)
  •   सोडियम नाइट्रेट (Sodium nitrate)
  •   लेफ्लूनॉमिड (Leflunomide)
  •   परिलोकैन (Prilocaine)
  •   कोर्टिकोस्टेरोइड (Corticosteroids)
  •   एसप्रिन (Aspirin)
  •   एंटीहाइपरटेंसिवस (Antihypertensives)
  •   एंटीकौयगुलांट (Anticoagulant)
  •   साइक्लोस्पोरिन (Cyclosporine)
  •   केटोकॉज़ोल (Ketoconazole)
  •   लिथियम दवाएं (Lithium)
  •   मिफेप्रिस्टोन (Mifepristone)
  •    एल्कोहॉल (Alcohol)
  •   वार्फरिन (Warfarin)

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ इबुगेसिक प्लस (Ibugesic Plus) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

अगर किसी भी भोजन या एल्कोहॉल के साथ इबुगेसिक प्लस का सेवन किया जाए, तो इसके परिणाम खतरनाक हो सकते हैं। इसलिए इसे किस तरह के खाद्य पदार्थों के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है इसके बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बातचीत करें। इस दवा का सेवन खाने के साथ या खाना खाने के पहले भी किया जा सकता है। लेकिन, पेट में परेशानी से बचने के लिए अच्छा है कि आप इसका सेवन खाने के साथ ही करें। 

इबुगेसिक प्लस (Ibugesic Plus) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

इबुगेसिक प्लस का इस्तेमाल आपकी सेहत के लिए कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपनी मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें। इसका अधिक सेवन किडनी और लिवर के लिए खतरनाक हो सकता है। अगर इसके इस्तेमाल से किसी भी तरह के लक्षण नजर आते हैं, तो तुरंत इसका सेवन बंद कर दें और डॉक्टर की सलाह लें। 

  •    गुर्दे की बीमारी
  •   अस्थमा
  •   अल्सर
  •   किडनी के रोग
  •   फेफड़ों की बीमारी
  •   पेट में इंफेक्शन
  •   त्वचा से जुड़ी कोई एलर्जी होने पर
और पढ़ेंः Zerodol SP : जीरोडोल एसपी क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

खुराक

दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में अपनी स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड जाएं। अगर ओवरडोज को लिए कुछ ही समय हुआ हो, तो रोगी को तुरंत उल्टी करने का प्रयास करना चाहिए। 

ओवरडोज होने के लक्षणः

  •   पेट दर्द
  •   पेट में जलन
  •   उल्टी
  •   मितली
  •   अपच
  •   कब्ज
  •   चक्कर आना
  •    गैस

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर इबुगेसिक प्लस की खुराक लेना भूल जाते हैं, तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो, तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Femilon Tablet : फेमिलोन टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फेमिलोन टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, फेमिलोन टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Femilon Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जुलाई 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

महिलाओं के लिए सेक्स वियाग्रा के उपयोग और साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

महिलाओं के लिए सेक्स वियाग्रा गोली के साइड इफेक्ट। महिलाओं के लिए सेक्स वियाग्रा गोली लेने से पहले किन बातों की जानकारी होनी चाहिए, जानें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Ruby Ezekiel
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh

Menstrual Hygiene Day : मेंस्ट्रुअल डिसऑर्डर से लड़ने और हाइजीन मेंटेन करने के लिए जानिए क्या हैं आयुर्वेदिक टिप्स

मेंस्ट्रुअल डिसऑर्डर के लिए आयुर्वेदिक टिप्स की जानकारी in hindi. मेंस्ट्रुअल डिसऑर्डर किसी को भी हो सकता है, ऐसे में आयुर्वेदिक टिप्स अपनाएं जा सकते हैं। Menstrual disorder, Ayurvedic tips

के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
महिलाओं का स्वास्थ्य, स्वस्थ जीवन मई 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

पीरियड्स के दाग अगर आपको कर रहे हैं परेशान तो अपनाएं ये तरीके

पीरियड्स के दाग को साफ करने की जानकारी in hindi. पीरियड्स के दाग से छुटकारा पाने के लिए आपको कुछ उपाय करने होंगे, जिससे दाग से छुटकारा मिल सके। Period Stains

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
महिलाओं का स्वास्थ्य, स्वस्थ जीवन मई 25, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

पीरियड्स का होना

‘पीरियड्स का होना’ नहीं है कोई अछूत, मिथक तोड़ने के लिए जरूरी है जागरूकता

के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 20, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
मेनोपॉज के बाद सेक्स - sex after menopause

ओल्ड एज सेक्स लाइफ को एंजॉय करने के लिए जानें मेनोपॉज के बाद शारिरिक और मानसिक बदलाव

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ जुलाई 29, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
पीरियड्स के दौरान स्ट्रेस

पीरियड्स के दौरान स्ट्रेस को दूर भगाने के लिए अपनाएं ये एक्सपर्ट टिप्स

के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जुलाई 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
मेप्रेट टैबलेट

Meprate Tablet : मेप्रेट टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जुलाई 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें