Onion: क्या हैं अनियन के फायदे?

Medically reviewed by | By

Update Date जनवरी 21, 2020
Share now

परिचय

प्याज क्या है?

प्याज सब्जियों और जड़ी बूटियों के एलियम परिवार का हिस्सा है। सदियों से इसका इस्तेमाल खाने के साथ-साथ औषधियों के तौर पर किया जा रहा है। प्याज के पौधे की नीले रंग की पत्तियां होती हैं और इसके रूटस अंडरग्राउंड होते हैं और इनमें एक बल्ब होता है जो एक निश्चित समय के बाद सूजना शुरू हो जाता है। इसी का इस्तेमाल दवाइयों में किया जाता है। ये विटामिन सी, सल्फ्यूरिक कंपाउंड, फ्लेवोनॉइड्स और फोटोकेमिकल्स का अच्छा स्त्रोत है। फूड एंड एग्रीकल्चर ऑर्गेनाइजेशन ऑफ यूनाइटेड नेशन के अनुसार, सबसे ज्यादा प्याज की खेती चीन में की जाती है। इसके सेवन से कई तरह के कैंसर का खतरा कम और मूड में सुधार होता है। इसके अलावा अनियन के फायदे त्वचा और बालों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में भी होते हैं।

अनियन के फायदे समझने से पहले जाते हैं इसका उपयोग किस लिए किया जाता है?

अनियन के फायदे निम्नलिखित बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता है। जैसे-

दिल को रखे स्वस्थ:

इसमें भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं जो सूजन, ट्राइग्लिसराइड्स (triglycerides) और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है। ये सभी दिल से संबंधित होने वाली परेशानियों को दूर रखते हैं। इसमें पाई जाने वाली एंटी-इन्फ्लामेटरी प्रोपर्टीज हाई ब्लड प्रेशर को कम करते हैं जिससे ब्लड क्लॉट होने की संभावना कम होती है। प्याज में क्वेरसेटिन नामक एक फ्लेवोनॉइड होता है जो हृदय रोग के जोखिम कारकों को कम करने में मदद करता है। इसलिए अगर दिल को स्वस्थ रखने के लिए इसका सेवन किया जा सकता है। इसलिए अनियन के फायदे दिल को हेल्दी रखने के में हो सकते हैं। 

कैंसर से लड़ने में सक्षम:

एलियम परिवार में शामिल सब्जियां जैसे प्याज और लहसून के सेवन से कैंसर की संभावना कम होती है। एक शोध में सामने आया जो लोग एलियम सब्जियों का ज्यादा सेवन करते थे उनमें 22% लोगों में पेट में कैंसर कम देखने को मिला। एलियम सब्जियों में पाए जाने वाले सल्फर कंपाउंड्स, फ्लेवोनॉइड्स, और एंटी-ऑक्सीडेंटस कैंसर से लड़ने में सक्षम हैं। कैंसर की बीमारी होने पर घबराएं नहीं जल्द से जल्द इलाज शुरू करें। किसी भी बीमारी का इलाज आसानी से किया जा सकता है अगर इलाज शुरुआत से ठीक तरह से करवाया जाये तो। अनियन के फायदे से कैंसर जैसी बीमारी से भी बचा जा सकता है। 

शुगर को करे कंट्रोल: 

अनियन के फायदे डायबिटीज के पेशेंट को भी होता है। दरअसल इसके सेवन से शुगर कंट्रोल रहती है। जानवरों पर किए गए कई अध्ययनों में पता चला कि प्याज के सेवन से शुगर नियंत्रण में लाभ होता है। मधुमेह से ग्रसित चूहों पर किए गए एक अध्ययन किया गया जिसमें उन्हें 28 दिनों तक 5% प्याज के अर्क से युक्त भोजन खिलाया गया। इन चूहों में तेजी से शुगर में कमी आई और इसके साथ ही शरीर में वसा की मात्रा में भी कमी आई।

हड्डियों को बनाए मजबूत:

एक अध्ययन के अनुसार, प्याज में ऐसे कंपाउंड्स होते हैं जो हड्डियों को नुकसान होने से रोकते हैं। प्याज में एंटी-इन्फ्लेमैटरी गुणों के कारण इसके सेवन से आर्थराइटिस के दर्द से भी राहत मिलती है। इसलिए अनियन के फायदे सभी उम्र के लोगों को होता है। 

पाचन संबंधित परेशानियों को करता है दूर:

इसमें मौजूद फाइबर अच्छे अच्छे बैक्टीरिया प्रोबायोटिक को पोषण प्रदान करते हैं। ये आंतों की सेहत को काफी फायदा पहुंचाता है। क्लिनिकल गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और हेपेटोलॉजी (Clinical Gastroenterology and Hepatology) द्वारा 2015 में किए गए एक शोध में पाया गया कि ओलिगोफ्रक्टोज (oligofructose) डायरिया में लाभ पहुंचाता है। राष्ट्रीय प्याज संघ के अनुसार, प्याज में पाए जाने वाले फाइटोकेमिकल्स (phytochemicals) गैस्ट्रिक अल्सर के विकास के जोखिम को कम करते हैं।

नींद न आने की परेशानी होती है दूर:

अगर आपको नींद नहीं आने की परेशानी है तो अनियन के फायदे आपको मिल सकते हैं। इसका संतुलित सेवन करना चाहिए। दरअसल अच्छी नींद न आए तो आप अच्छा महसूस नहीं कर सकते हैं। अच्छी नींद के लिए लोग कई तरह के उपाए भी करते हैं। आपभी नींद नहीं आने की परेशानी से पीड़ित हैं तो सोने के लिए सबसे शांत जगह का चयन करें। बेडशीट हमेशा आरामदायक और कॉटन ही रखें। अच्छी नींद के लिए आप अपने बेडरूम में रेड लाइट (नाइट बल्ब) जला सकते हैं। आप चाहें तो सोने के दौरान म्यूजिक भी सुन सकते हैं लेकिन, फास्ट म्यूजिक का चुनाव न कर आप स्लीप म्यूजिक का सहारा ले सकते हैं।

अनियन के फायदे इन बीमारियों में भी होते हैं :

कैसे काम करता है प्याज?

इसमें कई ऐसे केमिकल्स होते हैं जो, सूजन को कम करने में मदद करते हैं। ये अस्थमा से पीड़ित लोगों में फेफड़ों की जकड़न को कम करने में भी मददगार है। इसमें उच्च मात्रा में विटामिन्स, मिनिरल्स और एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं। इसके अलावा इसमें कैल्शियम, आयरन, मैग्नीजियम, फॉसफोरस और पोटैशियम भी पाए जाते हैं। ये सभी तत्व कई तरह से हमारे स्वास्थ्य पर अच्छा असर डालते हैं।

यह भी पढ़ें: अस्थमा से राहत पाने के लिए ये घरेलू उपाय हैं कारगर

उपयोग

कितना सुरक्षित है प्याज का उपयोग?

अनियन के फायदे समझने के बाद इसका कैसे करें यह सझते हैं। जैसे-

  • प्याज के सेवन से नुकसान की संभावना बहुत कम है। हालांकि खाने की अच्छी चीजों को भी ज्यादा मात्रा में खाना सेहत पर बुरा असर डालता है। इसलिए जरूरत से ज्यादा इसका सेवन न करें।
  • एलर्जी से पीड़ित लोगों को प्याज के सेवन से समस्या हो सकती है।
  • डायबिटीज के पेशेंट्स के लिए इसका अधिक सेवन करना नुकसानदायक हो सकता है।

यह भी पढ़ें: बढ़ती उम्र और बढ़ता हुआ डायबिटीज का खतरा

साइड इफेक्ट्स

अनियन के फायदे समझे के साथ-साथ इसके साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं?

प्याज का सेवन अगर जरूरत से ज्यादा किया जाये तो इससे निम्नलिखित शारीरिक परेशानी हो सकती है। जैसे-

डोसेज

प्याज को लेने की सही खुराक क्या है?

प्याज की खुराक को लेकर कोई सही जानकारी नहीं है। ये मरीज की उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है। फिलहाल इसकी निर्धारित खुराक को लेकर कोई वैज्ञानिक जानकारी नहीं है। इसे लेकर अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें: उल्टी रोकने के 8 आसान घरेलू उपाय

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है?

यह निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है। जैसे-

  • कैप्सूल
  • लिक्विड एक्सट्रेक्ट
  • सिरप
  • पाउडर

अगर आप अनियन के फायदे से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

और पढ़ें:

Cauliflower : फूल गोभी क्या है?

Gastric Cancer: गैस्ट्रिक कैंसर का पता कैसे लगता है? जानें इसके लक्षण

बड़ी-बड़ी बीमारियों को करे छूमंतर, जानिए नारियल पानी के फायदे

मिसकैरिज के बाद फूड: इन चीजों को करें अवॉयड

Gourd: लौकी क्या है? जानिए इसके फायदे और साइड इफेक्ट्स

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    Quebracho: क्वेब्राचो क्या है?

    जानिए क्वेब्राचो की जानकारी, फायदे, क्वेब्राचो उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान।

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Sunil Kumar

    Parsley piert: पार्सले पिअर्त क्या है?

    जानिए पार्सले पिअर्त की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, पार्सले पिअर्त उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Parsley piert डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Mona Narang

    Iceland moss: आइसलैंड मॉस क्या है?

    आइसलैंड मॉस क्या है? इसका इस्तेमाल किस लिए किया जाता है? किन लोगों को इसके इस्तेमाल से परहेज करना चाहिए? जानिए इससे होने वाले साइड इफेक्ट्स के बारे में...

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Mona Narang

    Wild Thyme: वाइल्ड थाइम क्या है?

    वाइल्ड थाइम (Wild Thyme) क्या है? वाइल्ड थाइम का उपयोग किन परेशानियों के लिए किया जाता है? वाइल्ड थाइम से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Mona Narang