home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

भिंडी के फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान, दिल से लेकर दिमाग के लिए है फायदेमंद

भिंडी के फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान, दिल से लेकर दिमाग के लिए है फायदेमंद

भिंडी यानी लेडी फिंगर (Lady finger) सबसे पसंदीदा सब्जी में से एक है। हमारे देश में तो इसे कई तरीके से बनाया जाता है और खाया जाता है, जैसे छोटे टुकड़ों में काट कर, कुरकुरी भिंडी, भरवा भिंडी या भिंडी की सब्जी आदि। हरे रंग की यह भिंडी न केवल खाने में अच्छी होती है, बल्कि इसके हजारों शारीरिक फायदे भी हैं। भिंडी में विटामिन, फाइबर, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम और फॉस्फोरस आदि पर्याप्त मात्रा में होते हैं। भिंडी से हमें 30 प्रतिशत कैलोरी प्राप्त होती है। इसके साथ ही, भिंडी में मौजूद स्लाइम में ग्लाइकोप्रोटीन पाया जाता है, जिसके कारण इसके लाभ और भी बढ़ जाते हैं। जानिए भिंडी के फायदे, जिनके बारे में हम विस्तार से बताएंगे।

और पढ़ें : जानें ऐसी 7 न्यूट्रिशन मिस्टेक जिनकी वजह से वेट लॉस डायट प्लान पर फिर रहा है पानी

जानिए क्या हैं भिंडी के फायदे (Lady finger health benefits)

भिंडी के फायदे-benefits of Lady finger health

पाचन के लिए भिंडी के फायदे (Best for digestion)

नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) के अनुसार भिंडी में फाइबर की मात्रा बहुत ही अधिक होती है। इसलिए यह आसानी से पच जाती है, जिससे पेट की हर समस्या दूर होती है। यही नहीं, इससे कब्ज की समस्या से भी राहत मिलती है। भिंडी खाने से शरीर की गंदगी (विषाक्त) बहुत जल्दी शरीर से निकल जाती है।

दिल के लिए भिंडी के फायदे (Beneficial for heart)

कोलेस्ट्रॉल को दिल की बीमारियों का मुख्य कारण माना जाता है। भिंडी में मौजूद फाइबर इसे कम करने में प्रभावी है। यही नहीं, इसे खाने से दिल की अन्य बीमारियों और दिल के दौरे आदि से भी राहत मिलती है। भिंडी में मौजूद मैग्नेशियम से ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) बैलेंस रहता है।

डायबिटीज की समस्या में भिंडी के फायदे (Treats Diabetes)

ऐसा माना जाता है कि आठ भिंडियों में तीन ग्राम फाइबर मौजूद होता है। यह ब्लड शुगर (Blood sugar level) को कम करने में लाभदायक है। टर्की जैसे देशों में तो भिंडी के बीज को डायबिटीज रोगियों का इलाज करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। भिंडी में मायरीसेटिन नामक तत्व होता है, जो शुगर लेवल को कम करने में प्रभावी है।

अस्थमा में भिंडी के फायदे (Good for Asthma patients)

अध्ययन के अनुसार भिंडी विटामिन-सी से भरपूर होता है, जो अस्थमा (दमा) के शुरूआती लक्षणों को दूर करने में प्रभावी है। भिंडी में पाए जाने वाला विटामिन-सी इसे एंटीऑक्सिडेंट और एंटीइंफ्लमेटरी सब्जी को और भी लाभदायक बनाता है, जिससे अस्थमा जैसी सांस की बीमारी की संभावना कम होती है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाए (Boost Immunity)

भिंडी में विटामिन-के होता है, जिससे हमारी हड्डियां मजबूत होती हैं और रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। यही नहीं, इससे हमारे शरीर की हड्डियों का मेटाबोलिज्म बढ़ता है और कई रोगों से बचाव होता है। इसमें पाया जाने वाला विटामिन-ए और बीटा कैरोटीन हमारी आंखों के लिए लाभदायक है।

माइग्रेन से राहत दिलाने में भिंडी के फायदे (Relieve migraine)

भिंडी में पाए जाने वाले लयसिन, मेग्नीशियम और एमिनो एसिड माइग्रेन अटैक को कम करते हैं। यही नहीं, यह किडनी के रोगों को दूर करने में भी प्रभावी है। माइग्रेन के लिए भिंडी के फायदे अनेक हैं।

और पढ़ें: पुरुषों के लिए वेट लॉस डायट टिप्स, जानें एक्सपर्ट्स की सलाह

चिंता से छुटकारा दिलानें में भिंडी के फायदे (Relieves anxiety)

भिंडी में मैग्नीशियम और अमीनों एसिड पाया जाता है, जिससे किसी का भी मूड अच्छा होता है। चिंता, तनाव या अवसाद से छुटकारा मिलता है। इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व तनाव, चिड़चिड़ापन और चिंता आदि को दूर करते हैं। चिंता के लिए भिंडी के फायदे अनेक हैं।

गर्भावस्था में सहायक (Helpful in pregnancy)

भिंडी खाना गर्भ में पल रहे भ्रूण के विकास के लिए बहुत लाभदायक है। भिंडी खाने से शरीर में खून की कमी या एनीमिया नहीं होता, जिससे हीमोग्लोबिन का लेवल सही रहता है। इसके साथ ही, भिंडी में विटामिन-सी पाया जाता है, जो शिशु और बच्चे दोनों के लिए लाभदायक है। भिंडी में मौजूद फोलेट इस सब्जी को गर्भावस्था के दौरान काफी फायदेमंद बनाता है। फोलेट शिशुओं में जन्म दोष को कम करने के लिए भी लाभदायक है।

और पढ़ें : इस तरह जानिए कि शरीर में हो गई है विटामिन-सी (Vitamin C) की कमी

सौंदर्य लाभ

थोड़ी-सी भिंडी में इतना विटामिन-सी होता है कि जिसे आप चार से पांच एंटी-एजिंग प्रोडक्टस में डाल सकते हैं। विटामिन-सी युक्त सौंदर्य प्रसाधन में भी विटामिन-सी होता है, जो न केवल त्वचा के टिश्यू को रिपेयर करता है, बल्कि इससे त्वचा की इलास्टिसिटी भी बढ़ती है। भिंडी में पाए जाने वाले विटामिन-ए ,सी, कैल्शियम और फोलेट से त्वचा स्वस्थ और चमकदार बनती है। भिंडी के स्लाइम में एंटी-बैक्टीरियल, एंटीफंगल, एंटी- इंफ्लमेटरी गुण होते हैं, जो त्वचा को न केवल साफ और स्मूद बनाते हैं, बल्कि मुंहासे आदि से भी त्वचा को बचाता है।

बालों के लिए भिंडी के फायदे

भिंडी में कई पोषक तत्व और प्रोटीन होते हैं। यही कारण है कि बालों के लिए यह जादू का काम करता है। भिंडी का कंडिश्नर के रूप में प्रयोग करने से बाल चमकदार बनते हैं। भिंडी के प्रयोग से शरीर में पानी की कमी नहीं होती, जिससे रूसी और खारिश से सुरक्षा होती है। इसके साथ ही बाल मजबूत बनते हैं।

और पढ़ें : डायट एंड इटिंग प्लान- ए-जेड : वेट लॉस और वेट मैनेजमेंट की पूरी जानकारी

कैंसर में भिंडी के फायदे

भिंडी का रेगुलर इस्तेमाल करने से आप कैंसर के खतरों से भी बच सकते हैं। भिंडी में अघुलनशील फाइबर पाए जाते हैं। ये फाइबर आंतों के मार्ग को साफ करते हैं। इस कारण ब्लड कैंसर का खतरा कम होता है। इसके अलावा भिंडी में पाया जाने वाले हाई एंटी ऑक्सीडेंट इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मदद करते हैं। साथ ही कोशिकाओं के म्यूटेशन को भी रोकते हैं।

वजन कम करने में मदद करती है भिंडी

डायट में सही पोषण न होने के कारण बॉडी में गैर जरूरी फैट बढ़ने लगता है। यही मोटापा बढ़ने का कारण भी बनता है। साथ ही यह भी जरूरी नहीं है कि फैट से लेस डायट खाने से ही मोटापा बढ़ें। आप फैट युक्त फूड खाने के साथ-साथ भिंडी खाने से आप मोटापे को कंट्रोल कर सकते हैं। भिंडी के रेगूलर इस्तेमाल से यह शरीर में गैर जरूरी फैट को बढ़ने से रोकती है।

ये थे भिंडी के फायदे। भिंडी खाने से वजन भी कम होता है, क्योंकि इसमें फाइबर अधिक होता है। यही नहीं, इसे खाने से पेट जल्दी भर जाता है, जिससे मनुष्य अधिक खाने से बच जाता है। भिंडी में कैल्शियम भी अधिक होता है, जो वसा को कम करने में भी प्रभावी है। कई जगहों पर भिंडी के बीजों का प्रयोग काफी के बदले में प्रयोग किया जाता है। इसे आप सूप, सलाद आदि में डाल कर भी प्रयोग कर सकते हैं।

भिंडी के एक नहीं बल्कि कई शारीरिक लाभों से परिचित होने के साथ-साथ इसके सेवन से होने वाले नुकसानों से भी अवगत होना जरूरी है।

और पढ़ें : पालक से शिमला मिर्च तक 8 हरी सब्जियों के फायदों के साथ जानें किन-किन बीमारियों से बचाती हैं ये

भिंडी के साइड इफेक्ट्स (Side effects of Lady finger)

भिंडी के फायदे-benefits of Lady finger health

भिंडी के सेवन से निम्नलिखित परेशानी हो सकती है। जैसे:

  • रिसर्च के अनुसार भिंडी से प्रोटियोलिटिक निकलता है, जो एक तरह का एंजाइम है। सेंसिटिव स्किन अगर प्रोटियोलिटिक एंजाइम के संपर्क में आती है, तो इससे घाव होने की संभावना बनी रहती है। ऐसी परेशानियों से बचने के लिए पैच टेस्ट करना फायदेमंद होता है।
  • नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) के अनुसार किडनी स्टोन के पेशेंट्स को भिंडी का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें ऑक्सालेट्स यौगिक मौजूद होता है, जो पेशेंट्स की परेशानियों को बढ़ा सकती है।
  • नैशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ (National Institutes of Health) के अनुसार भिंडी ब्लड को गाढ़ा करने का काम करती है। इसलिए अगर आप ब्लड क्लॉट करने के लिए किसी दवाओं का सेवन करते हैं या करती हैं, तो ऐसी स्थिति में भिंडी के सेवन से बचें या डॉक्टर से कंसल्ट करने के बाद ही उनके द्वारा बताई गई सलाह का पालन करें।
  • नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) के मुताबिक भिंडी का सेवन जरूरत से ज्यादा करने पर दस्त, गैस, ऐंठन और आंतों में सूजन जैसी तकलीफ हो सकती है। ऐसा भिंडी में मौजूद कार्बोहाइड्रेट की वजह से हो सकता है।

हमें उम्मीद है आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में भिंडी के फायदे के बारे में बताया गया है। यदि आपको इससे जुड़ी अन्य जानकारी चाहिए तो आप अपना प्रश्न कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं।

न्यूट्रिशन की आवश्यक जानकारी के लिए खेलें ये क्विज

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Abelmoschus esculentus (L.): Bioactive Components’ Beneficial Properties – https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6337517/ –  Accessed on 31/12/2019

Health Benefits of Okra: https://www.lifehack.org/294087/20-health-benefits-okra-that-are-constantly-overlooked Accessed on 31/12/2019

Health Benefits of Okra: https://www.longdom.org/open-access/nutritional-quality-and-health-benefits-of-okra-abelmoschus-esculentusa-review-2157-7110-1000458.pdf Accessed on 31/12/2019

Okra Nutrition: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6337517/ Accessed on 31/12/2019

Vitamin K/https://ods.od.nih.gov/factsheets/VitaminK-HealthProfessional/Accessed on 6/1/2021

 

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 06/01/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x