home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

बुजुर्गों का इम्यून सिस्टम ऐसे करें मजबूत, छू नहीं पाएगा कोई वायरस या फ्लू

बुजुर्गों का इम्यून सिस्टम ऐसे करें मजबूत, छू नहीं पाएगा कोई वायरस या फ्लू

कोरोना वायरस उन लोगों को जल्दी और गंभीर रूप से संक्रमित कर देता है, जिनका इम्यून सिस्टम यानी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है। इसी तरह सिर्फ कोरोना वायरस ही नहीं, बल्कि सभी फ्लू भी कमजोर इम्यून सिस्टम वाले व्यक्तियों को सबसे जल्दी बीमार बनाते हैं और आपको यह बात भी पता ही होगी कि बुजुर्गों का इम्यून सिस्टम कमजोर होता है। लेकिन, इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय अपनाकर वृद्ध लोग खुद को किसी भी वायरस, फ्लू या बीमारी से दूर रख सकते हैं।

इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय बुजुर्गों को क्यों जरूरी?

दरअसल, जब हम बच्चे होते हैं तो हमारे शरीर का हर अंग विकसित हो रहा होता है, इम्यून सिस्टम भी शारीरिक अंगों में से एक है। वयस्क होते-होते हमारे इम्यून सिस्टम विकसित, स्वस्थ और मजबूत हो जाता है, लेकिन, जैसे-जैसे समय की सीढ़ी पर आप चढ़ते जाते हैं, वैसे-वैसे ही आपका उम्र के साथ-साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने लगती है। इसके अलावा, अन्य क्रॉनिक व शारीरिक बीमारियां भी शरीर की रोग प्रतिरोधक प्रणाली को कमजोर बनाते हैं। इस वजह से बुजुर्गों को वायरस, फ्लू जैसे किसी संक्रमण या बीमारी का खतरा अधिक होता है। इस खतरे को कम करने के लिए वृद्ध लोगों या सीनियर सिटीजन को इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय की जरूरत होती है। सामान्य की तुलना में बुजुर्गों को देखभाल की ज्यादा जरूरत है।

और पढ़ें: स्टडी : PTSD के साथ ही बुजुर्गों में रेयर स्लीप डिसऑर्डर के मामलों में इजाफा

कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता के कारण बुजुर्गों को कोरोना का खतरा अधिक

कोरोना मरीजों पर हुई कई स्टडी में यह बात सामने आई है कि, बुजुर्गों को कोरोना वायरस संक्रमण की बीमारी कोविड-19 का खतरा अधिक होता है। क्योंकि, उम्र और अन्य ब्लड प्रेशर की समस्या, डायबिटीज की बीमारी आदि क्रॉनिक की वजह से बुजुर्गों का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है। इस वजह से ही उनमें कोविड-19 के गंभीर परिणाम देखे जा रहे हैं और सीनियर सिटीजन या 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों में सांस लेने में समस्या, तेज बुखार, गंभीर खांसी की समस्या आदि ज्यादा है।

बुजुर्गों के लिए इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय क्या हैं?

किसी भी वायरस, फ्लू, बैक्टीरिया आदि के संक्रमण या अन्य बीमारी से बचाव या उससे लड़ने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होनी चाहिए। जिसके लिए बुजुर्ग व्यक्ति या 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले सीनियर सिटीजन इन इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय को अपना सकते हैं। जैसे-

और पढ़ें: बच्चों और बुजुर्गों को दिवाली पर होने वाले प्रदूषण से ऐसें बचाएं

मजबूत रोग प्रतिरोधक क्षमता के साथ हाथों की सफाई

रोग प्रतिरोधक क्षमता के साथ संक्रमण से बचाव के लिए हाथों की सफाई बहुत जरूरी है। क्योंकि, किसी भी कार्य को करने और कुछ खाने-पीने के लिए हमें हाथों का इस्तेमाल करना पड़ता है। लेकिन, हमारे आसपास मौजूद कई हानिकारक और खतरनाक वायरस व बैक्टीरिया मौजूद होते हैं, जो हाथों के द्वारा हमारे मुंह, आंख और नाक के जरिए शरीर के अंदर प्रवेश कर सकते हैं और हमें बीमार कर सकते हैं। लेकिन, अपने हाथों की साफ-सफाई पर ध्यान देकर हम बीमारी से बच सकते हैं और इन वायरस या बैक्टीरिया से दूर रह सकते हैं। परिणामस्वरूप, हमारे शरीर के इम्यून सिस्टम को अधिक मेहनत नहीं करनी पड़ेगी और वह धीरे-धीरे मजबूत होने लगेगा। इसलिए, खाने-पीने या हाथों को चेहरे, मुंह, नाक व आंखों पर लगाने से पहले अच्छी तरह साफ करें।

इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय: वैक्सीन लें

हर सीनियर सिटीजन को बीमारी या संक्रमण से दूर रहने के लिए डॉक्टरों द्वारा बताई गई सभी वैक्सीन ले लेनी चाहिए। क्योंकि, बुजुर्गों के इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में और बीमारी से दूर रखने में वैक्सीन जरूरी सुरक्षा प्रदान करती है। वार्षिक फ्लू शॉट, निमोनिया वैक्सीन, चिकनपॉक्स की वैक्सीन और टीडैप इन जरूरी वैक्सीन में शामिल हो सकती हैं। हालांकि, सही व उचित सलाह के लिए किसी डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

और पढ़ें: वृद्धावस्था में दिमाग को तेज रखने के 5 टिप्स

इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय: बुजुर्ग रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए संपूर्ण आहार लें

स्वस्थ व पोषणयुक्त आहार लेने से आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी मजबूत होती है, जिससे वह तमाम संक्रमण से लड़ने में सक्षम हो पाता है। आपको अपने आहार में हरी व पत्तेदार सब्जियां, फल, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट का सेवन करना चाहिए। इसके अलावा, आपको अपनी डायट से अत्यधिक व आर्टिफिशियल शुगर, फैट और प्रोसेस्ड फूड हटा देने चाहिए। आपको आहार में प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, जिंक आदि की मात्रा का ध्यान रखना चाहिए, जिन्हें प्राकृतिक रूप से भी लिया जा सकता है और जरूरत पड़ने पर इनके सप्लीमेंट्स का सेवन भी किया जा सकता है। हालांकि, सप्लीमेंट्स के चुनाव या जरूरत के लिए किसी डॉक्टर या न्यूट्रीशनिस्ट की मदद लें।

इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय: इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज करें

एक्सरसाइज से मतलब यह नहीं है कि आप जिम जाएं और वेट उठाएं या रनिंग करें। इस उम्र के लिए एक्सरसाइज का मतलब आसान और नियमित रूप से फिजीकली एक्टिव रहना है। आप रोजाना या हफ्ते में चार बार आधा घंटा चहलकदमी या शारीरिक क्षमता के मुताबिक जॉगिंग कर सकते हैं। इससे आपके शरीर में रक्त प्रवाह बेहतर होता है और शरीर तंदरुस्त रहता है।

और पढ़ें: क्या वृद्धावस्था में शरीर की गंध बदल जाती है?

इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय: बुढ़ापे में तनाव बन सकता है मुसीबत

तनाव लेने से शरीर का इम्यून सिस्टम कमजोर होने लगता है और इसकी क्षमता घटने लगती है। क्योंकि, तनाव की वजह से शरीर में कोर्टिसोल नामक हॉर्मोन का उत्पादन होने लगता है, जो कि शरीर के संक्रमण से लड़ने की क्षमता और अन्य शारीरिक अंगों को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है।

इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय: पर्याप्त नींद लें

पर्याप्त नींद न लेने से भी आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो सकती है। इसके साथ ही बुजुर्गों के लिए पर्याप्त नींद दिमाग क्षमता को बढ़ाने में और तनाव को कम करने में भी मदद करती है। इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय में आपको रोजाना 8 से 9 घंटे की नींद लेनी चाहिए, जिससे सभी शारीरिक अंगों को जरूरी आराम प्राप्त हो सके और उनकी प्रभावशीलता बनी रहे।

इम्यून सिस्टम बढ़ाने के उपाय: धूम्रपान व शराब का सेवन छोड़ दें

धूम्रपान व शराब का सेवन किसी भी उम्र में किया जाए, तो हानिकारक ही होता है। लेकिन, बुढ़ापे में यह अधिक दुष्परिणाम दे सकता है। क्योंकि, पहले ही शरीर के अंग कमजोर होने लगते हैं और धूम्रपान व शराब का सेवन करने से फेफड़े व लिवर खराब होने लगता है। ऐसे में अगर आपका शरीर किसी संक्रमण की चपेट में आ जाता है, तो उसकी वजह से होने वाली छोटी-सी परेशानी या लक्षण आपके लिए गंभीर स्थिति पैदा कर सकता है। इसलिए, स्वस्थ बने रहने के लिए इन आदतों से दूर रहें।

 

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Adults Age 65 and Older – https://www.vaccines.gov/who_and_when/adults/seniors – Accessed on 11/5/2020
Aging changes in immunity – https://medlineplus.gov/ency/article/004008.htm – Accessed on 11/5/2020
Sleep and immune function – https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3256323/ – Accessed on 11/5/2020
Diet and Immune Function – https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6723551/ – Accessed on 11/5/2020
Exercise and immunity – https://medlineplus.gov/ency/article/007165.htm – Accessed on 11/5/2020

लेखक की तस्वीर badge
Surender aggarwal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 10/09/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x