आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

गर्भावस्था में चिया सीड खाने के फायदे और नुकसान

    गर्भावस्था में चिया सीड खाने के फायदे और नुकसान

    गर्भावस्था में चिया सीड खाने के फायदे के बारे में आपने अवश्य सुना होगा। जब आप गर्भवती होती हैं तो आपके शरीर और शिशु को अधिक पोषण और शक्ति की जरूरत होती है। ऐसे में सबसे बेहतर उपाय होता है रोजाना दिन में 5 से 6 बार थोड़ा-थोड़ा खाना। गर्भावस्था के दौरान शिशु के लिए मां को दिन में 300 कैलोरी का सेवन बढ़ा देना चाहिए। गर्भावस्था में ऐसा करने के लिए आप चिया सीड का सेवन भी कर सकती हैं।

    गर्भावस्था में चिया सीड (Chia seeds benefits during pregnancy) को एक बेहतरीन सुपरफूड माना जाता है। यह कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर होता है जो आपके और आपके शिशु के विकास में मदद करता है। चिया के बीज भारत से पहले अमेरिका में बेहद लोकप्रिय हुए थे, साल 2009 में इनकी बिक्री में भारी बढ़ोतरी देखते हुए कई कंपनियों ने इसका नाम सुपरफूड तक रख दिया। हालांकि, इसके पीछे इसके कई और भी कारण हैं। गर्भावस्था के दौरान महिलाएं कुछ जल्दी बनाने और आसानी से पचने वाला भोजन खाना पसंद करती हैं। प्रेग्नेंसी में चिया के बीज को आप चाहें तो दलिया, दही, और यहां तक कि आइसक्रीम तक में मिला कर खा सकते हैं।

    इस लेख में हम आपको गर्भावस्था में चिया के बीज खाने के फायदे और नुकसान के बारे में बताएंगे। नीचे जाने प्रेग्नेंसी में चिया सीड खाने से आपको और आपके शिशु को क्या लाभ पहुंचते हैं।

    और पढ़ें : प्रेगनेंसी में डायबिटीज : गर्भावस्था के दौरान बढ़ सकता है शुगर लेवल, ऐसे करें कंट्रोल

    गर्भावस्था में चिया सीड के फायदे (Chia seeds benefits during pregnancy)

    प्रेग्नेंसी में चिया सीड खाने से कब्ज (Constipation) से छुटकारा

    गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कई बार कब्ज का सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थिति के कारण न तो वह कुछ ठीक से खा पाती हैं और न ही अपने शिशु को सही पोषण प्रदान कर पाती हैं। प्रेग्नेंसी में कब्ज की समस्या को दूर करने का सबसे बेहतरीन उपाय है चिया के बीज। चिया के बीज फाइबर से भरपूर होते हैं जो मल त्याग की प्रक्रिया को आसान बना देते हैं। इससे हो रही कब्ज की समस्या पूरी तरह से खत्म हो जाती है।

    ओमेगा 3 (Omega 3) से भरपूर चिया सीड्स

    ओमेगा 3 महत्वपूर्ण फैटी एसिड्स (Omega 3 fatty acid) होते हैं। गर्भावस्था के दौरान स्वस्थ रहने के लिए फैटी एसिड्स का सेवन बेहद आवश्य होता है। ज्यादातर प्रेग्नेंट महिलाओं को ओमेगा 3 की कमी पूरा करने के लिए मछलियों का सेवन करने को कहा जाता है।

    और पढ़ें : हानिकारक बेबी प्रोडक्ट्स से बच्चों को हो सकता है नुकसान, जाने कैसे?

    [mc4wp_form id=”183492″]

    हालांकि, शाकाहारी महिलाएं ऐसा नहीं कर पाती हैं जिसके कारण उनके शिशु के विकास में कमी आ सकती है। गर्भावस्था में चिया सीड (Chia seeds during pregnancy) आपकी इस कमी को बेहद आसानी से दूर कर सकते हैं। गर्भावस्था में चिया सीड में मौजूद फैटी एसिड्स सूजन से लड़ने में मदद करते हैं जिसके कारण हृदय रोग, डायबिटीज (Diabetes) और अवसाद (Depression) जैसे रोग नहीं होते हैं।

    गर्भावस्था के दौरान फैटी एसिड्स भ्रूण में पल रहे शिशु के विकास के लिए महत्वपूर्ण पोषण प्रदान करते हैं। कई अध्ययनों से यह सामने आया है कि शिशु के पोषण में फैटी एसिड्स की कमी पाई जाने पर समय से पहले डिलीवरी होने का खतरा रहता है।

    गर्भावस्था में चिया सीड (Chia seeds during pregnancy) अल्फा-लिनोलेनिक (ALA) प्रकार के फैटी एसिड का एक बेहतरीन स्रोत होते हैं। चिया सीड्स में मौजूद यह फैटी एसिड डीएचए (DHA) फैटी एसिड में बदल जाते हैं जो शिशु के मस्तिष्क के विकास में मदद करते हैं।

    और पढ़ें : बेबी रैशेज: शिशु को रैशेज की समस्या से कैसे बचायें?

    फाइबर से भरपूर गर्भावस्था में चिया सीड फायदे

    गर्भावस्था में चिया सीड्स के कई फायदे हैं, जिनमें फाइबर मुख्य रूप से शामिल है। प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर कई प्रकार के जठरांत्र बदलावों से गुजरता है जिससे लड़ने के लिए अधिक मात्रा में फाइबर की आवश्यकता होती है। गर्भावस्था में चिया सीड (Chia seeds during pregnancy) के फायदे पाने के लिए इसके बीजों को पेय पदार्थों में अच्छे से मिलाकर पीएं। इससे पेट की कई समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।

    गर्भावस्था में चिया सीड से करें एनीमिया का इलाज

    गर्भावस्था में एनीमिया की कमी होना बेहद आम बात है लेकिन इसके कारण महिला और शिशु को कई प्रकार की परेशानियों से गुजरना पड़ता है जैसे कि थकान, बुखार, ठंड लगना और चक्कर आना। यदि आपको भी ऐसे ही लक्षण दिखाई देते हैं तो आप भी एनीमिया (Anemia) का शिकार हैं। एनीमिया एक ऐसी स्थिति है जिसमें शरीर के अंदर आयरन की कमी हो जाती है जिसके कारण हृदय तक पर्याप्त मात्रा में खून नहीं पहुंच पाता है।

    गर्भावस्था से पहले यदि आपको कभी ऐसी समस्या नहीं भी आई हो लेकिन फिर भी गर्भावस्था के दौरान खून की कमी किसी को भी हो सकती है। प्रेगनेंसी में हमारे शरीर को पहले के मुकाबले अधिक खून की आवश्यकता होती है क्योंकि अब यह आपके शिशु के विकास के लिए भी महत्वपूर्ण है।

    गर्भावस्था में चिया सीड (Chia seeds during pregnancy) खाने से आयरन (Iron) की कमी को पूरा किया जा सकता है जिससे खून की कमी से छुटकारा मिलेगा और शिशु के विकास में तेजी आएगी। एनीमिया होने का मुख्य कारण शरीर का पर्याप्त मात्रा में लाल रक्त कोशिकाएं न बना पाना होता है। शरीर की इस क्षमता को बढ़ाने के लिए पालक और लाल मांस बेहद लोकप्रिय हैं। लेकिन बता दें कि चिया के बीज के रोजाना दो चम्मच सेवन से खून की कमी को पूरा किया जा सकता है।

    और पढ़ें : बच्चों में काले घेरे के कारण क्या हैं और उनसे कैसे बचें?

    कैल्शियम है चिया बीज के फायदे

    गर्भावस्था में चिया सीड (Chia seeds during pregnancy) की दो चम्मच 179 मिलीग्राम कैल्शियम (Calcium) से भरपूर होती हैं जो गर्भवती महिला की दिनभर की कैल्शियम की जरूरत का 18 प्रतिशत पूरा करती है। आरडीए के मुताबिक प्रेग्नेंट महिलाओं को रोजाना कम से कम 1000 मिलीग्राम कैल्शियम का सेवन करना चाहिए। चिया सीड्स में मौजूद कैल्शियम गर्भावस्था में इसलिए महत्वपूर्ण होता है क्योंकि यह शिशु के दांतों और हड्डियों के विकास में मदद करता है।

    प्रेग्नेंसी में चिया सीड के नुकसान (Side effects of Chia seeds during pregnancy)

    गर्भावस्था में चिया सीड (Chia seeds during pregnancy) खाने का कोई खास नुकसान नहीं होता है। प्रेग्नेंसी में चिया के बीज कम नुकसानदायी आहार माने जाते हैं। हालांकि, यदि कोई महिला इसका अत्यधिक सेवन कर लेती है तो उनमें इसके कारण कुछ दुष्प्रभाव पाए जा सकते हैं। कुछ मामलों में पानी को सोखने वाले आहार जो कि फाइबर युक्त होते हैं जैसे कि चिया के बीज जिसके कारण पेट में दर्द (Stomach pain) और कब्ज (Constipation) या दस्त (Diarrhea) जैसे नुकसान शरीर को पहुंच सकते हैं।

    इसके अलावा यदि आप डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए दवा ले रही हैं तो चिया सीड्स का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लें। चिया बीज शरीर को ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचाते हैं लेकिन शुगर को कम करने वाली दवा के साथ सेवन करने पर शरीर में शुगर की मात्रा बेहद कम हो सकती है। इसके कारण कोई अन्य गंभीर स्थिति उत्पन्न होने का खतरा रहता है।

    गर्भावस्था में चिया सीड्स (Chia seeds during pregnancy) के इन नुकसानों के खतरों को कम करने के लिए बीजों को खाने से पहले कुछ देर के लिए भिगो लें। साथ ही इसे नियमित मात्रा में खाएं। किसी भी व्यक्ति को दिन में 30 ग्राम से अधिक चिया के बीज नहीं खाने चाहिए।

    और पढ़ें : गर्भावस्था में कार्पल टनल सिंड्रोम की समस्या से कैसे बचें?

    चिया सीड्स की खुराक

    चिया के बीज के एक बड़े चम्मच में निम्न पोषक तत्व मौजूद होते हैं –

    • कैलोरी – 60
    • फाइबर – 4 ग्राम
    • फैटी एसिड्स – 2।5 ग्राम
    • प्रोटीन – 2 ग्राम
    • कैल्शियम – 88 मि।ग्रा
    health-tool-icon

    ड्यू डेट कैलक्युलेटर

    अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

    सायकल लेंथ

    28 दिन

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Nutritional and therapeutic perspectives of Chia (Salvia hispanica L.): a review/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4926888/accessed on 07/04/2020

    Nuts and seeds. https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/Nuts-and-seeds. Accessed on 3 September, 2020.

    Pregnancy nutrition: Foods to avoid during pregnancy. https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/pregnancy-week-by-week/in-depth/pregnancy-nutrition/art-20043844. Accessed on 3 September, 2020.

    Nutrition. https://medlineplus.gov/nutrition.html. Accessed on 3 September, 2020.

    Nutrition during pregnancy. https://healthonline.washington.edu/sites/default/files/record_pdfs/Nutrition-During-Pregnancy.pdf . Accessed on 3 September, 2020.

    लेखक की तस्वीर badge
    Shivam Rohatgi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/09/2021 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: