Wheat Germ Oil : वीट जर्म ऑयल क्या है?

Medically reviewed by | By

Update Date मई 19, 2020
Share now

परिचय

वीट जर्म ऑयल (Wheat Germ Oil) क्या है?

वीट जर्म ऑयल  (Wheat Germ Oil) यानी गेहूं के दानों के कर्नेल से निकाला गया तेल है। यह गेहूं के बिल्कुल बीच में होता है। इसे गेहूं का दिल भी कहा जाता है। गेहूं का यह हिस्सा अनाज के बाकी हिस्से के मुकाबले अधिक पोष्टिक होता है। ये विटामिन बी 6, फोलिक एसिड, विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, मैग्नीशियम, पोटेशियम, फास्फोरस और कई अन्य आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर होता है।  विटामिन ई का इसे सबसे अच्‍छा स्रोत माना जाता है। सब्जियों और अनाजों की तुलना में गेहूं के बीज के तेल में अधिक न्यूट्रिएंट्स होते हैं, जिस वजह से यह हमारे स्वास्थय के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है।

वीट जर्म ऑयल (Wheat Germ Oil) का उपयोग ​किस लिए किया जाता है?

वीट जर्म ऑयल बहुत सारी स्किन संबंधित परेशानियां जैसे विटिलिगो (Vitiligo), सोरायसिस(Psoriasis), एक्जिमा (Eczema) और सनबर्न से हुए त्वचा के नुकसान को दूर करने में मददगार है। इसको लगाने से त्वचा और बालों का ब्लड सर्क्यूलेशन बेहतर होता है। इसके अलावा,  इसका इस्तेमाल शेविंग करने से पहले बेस ऑयल की तरह भी किया जा सकता है। 

गेहूं के बीज के तेल में कई अनसैचुरेटेड फैट भी होते हैं जो हमारे शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। ये हमारे शरीर में एचडीएल (HDL) यानी गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है और कार्डियोवस्कुलर स्वास्थ्य को भी सुधारता है। इसके अलावा ये ब्‍लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मदद करता है। वीट जर्म ऑयल में फैटी एसिड खासतौर पर लिनोलेनिक एसिड होता है जो एथेरोस्क्लेरोसिस (Atherosclerosis) को रोकने और धमनियों को सख्त करने में मदद करता है। वीट ऑयल में ऑक्टाकोसानॉल (octacosanol) होता है, जो शरीर में ऊर्जा बढ़ाने के साथ तनाव को दूर करता है। ये मांसपेशियों की ऐंठन और गठिया के दर्द को कम करने में भी मददगार है। 

स्किन के लिए भी गेहूं का तेल वरदान समान है। ये बेजान त्वचा पर जान डालने के साथ त्वचा संबंधित सभी परेशानियों से निजात दिलाने में कारगर है। इसकी दो से तीन बूंद को फेस पैक में मिलाकर इस्तेमाल किया जा सकता है।

यूरोपीय खाद्य सुरक्षा प्राधिकरण (EFSA) के अनुसार, कई स्टडी में ये पाया गया है कि वीट जर्म ऑयल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है। हालांकि इस बारे में काफी वादविवाद है कि ये समय से पहले झुर्रियां, हाई ब्लड प्रेशर और पाचन तंत्र के लिए लाभदायक है।

कैसे काम करता है वीट जर्म ऑयल (Wheat Germ Oil)?

वीट जर्म ऑयल में ओलैक एसिड (Oleic acid), पामिटिक एसिड (Palmitic acids), लिनोलिक एसिड (Linoleic acid), स्टीयरिक फैटी एसिड (Stearic fatty acids) होते हैं, जो हमारे स्वास्थय के लिए बेहद जरूरी होते हैं। इनमें से लिनोलिक एसिड की जरूरत हमारे शरीर को सबसे ज्यादा होती है, क्योंकि ये शरीर स्वयं इसे संश्लेषित नहीं कर सकता है। इसलिए इसे वीट जर्म ऑयल के माध्यम से हासिल किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें : सौंफ क्या है?

उपयोग

कितना सुरक्षित है वीट जर्म ऑयल (Wheat Germ Oil) का उपयोग ?

  • वीट जर्म ऑयल के वैसे कोई साइड इफेक्ट्स नहीं हैं लेकिन, इसका इस्तेमाल करने से पहले एक बार इसका पैच टेस्ट जरूर कर लें। इसके अलावा, एक बार अपने डॉक्टर से जरूर परामर्श करें।
  • अगर आप कोई दूसरी दवाइयां ले रहे हैं, तो भी एक बार अपने डॉक्टर से जांच-पड़ताल कर लीजिए। 

इस ऑयल के फायदे:-

एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-ऐजिंग प्रॉपर्टीज 

इस तेल में एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-ऐजिंग प्रॉपर्टीज होने की वजह से कैंसर, कार्डियोवैस्कुलर डिजीज, चेहरे पर आने वाली झुड़ियों और प्रीमेच्योर एजिंग की समस्या को कम करता है। इसके इस्तेमाल से त्वचा और बालों में हुए डैमेज को दूर किया जा सकता है।

बैड कोलेस्ट्रॉल होता है कम 

इसके सेवन से बैड कोलेस्ट्रॉल कम होता है और शरीर में ठीक तरह से ब्लड सर्कुलेशन भी शुरू हो जाता है। ब्लड सर्कुलेशन ठीक तरह से होने पर हार्ट स्वस्थ रहता है। ब्लड सर्कुलेशन ठीक तरह से होने पर स्किन और हेयर भी हेल्दी रहते हैं।

टिशू को रिपेयर करता है 

इस ऑयल में विटामिन-बी की मौजूदगी डैमेज हुए टिशू की रिपेयर करने में मदद करते हैं और इसके सेवन से टिशू का विकास भी ठीक तरह से होता है। इस ऑयल में मौजूद मिनिरल, विटामिन और न्यूट्रिशन शरीर की कोशिकाओं तक पहुंच कर हेल्दी रहने में मददगार होता है।

ब्लड शुगर लेवल रहता है कंट्रोल 

इस तेल में मौजूद मैग्नेशियम शरीर के लिए लाभकारी होता है। दरअसल मैग्नेशियम ब्लड शुगर लेवल को बैलेंस रहने में मददगार होता है।

यह भी पढ़ें : अश्वगंधा क्या है?

साइड इफेक्ट्स

वीट जर्म ऑयल (Wheat Germ Oil) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

जिन लोगों को ग्लूटेन से एलर्जी है उन्हें वीट जर्म ऑयल के इस्तेमाल से बचना चाहिए क्योंकि, इसमें ग्लूटेन होता है।

जो लोग लो कार्ब डाइट पर हैं, उन्हें भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि, इसमें अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेटस होते हैं।

वीट जर्म ऑयल ट्राइग्लिसराइड्स (triglycerides) का अच्छा स्रोत है, जो एक तरह का वसा है। ह्दय रोग वाले लोगों को इसका सेवन ध्यान पूर्वक करना चाहिए। शरीर में ट्राइग्लिसराइड्स का स्तर बढ़ने से उन्हें परेशानी हो सकती है।

थेराप्यूटिक रिसर्च सेंटर के प्राकृतिक चिकित्सा डेटाबेस के अनुसार, वीट जर्म ऑयल का इस्तेमाल करते वक्त कुछ लोगों को साइड इफेक्ट्स का सामना करना पड़ सकता है। रिपोर्ट के अनुसार अगर आप वीट ऑयल को सप्लीमेंट की तरह लेते हैं तो आपका शरीर इसे अपना सकता है, लेकिन अगर इसे विटामिन ई के साथ लिया जाए तो इसके कई दुष्परिणाम हो सकते हैं।

डॉसेज

वीट जर्म ऑयल (Wheat Germ Oil) को लेने की सही खुराक

हर किसी के लिए वीट जर्म ऑयल की खुराक अलग होती है। इसे कितनी मात्रा में लेना चाहिए यह हर व्यक्ति की उम्र, स्वास्थ्य और अन्य चिकित्सा कारकों पर निर्भर करता है। हर्बल सप्लिमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए इसको लेने से पहले अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से एक बार जरूर परामर्श करें।

यह भी पढ़ें : अलसी के बीज क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है?

यह निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है। जैसे-

  • प्योर वीट जर्म ऑयल
  • एनकेप्सुलेटेड (Encapsulated) वीट जर्म ऑयल

अगर आप वीट जर्म ऑयल से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

प्रेग्नेंसी में हल्दी का सेवन करने के फायदे और नुकसान

प्रेग्नेंसी में हल्दी के नुकसान, गर्भवास्था में हल्दी कब खाएं, गर्भावस्था में हल्दी के साइड इफेक्ट्स, प्रेग्नेंसी के दौरान हल्दी का सेवन फायदेमंद है?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Ankita Mishra

गर्भावस्था में जरूरत से ज्यादा विटामिन लेना क्या सेफ है?

जाने गर्भावस्था में जरूरत से ज्यादा विटामिन लेने से क्या होता है, सही खुराक क्या है और गर्भावस्था में विटामिन का ओवरडोज होने पर डॉक्टर से कब संपर्क करें।

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Shivam Rohatgi

बोटोक्स गाइड: जानिए चेहरे को जवां बनाने वाली इस तकनीक के बारे में सबकुछ

बोटोक्स गाइड क्या है, बोटोक्स गाइड से कैसे पाएं खूबसूरती, बॉटुलिनम टॉक्सिन, बेबी बोटोक्स, बेबी बोटोक्स, ब्रोटोक्स, न्यूटोक्स, बजट बोटोक्स, Botox guide in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha

जान लें नोज पियर्सिंग बंप से राहत दिलाने के उपाय

नाक छिदवाने के बाद फोड़ा, नाक छिदवाने के बाद क्या करें, नोज पियर्सिंग बंप का इलाज क्या है, Nose piercing bump treatment in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha