home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Amitriptyline : एमिट्रिप्टीलिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Amitriptyline : एमिट्रिप्टीलिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां
एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) का उपयोग किसलिए किया जाता है?|एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) के इस्तेमाल से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?|एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) के इस्तेमाल से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?|कौन सी दवाएं एमिट्रिप्टिलीन (Amitriptyline) के साथ नहीं ली जा सकती हैं?|एमिट्रिप्टिलीन(Amitriptyline) कैसे उपलब्ध है?

एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

एमिट्रिप्टीलिन मेंटल प्रॉब्लम या मूड से संबंधित समस्याओं जैसे डिप्रेशन आदि में इस्तेमाल होता है। यह मूड और भावनाओं को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। साथ ही चिंता और तनाव को दूर कर सकता है। यह बेहतर नींद में मदद करता है और आपकी ऊर्जा का स्तर बढ़ाता है। एमिट्रिप्टीलिन दवाओं के समूह ट्राईसाइक्लिक एंटीडिप्रेसेंट से संबंधित ड्रग होती है। यह दवा दिमाग में कुछ निश्चित नैचुरल केमिकल (न्यूरोट्रांसमीटर जैसे सेरोटोनिन) के संतुलन को प्रभावित करने का काम करती है।

दूसरे उपयोग: इस सेक्शन में कुछ उपयोग शामिल हैं जो प्रोफेशनल लेबलिंग में सूचीबद्ध नहीं किए गए हैं लेकिन ये हेल्थकेयर प्रोफशनल द्वारा प्रिस्क्राइब किया जा सकता है। अपने हेल्थकेयर प्रोफेशनल द्वारा बताई गई स्थितियों में ही इस दवा का इस्तेमाल करें।

यह दवा नर्व के दर्द (जैसे पेरिफेरल न्यूरोपैथी, पोस्टथेरेपैटिक न्यूरोल्जिया), खाने की दिक्कत (बुलिमिया, bulimia), दूसरे मेंटल/मूड संबंधित समस्याएं (जैसे चिंता, पैनिक डिसऑर्डर) या माइग्रेन में होने वाले सिर दर्द को रोकने में भी इस्तेमाल हो सकती है।

और पढ़ें : Dolokind Plus: डोलोकाइंड प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

मैं एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) को कैसे इस्तेमाल करूं?

इस दवा को रोजाना एक से चार बार या डॉक्टर के निर्देश के मुताबिक खाएं। अगर आप इसे दिन में एक बार ही लेते हैं तो दिन में सोने की समस्या को कम करने के लिए आप इसे रात को सोते समय लें। इस दवा की खुराक आपके स्वास्थ्य स्थिति और आप इलाज के प्रति कितने संवेदनशील हैं, इस बात पर आधारित होती है।

साइड इफेक्ट्स (जैसे ऊंघना, मुंह सूखना, सिर चकराना) आदि को कम करने के लिए आपका डॉक्टर आपको निर्देश देगा कि आप शुरू में इस दवा की कम खुराक लें और इसे धीरे धीरे बढाएं। अपने डॉक्टर के निर्देश को सावधानीपूर्वक फॉलो करें।

इस दवा का ज्यादा फायदे लेने के लिए आप इसका नियमित रूप से सेवन करें। याद रखें इस दवा को रोजाना एक ही समय पर लें। आप ना तो इसकी खुराक को बढ़ाएं और ना ही इसे निर्धारित समय से ज्यादा समय तक इस्तेमाल करें। इस तरह से आपके अंदर सुधार नहीं होगा और साइड इफेक्ट्स होने की संभावना बढ़ जाएगी।

अगर आप बेहतर महसूस भी करें तब भी इस दवा का इस्तेमाल जारी रखें। बिना डॉक्टर की सहमति के आप इस दवा का इस्तेमाल बंद ना करें। इस दवा को अचानक बंद करने पर स्थिति और अधिक खराब हो सकती है। इसके अलावा आपको मूड स्विंग, सिर दर्द, थकान और नींद में बदलाव आदि लक्षण महसूस हो सकते हैं। इस दवा के साथ इलाज को बंद करने के दौरान इन लक्षणों को रोकने के लिए डॉक्टर दवा की खुराक को धीरे धीरे कम कर सकता है। इस बारे और अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें। अगर कोई नए लक्षण महसूस हों या स्थिति और अधिक खराब हो तो तुरंत अपने डॉक्टर को रिपोर्ट करें।

तुरंत यह दवा काम नहीं कर सकती है। एक हफ्ते के अंदर इसके फायदे आप देख सकते हैं। हालांकि पूरे फायदे मिलने में कम से कम चार हफ्तों का समय लग जाता है।

आप अपने डॉक्टर को बताएं अगर आपकी स्थिति ऐसे ही बनी रहती है या फिर और अधिक खराब हो जाती है (जैसे दुखी होना या आत्महत्या का विचार आना)।

मैं एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) को कैसे स्टोर करूं?

एमिट्रिप्टीलिन को प्रकाश और नमी से दूर कमरे के तापमान पर स्टोर करना बेहतर होता है। एमिट्रिप्टीलिन को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह में न रखें। मार्केट में एमिट्रिप्टीलिन के अलग-अलग ब्रांड है जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। जब भी इस दवा को खरीदें सबसे पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़े या फिर अपने फार्मासिस्ट से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। बिना निर्देश के एमिट्रिप्टीलिन को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुका है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है तो इसे नष्ट कर दें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने फार्मासिस्ट से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ें : एम्पीसिलिन और सलबैक्टम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) के इस्तेमाल से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

एमिट्रिप्टीलिन लेने से पहले:

  • अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं अगर आपको एमिट्रिप्टीलिन से या दूसरे तरह की एलर्जी हो।
  • अपने डॉक्टर को बताएं अगर आप सिसाप्राइड (प्रोपुलसिड) (यूएस में उपलब्ध नहीं है) या मोनोएमीन ऑक्सीडेस (एमएओ, MAO) इन्हींबिटर जैसे आइसोकॉर्बोक्साजिड (मरप्लान), फेनेलजीन (नॉर्डिल), सेलेगिलीन (एल्डीप्रिल, इमसैम, जेलापार) और ट्रानिलसाइप्रोमीन (पर्नेट) ले रहे हैं या आपने बीते 14 दिनों में एमएओ इन्हिबिटर (MAO) लिया है। आपका डॉक्टर बताएगा कि ऐसी स्थिति में ऐमिट्रिप्टिलीन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। (ऐमिट्रिप्टिलीन और एमएओ इन्हिबिटर (MAO) के संयोजन से सेरोटोनिन सिंड्रोम का कारण बन सकते हैं।
  • आप जो भी प्रिस्क्रिप्शन और नॉनप्रिस्क्रिप्शन दवा, विटामिन, न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट्स और हर्बल प्रोडक्ट्स, ले रहे हैं तो इस बारे में डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं। आप निम्नलिखित दवाओं का उल्लेख करना सुनिश्चित करें; एंटीहिस्टामिन; सिमेटीडीन (टेगामेट); डायट पिल्स; डाइसल्फिरम (एंटाबुसे); ग्वानेथिडीन (इस्मेलीन); इप्राट्रोपियम (एट्रोवेंट); क्विनिडिन (क्विनिडेक्स); अनियमित हार्टबीट की दवाइयां जैसे फ्लेकेनाइड (टाम्बोकोर) और प्रोपाफेनोन (रिथमोल); चिंता, अस्थमा, सर्दी जुकाम, इरीटेबल बॉवेल सिंड्रोम, दिमागी बीमारी, मिचली, पार्किन्सन डिजीज, दौरे पड़ना, अल्सर, या यूरीनरी समस्याओं की दवाइयां; दूसरे एन्टीडिप्रेसेंट; फिनोबर्बिटल (बेलाटल, सोल्फोटोन); सेडेटिव; सेलेक्टिव सेरोटॉनिन रिअपटेक इन्हिबिटर (एसएसआरआईएस, SSRIs) जैसे सिटेलोप्राम (सेलेक्सा), फ्लूऑक्सेटिन (प्रोजैक, सेराफेम), फ्लूवोक्सामीन (लुवोक्स), पैरोक्सेटिन (पैक्सिल) और सरट्रालीन (जोलॉफ्ट); स्लीपिंग पिल्स; थाइरॉयड की दवाइयां और ट्रांसक्विलाइजर। अगर आपने बीते पांच दिनों में फ्लूऑक्सेटिन (प्रोजैक, सेराफेम) का इस्तेमाल बंद कर दिया है तो डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं। आपका डॉक्टर आपकी खुराक को बदल सकता है या होने वाले साइड इफेक्ट्स को मॉनिटर कर सकता है।
  • अगर आपको तुरंत हार्ट अटैक आया हो तो इस बारे में डॉक्टर को बताएं। आपका डॉक्टर बताएगा कि ऐसी स्थिति में एमिट्रिप्टीलिन का इस्तेमाल ना करें।
  • अपने डॉक्टर को बताएं अगर आप ज्यादा मात्रा में एल्कोहॉल लेते हैं या अगर आपको पहले से मोतियाबिंद (आंख की समस्या) हो, आपका प्रोस्टेट बढ़ा हो; यूरिन पास करने में दिक्कत हो; दौरे पडते हों; थाइरॉयड की समस्या (हाइपरथाइरॉइडिज्म) हो; डायबिटीज हो; सिजोफ्रेनिया (दिमागी बीमारी जिसमें असामान्य विचार, जीवन मे इंटरेस्ट ना होना) की समस्या हो; लिवर, किडनी या हार्ट की बीमारी हो।
  • अपने डॉक्टर को बताएं अगर आप प्रेग्नेंट हैं या होने वाले हैं। एमिट्रिप्टीलिन लेने के दौरान अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो डॉक्टर को कॉल करें। एमिट्रिप्टिलीन लेने के दौरान आप ब्रेस्टफीडिंग ना कराएं।
  • अगर आप 65 साल या इससे ज्यादा उम्र के हैं तो इस दवा के फायदों और नुकसान के बारे में डॉक्टर से बात करें। बुजुर्गों को आमतौर पर एमिट्रिप्टीलिन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि दूसरी दवाइयों की तरह यह सुरक्षित नहीं होती है जो कि ऐसी ही स्थिति के इलाज के लिए इस्तेमाल हो सकती हैं।
  • अगर आपकी सर्जरी होने वाली है जिसमें डेंटल सर्जरी भी शामिल है तो इस स्थिति में डॉक्टर को बताएं कि आप एमिट्रिप्टीलिन का इस्तेमाल कर रहें हैं।
  • आपको पता होना चाहिए कि एमिट्रिप्टीलिन के इस्तेमाल से ऊंघने की समस्या हो सकती है। इस दवा के इस्तेमाल के दौरान आप ना तो ड्राइव करें और ना ही कोई मशीनरी इस्तेमाल करें।
  • याद रखें कि एल्कोहॉल की समस्या को बढ़ा सकता है जोकि इस दवा के इस्तेमाल से होती है।

और पढ़ें- Cardivas : कार्डिवैस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान महिलाओं में एमिट्रिप्टीलिन के इस्तेमाल को लेकर अभी पर्याप्त जानकारी नहीं है। एमिट्रिप्टीलिन लेने से पहले इसके फायदों और नुकसान के बारे में जानने के लिए डॉक्टर से जरूर सलाह लें। युएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के अनुसार एमिट्रिप्टीलिन प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी सी के अंतर्गत आती है।

एफडीए प्रेगनेंसी रिस्क कैटेगरी का संदर्भ नीचे दिया गया है,

  • A= कोई नुकसान नहीं
  • B= कुछ शोध में कोई नुकसान नहीं
  • C= थोड़ा नुकसान हो सकता है
  • D= नुकसान का पॉजिटिव प्रमाण
  • X= निषेध
  • N= कुछ पता नहीं

और पढ़ें : Clavulanic Acid : क्लैवुलेनिक एसिड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) के इस्तेमाल से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

आमतौर पर ये साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं;

ऊंघना, सिर चकराना, मुंह सूखना, धुंधला दिखाई देना, कब्ज, वजन बढ़ना या यूरिन पास होने में दिक्कत होना आदि इसके साइड-इफेक्टस हो सकते हैं। यदि ये साइड इफेक्ट्स बने रहते हैं या फिर और अधिक खराब स्थिति में पहुंच जाते हैं तो डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं।

सिर चकराने और सिर हल्का होने की समस्या को कम करने के लिए अगर आप बैठें या लेटे हैं तो धीरे से उठें।

मुंह को सूखने से आराम देने के लिए हार्ड कैंडी या बर्फ की चिप्स चूसें या गम चबाएं, पानी पिएं या लार के विकल्प का इस्तेमाल करें।

कब्ज को रोकने के लिए फाइबर युक्त डायट लें, ज्यादा मात्रा में पानी पिएं और एक्सरसाइज करें। अगर इस दवा के इस्तेमाल के दौरान आपको कब्ज होती है तो लैक्सेटिव सेलेक्ट करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

याद रखें आपका डॉक्टर इस दवा को प्रिस्क्राइब करता है क्योंकि वह जानता है कि इस दवा के नुकसान की तुलना में फायदे ज्यादा हैं। बहुत सारे लोग जो इस दवा का इस्तेमाल करते हैं, उनमें कोई साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं।

अपने डॉक्टर को तुरंत बताएं अगर आपको ये सारे गंभीर साइड इफेक्ट्स महसूस हों जैसे आसानी से चोट लगना/ब्लीडिंग, हार्टबर्न, कांपना, गंभीर रूप से पेट/एब्डोमेन का दर्द, मांसपेशियों में ऐंठन, मास्क जैसे चेहरे का भाव होना, सेक्शुअल क्षमता/इच्छा कम होना, बड़ा/दर्द भरा ब्रेस्ट आदि।

आपको तुरंत मेडिकल अटेंशन की जरूरत है अगर ये सारे साइड इफेक्ट्स महसूस होते हैं जैसे काला स्टूल, कॉफी के रंग की उल्टी होना, सिर चकराना, बेहोशी, दौरे पड़ना आदि।

इस दवा के इस्तेमाल से कभी कभी- गंभीर स्थिति हो जाती है जिसे न्यूरोलेप्टिक मैलिग्नेंट सिंड्रोम (एनएमएस, NMS) कहते हैं। आप मेडिकल सेवाओं की सहायता लें अगर आपको निम्नलिखित लक्षण महसूस हो जैसे बुखार, मांसपेशियों में अकड़न, कंफ्यूजन, पसीना आना, तेज/अनियमित हार्टबीट होना आदि।

इस दवा के इस्तेमाल से कभी- कभी एलर्जिक रिएक्शन होता है। आपको मेडिकल अटेंशन की जरूरत है अगर आपको ये सारे एलर्जिक रिएक्शन महसूस हों जैसे चकते पड़ना, खुजली/सूजन (खासतौर पर चेहरे/जीभ/गले में), सिर चकराना, सांस लेने में दिक्कत होना आदि।

सभी लोगों को ये सारे साइड इफेक्ट्स महसूस नहीं होते हैं। यहां पर कुछ साइड इफेक्ट्स नहीं बताए गए हैं। अगर आपको इन साइड इफेक्ट्स को लेकर किसी तरह की चिंता है तो इस बारे में डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें : Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate : गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

कौन सी दवाएं एमिट्रिप्टिलीन (Amitriptyline) के साथ नहीं ली जा सकती हैं?

अगर आप वर्तमान में कोई दवा ले रहें हैं तो एमिट्रिप्टीलिन उसके साथ इंटरैक्ट कर सकता है। जिससे दवा का एक्शन प्रभावित होगा या फिर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इस चीज को रोकने के लिए आप उन दवाओं (जिनमे प्रिस्क्रिप्शन ड्रग, नॉनप्रिस्क्रिप्शन ड्रग और हर्बल प्रोडक्ट शामिल हैं) की लिस्ट रखें और उन्हें डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ शेयर करें। सुरक्षा के लिहाज से आप बिना डॉक्टर के सहमति के ना तो कोई दवा अपने से शुरू करें, ना ही बंद करें और ना ही उसकी खुराक को बदलें।

ड्रग इंटरैक्शन से दवा का एक्शन प्रभावित हो सकता है या साइड इफेक्ट्स होने का खतरा बढ़ सकता है। इस डॉक्यूमेंट में सभी संभव ड्रग इंटरैक्शन मौजूद नहीं होते हैं। आप उन दवाओं (जिनमें प्रिस्क्रिप्शन ड्रग, नॉनप्रिस्क्रिप्शन ड्रग और हर्बल प्रोडक्ट शामिल हैं) की लिस्ट रखें और उन्हें डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ शेयर करें। सुरक्षा के लिहाज से आप बिना डॉक्टर के सहमति के ना तो कोई दवा अपने से शुरू करें, ना ही बंद करें और ना ही उसकी खुराक को बदलें।

सर्दी या एलर्जी की दवाइयां, सेडेटिव, नार्कोटिक दर्द की दवाइयां, स्लीपिंग पिल्स, मसल्स रेलैक्सर और दौरे पड़ने या उलझन की दवाइयां नींद को बढ़ावा देती हैं जो कि एमिट्रिप्टीलिन के द्वारा होती है। अगर आप इनमें से किसी दवाई या दूसरे एंटीडिप्रेसेंट का नियमित रूप से इस्तेमाल करते हैं तो अपने डॉक्टर को बताएं। एमिट्रिप्टीलिन लेने से पहले अपने डॉक्टर को बताएं अगर आपने बीते पांच हफ्तों में “एसएसआरआई, SSRI” एंटीडिप्रेसेंट का इस्तेमाल किया हो जैसे सिटेलोपाम (सेलेक्सा), ऐसिटेलोप्राम (लेक्साप्रो), फ्लुऑक्सेटिन (प्रोजैक, सेराफेम, सिम्बयक्स), फ्लूवोक्सामीन (लुवोक्स), पैरोक्सेटिन (पैक्सिल) या सरट्रालिन (जोलोफ्ट)।

आप जो भी दवाइयां इस्तेमाल करते हैं उनके बारे में डॉक्टर को बताएं खासकर;

  • सिमेटीडीन (टेगामेट);
  • आइसोनियाजिड (ट्यूबरकुलोसिस के इलाज के लिए);
  • मैथिमाजॉल (टेपाजॉल);
  • निकार्डिपीन (कार्डेन);
  • रोपिनिरोल (रेक्विप);
  • जॉन वर्ट;
  • टिक्लोपिन (टिकलिड);
  • एक एंटीबायोटिक जैसे टर्बाइनाफिन (लेमिसिल);
  • एंटीमलेरिया की दवाइयां जैसे क्लोरोक्विन (ऐरिलैन) या पाइरीमेथामीन (डेराप्रिम), या क्विनीन (क्वालाक्विन);
  • एचआईवी या एड्स की दवाइयां जैसे डेलाविर्डिन (रेस्क्रिप्टर) या रिटोनावीर (नारवीर, कैलेट्रा);
  • साईक्याट्रिक डिसॉर्डर की दवाइयां जैसे ऐरीपिपराजॉल (ऐबिलिफी), क्लोरप्रोमाजाइन (थोराजाइन), क्लोजापिन (क्लोजारिल, फेजाक्लो), फ्लुफेनाजिन (पर्मिटिल, प्रोलिक्सिन), हालोपेरिडोल (हलडोल), पेरफीनाजिन (ट्राईलेफोन) या थियोरिडाजिन (मेलारिल);
  • हृदय गति से संबंधित दवाइयां जैसे ऐमियोडारोन (कॉर्डरॉन, पेसरोन), डोफेटीलाइड (टिकोसिन), आईबुटिलाइड (कॉरवेर्ट) या सोटालोल (बीटापेस);
  • हृदय गति संबंधित दवाइयां जैसे डिसोपायरमाईड (नारपेस), ड्रोनेडारोन (मुलटैक), फ्लेकेनाइड (टेम्बोकोर), मेक्सिलेटिन (मेक्सिटिल), प्रोकेनामाईड (प्रोनेस्टिल), प्रोपाफेनोन (रिथमोल) या क्विनिडिन (क्विन- जी)।

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) लेना सुरक्षित है?

एमिट्रिप्टिलीन आपके भोजन या एल्कोहॉल के साथ इंटरैक्ट कर सकता है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित हो सकता है या साइड इफेक्ट्स होने का खतरा बढ़ सकता है। भोजन या एल्कोहॉल के साथ इस दवा को इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

एमिट्रिप्टीलिन (Amitriptyline) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

एमिट्रिप्टीलिन आपकी स्वास्थ्य स्थिति के साथ इंटरैक्ट कर सकता है। इससे स्थिति और अधिक खराब हो सकती है या दवा का एक्शन प्रभावित हो सकता है। इसलिए अपने मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति के बारे में डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं अगर आपको ये सारी समस्याएं हैं जैसे

  • बाइपोलर डिसॉर्डर (पागलपन और डिप्रेशन के एपिसोड के साथ मूड डिसॉर्डर);
  • हार्ट अटैक – इस स्थिति में इस दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
  • डायबिटीज;
  • मोतियाबिंद;
  • हार्ट की बीमारी;
  • थाइरॉइड की समस्या;
  • सिजोफ्रेनिया;
  • दौरे पड़ना या उसकी हिस्ट्री;
  • यूरिनरी रिटेंशन (यूरिन पास करने में दिक्कत) – ऐसी स्थिति में सावधानी से इस दवा का इस्तेमाल करें क्योंकि स्थिति और अधिक खराब हो सकती है।
  • लिवर डिजीज- ध्यानपूर्वक इस दवा का इस्तेमाल करें। प्रभाव बढ़ सकते हैं क्योंकि शरीर से इस दवा के निकलने की प्रक्रिया धीरे हो सकती है।
और पढ़ें : Zolpidem : जोल्पिडेम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

एमिट्रिप्टिलीन(Amitriptyline) कैसे उपलब्ध है?

एमिट्रिप्टिलीन निम्नलिखित खुराक और क्षमता में उपलब्ध है;

  • टैबलेट, ओरल: 10 मिग्री, 25 मिग्रा, 50 मिग्रा, 75 मिग्रा, 100 मिग्रा, 150 मिग्रा।

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में अपने लोकल इमरजेंसी सेवाओं को कॉल करें या अपने इमरजेंसी वार्ड पर जाएं।

ओवरडोज के लक्षण इस प्रकार हैं:

  • अनियमित हार्टबीट;
  • दौरे पड़ना;
  • कोमा (एक समय तक कुछ पता ना होना);
  • कंफ्यूजन
  • ध्यान लगाने में दिक्कत
  • भ्रमित होना (ऐसी चीजें देखना या सुनना जो मौजूद ही ना हो);
  • उत्तेजित होना
  • ऊंघना
  • मांसपेशियों का कड़ा होना
  • उल्टी
  • बुखार
  • शरीर का तापमान ठंडा होना

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जायें?

अगर आप एमिट्रिप्टिलीन की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें। डबल खुराक ना लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Amitriptyline/https://www.drugs.com/amitriptyline.html/Accessed on 07/07/2016

Amitriptyline/https://www.webmd.com/drugs/2/drug-8611/amitriptyline-oral/details/ Accessed on 07/07/2016

Amitriptyline/https://medlineplus.gov/druginfo/meds/a682388.html/ Accessed on 07/07/2016

Amitriptyline, Oral Tablet/https://www.healthline.com/health/amitriptyline-oral-tablet/ Accessed on 06/12/2019

Amitriptyline/https://www.nhs.uk/medicines/amitriptyline-for-pain/ Accessed on 06/12/2019

What Is Amitriptyline (Elavil)?/https://www.everydayhealth.com/drugs/amitriptyline/ Accessed on 06/12/2019

लेखक की तस्वीर
Mayank Khandelwal के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Anoop Singh द्वारा लिखित
अपडेटेड 07/10/2019
x