Pantoprazole: पैंटोप्राजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    Pantoprazole: पैंटोप्राजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    जानिए मूल बातें

    पैंटोप्राजोल (pantoprazole) का इस्तेमाल किसके लिए किया जाता है?

    पैंटोप्राजोल का उपयोग पेट और ग्रासनली से संबंधित बीमारियों (जैसे एसिड रिफ्लक्स) के इलाज के लिए किया जाता है। इस दवा के उपयोग से पेट में बनने वाले एसिड की मात्रा को कम किया जाता है। यह दवा खांसी, सीने में जलन और निगलने में होने वाली कठिनाई आदि लक्षणों से राहत देती है। यह एसिड द्वारा क्षतिग्रस्त ग्रासनली और पेट को ठीक करने में सहायक होती है और साथ ही अल्सर के उपचार में भी मदद करती है। इस दवा के इस्तेमाल से अन्नप्रणाली के कैंसर को रोकने में भी मदद मिलती है। पैंटोप्राजोल, प्रोटॉन-पंप इन्हिबिटर्स के रूप में जानी जाने वाली दवाओं के एक वर्ग से संबंधित है।

    अन्य उपयोग: यहां पर पैंटोप्राजोल के कुछ उपयोग ऐसे भी बताए गए हैं जो दवा के लिए स्वीकृत यूएस प्रोफेशनल लेबलिंग में सूचीबद्ध नहीं हैं लेकिन, डॉक्टर द्वारा आपको दी जा सकती है। जैसे- इस दवा का उपयोग पेट और आंतों के अल्सर के इलाज और रोकथाम के लिए भी किया जा सकता है।

    और पढ़ेंः Amlodipine: एम्लोडीपिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    मुझे पैंटोप्राजोल (pantoprazole) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

    डॉक्टर द्वारा बताए गए निर्देशों के अनुसार ही दवा लें। दवा की खुराक डॉक्टर मरीज की चिकित्सा स्थिति और उपचार की प्रतिक्रिया के आधार पर निर्धारित करते हैं। अगर डॉक्टर द्वारा बताए गए निश्चित समय और अंतराल पर दवा की खुराक ली जाए तो दवा का असर जल्दी देखा जा सकता है। इसलिए, दवा की खुराक हर दिन एक निश्चित समय पर ही लें।

    अगर पैंटोप्राजोल टेबलेट का इस्तेमाल कर रहें हैं तो भोजन से 30 मिनट पहले अपनी खुराक लें। इसे चबाएं या कुचलें नहीं। टेबलेट को सीधे पानी के साथ निगल लें। यदि टेबलेट को ट्यूब से पेट (नासोगैस्ट्रिक या गैस्ट्रिक ट्यूब) तक पहुंचा रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से विस्तृत निर्देश लें कि इसका मिश्रण कैसे तैयार करना है और इसे कैसे देना है।

    दवा से अधिक से अधिक लाभ पाने के लिए नियमित रूप से इसका उपयोग करें। इसे हर दिन एक ही समय पर लें। साथ ही अगर आपकी बीमारी के लक्षण समाप्त हो गए हैं तब भी इसका इस्तेमाल जारी रखें जब तक आपके डॉक्टर द्वारा निर्धारित दवा की खुराक पूरी नहीं होती है।

    मैं पैंटोप्राजोल (pantoprazole) को कैसे स्टोर करूं?

    पैंटोप्राजोल को हमेशा रूम टेम्प्रेचर पर ही स्टोर करें। इसे धूप के सीधे प्रकाश या नमी से दूर रखें। पैंटोप्राजोल के अलग-अलग ब्रांड हो सकते हैं जिनको स्टोर करने के दिशा-निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। स्टोर करने के लिए दवा के पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

    दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर, डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे ना ही टॉयलेट में फ्लश करें और ना ही नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

    और पढ़ें: Torsemide : टॉर्समाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    सावधानियां और चेतावनी

    पैंटोप्राजोल का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

    एलर्जी

    अपने डॉक्टर को बताएं कि क्या आपको कभी भी इस दवा या किसी अन्य दवा से किसी तरह की एलर्जी या रिएक्शन हुआ है। यदि आपको किसी अन्य प्रकार की एलर्जी हो या किसी विशेष चीज से एलर्जी (जैसे-खाद्य पदार्थ, डाई या जानवर) हो तो भी डॉक्टर को बताएं। गैर-निर्धारित उत्पादों के लिए, लेबल या पैकेज पर लिखी सामग्री को ध्यान से पढ़ें।

    बाल-चिकित्सा

    बाल चिकित्सा के अंतर्गत पैंटोप्राजोल के प्रभाव पर उचित अध्ययन नहीं किए गए हैं। बच्चों के लिए इस दवा के उपयोग पर किसी तरह की सुरक्षा और प्रभाव का पता नहीं लगाया गया है।

    वृद्ध-चिकित्सा

    आज तक किए गए अध्ययनों में वृद्ध-चिकित्सा की समस्याओं को साबित नहीं किया है जो बुजुर्गों में पैंटोप्राजोल की उपयोगिता को सीमित करे।

    क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान पैंटोप्राजोल (pantoprazole) लेना सुरक्षित है?

    प्रेग्नेंसी या स्तनपान के दौरान पैंटोप्राजोल का इस्तेमाल करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानियां हो सकती हैं, इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं है। ऐसे में इसके इस्तेमाल से पहले हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

    और पढ़ेंः सेल्फ मेडिकेशन (Self Medication) से किडनी प्रॉब्लम को न्यौता दे सकते हैं आप

    पैंटोप्राजोल (pantoprazole) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

    यदि आपको एलर्जी रिएक्शन के इन लक्षणों में से कोई भी दिखे, तो तुरंत चिकित्सा सहायता प्राप्त करें: पित्ती, सांस लेने मे तकलीफ, आपके चेहरे, होंठ, जीभ या गले में सूजन

    अगर आपको मैग्नीशियम के कम होने के लक्षण दिखें, तो पैंटोप्राजोल का उपयोग बंद करें। जैसे-

    • तेज या असमान हृदय गति
    • जलन महसूस होना
    • लूजमोशन या स्टूल में खून आना
    • मांसपेशियों में ऐंठन, मांसपेशियों में कमजोरी
    • खांसी या घुटन-सी लगना
    • सिरदर्द, ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई, याददाश्त में कमी, कमजोरी, भूख न लगना, अस्थिरता, उलझन, मतिभ्रम, बेहोशी, दौरे पड़ना ।

    और पढ़ें : Diclofenac+Serratiopeptidase: डिक्लोफेनाक+सेरातियोपेप्टिडेस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    कुछ अन्य साइड- इफेक्ट्स जैसे:

    • वजन में बदलाव आना
    • मतली, उल्टी, हल्के दस्त
    • गैस, पेट दर्द
    • चक्कर आना, थका हुआ महसूस करना
    • जोड़ों का दर्द या नींद की समस्या (अनिद्रा)

    हालांकि, दवा का इस्तेमाल करने वाले सभी लोगों में ये लक्षण नजर आए ऐसा जरूरी नहीं है। कुछ साइड इफेक्ट्स ऐसे भी हैं, जिनके बारे में यहां पर नहीं बताया गया है। अगर आपको इससे होने वाले किसी भी तरह के साइड इफेक्ट को लेकर कोई सवाल है, तो आपने डॉक्टर से संपर्क करें।

    और पढ़ें : Budesonide : बुडेसोनाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    इन जरूरी बातों को जानें

    कौन-सी दवाएं पैंटोप्राजोल (pantoprazole) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

    पैंटोप्राजोल के साथ अगर किसी तरह की अन्य दवा का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो उससे होने वाली परेशानियों के बारे में पहले ही अपने डॉक्टर से बात करें। बिना डॉक्टर की सलाह के इसका सेवन न करें और ना ही इसकी खुराक को किसी दूसरी दवा के साथ बदलें।

    • रिलपिविराइन (Rilpivirine)

    [mc4wp_form id=”183492″]

    इस दवा का उपयोग किसी दूसरी दवा के साथ आमतौर पर नहीं किया जाता है लेकिन, कुछ मामलों में आवश्यक हो सकता है। यदि दोनों दवाएं एक साथ दी जाती हैं, तो आपका डॉक्टर खुराक को बदल सकता है।

    • अटाजेनावीर (Atazanavir)
    • बोसूटिनिब (Bosutinib)
    • साईटालोप्राम (Citalopram)
    • डाब्राफिनिब (Dabrafenib)
    • डैसाटिनिब (Dasatinib)
    • ऐर्लोटिनिब (Erlotinib)
    • एस्केलरबाजेपाइन एसीटेट (Eslicarbazepine Acetate)
    • कीटोकोनाजोल (Ketoconazole)
    • लेडीपासवीर (Ledipasvir)
    • मिथोट्रेक्सेट (Methotrexate)
    • माइकोफेनोलेट मोफेटिल (Mycophenolate Mofetil)
    • नेलफिनवीर (Nelfinavir)
    • निलोटिनिब (Nilotinib)
    • पैजोपानिब (Pazopanib)
    • सकिनवीर (Saquinavir)
    • टोपोटेकन (Topotecan)
    • विसमोडेजीब (Vismodegib)

    निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ इस दवा का उपयोग करने से कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं लेकिन, दोनों दवाओं का उपयोग आपके लिए सबसे अच्छा उपचार हो सकता है। यदि दोनों दवाएं एक साथ दी जाती हैं, तो डॉक्टर खुराक को बदल सकता है।

    और पढ़ें : Glimepiride : ग्लिमेपिराइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    क्रैनबेरी (Cranberry)

    लेवोथायरोक्सिन (Levothyroxine)

    वार्फरिन (Warfarin)

    क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ पैंटोप्राजोल (Pantoprazole) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

    अगर किसी भी तरह के भोजन या एल्कोहॉल के साथ पैंटोप्राजोल का सेवन कर रहें हैं तो अपने डॉक्टर को इसके बारे में बताएं। कुछ मामलों में इसके परिणाम खतरनाक हो सकते हैं।

    पैंटोप्राजोल (pantoprazole) से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

    पैंटोप्राजोल का इस्तेमाल आपके सेहत के लिए कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपने मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें। इन स्थितियों में बरतें सावधानीः

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    Mayank Khandelwal


    Shikha Patel द्वारा लिखित · अपडेटेड 02/11/2020

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement