home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Chlorpheniramine Maleate: क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इस्तेमाल|सावधानियां और चेतावनी|जानिए इसके साइड इफेक्ट्स|इन जरूरी बातों को जानें|डोजेज
Chlorpheniramine Maleate: क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इस्तेमाल

क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट (Chlorpheniramine Maleate) का इस्तेमाल किसके लिए किया जाता है?

क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट एक एंटीहिस्टामिन है जो एलर्जी, बुखार और सामान्य जुकाम के लक्षणों को दूर करने में राहत प्रदान करता है। इन लक्षणों में रैशेस, आंखे/गले/नाक/ त्वचा में खारिश, खांसी, नाक का बहना, आंखों में पानी आना और छींकें आदि शामिल हैं।

यह दवाई उस प्राकृतिक पदार्थ (जैसे हिस्टामिन) को रोकने का काम करती है, जिसे एलर्जी होने पर हमारा शरीर बनाता है। दूसरे प्राकृतिक पदार्थ जिन्हें हमारा शरीर बनाता है जैसे एसिटाइलकोलिन (acetylcholine) को भी यह दवा ब्लॉक करती है, जिससे हमारे शरीर को नाक के बहने और आंखों में पानी आने जैसी समस्याओं से मुक्ति मिलती है।

सर्दी और खांसी के लिए बने उत्पादों को 6 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए सुरक्षित और प्रभावी नहीं माना जाता। इसलिए, इस उत्पाद का प्रयोग 6 साल से छोटे बच्चों में सर्दी-जुकाम के लक्षणों के उपचार के लिए डॉक्टर की सलाह के बिना प्रयोग न करें। यही नहीं, कुछ ऐसे उत्पाद भी होते हैं जिन्हे डॉक्टर 12 साल से छोटे बच्चों को देने की सलाह नहीं देते। इसलिए अपने बच्चों की सुरक्षा के लिए कोई भी दवाई या उत्पाद के प्रयोग से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से अवश्य पूछ लें।

और पढ़ें: Sertraline : सेर्ट्रालिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • अगर आप कोई भी दवाई ले रहे हैं तो इसके प्रयोग से पहले इसके पैकेट पर लिखी पूरी जानकारी को पढ़ें। अगर इसको लेकर आपके मन में कोई सवाल हो तो, अपने फार्मासिस्ट से पूछें।
  • इस दवाई को टेबलेट, कैप्सूल या लिक्विड के रूप में मुंह के माध्यम से आप भोजन या भोजन के बिना ले सकते हैं। इस पर बताई डोज के अनुसार या डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही इसे ले।
  • अगर आप कैप्सूल ले रहे हैं तो पूरे कैप्सूल का सेवन करें। इसे तोड़ कर या चबा कर न खाएं। अगर आप ऐसा करते हैं तो पूरी दवाई एक साथ बाहर निकल कर आपके शरीर में जाएगी, जिससे साइड इफेक्ट्स का खतरा हो सकता है। ऐसे ही टेबलेट को भी पूरा निगल लें। अगर आप इसके लिक्विड रूप का प्रयोग कर रहे हैं तो बताई गई खुराक ही लें। बोतल को प्रयोग से पहले अच्छे से हिला लें।
  • बच्चों को सर्दी-जुकाम की दवाई देने से पहले डॉक्टर से अवश्य पूछ लें। बहुत छोटे बच्चों को सर्दी और जुकाम की दवाई सही तरीके से नहीं देने से मौत होने की संभावना भी रहती है।
  • इस दवा की खुराक रोगी की उम्र, मेडिकल कंडीशन और अन्य कई चीज़ों पर निर्भर करती है। अपने डॉक्टर के बताये अनुसार ही इसकी खुराक लें। इसकी खुराक को अपनी मर्जी से न बढ़ाएं। इस दवाई के अधिक फायदे पाने के लिए नियमित रूप से इसका सेवन करें।

क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट को कैसे स्टोर करूं?

क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट को हमेशा रूम टेंपरेचर ही स्टोर करें। इसे धूप के सीधे प्रकाश या नमी से दूर रखें। इसे डैमेज होने से बचाने के लिए कभी भी इसे फ्रीज में स्टोर करके न रखें। इसके अलग-अलग ब्रांड हो सकते हैं, जिनको स्टोर करने के दिशा-निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। स्टोर से जुड़ी जानकारी जुटाने के लिए दवा के पैकेज पर लिखे हुए जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर, डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे न ही टॉयलेट में फ्लश करें और न ही नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

और पढ़ें- बड़े ब्रांड्स की 27 दवाइयां हुईं क्वॉलिटी टेस्ट में फेल

सावधानियां और चेतावनी

  • अगर आपको इस दवाई या डेक्सक्लोरफेनीरामाइन या किसी अन्य दवाई से एलर्जी है तो क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट लेने से पहले आपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को अवश्य बता दें। इस दवाई में हो सकता है कि कुछ ऐसे तत्व हों तो आपकी एलर्जी की तकलीफ या अन्य समस्याओं को बढ़ा दें।
  • इस दवाई को लेने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को अपनी मेडिकल हिस्ट्री बता दें जैसे अगर आपको सांस संबंधी, दिल से संबंधी, हाई ब्लड प्रेशर, लिवर, पेट, मूत्र संबंधित समस्या आदि हो।
  • इस दवाई से आपको चक्कर आ सकता है या नजर धुंधली हो सकती है।
  • तरल उत्पादों में अस्पाटेम, चीनी या/ और अल्कोहल आदि हो सकते हैं। अगर आपको डायबिटीज, लिवर संबंधी समस्याएं, फिनायलकेटोन्यूरिया (PKU) या अन्य कोई समस्या हो तो ऐसे में भी इसकी खुराक आदि के बारे में डॉक्टर से अवश्य जान ले।

और पढ़ें: Quiniodochlor : क्विनियोडोक्लोर क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट लेना सुरक्षित है?

गर्भवस्था के दौरान इस दवाई का सेवन तभी करना चाहिए अगर इसकी बहुत अधिक आवश्यकता हो। इसे लेने से पहले अपने डॉक्टर से इसके जोखिमों और फ़ायदों को डॉक्टर से जान लें।

अगर आप स्तनपान कराती हैं तो ऐसे में भी इस दवाई को लेने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह ले लें, क्योंकि दवाई आपके ब्रेस्ट मिल्क से हो कर पास होती है जिससे यह शिशु के लिए नुकसानदायक हो सकती है।

और पढ़ें: Dimethicone : डायमेथीकॉन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

[mc4wp_form id=”183492″]

जानिए इसके साइड इफेक्ट्स

क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट के साइड इफेक्ट्स

  • अनिद्रा, चक्कर आना, कब्ज, पेट का खराब होना, नजर का धुंधला होना या मुंह/नाक/गले का सूखना आदि इसके दवाई साइड-इफेक्ट हो सकते हैं। अगर यह साइड इफेक्ट अधिक भयंकर हों तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें। मुंह के सूखने जैसी समस्या से छुटकारा पाने के लिए सख्त, लेकिन बिना चीनी की कैंडी को मुंह में रखें और चूसें, या बिना चीनी की च्यूइंगम का सेवन करें। जितना अधिक हो सके पानी पिएं।
  • अगर आपको डॉक्टर ने यह दवाई लेने की सलाह दी है तो इस बात का ध्यान रखें कि इसके फायदे इस दवाई के साइड इफेक्ट से अधिक होंगे। इस दवाई से अधिकतर लोगों को कोई साइड इफेक्ट नहीं होते।
  • अगर आपको इस उत्पाद को लेने से कोई साइड इफेक्ट होते हैं जैसे मूड में बदलाव, बैचैनी, मूत्र त्याग में समस्या, दिल की धड़कन का बढ़ना या अनियमित होना तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।
  • अगर आप को गंभीर साइड इफेक्ट महसूस हों जैसे सीजर तो इस स्थिति में तुरंत मेडिकल हेल्प लें।
  • वैसे इस दवाई से एलर्जी नहीं होती, लेकिन अगर ऐसा हो तो आपको तुरंत मेडिकल मदद लें। गंभीर एलर्जी के लक्षण इस प्रकार हो सकते हैं रैशेस, खुजली, सूजन, अधिक चक्कर आना या सांस लेने में समस्या
  • यह साइड इफेक्ट की पूरी सूची नहीं है। अगर आपको इसके अलावा भी अन्य कोई साइड इफेक्ट नजर आएं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से मिले।

और पढ़ें : Isoniazid : आइसोनियाजिड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स, डोज और सावधानियां

इन जरूरी बातों को जानें

कौन-सी दवाएं क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

किसी भी दवाई को अन्य किसी दवाई या चीज़ के साथ लेने से साइड इफेक्ट का जोखिम बढ़ सकता है। हालांकि, क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट को अन्य दवाइयों के साथ लेने से क्या प्रभाव पड़ता है इसके बारे में सही जानकारी नहीं है। ऐसे में उन उत्पादों या दवाइयों की सूची बना ले जिन्हे आप लेते हैं और अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं। अपने डॉक्टर की सलाह लिए बिना इस दवाई को लेना शुरू या बंद न करें और न ही इसकी खुराक बदले।

कुछ ऐसे उत्पाद हैं जिन्हे अगर इस दवाई के साथ ले तो यह प्रभाव पड़ सकते हैं। जैसे :

एंटीहिस्टामिनेस को त्वचा पर लगाना (जैसे डाई क्लोरफेनीरामाइनक्रीम, दवाई या स्प्रे).

अगर आप किसी ऐसी चीज का सेवन कर रहे हैं जिससे चक्कर आ सकते हैं जैसे दर्द या खांसी को दूर करने वाली दवा, अल्कोहल, भांग (मारिजुआना), नींद या तनाव दूर करने वाली दवाइयां, हिस्टामिनरोधी आदि, इन्हें लेने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मसिस्ट से सलाह ले।

अपनी सभी दवाइयों के लेबल (Label) चेक आवश्यक करें (जैसे एलर्जी या खांसी या जुकाम दूर करने वाली दवा), क्योंकि इसमें ऐसे घटक हो सकते हैं जिनसे चक्कर आ सकते हैं। इन उत्पादों को सुरक्षित तरीके से प्रयोग करने से पहले अपने फार्मासिस्ट से पूछ ले।

डेक्सक्लोरफेनीरामाइन क्लोरफेनीरामाइन के समान है। अगर आप क्लोरफेनीरामाइन का प्रयोग कर रहे हैं, तो ऐसी दवाई का सेवन न करें जिसमे डेक्सक्लोरफेनीरामाइन हो।

यह दवाई कई लेबोरेटरी टेस्ट को प्रभावित कर सकती है जैसे कई एलर्जी टेस्ट। इससे आपके टेस्ट के परिणाम सही नहीं आ पाते। इसलिए आप कोई भी टेस्ट कराने से पहले उन्हें बता दें।

और पढ़ें: Teneligliptin: टेनेलिग्लिप्टिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट का इस्तेमाल किया जा सकता है?

अल्कोहल या अन्य नशीली चीज़ों के साथ इस दवाई को लेने से आपको चक्कर आ सकते हैं या आप सुस्त महसूस कर सकते हैं। ऐसे में इसका सेवन करने के बाद जब तक आपको सही महसूस नहीं होता न तो ड्राइव करें, न ही किसी मशीन का प्रयोग करें और न ही ऐसा कुछ करें जिसे करने के लिए आपका सतर्क होना या साफ दिखाई देना आवश्यक न हो। अगर आप किसी भी नशीली चीज का सेवन करते हैं तो इस दवाई को लेने से पहले अपने डॉक्टर को आवश्यक बता दें। भोजन के साथ इसका क्या प्रभाव पड़ सकता है इसके बारे में अपने डॉक्टर से जानें।

डोजेज

यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प न मानें। किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट की वयस्कों के लिए क्या डोज है?

एलर्जिक रायनाइटिस में वयस्कों के लिए खुराक

टेबलेट या सिरप :4 to 6 घंटे में मुंह के माध्यम से 4 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज़:8 to 12 घंटे में मुंह के माध्यम से 8 से 16 मिलीग्राम या दिन में एक बाद जरूरत पड़ने पर 16 मिलीग्राम

अधिकतम डोज: 32 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

जुकाम के लक्षणों में वयस्कों के लिए खुराक

टेबलेट या सिरप :4 to 6 घंटे में मुंह के माध्यम से 4 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज : 8 to 12 घंटे में मुंह के माध्यम से 8 से 16 मिलीग्राम या दिन में एक बाद जरूरत पड़ने पर 16 मिलीग्राम

अधिकतम डोज: 32 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

पित्ती (Urticaria) में वयस्कों के लिए खुराक

टेबलेट या सिरप :4 to 6 घंटे में मुंह के माध्यम से 4 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज :8 to 12 घंटे में मुंह के माध्यम से 8 से 16 मिलीग्राम या दिन में एक बाद जरूरत पड़ने पर 16 मिलीग्राम

अधिकतम डोज: 32 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

एलर्जी में वयस्कों के लिए खुराक

इंजेक्टेबल सॉल्युशन:

खून या प्लाज्मा संक्रमण के लिए एलर्जी रिएक्शन: 10 to 20 मिलीग्राम नसों में, इंट्रामस्क्युलर, या सबक्यूटेनियस इंजेक्शन के द्वारा एक डोज

अनफिलसिस : 10 to 20 मिलीग्राम नसों में एक डोज

अस्पष्ट एलर्जी की स्थिति : 5 to 20 मिलीग्राम नसों में, इंट्रामस्क्युलर, या सबक्यूटेनियस इंजेक्शन के द्वारा एक डोज

अधिकतम डोज: 40 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

टेबलेट या सिरप :4 to 6 घंटे में मुंह के माध्यम से 4 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज : 8 to 12 घंटे में मुंह के माध्यम से 8 से 16 मिलीग्राम या दिन में एक बाद जरूरत पड़ने पर 16 मिलीग्राम

अधिकतम डोज: 32 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

एलर्जी राइनाइटिस में बच्चों के लिए खुराक

3 से 5 महीने के शिशु

सस्टैंड -रिलीज सिरप: हर 12 घंटों में 0.5 मिलीग्राम मुंह के माध्यम से

6 से 8 महीने के शिशु

सस्टैंड -रिलीज सिरप: हर 12 घंटों में 1 मिलीग्राम मुंह के माध्यम से

9 से 18 महीने के शिशु

सस्टैंड -रिलीज सिरप: हर 12 घंटों में 1 से १.5 मिलीग्राम मुंह के माध्यम से

18 महीने से 6 साल के बच्चे

सस्टैंड -रिलीज सिरप: हर 12 घंटों में 2 मिलीग्राम मुंह के माध्यम से

2 से 5 साल के बच्चे

टेबलेट या सिरप :4 to 6 घंटे में 1 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज : मुंह के माध्यम से 2 मिलीग्राम दिन में दो बार, 24 घंटों में इसकी मात्रा 8 मिलीग्राम से अधिक न बढ़ाएं

अधिकतम डोज: 6 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

6 से 11 साल के बच्चे

टेबलेट या सिरप :4 to 6 घंटे में 2 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज: मुंह के माध्यम से 4 से 8 मिलीग्राम दिन में दो बार, 24 घंटों में इसकी मात्रा 16 मिलीग्राम से अधिक न बढ़ाएं

अधिकतम डोज: 16 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

12 साल से या अधिक

टेबलेट या सिरप: 4 to 6 घंटे में मुंह के माध्यम से 4 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज: 8 से 12 घंटों में मुंह के माध्यम से 8 से 16 मिलीग्राम दिन में एक बार या 16 मिलीग्राम जरूरत के अनुसार दिन में एक बार

अधिकतम डोज: 32 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

जुकाम के लक्षणों और पित्ती (Urticaria) में बच्चों के लिए डोज

3 से 5 महीने के शिशु

सस्टैंड -रिलीज सिरप: हर 12 घंटों में 0.5 मिलीग्राम मुंह के माध्यम से

6 से 8 महीने के शिशु

सस्टैंड -रिलीज सिरप: हर 12 घंटों में 1 मिलीग्राम मुंह के माध्यम से

9 से 18 महीने के शिशु

सस्टैंड -रिलीज सिरप: हर 12 घंटों में 1 से 1.5 मिलीग्राम मुंह के माध्यम से

18 महीने से 6 साल के बच्चे

सस्टैंड -रिलीज सिरप: हर 12 घंटों में 2 मिलीग्राम मुंह के माध्यम से

2 से 5 साल के बच्चे

टेबलेट या सिरप :4 to 6 घंटे में 1 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज : मुंह के माध्यम से 2 मिलीग्राम दिन में दो बार, 24 घंटों में इसकी मात्रा 8 मिलीग्राम से अधिक न बढ़ाएं

अधिकतम डोज: 6 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

6 से 11 साल के बच्चे

टेबलेट या सिरप :4 to 6 घंटे में 2 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज : मुंह के माध्यम से 4 से 8 मिलीग्राम दिन में दो बार, 24 घंटों में इसकी मात्रा 16 मिलीग्राम से अधिक न बढ़ाएं

अधिकतम डोज: 16 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

12 साल से या अधिक

टेबलेट या सिरप: 4 to 6 घंटे में मुंह के माध्यम से 4 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज : 8 से 12 घंटों में मुंह के माध्यम से 8 से 16 मिलीग्राम दिन में एक बार या 16 मिलीग्राम जरूरत के अनुसार दिन में एक बार

अधिकतम डोज: 32 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

एलर्जिक रिएक्शन में बच्चों के लिए डोज

इंजेक्टेबल सॉल्युशन:

2 से 11 साल: 0.35 mg/kg/day जरूरत के अनुसार हर 4 से 6 घंटे में विभाजित डोज

12 साल और उससे अधिक

इंजेक्टेबल सॉल्युशन:

खून या प्लाज्मा संक्रमण के लिए एलर्जी रिएक्शन: 10 to 20 मिलीग्राम नसों में, इंट्रामस्क्युलर, या सबक्यूटेनियस इंजेक्शन के द्वारा एक डोज

अनफिलसिस : 10 to 20 मिलीग्राम नसों में एक डोज

अस्पष्ट एलर्जी की स्थिति : 5 to 20 मिलीग्राम नसों में, इंट्रामस्क्युलर, या सबक्यूटेनियस इंजेक्शन के द्वारा एक डोज

अधिकतम डोज: 40 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

2 से 5 साल के बच्चे

टेबलेट या सिरप :4 to 6 घंटे में 1 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज: मुंह के माध्यम से 2 मिलीग्राम दिन में दो बार, 24 घंटों में इसकी मात्रा 8 मिलीग्राम से अधिक न बढ़ाएं

अधिकतम डोज: 6 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

6 से 11 साल के बच्चे

टेबलेट या सिरप :4 to 6 घंटे में 2 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज: मुंह के माध्यम से 4 से 8 मिलीग्राम दिन में दो बार, 24 घंटों में इसकी मात्रा 16 मिलीग्राम से अधिक न बढ़ाएं

अधिकतम डोज: 16 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

12 साल से या अधिक

टेबलेट या सिरप: 4 to 6 घंटे में मुंह के माध्यम से 4 मिलीग्राम

सस्टेन-रिलीज: 8 से 12 घंटों में मुंह के माध्यम से 8 से 16 मिलीग्राम दिन में एक बार या 16 मिलीग्राम जरूरत के अनुसार दिन में एक बार

अधिकतम डोज: 32 मिलीग्राम प्रत्येक दिन

और पढ़ें:Pancreatin : पैंक्रियेटिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट किस रूप में आती है?

क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट निम्न रूपों में उपलब्ध है :

  • टेबलेट
  • कैप्सूल
  • लिक्विड

ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति में क्या करना चाहिए?

अगर किसी ने इस दवाई की ओवरडोज ले ली है और कुछ गंभीर लक्षण देखने को मिल रहे हैं जैसे सांस लेने में समस्या आदि तो तुरंत उसे अस्पताल ले कर जाएं। ओवरडोज़ के कुछ लक्षण त्वचा में लालिमा, बुखार, कमजोरी, बेहोशी आदि हो सकते हैं। बच्चों में उत्तेजना का बढ़ना सबसे पहला साइड इफेक्ट है। इसके अलावा इसके ओवरडोज़ से बेहोशी, चक्कर आना आदि समस्याएं हो सकती हैं।

नोट

  • अगर डॉक्टर ने इस दवाई की सलाह आपको दी है, तो किसी अन्य व्यक्ति को इसका सेवन न करने दें।
  • नियमित रूप से मेडिकल या लेबोरेटरी जांच कराएं।
  • इस दवाई को लेने के बाद किसी भी तरह का एलर्जी टेस्ट न कराएं क्योंकि इससे परिणाम प्रभावित हो सकते हैं।

यदि मुझसे क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट की डोज मिस हो जाए तो मुझे क्या करना चाहिए?

अगर आपसे क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट की डोज मिस हो जाए, तो जितना जल्दी हो सके इसे ले लें। हालांकि, अगर दूसरी खुराक का समय हो गया है, तो डबल डोज लेने की बजाय एक डोज मिस कर दें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 22/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड