मुंह से जुड़े तथ्य जिनके बारे में शायद ही जानते होंगे आप 

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अक्टूबर 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

खाने का स्वाद लेने से लेकर संवाद करने तक हमारा मुंह ही ही काम आता है। सांस लेने की प्रक्रिया में भी मुंह ही सहायक होता है। ये तो हो गए ऐसे फैक्ट्स जो सभी को पता हैं, लेकिन मुंह से जुड़े कुछ तथ्य ऐसे भी हैं। जिनके बारे में शायद ही आपको पता हो। “हैलो स्वास्थ्य” के इस आर्टिकल में मुंह से जुड़े तथ्य बताए गए हैं, जिन्हें जानकर आप बोलेंगे कि मुंह भी बड़े कमाल की चीज है। आइए जानते हैं मुंह से जुड़े तथ्य। 

और पढ़ें : बच्चों के मुंह के अंदर हो रहे दाने हो सकते हैं हैंड फुट माउथ डिजीज के लक्षण

मुंह से जुड़े तथ्य

  • मुंह से जुड़े तथ्य में आप शायद यह तथ्य न जानते हो कि इंसान के मुंह में लगभग 10,000 टेस्ट बड्स (Taste buds) होते हैं, जिनमें से ज्यादातर जीभ पर मौजूद होते हैं। जबकि एक बुजुर्ग व्यक्ति में केवल 5,000 वर्किंग टेस्ट बड्स होते हैं। इन टेस्‍ट बड की लाइफ दस दिन से दो सप्ताह तक ही होती है। 

और पढ़ें : बच्चों के दांत निकलने पर होने वाले दर्द को ऐसे कर सकते हैं कम, आसान उपाय

  • मुंह से जुड़े तथ्य- खाने की बात की जाए तो हमारे मुहं से पेट में भोजन जाने में सामान्य रूप से सिर्फ सात सेकेंड्स ही लगते हैं।
  • मुंह से जुड़े तथ्य- अगर आप राइट हैंडेड हैं तो खाना अधिकतर आप अपने मुहं में दायीं तरफ से चबाते होंगे। ठीक इसके विपरीत अगर आप लेफ्ट हैंडेड हैं तो खाना ज्यादातर बायीं तरफ से चबाते होंगे।
  • मुंह से जुड़े तथ्य- इंसान का मुंह खाने को अपने हिसाब से ठंडा करने के लिए ज्यादा लार निकालना शुरू कर देता है। यह लार (saliva) खून का ही एक फिल्टर्ड सब्स्टन्स (filtered substance) है। 

और पढ़ें : दांतों की कैविटी से बचना है तो ध्यान रखें ये बातें

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

  • मुंह से जुड़े तथ्य में यह तथ्य जानकर आप आश्चर्यचकित हो सकते हैं कि जिन लोगों के मुंह में ऊपर का तालू छोटा होता है, वे खर्राटे लेते हैं। दरअसल, ऐसे लोग नाक के जरिए पूरी सांस नहीं ले पाते हैं। 
  • मुंह से जुड़े तथ्य- लगभग 85% लोग अपनी जीभ को एक क्यूब की तरह घुमा सकते हैं। 
  • मुंह से जुड़े तथ्य- आपके दांत आपके पैदा होने के पहले ही बनने लगते हैं, लेकिन पैदा होने के 6-12 महीने बाद बाहर आते हैं
  • मुंह से जुड़े तथ्य- अगर हमारे मुंह में सलाइवा नहीं होता, तो हम कुछ भी टेस्ट नहीं कर पाते।
  • मुंह से जुड़े तथ्य- हड्डियों की तरह दांत भी जीवित होते हैं, इनकी खुद की ब्लड सप्लाई और नर्व होती है और यह मर भी जाते हैं
  • मुंह से जुड़े तथ्य- दांतों के इनेमल को हमेशा बचा के रखें, बस यह एक ऐसी चीज है जो दोबारा फिर नहीं बनती।

मुंह से जुड़े तथ्य तो आप जान ही चुके हैं। अब हम आपको ओरल हाइजीन से जुड़ी कुछ बातें बता रहे हैं। आपको अपने मुंह विशेष ख्याल रखना चाहिए। इससे आप कई तकलीफों से बच जाएंगे।

अच्छी ओरल हाइजीन के फायदे (Benefits of oral hygiene)

मसूड़ों की सेहत होती है बेहतर

मुंह में बहुत सारे बैक्टीरिया पाए जाते हैं। कुछ अच्छे बैक्टीरिया होते हैं जो भोजन को पचाने में मदद करते हैं। कुछ बैक्टीरिया हानिकारक होते हैं जो बीमारी और संक्रमण का कारण बनते हैं।  यदि आप ठीक से फ्लॉस या ब्रश नहीं करते हैं, तो हानिकारक बैक्टीरिया आपके मुंह में जन्म ले लेते हैं और दांतों पर प्लाक (plaque) जमना शुरू हो जाता है। इससे मसूड़ों में सूजन और मसूड़ों के रोगों (जैसे-पीरियोडोंटाइटिस, जिंजीवाइटिस) की संभावना बढ़ जाती है। ऐसे में, नियमित रूप से ब्रश और फ्लॉस करने से मुंह से हानिकारक बैक्टीरिया दूर रहते हैं।

हार्ट अटैक का खतरा होता है कम

अमेरिकन कॉलेज ऑफ कार्डियोलॉजी के अनुसार, मसूड़ों के रोग (gum diseases) होने से दिल का दौरा (heart attack) पड़ने का खतरा लगभग 50% तक बढ़ सकता है। दरअसल, मसूड़ों से खून आने की वजह से बैक्टीरिया ब्लड स्ट्रीम में प्रवेश करके आपके पूरे शरीर में फैल सकते हैं। इससे हार्ट अटैक का जोखिम बढ़ सकता है। वहीं, ओरल हाइजीन को मेंटेन करने से दिल की बीमारियों (heart diseases) का खतरा कम किया जा सकता है।

और पढ़ें : दांतों का पीलापन दूर करने वाली टीथ वाइटनिंग कितनी सुरक्षित है?

ठीक से ब्रश करने का तरीका भी जानना है जरूरी

आप ब्रश दिन में दो बार करते हैं तो अच्छी बात है लेकिन, ब्रश करने का तरीका कितना सही है। ब्रश करने का सही तरीका यह है कि ब्रश को दांतों के इनेमल यानी जोड़ पर ऊपर से नीचे और दाएं से बाएं की ओर करें। इसके अलावा दांतों की साफ-सफाई के साथ जीभ की सफाई का भी ध्यान रखें।

आपका मुंह बॉडी का एक ऐसा स्थान है जिसकी अगर देखभाल न की जाए तो कई हेल्थ प्रॉब्लम्स जन्म ले सकती हैं। इसलिए, डॉक्टर स्वास्थ्य को सही रखने के लिए ओरल हाइजीन पर ध्यान देने की बात करते हैं।

फ्लॉसिंग को न करें इग्नोर

मुंह में दांतों और मसूढ़ों के अलावा ऐसी कई जगह हैं जहां ब्रश नहीं पहुंच पाता है। इन जगहों की सफाई के लिए फ्लॉसिंग सही रहता है जो दांतों के बीच के हिस्से में पहुंचकर खाद्य पदार्थों के अवशेषों को बाहर निकालती है।

और पढ़ें : दांतों की परेशानियों से बचना है तो बंद करें ये 7 चीजें खाना

हमें उम्मीद है कि मुंह के तथ्य पर आधारित यह आर्टिकल आपको जरूर पसंद आया होगा। आपने कभी सोचा भी नहीं होगा कि मुंह के बारे में भी इतने मजेदार फैक्ट्स हो सकते हैं। किसी प्रकार की विशेष जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Canker sores: नासूर क्या है?

जानिए नासूर क्या है in hindi, नासूर के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, canker sores को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Sunil Kumar
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z मार्च 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Lockjaw: लॉकजॉ क्या है?

जानिए लॉकजॉ क्या है in hindi, लॉकजॉ के कारण, जोखिम और लक्षण क्या है, lockjaw को ठीक करने के लिए क्या उपचार उपलब्ध है जानिए यहां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z फ़रवरी 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Thrush: थ्रश क्या है?

जानिए थ्रश क्या है in hindi, थ्रश के कारण, जोखिम और लक्षण क्या है, thrush को ठीक करने के लिए क्या उपचार है और इसके लिए क्या है घरेलू उपाय जानिए।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z फ़रवरी 13, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Pemphigus: पेम्फिग्स क्या है?

जानिए पेम्फिग्स क्या है in hindi, पेम्फिग्स के कारण, जोखिम और लक्षण क्या है, pemphigus को ठीक करने के लिए क्या उपचार उपलब्ध है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z फ़रवरी 13, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

Hexigel हेक्सीजेल

Hexigel : हेक्सीजेल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ जुलाई 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
बच्चे के मुंह में छाले

बच्चे के मुंह में छाले से न हों परेशान, इसे दूर करने के हैं 11 घरेलू उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Hema Dhoulakhandi
प्रकाशित हुआ मई 9, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
दांत-दर्द के घरेलू उपाय

दांत दर्द में तुरंत आराम पहुंचाएंगे ये 10 घरेलू उपचार

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh
प्रकाशित हुआ मई 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
मुंह में संक्रमण

Mouth Infection: जानिए मुंह में संक्रमण के घरेलू उपचार

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh
प्रकाशित हुआ अप्रैल 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें