backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना
Table of Content

Propranolol : प्रॉप्रैनोलॉल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. हेमाक्षी जत्तानी · डेंटिस्ट्री · Consultant Orthodontist


Ankita mishra द्वारा लिखित · अपडेटेड 02/09/2020

Propranolol : प्रॉप्रैनोलॉल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग

प्रॉप्रैनोलॉल (Propranolol) का उपयोग किसके लिए किया जाता है?

यह एक बीटा ब्लॉकर दवा है। जिसका इस्तेमाल हाई ब्लड प्रेशर, अनियमित दिल की धड़कन, कंपकंपी लगने और अन्य स्थितियों के उपचार के लिए किया जाता है। इसका उपयोग दिल के दौरे के बाद जीवित रहने की संभावना को बेहतर बनाने के लिए भी किया जाता है। साथ ही, यह माइग्रेन, सिरदर्द और सीने में दर्द (एनजाइना) से राहत दिलाने में भी मददगार होता है। हाई ब्लड प्रेशर को कम करने से स्ट्रोक, दिल के दौरे और गुर्दे की समस्याओं को रोकने में मदद मिलती है।

यह दवा शरीर में कुछ प्राकृतिक रसायनों (जैसे एपिनेफ्रीन) की क्रिया को रोकने का काम करती है जो दिल और खून की नसों को प्रभावित करती है। जिसकी मदद से हार्ट रेट, ब्लड प्रेशर और दिल पर पड़ने वाले तनाव को कम किया जा सकता है।

अन्य उपयोगः इस भाग में इस दवा के ऐसे उपयोग शामिल हैं जो दवा के पैक पर लिखे नहीं गए होंगे लेकिन स्वास्थ्य की स्थिति को देखते हुए डॉक्टर इसके इस्तेमाल की सलाह दे सकते हैं।

साथ ही, इस दवा का इस्तेमाल एंग्जाइटी या थायरॉइड के लक्षणों को नियंत्रित करने के लिए भी किया जाता है।

मैं प्रॉप्रैनोलॉल (Propranolol) का इस्तेमाल कैसे करूं?

दिन में दो से चार बार या अपने डॉक्टर के द्वारा तय किए मात्रा में दाव की खुराक लेनी चाहिए। दवा की खुराक हमेशा खाना खाने के पहले लेनी चाहिए (और अगर दिन में इसकी चार खुराक ले रहे हैं तो सोने से पहले दवा की खुराक लें)। अगर दवा के तरल रूप का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो इसकी मात्रा नापने वाले विशेष चम्मच का ही इस्तेमाल करें। घरेलू चम्मच का इस्तेमाल न करें क्योंकि, इससे दवा की खुराक कम या ज्यादा हो सकती है।

दवा की खुराक स्वास्थ्य स्थिति और उपचार की प्रक्रिया पर तय की जा सकती है।

दवा का असर जल्द से जल्द पाने के लिए इसे नियमित तौर पर लें। याद रखें कि हर दिन दवा की खुराक एक तय समय पर ही लें। साथ ही, यह भी जरूरी है कि स्वास्थ्य ठीक होने के बाद भी दवा की खुराक जारी रखें।

इस दवा के इस्तेमाल से सीने में होने वाले दर्द और माइग्रेन से बचाव करने के लिए किया जा सकता है लेकिन, ध्यान रखें कि जब सीने में दर्द हो रहा हो या माइग्रेन हो रहा हो तो यह उन्हें ठीक नहीं करता है। ऐसी स्थिति होने पर चिकित्सक द्वारा निर्देशित अन्य दवाओं जैसे, सीने में दर्द के लिए नाइट्रोग्लिसरीन की गोलियां, माइग्रेन के लिए सुमैट्रिप्टन का उपयोग करें। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

अगर आप कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए कुछ दवाएं भी लेते हैं जैसे, पित्त एसिड-बाइंडिंग रेजिन जैसे कोलेस्टिरमाइन या कोलस्टिपोल, तो इन दवाओं के खाने के कम से कम 4 घंटे पहले या बाद में ही प्रोप्रैनोलोल लें।

अगर प्रॉप्रैनोलॉल का इस्तेमाल हाई ब्लड प्रेशर के लिए करते हैं, तो इसके प्रभाव 1 से 12 हफ्तों में देखें जा सकते हैं।

अगर दवा के इस्तेमाल से आपके सेहत में कोई सुधार होता है या स्थिति और ज्यादा बिगड़ जाती है तो इसके बारे में तुरंत अपने डॉक्टर को बताएं।

और पढ़ेंः हाई ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन के लक्षण क्या होते हैं?

मैं प्रॉप्रैनोलॉल (Propranolol) को कैसे स्टोर करूं?

प्रॉप्रैनोलॉल को हमेशा कमरे के तापमान पर स्टोर रखें। इसे सीधे धूप या नमी के प्रभाव में आने से बचा कर रखें। इस दवा को कभी भी बाथरूम या फ्रिज में न रखें। मार्केट में इस दवा के कई अलग-अलग ब्रांड उपलब्ध हैं जिन्हें स्टोर करने के दिशा-निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। इसलिए दवा को कैसे स्टोर करना है इसके लिए दवा के पैक पर लिखे गए निर्देशों को जरूर पढ़ें। साथ ही, दवा को बच्चों और जानवरों की पहुंच से भी दूर रखें।

बिना निर्देश के दवा को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुका है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है तो इसका इस्तेमाल न करें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ेंः Clonazepam : क्लोनाज़ेपाम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानियां और चेतावनी

प्रॉप्रैनोलॉल (Propranolol) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

दवा का उपयोग करने से पहले इससे होने वाले जोखिम और फायदे के बारे में जरूर समझें। जिसका निर्णय आपका डॉक्टर बेहतर तरीके से कर सकते हैं। साथ ही, इन स्थितियों के होने पर भी दवा के इस्तेमाल पर विचार करना चाहिए:

एलर्जी

अगर आपको इस दवा के इस्तेमाल या किसी अन्य दवा के इस्तेमाल से किसी भी तरह की कोई एलर्जी होती है इसके बारे में अपने डॉक्टर को बताएं। साथ ही, आपको किन पदार्थों से एलर्जी होने का खतरा बना रहा है इसके बारे में उनसे बात करें। दवा का इस्तेमाल करने से पहले उसके पैक पर लिखे गए निर्देश जरूर पढ़ें।

बाल चिकित्सा के लिए

बाल चिकित्सा के लिए प्रॉप्रैनोलॉल इंजेक्शन के प्रभावों के बारे में अभी उचित अध्ययन नहीं किया गया है। इसलिए इनकी सुरक्षा और क्षमता का ज्ञान नहीं है।

बुजुर्गों के लिए

बड़े उम्र-दराज रोगियों में इसके कैसे प्रभाव हो सकते हैं, इसके बारे में उचित अध्ययन नहीं किए गए हैं। हालांकि, बुजुर्ग रोगियों में उम्र से संबंधित लिवर, किडनी या दिल की समस्याएं होने की संभावना अधिक होती है, जिसके लिए प्रॉप्रैनोलॉल इंजेक्शन की खुराक देने में काफी सावधानी बरतने की आश्यकता होती है।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान प्रॉप्रैनोलॉल (Propranolol) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इसके इस्तेमाल करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानियां हो सकती है इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं है। ऐसे में इसके इस्तेमाल से पहले हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें। अगर आप प्रेग्नेंसी के दिनों में इसका सेवन करना चाहती हैं तो अपने डॉक्टर की देख रेख में ही करें।

अचानक बंद न करें दवा लेना : अपने डॉक्टर से बात किए बिना इस दवा को लेना बंद न करें। प्रॉप्रैनोलॉल को अचानक बंद करने से दिल की धड़कन में बदलाव, सीने में दर्द या दिल का दौरा पड़ सकता है। आपका डॉक्टर इन प्रभावों को रोकने में  के लिए कई हफ्तों तक धीरे-धीरे आपकी खुराक कम करेगा।

उनींदापन की चेतावनी: यह दवा उनींदापन का कारण बन सकती है। इसको खाने के बाद ड्राइव न करें, मशीनरी का उपयोग न करें साथ ही ऐसी कोई भी गतिविधि न करें जिसमें सतर्कता की आवश्यकता हो। जब तक आपको पता न हो कि यह दवा आपको कैसे प्रभावित करती है।

मधुमेह की चेतावनी: प्रॉप्रैनोलॉल लो ब्लड शुगर का कारण बन सकती है। इस दवा का उपयोग सावधानी के साथ किया जाना चाहिए यदि आपको मधुमेह है, खासकर यदि आप इंसुलिन या अन्य डायबिटीज की दवाएं लेते हैं जो लो ब्लड शुगर का कारण बन सकती हैं।

अस्थमा की चेतावनी: यदि आपको अस्थमा या सांस लेने में तकलीफ है, तो प्रॉप्रैनोलॉल न लें। यह आपके अस्थमा को बदतर बना सकती है।

और पढ़ेंः Ranitidine : रेनिटिडाइन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

प्रॉप्रैनोलॉल (Propranolol) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

अगर आपको इनमें से कोई भी एलर्जी के लक्षण दिखाई दें तो तुरंत डॉक्टर की मदद लेंः पित्त, सांस लेने में कठिनाई, चेहरे, होंठ, जीभ या गले में सूजन

इस तरह के साइड इफेक्ट्स होने पर अपने डॉक्टर को कॉल करें;

कम गंभीर दुष्प्रभाव शामिल हो सकते हैं:

  • मतली, उल्टी, दस्त, कब्ज, पेट में ऐंठन,
  • सेक्स ड्राइव में कमी, नपुंसकता या ऑर्गैज्म प्राप्त करने में कठिनाई,
  • नींद की समस्याएं या
  • थका हुआ महसूस करना।

हर कोई इन दुष्प्रभावों का अनुभव नहीं करता है। इसके अलावा ऊपर बताए गए दुष्प्रभावों को अलावा भी अगर किसी तरह के लक्षण दिखाई दे तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ेंः Montek LC : मोंटेक एलसी क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

[mc4wp_form id=’183492″]

इंटरैक्शन

कौन सी दवाएं प्रॉप्रैनोलॉल (Propranolol) के साथ इंटरैक्शन कर सकती हैं?

निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ इस दवा का उपयोग करने की सिफारिश नहीं की जाती है। आपका डॉक्टर इस दवा के साथ इलाज नहीं करने या आपके द्वारा ली जाने वाली कुछ अन्य दवाओं को बदल सकते हैं।

  • थियोरीडाजीन (Thioridazine)

निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ इस दवा का उपयोग करना आमतौर पर अनुशंसित नहीं है, लेकिन कुछ मामलों में यह आवश्यक हो सकता है। अगर दोनों दवाएं एक साथ निर्धारित की जाती हैं, तो आपका डॉक्टर दवा खुराक बदल सकता है या आप कितनी बार एक या दोनों दवाओं का उपयोग कर सकते हैं, इसके नियम भी बदल सकता है।

  • एल्ब्युटेरोल (Albuterol)
  • अमिओडैरोन (Amiodarone)
  • अर्फॉर्मोटेरोल (Arformoterol)
  • बैमबूटेरोल (Bambuterol)
  • बुपिवैक्सिन (Bupivacaine)
  • ब्यूप्रोपिन (Bupropion)
  • क्लेनबूटेरॉल (Clenbuterol)
  • क्लोनिडीन (Clonidine)
  • क्लोजापिन (Clozapine)
  • क्रिजोटिनिब (Crizotinib)
  • डियतरिजोआटे (Diatrizoate)
  • डिलटिअजेम (Diltiazem)
  • ड्रोनेडेरोन (Dronedarone)
  • एपिनेफ्रीन (Epinephrine)
  • एसलीकारबजेपीने आसेटेट (Eslicarbazepine Acetate)
  • फेनोलडोपम (Fenoldopam)
  • फेनोटिरोल (Fenoterol)

निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ इस दवा का उपयोग करने से कुछ साइड इफेक्ट्स के खतरे बढ़ सकते हैं, लेकिन दोनों दवाओं का उपयोग आपकी उपचार के लिए बेहतर हो सकता है। अगर दोनों दवाएं एक साथ निर्धारित की जाती हैं, तो आपका डॉक्टर खुराक को बदल सकता है या आप कितनी बार एक या दोनों दवाओं का उपयोग कर सकते हैं, इसके नियम भी बदल सकते हैं।

  • अकार्बोस (Acarbose)
  • ऐसाइक्लोफेनाक (Aceclofenac)
  • असेमेटसीन (Acemetacin)
  • असेटोहेक्शामीदे (Acetohexamide)
  • एल्फूजोसिन (Alfuzosin)
  • एम्लोडीपिन (Amlodipine)
  • एस्पिरिन (Aspirin)
  • ब्रोमफेनाक (Bromfenac)
  • बुफेक्शमक (Bufexamac)
  • सेलेकॉक्सिब (Celecoxib)
  • च्लोरप्रोमाजिन (Chlorpromazine)
  • क्लोरप्रोपामीड (Chlorpropamide)
  • डेक्सिबूप्रोफेन (Dexibuprofen)
  • डेक्सकिटोप्रोफेन (Dexketoprofen)
  • डिक्लोफेनाक (Diclofenac)

क्या भोजन या एल्कोहॉल प्रॉप्रैनोलॉल (Propranolol) के साथ इंटरैक्शन कर सकती है?

कुछ तरह के भोजन और एल्कोहॉल के साथ प्रॉप्रैनोलॉल दवा के काम करने के तरीका बदल सकता है। जिसके कुछ जोखिम भी हो सकते हैं। इसलिए इसके इस्तेमाल से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

क्या स्वास्थ्य स्थिति प्रॉप्रैनोलॉल (Propranolol) के साथ इंटरैक्शन कर सकती है?

प्रॉप्रैनोलॉल का सेवन आपकी स्वास्थ्य स्थिति के साथ क्रिया कर सकती है। यह इंटरैक्शन आपकी स्वास्थ्य स्थिति को खराब कर सकती है। इसलिए आप अपने डॉक्टर को अपनी वर्तमान स्वास्थ्य संबंधित सभी स्थितियों के बारे में जरूर बताएं:

  • एनजाइना (सीने में तेज दर्द)
  • अस्थमा
  • ब्रैडीकार्डिया (धीमी दिल की धड़कन)
  • हार्ट ब्लॉक
  • डायबिटीज
  • हाइपरथायरायडिज्म (थायरॉइड)
  • हाइपोग्लाइसीमिया (लो ब्लड शुगर)
  • गुर्दे की बीमारी
  • लिवर की बीमारी
  • फेफड़ों की बीमारी (जैसे, ब्रोंकाइटिस)
  • वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम (दुर्लभ हृदय स्थिति)।
  • और पढ़ेंः Omeprazole : ओमेप्राजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    अपने चिकित्सक से उन सभी दवाओं के बारे में बताएं जो आप उपयोग करते हैं, और जिन्हें आप प्रॉप्रैनोलॉल के साथ अपने उपचार के दौरान शुरू या बंद करने वाले हैं, विशेष रूप से:

    • खून पतला करने वाली दवाएं
    • एंटीडिप्रेसेंट
    • उच्च रक्तचाप या प्रोस्टेट विकार के इलाज के लिए ली जाने वाली दवाएं
    • दिल या ब्लड प्रेशर की दवा
    • स्टेरॉयड दवा

    ओवरडोज

    आपातकाल या ओवरडोज की स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

    आपातकाल की स्थिति में, अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने निकटतम अस्पताल में जाएं।

    कोई खुराक भूलने पर क्या करें?

    अगर आप दवा की कोई खुराक भूल गए हैं तो खुराक याद आते ही इसे जल्द से जल्द लें। अगर आपकी अगली खुराक का समय आ गया है, तो छूटी हुई खुराक को रहने दें और अपनी नियमित खुराक निर्धारित समय पर लें। दोहरी खुराक न लें।

    डिस्क्लेमर

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. हेमाक्षी जत्तानी

    डेंटिस्ट्री · Consultant Orthodontist


    Ankita mishra द्वारा लिखित · अपडेटेड 02/09/2020

    ad iconadvertisement

    Was this article helpful?

    ad iconadvertisement
    ad iconadvertisement