home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Thrombophob: थ्रोम्बोफोब क्या है? जानें इसका उपयोग, डोसेज और साइड इफेक्ट्स

परिचय|उपयोग और लाभ|डोसेज|सावधानियां|चेतावनी
Thrombophob: थ्रोम्बोफोब क्या है? जानें इसका उपयोग, डोसेज और साइड इफेक्ट्स

परिचय

थ्रोम्बोफोब क्या है?

थ्रोम्बोफोब एक मरहम होता है। यह मरहम दो दवाओं का मिक्सचर होता है। इसे रक्त के थक्के, नसों में सूजन और जलन होने पर शरीर की त्वचा पर लगाया जाता है। थ्रोम्बोफोब बहुत तेजी से असर दिखाता है और सूजन या दर्द को कम कर देता है। यह खून के थक्के को आसानी से तोड़ता है। इसे डॉक्टर की सलाह पर ही लगाया जाना चाहिए। यह दवा शरीर के बाहरी उपयोग के लिए है।

थ्रोम्बोफोब के जल्दी कोई साइड इफेक्ट नहीं होते हैं। इसे लगाने के बाद त्वचा पर हल्की लालिमा आ सकती है अगर गलती से इस थ्रोम्बोफोब का इस्तेमाल आंखों या मुंह में कर लेते हैं तो तुरंत पानी से अच्छे से साफ कर लें। यह आंखों, मुंह और कानों के अंदर जाने पर नुकसान पहुंचा सकती है।

थ्रोम्बोफोब जेल की तरह होता है। इसमें मुख्य रूप से हेपारिन होता है। डॉक्टर इसकी सलाह बवासीर में रक्त के थक्के के उपचार के लिए देते हैं। कम प्लेटलेट काउंट या रक्तस्राव की समस्या वाले रोगियों को इस दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इससे स्थिति और बिगड़ सकती है। कुछ रोगियों को दवा का सेवन रोक देने के बाद भी कुछ दिनों तक दुष्प्रभाव महसूस हो सकते हैं। उन्हें तत्काल प्रभाव से डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। यदि समस्या गंभीर हो गई तो अन्य स्वास्थ्य समस्याएं पैदा हो जाएंगी।

और पढ़ेंः AB Phylline: ए बी फाइलिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग और लाभ

थ्रोम्बोफोब के उपयोग और लाभ क्या हैं?

थ्रोम्बोफोब जेल का प्रयोग निम्नलिखित बीमारियों, स्थितियों और लक्षणों के उपचार के लिए किया जाता है:

  • शरीर के किसी भी अंग में होने वाली जलन है। जहां खून के थक्के जम जाते हैं। यह समस्या ज्यादातर नसों और पैरों में होती है।
  • त्वचा पर होने वाले अल्सर पर ​इसका प्रयोग किया जाता है।
  • नसों में दर्द के इलाज के लिए थ्रोम्बोफोब का उपयो​ग किया जाता है। त्वचा पर होने वाले छालों पर भी यह दवा कारगर है।
  • धमनियों में रक्त के थक्के ठीक करने के लिए थ्रोग्बोफोब बहुत लाभदायक है।
  • नसों में दर्द को ठीक करता है।
  • बवासीर के कारण होने वाले दर्द में आराम पहुंचाता है।
  • थ्रोम्बोफोब मरहम का इस्तेमाल कई ऐसी बीमारियों के लिए भी होता है जो फिलहाल यहां सूचि में नहीं दिए गए हैं। इसके​ इस्तेमाल से पहले डॉक्टर की सलाह लेना बेहतर होगा।
  • थ्रोम्बोफोब एक असरदार जेल है। इसका उपयोग करने से पहले डॉक्टर से पूरी जानकारी लें और अपनी हेल्थ कंडिशन के बारे में उन्हें बताएं।
  • डॉक्टर के दिशा-निर्देशों का पालन करना जरूरी है। थ्रोम्बोफोब का इस्तेमाल करने के कुछ समय बाद अपने डॉक्टर को ये जरूर बताएं कि ​समस्या ठीक हुई है या वैसे ही बनी हुई है।
  • थ्रोम्बोफोब को कभी भी मुंह के द्वारा नहीं लेना चाहिए।
  • इस दवा को धूपि में जली हुई त्वचा पर उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से पूछें।
  • थ्रोम्बोफोब लगाने से पहले और बाद में अपने हाथों को अच्छे से धोएं।
  • थ्रोम्बोफोब मरहम लगाने के तुरंत बाद उस जगह को न धोएं।
  • जब तक आपका डॉक्टर ना कहे तब तक आप अपनी चोट पर कोई अन्य दवा का इस्तेमाल ना करें।
  • थ्रोम्बोफोब को ज्यादा मात्रा में नहीं लगाना चाहिए। एक पतली परत ही काफी होती है।
  • अपनी आंखों, नाक या मुंह में यह दवा लगाने से बचना चाहिए। इसके बहुत नुकसान हो सक​ते हैं।

[mc4wp_form id=”183492″]

डोसेज

थ्रोम्बोफोब के डोसेज क्या हैं?

  • थ्रोम्बोफोब के डोसेज बीमारी के हिसाब निर्धारित होते हैं।
  • डॉक्टर आपकी समस्या देखकर डोज बता देंगे। अगर आप दवाई लगाना भूल जाते हैं तो जैसे ही याद आए तुरंत लगा लें। इससे कोई नुकसान नहीं होगा।
  • ओवरडोज के बारे में डॉक्टर से जानकारी ले सकते हैं।

और पढ़ेंः Aceclofenac+Paracetamol+Rabeprazole : ऐसिक्लोफेनैक +पैरासिटामोल+रेबेप्राजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानियां

थ्रोम्बोफोब का उपयोग कब नहीं करना चाहिए?

  • थ्रोम्बोफोब का उपयोग सावधानी के साथ करना चाहिए। इसे कभी भी मुंह के अंदर ना लें।
  • खुले घाव, सूखी त्वचा, या सनबर्न होने पर जेल का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से जरूर पूछ लें।
  • अगर आपने डॉक्टर के परामर्श के बिना ऐसा किया तो जलन हो सकती है।
  • जेल का इस्तेमाल करने से पहले उस जगह को पानी से अच्छे से साफ कर लें। इसके बाद सूखे तौलिए से पोछ लें और फिर थ्रोग्बोफोब का इस्तेमाल करें। जेल की एक पतली परत ही लगाएं। ज्यादा लगाने से कोई फायदा नहीं होगा।
  • थ्रोम्बोफोब को लगाने के बाद तुरंत पानी से उस जगह को ना धोएं। इसके अलावा कोई अन्य दवा का प्रयोग भी ना करें।
  • थ्रोम्बोफोब का उपयोग करने के बाद प्रभावित क्षेत्र को बार-बार न छुएं। किसी चिकित्सक से इस दवा को लगाने के सही तरीके के बारे में पूछें।
  • जेल खरीदने से पहले पैकेज पर एक्सपायरी डेट जरूर देखें। एक्सपायर होने पर प्रोडक्ट का इस्तेमाल न करें।

और पढ़ेंः Acebrophylline+Acetylcysteine : ऐसिब्रोफाइलिन + ऐसिटिलसिस्टीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

चेतावनी

थ्रोम्बोफोब को लेकर जरूरी चेतावनी

  • थ्रोम्बोफोब का प्रभाव हर व्यक्ति में अलग होता है। डॉक्टर से इस बारे में बात कर सकते हैं।
  • थ्रोम्बोफोब की खुराक हर व्यक्ति में अलग होती है। इसलिए दूसरों को परामर्श ना दें।
  • थ्रोम्बोफोब को अपनी आदत ना बनाएं। जब भी इसका इस्तेमाल करना हो, पहले डॉक्टर से जरूर पूछ लें।
  • गर्भवती महिलाओं को इस जेल के उपयोग से परहेज करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि यह भ्रूण को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है।
  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए इस दवा का सेवन करना सुरक्षित हो सकता है लेकिन फिर भी डॉक्टर से सलाह लेना ना भूलें।
  • जिन लोगों की स्किन सेंसिटिव होती है, उन्हें भी इस जेल का उपयोग करने से पहले एक बार डॉक्टर से बात करनी चाहिए।
  • थ्रोम्बोफोब इंजेक्शन के रूप में नहीं मिलती है और ना ही इसे इंजेक्शन के जरिए इस्तेमाल किया जा स​कता है।
  • वैसे तो थ्रोम्बोफोब के ज्यादा साइड इफेक्ट्स देखने को नहीं मिले हैं। फिर भी कुछ मामलों में दुष्प्रभाव पड़ सकता है।
  • आंखों में जाने पर दिखाई नहीं देगा।
  • लिवर एंजाइम्स में वृद्धि होगी।
  • जिस जगह पर यह जेल लगाएंगे वहां झुनझुनी होगी।
  • उस जगह पर ठंडा भी लग सकता है।
  • त्वचा पर लाल चकत्ते पड़ सकते हैं।
  • त्वचा पर रिएक्शन हो जाएगा। जिससे लाल दाने पड़ सकते हैं।
  • मुंह के आस-पास लगी तो सांस लेने में तकलीफ हो सकती है।
  • त्वचा पर खुजली और जलन हो सकती है।
  • थ्रोम्बोफोब को बच्चों से दूर रखें।
  • थ्रोम्बोफोब को पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखें।
  • कमरे के तापमान पर थ्रोम्बोफोब स्टोर करें।
  • थ्रोम्बोफोब को अधिक गर्मी और धूप के संपर्क में आने से बचाएं

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है, अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

[Action of thrombophob-gel in combination with compression bandages or support-hose for phebologic indications]. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/5564896. Accessed on 17 May, 2020.

Title: Comparison of the effectiveness of Glycerine Magnesium Sulphate paste vs Heparinoid (Thrombophob) ointment on phlebitis among patients on peripheral intravenous therapy. http://jmscr.igmpublication.org/home/index.php/current-issue/9197-comparison-of-the-effectiveness-of-glycerine-magnesium-sulphate-paste-vs-heparinoid-thrombophob-ointment-on-phlebitis-among-patients-on-peripheral-intravenous-therapy. Accessed on 17 May, 2020.

2665of2009.pdf. http://www.mpscdrc.mp.gov.in/2665of2009.pdf. Accessed on 17 May, 2020.

Heparin for the Treatment of Burn Wound Pain. https://clinicaltrials.gov/ct2/show/NCT02497326. Accessed on 17 May, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 11/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड