आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes) क्यों हो जाते हैं?

    आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes) क्यों हो जाते हैं?

    ज्यादातर समय आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes) हानिरहित होते हैं और ये अपने आप चले जाते हैं। हालांकि कोई व्यक्ति इनके दिखाई देने से परेशान है तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। वैसे आंखों के अंदर लम्प्स और बम्प्स का होना सामान्य है, लेकिन कई बार ये कैंसर, गंभीर संक्रमण या किसी आय कंडिशन के होने के डर को ट्रिगर कर सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की स्किन ग्रोथ ठीक नहीं हो रही है तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। हालांकि आमतौर पर आंखों के अंदर सफेद लम्प्स हानिरहित होते हैं। इस लेख में आंखों के अंदर सफेद लम्प्स के संभावित कारण और इलाज के बारे में बताया जा रहा है।

    आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes) होने के कारण

    आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes) होने के निम्न कारण हो सकते हैं।

    और पढ़ें: आंखों की समस्याओं को न करें नजरअंदाज, जानें नजर में खराबी और अंधेपन के बारे में

    मिलिया (Milia)

    आंखों के अंदर सफेद लम्प्स का कारण मिलिया हो सकता है। दरअसल मिलिया छोटी, हानिरहित सफेद सिस्टस होती हैं। ये तब विकसित होती हैं जब स्किन के अंदर पाया जाने वाला केरेटिन प्रोटीन स्किन के अंदर ट्रैप्ड हो जाता है। ये सफेद बम्प्स और लम्प्स दिखने का कारण बन सकता है। जो काफी छोटे होते हैं। मिलिया के कुछ अन्य संकेतकों में शामिल हैं:

    मिलिया को हटाने से त्वचा को नुकसान या संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है। मिलिया अक्सर अपने आप ठीक हो जाते हैं, और वे लगभग कभी भी गंभीर स्वास्थ्य स्थिति का संकेत नहीं देते हैं। हालांकि, कुछ मामलों में, त्वचा की चोट या नई दवा लेने के बाद मिलिया दिखाई दे सकता है

    मिलिया का इलाज (Milia treatment)

    आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes) का कारण बनने वाले मिलिया को इलाज की जरूरत नहीं होती है। हालांकि कुछ लोगों को इनका दिखाई देना अच्छा नहीं लगता है तो वे इन्हें हटाने के लिए ट्रीटमेंट कराना चाहते हैं। या तो ये अपने आप ठीक हो जाते हैं या फिर अगर ये किसी दवा के कारण बन रहे हैं तो दवा बंद करने पर अपने आप ठीक हो जाते हैं। यह इससे भी राहत नहीं मिलती तो निम्न ट्रीटमेंट ऑप्शन हो सकते हैं।

    आंखों के अंदर सफेद लम्प्स का कारण हो सकते हैं सिरिंगोमस (Syringomas)

    आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes) का कारण सिरिंगोमस भी हो सकते हैं। ये स्वेट ग्लैंड में होने वाली नुकसान ना पहुंचाने वाली ग्रोथ है। यह सफेद, पीली, स्किन के रंग की, गुलाबी या भूरी हो सकती है। ये अक्सर गुच्छों के रूप में आंखों के नीचे या गालों पर दिखाई देते हैं। सिरिंगोमस आमतौर पर दर्द का कारण नहीं बनते। ये महिला और पुरुषों में कॉमन है। कई बार ये बड़े हो जाते हैं और बड़े गुच्छे का निमार्ण करते हैं, लेकिन ये नुकसानदायक नहीं होते।

    सिरिंगोमस के कुछ अन्य संकेतकों में शामिल हैं:

    सीरिंगोमस शरीर पर कहीं भी दिखाई दे सकता है। उदाहरण के लिए, कुछ लोग उन्हें अपने जननांगों के पास नोटिस करते हैं।

    और पढ़ें: चेहरे की लाली तो अच्छी सेहत की है निशानी, लेकिन क्या कहती हैं आंखों की लाली

    सिरिंगोमस (Syringomas) का इलाज

    आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes) का कारण बनने वाले सिरिंगोमस को इलाज की जरूरत नहीं होती है। कुछ लोग इन्हें हटावाना चाहते हैं। जिसके लिए निम्न ऑप्शन अपनाए जा सकते हैं।

    आंखों के अंदर सफेद लम्प्स का कारण हो सकते हैं स्टाई भी (Stye can also be the cause of white lumps inside the eyes)

    स्टाई मोटे और पेनफुल बम्प होते हैं जो मुंहासे की तरह होते हैं। हेयर फॉलिकल के इंफेक्टेड होने पर ये डेवलप होते हैं। ये आमतौर पर पलक के बाहरी तरफ विकसित होते हैं, लेकिन ये आईलिड के अंदर भी डेवलप हो सकते हैं जिसकी वजह से सूजन भी आ सकती है।

    आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes)

    स्टाई का इलाज (Stye treatment)

    बाकियों की तरह ही स्टाई को इलाज की जरूरत नहीं होती है। वार्म कम्प्रेस के द्वारा ये जल्दी ठीक हो जाती हैं। कुछ स्टाई दर्दनाक हो सकती हैं। शायद ही कभी, संक्रमण फैल सकता है। जब ऐसा होता है, तो डॉक्टर एंटीबायोटिक दवाओं की सिफारिश कर सकते हैं। वे स्टाई को हटाने के लिए एक प्रक्रिया का सुझाव भी दे सकते हैं।

    अन्यथा, गर्म सेक लगाने से सूजन में मदद मिल सकती है और ठीक होने में लगने वाला समय कम हो सकता है। इसके अलावा, क्योंकि मेकअप रोमछिद्रों को बंद कर सकता है, लोग स्टाई के आसपास मेकअप लगाने से बच सकते हैं। यह संक्रमण और दर्द को बदतर बना सकता है।

    और पढ़ें: आंखों पर स्क्रीन का असर हाेता है बहुत खतरनाक, हो सकती हैं कई बड़ी बीमारियां

    कैंसर (Cancer)

    बहुत दुर्लभ मामलों में आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes) का कारण कैंसर हो सकता है। जिसमें आईलिड के अंदर या चारों ओर नई ग्रोथ होने लगती है। जो कैंसर का लक्षण हो सकता है। कैंसर हालांकि लम्प्स का कारण कैंसर बहुत कम मामलों में होता है। लेकिन अगर लम्प्स ग्रो करता, उसमें ब्लीडिंग होती है और अपने आप ठीक नहीं होता है तो डॉक्टर से संपर्क करें।

    आईलिड कैंसर के कुछ अन्य लक्षणों में शामिल हैं:

    • एक गांठ जिसमें से ब्लीडिंग होती है और जल्दी ठीक नहीं होती
    • एक गांठ जो चली जाती है फिर वापस आ जाती है
    • एक गांठ जो आकार और रंग बदलती रहती है

    आईलिड कैंसर का इलाज (Treatment for eyelid cancer)

    आईलिड कैंसर उपचार योग्य है, खासकर यदि कोई डॉक्टर इसे जल्दी पकड़ लेता है और उसका इलाज करता है। आईलिड कैंसर का सही उपचार कैंसर के प्रकार पर निर्भर करता है कि यह फैल गया है या नहीं, और अन्य स्वास्थ्य कारकों पर निर्भर करता है। एक व्यक्ति जो अपनी आंखों के नीचे बम्प्स के बारे में चिंतित है, उसे तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। उन्हें बम्प्स को खरोंचना नहीं चाहिए और उन्हें उन पर कुछ भी लगाने से बचना चाहिए जब तक कि डॉक्टर सुझाव न दें।

    और पढ़ें: आंखें होती हैं दिल का आइना, इसलिए जरूरी है आंखों में सूजन को भगाना

    उम्मीद करते हैं कि आपको आंखों के अंदर सफेद लम्प्स (White lumps inside the eyes) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 14/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: