Omega 3 : ओमेगा 3 क्या है?

By Medically reviewed by Dr. Pooja Bhardwaj

उपयोग

ओमेगा 3 का उपयोग किस लिए किया जाता है?

ओमेगा 3 का प्रयोग कई चिकित्सीय कार्यो में किया जाता है जैसे,

  • रक्तचाप कम होना
  • ट्राइग्लिसराइड्स का कम होना( ट्राइग्लिसराइड्स प्राकृतिक वसा और तेलों का मुख्य घटक हैं, )
  • धमनियों या आर्टरीज़ की पट्टियों का धीमी गति से विकास
  • एब्नॉर्मल हर्ट बीट की संभावना को कम करना
  • हार्ट अटैक और स्ट्रोक की संभावना को कम करना
  • हार्ट प्रॉब्लम से पीड़ित लोगों की अचानक मौत को कम करना

यह कैसे काम करता है?

अभी इस बारे में कम ही अध्ययन हुआ है कि ये कैसे काम करता है । अधिक जानकारी के लिए किसी हर्बल एक्सपर्ट या डॉक्टर से बात करे ।

यह भी पढ़ें : Kale : केल क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

ओमेगा 3 का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

अपने चिकित्सक, फार्मासिस्ट या हर्बल एक्सपर्ट से परामर्श करें, यदि:

  • अगर आप प्रेगनेंट है या उसके बारे में सोच रही है, या फिर बच्चे को दूध पिला रही है, तो इस दौरान आपको डॉक्टर से बात करनी चाहिए क्योंकि इस अवस्था मे आपको डॉक्टर की बताई दवाओं का ही सेवन करना चाहिए।
  • आपको सभी दवाओं के बारे में बताना चाहिए जो आप डॉक्टरी सलाह या बिना किसी सलाह के सेवन कर रही है ।
  • आपको हर्बल, दवा या किसी अन्य जुड़ी बूटी से कोई एलर्जी तो नहीं
  • आपको कोई दूसरी बीमारी, डिसऑर्डर या कोई मेडिकल कंडीशन तो नहीं।
  • आपको किसी दूसरी चीजों से एलर्जी तो नहीं जैसे, खाने,रंग, खाने को सुरक्षित रखने वाले पदार्थ या जानवरों से।

किसी भी हर्बल सप्पलीमेंट के सेवन करने के नियम उतने ही सख्त होते है जितने कि अंग्रेजी दवा के । सुरक्षा के लिहाज से अभी इसमें और अध्ययन की जरूरत है । ओमेगा 3 के इस्तेमाल से होने वाले फायदे से पहले आपको इसके खतरों को समझ लेना चाहिए। ज्यादा जानकारी के लिए अपने हर्बल एक्सपर्ट से बात कीजिये।

यह भी पढ़ें : Kiwi : कीवी क्या है?

कितना सुरक्षित है?

इस बात की ज्यादा जानकारी उपलब्ध नहीं है कि, क्या सभी रोगियों के लिए ओमेगा 3 का प्रयोग करना सुरक्षित है । 

गर्भावस्था और स्तनपान: कितनी मात्रा में इस्तेमाल करना सुरक्षित है अभी इस बात के कोई प्रमाण प्राप्त नहीं हुए है । इसलिए किसी समस्या या बिना डॉक्टरी सलाह के ओमेगा 3 का परहेज करना ही बेहतर विकल्प होगा ।

विशेष सावधानी और चेतावनी

ओमेगा -3 की खुराक (डीएचए / ईपीए) ब्लीडिंग की समस्या को बढ़ा सकती है ।

दुष्प्रभाव/ साइड इफैक्ट

ओमेगा 3 से मुझे किस तरह के दुष्प्रभाव या साइड इफैक्ट हो सकते हैं?

ओमेगा 3 इन दुष्प्रभावों का कारण बनता है, जैसे:

  • आपके मुंह में मछली सा स्वाद
  • सांसों की बदबू
  • अपच और गैस
  • पतली दस्त
  • जी मिचलाना

3 ग्राम से ज्यादा ओमेगा 3 का सेवन आपकी ब्लीडिंग को बढ़ा सकता है

जरूरी नहीं की बताए गए, साइड इफेक्ट का ही आपको सामना करना पड़े । ये दूसरे प्रकार के भी हो सकते जिन्हें शामिल नहीं किया गया है । अगर आपको साइड इफेक्ट को लेकर कोई शंका है तो अपने डॉक्टर से बात करे ।

यह भी पढ़ें : Lavender : लैवेंडर क्या है?

इंटरैक्शन/ सहभागिता

ओमेगा 3 के साथ मेरे क्या इंटरैक्शन हो सकते है?

ओमेगा 3 आपकी दवाओं और मेडिकल कंडिसन्स पे असर डाल सकता है । इस्तेमाल से पहले अपने डॉक्टर से राय मशविरा ले।

यदि आपको ब्लीडिंग या खून बहने की समस्या है या आप ऐसी दवाएं लें रहे है जो रक्तस्राव को बढ़ा सकती हैं, जैसे कि कौमेडिन, प्लाविक्स, एफर्टिएंट, ब्रिलिंटा और कुछ एनएसएआईडी, ऐसी स्थिति में किसी भी ओमेगा -3 सप्पलीमेंट का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

मात्रा/ डोज़

दी गई जानकारी को चिकित्सा सलाह के रूप में ना देखे । हमेशा दवा का उपयोग करने से पहले अपने हर्बलिस्ट या चिकित्सक से परामर्श करें।

ओमेगा 3 की सामान्य खुराक क्या है?

  • एएचए के अनुसार रोजाना 3 ग्राम मछली का तेल सप्पलीमेंट के रूप में लेना सुरक्षित माना जाता है। बिना डॉक्टरी सलाह के 3 ग्राम से ज्यादा इस्तेमाल ना करे।
  • दिल की समस्या से जूझ रहे लोगो को प्रतिदिन 1 ग्राम (1,000 मिलीग्राम) डीएचए / ईपीए कॉम्बिनेशन में मछली का तेल लेना चाहिए ।
  • डॉक्टर की देखरेख में किसी शारीरिक समस्या से जूझ रहे लोग 4 ग्राम तक ओमेगा 3 का इस्तेमाल कर सकते है ।

इस सप्लीमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है।  आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है।  हर्बल सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। कृपया अपनी उचित खुराक के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

ओमेगा 3 किस किस रूपों में आता है?

ओमेगा 3 निम्नलिखित खुराक रूपों में उपलब्ध है

कैप्सूल 30% ओमेगा -3, 60% ओमेगा -3, 85% ओमेगा -3

लिकविड कंसन्ट्रेट

हेलो हेल्थ ग्रुप किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

और पढ़ें : Marjoram: मरजोरम क्या है?

रिव्यू की तारीख जुलाई 9, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया अक्टूबर 22, 2019