home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

गर्मी में कोरोना वायरस क्या खत्म हो जाएगा? एक्सपर्ट्स की हैं अलग-अलग राय

गर्मी में कोरोना वायरस क्या खत्म हो जाएगा? एक्सपर्ट्स की हैं अलग-अलग राय

कोरोना वायरस चीन के वुहान से निकला था और अब ये पूरे विश्व में अपने पैर पसार चुका है। पूरी दुनिया में अभी तक लाखों लोग इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं। वहीं भारत में अभी तक 134 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। साथ ही 3 की मौत भी हो चुकी है। विश्व में करीब 4700 से ज्यादा लोग इस वायरस के कारण मारे गए हैं। ये मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। देश के हर राज्य की सरकार अपने-अपने स्तर पर कोरोना वायरस को फैलने से बचाने के लिए उपाय कर रही है। इसके कई हर भीड़ वाली जगह जैसे सिनेमा हॉल, जिम, स्कूल, कार्यालय और मंदिरों को बंद कर दिया गया है। इसके अलावा जिसमें भी कोरोना वायरस का रिजल्ट पॉजिटिव आ रहा है उसे तुरंत आइसोलेशन के लिए भेज दिया जा रहा है। अब सवाल यह उठ रहा है कि क्या गर्मी में कोरोना वायरस मर जाएगा?

गर्मी में कोरोना वायरस खत्म हो जाएगा?

इस अफरा-तफरी के बीच हर किसी के मन में एक ही सवाल है कि आखिर ये सब कब खत्म होगा। कुछ रिपोर्ट्स में ये दावा किया जा रहा है कि भारत में गर्मी में कोरोना वायरस का असर कम हो जाएगा और धीरे-धीरे ये खत्म होने लगेगा। इसी को देखते हुए सरकार ने 31 मार्च तक सभी से सावधानी बरतने को कहा है। ये बात अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भीड़ को संबोधित करते हुए कही थी। उन्होंने कहा था, ये वायरस अप्रैल में गायब हो जाएगा। आमतौर पर गर्मी ऐसे वायरस को खत्म कर देती है।

यह भी पढ़ें: Coronavirus 2020: इन सेलिब्रिटी को कोरोना वायरस की पुष्टि, रोनाल्डो ने खुद को किया अलग तो बिग बी ने सुनाई कविता

गर्मी में कोरोना वायरस खत्म होने को लेकर क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स?

वहीं कुछ एक्सपर्ट्स का कहना है कि ये एक नए तरह का वायरस है। ये गर्मी में कोरोना वायरस किस तरह से रिएक्ट करेगा, कुछ कहा नहीं जा सकता है। एक स्टडी के मुताबिक, कोरोना वायरस पांच दिनों तक 22 से 25 डिग्री तापमान पर 50 फीसदी नमी के साथ मेज, दरवाजों के हैंडल, फोन और कीबोर्ड जैसी जगहों पर रह सकता है। गर्मियों में एसी इसी तापमान में चलते हैं। ऐसे में एसी कोरोना वायरस के फैलने की स्थितियां पैदा कर सकती हैं।

गर्मी में कोरोना वायरस खत्म होने लगेगा?

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के एक वैज्ञानिक का कहना है कि 38 डिग्री सेल्सियस तापमान और 95 फीसदी नमी होने पर कोरोना वायरस की क्षमता कम होने लगती है। इस वायरस का खतरा घर के अंदर वाले तापमान में ज्यादा है। एक रिसर्च में पाया गया है कि कोरोना वायरस कम तापमान वाली जगहों पर तेजी से फैल रहा है। गर्मी में कोरोना वायरस के खत्म होने पर दुनिया भर के वैज्ञानिकों की राय अलग-अलग है।

गर्मी में कोरोना वायरस खत्म होने पर दो राय

नेशनल जिओग्राफिक पर छपे एक आर्टिकल के मुताबिक, वायरस की वजह से होने वाले इंफ्लुएंजा या कोरोना वायरस जुकाम गर्मी के महीनों में कम होते हैं। ऐसे में कोरोना वायरस के फैलने का खतरा भी कम हो जाता है। इस प्रकार के वायरस को वैज्ञानिक भाषा में मौसमी वायरस कहते हैं। इसके अलावा टाइम की एक रिपोर्ट के मुताबिक, हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि गर्म मौसम में यह वायरस खत्म होगा या बढ़ेगा, इस पर कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।

यह भी पढ़ें: सावधान ! कोरोना वायरस महामारी बना, जानें इसके बारे में शुरू से लेकर अबतक सब कुछ

वायरस कैसे खत्म होगा ये इन बातों पर निर्भर

गर्मी में वायरस खत्म होने को लेकर पेन्सिलवेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी में सेंटर फॉर इनफेक्शियस डिजीज डायनमिक्स के निदेशक एलिजाबेथ मैकग्रा ने भी अपनी राय रखी है। उनका कहना है कि कोरोना वायरस कब तक रहेगा, यह इन बातों पर निर्भर करता है कि ये कितना फैल चुका है और कितना नियंत्रण में आ गया है। इसके बढ़ने या घटने में मौसम और लोगों के इम्यूनिटी सिस्टम की भी अहम भूमिका होगी।

अमेरिका के सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल और प्रिवेंशन यानी सीडीसी ने अपनी वेबसाइट पर लिखा है कि इस बात का कोई प्रमाण नहीं मिला है कि गर्मी आने पर कोविड—19 खत्म हो जाएगा। यहां तक कि ये भी नहीं पता है कि गर्मियों में यह किस तरह से रिएक्ट कर सकता है। कुछ वायरस सर्दी के मौसम में ज्यादा फैलते हैं। लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि कोरोना वायरस गर्मी के मौसम में असरदार नहीं होगा। इस बात के कोई पुख्ता सबूत नहीं हैं कि गर्मियों में कोरोना वायरस का असर खत्म हो जाएगा।

कोरोना वायरस खत्म होने के बाद भी कर सकता है वापसी

कोविड—19 कैसे फैल रहा है और यह कितना गंभीर हो सकता है, इस बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए वैज्ञानिक काम कर रहे हैं। सीएनएन की एक रिपोर्ट के अनुसार, टेक्सास के नेशनल स्कूल ऑफ ट्रॉपिकल मेडिसिन के डीन डॉक्टर पीटर होटेज ने लिखा है, यह मानना पूरी तरह से गलत है कि गर्मियों और वसंत में कोरोना वायरस पूरी तरह से शांत हो जाएगा। वहीं टाइम की एक और रिपोर्ट में ये कहा गया है कि भले ही कोविड-19 का असर गर्मियों में कम हो जाए। लेकिन अगर इस पर पूरी तरह से कंट्रोल नहीं किया गया तो यह फिर से वापस आ सकता है।

इस बारे में कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में प्रयोगशाला चिकित्सा के प्रोफेसर चार्ल्स चिउ का कहना है कि अगर कोरोना वायरस अलग-अलग देशों में ऐसे ही फैलता रहा तो इसे खत्म करना बहुत मुश्किल हो जाएगा। इन सभी रिपोर्ट को देखा जाए तो यह कहना बहुत मुश्किल है कि कोरोना वायरस गर्मियों में खत्म हो जाएगा। इस वायरस से बचने के लिए सावधानी बरतना ही एकमात्र उपाय नजर आ रहा है।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस और हाइजीन के बारे में कितना जानते हैं आप? खेलें ये क्विज

कोरोना वायरस से बचने के उपाय

  • कोरोना से खुद को बचाने के लिए सबसे बेहतर तरीका एल्कोहॉल युक्त सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना है। इसके अलावा साबुन और पानी से हाथ को साफ करते रहना भी कोरोना से बचा सकता है।
  • कुछ लोगों को यह गलतफहमी है कि गर्म पानी से नहाने से कोरोना का असर नहीं होगा। ये बात बिल्कुल गलत है।
  • अच्छे से हाथ साफ करते रहना ही कोरोना के संक्रमण को खत्म कर सकता है।
  • कोरोना वायरस के संक्रमित मरीज में खांसी, छींकने, जुकाम और बुखार जैसे लक्षण नजर आते हैं। ऐसे लोगों से करीब एक मीटर की दूरी बनाकर रखें
  • कोरोना वायरस से किसी भी उम्र के लोग प्रभावित हो सकते हैं। पहले से अस्थमा, डायबिटीज, दिल की बीमारी आदि से जूझ रहे लोगों को इस वायरस से ज्यादा खतरा ज्यादा है।
  • खांसते और छीकते समय नाक और मुंह रूमाल या टिश्‍यू पेपर से ढककर रखें। अंडे और मांस के सेवन से बचें। जंगली जानवरों के संपर्क में भी ना आएं।

भारत सरकार की एडवाइजरी

भारत सरकार ने कोरोना वायरस के लक्षण मिलने पर तत्काल स्वास्थ्य केंद्र पर सूचना देने को कहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से 24 घंटे चलने वाला कंट्रोल रूम तैयार किया गया है। फोन नंबर 011-23978046 पर कॉल कर कंट्रोल रूम में संपर्क किया जा सकता है। इसके अलावा [email protected] पर मेल कर कोरोना वायरस के लक्षणों या किसी भी तरह की आशंकाओं के बारे में जानकारी ली जा सकती है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x