home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

नए कोरोना वायरस टेस्ट को अमेरिका से मिली 'इमरजेंसी' मान्यता, 10 गुना तेजी से लगाएगा संक्रमण का पता

नए कोरोना वायरस टेस्ट को अमेरिका से मिली 'इमरजेंसी' मान्यता, 10 गुना तेजी से लगाएगा संक्रमण का पता

कोरोना वायरस हर देश में अपने पांव पसारता जा रहा है। दिन ब दिन यह और ज्यादा खतरनाक होता जा रहा है और इससे संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। अमेरिका, यूरोप जैसे कई देशों में मरीजों की जांच में देरी और धीमी रफ्तार को काफी कोसा जा रहा है। लेकिन, अमेरिका ने हाल ही में एक कोरोना वायरस का नया टेस्ट इमरजेंसी अप्रूवल प्राप्त कर लिया है। जो कि 10 गुना तेजी से परिणाम दे सकता है। आइए, इस नए कोरोना वायरस टेस्ट के बारे में जानते हैं।

यह भी पढ़ें- कोरोना वायरस का शिकार लोगों पर होता है ऐसा असर, रिसर्च में सामने आई ये बातें

Coronavirus 2020: क्या है कोरोना वायरस का नया टेस्ट?

एक वैश्विक स्तर की दवा निर्माता कंपनी रॉश होल्डिंग एजी (Roche Holding AG) के नए ऑटोमेटड कोरोना वायरस टेस्ट को अमेरिकी सरकार ने इमरजेंसी अप्रूवल दे दिया है। संभावना है कि इस टेस्ट के जरिए कोरोना वायरस मरीजों का टेस्ट 10 गुना तेजी से किया जा सकता है। यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (U.S. Food and Drug Administration) ने रॉश के कोबास 6800/8800 सिस्टम (Cobas 6800/8800 systems) पर चलने वाले कोरोना वायरस का नया टेस्ट ‘इमरजेंसी यूज ऑथोराइजेशन’ यानी सिर्फ आपातकालीन स्थिति में इस्तेमाल की मान्यता प्राप्त कर चुका है। कंपनी का कहना है कि, यह सिस्टम यूरोप के साथ-साथ मेडिकल डिवाइस के लिए इसकी सीई मार्किंग (CE Marking) को मान्यता देने वाले देशों में उपलब्ध है।

यह भी पढ़ें- ….जिसके सेवन से नहीं होगा कोरोना वायरस?

एक इंटरव्यू में रॉश डाइग्नोस्टिक यूनिट के हेड डॉ. थॉमस ने कहा कि, ‘8800 वर्जन एक दिन में 4,128 मरीजों की जांच कर सकता है और वहीं 6800 वर्जन एक दिन में 1,440 लोगों की जांच कर सकता है। जिसका मतलब है कि हम 10 गुना तेजी से मरीजों की जांच कर सकते हैं।‘ आपको बता दें कि, अमेरिका और यूरोप में कोरोना वायरस टेस्ट में देरी और धीमी रफ्तार ने उपेक्षा का पात्र बनाया है। अभी इन देशों में रॉश कंपनी के ही मैगना प्योर 24 और द लाइट साइक्लर 480 डिवाइस पर जांच हो रही थी। कंपनी का कहना है कि, नए कोरोना वायरस टेस्ट की मदद से सिर्फ चार घंटे के भीतर रिजल्ट पाए जा सकते हैं। जिससे जल्ज से जल्द मरीजों की जांच कर उन्हें इलाज दिया जा सकता है और दूसरों लोगों को संक्रमित होने से बचाया जा सकता है।

कोरोन वायरस अपडेट्स (Coronavirus Updates)

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन की सिचुएशन रिपोर्ट 56 के मुताबिक, दुनियाभर में इस संक्रामक बीमारी से अबतक 1,67,511 लोग पीड़ित हो चुके हैं, जिसमें से पिछले 24 घंटे में 13,903 लोग प्रभावित हुए हैं। इसके अलावा, कोविड- 19 से मरने वालों की संख्या 6,606 पहुंच गई है, जिसमें 862 लोगों की मृत्यु पिछले 24 घंटे में हुई है। पिछले 24 घंटों के आंकड़ों की समीक्षा की जाए, तो यह खतरनाक वायरस दूसरे देशों में काफी तेजी से फैल रहा है, जो कि एक खतरनाक और गंभीर स्थिति है। इसे रोकने के लिए ही तेज और प्रभावी कोरोना वायरस का नया टेस्ट और इलाज की जरूरत काफी ज्यादा है। पूरी दुनिया में इस वायरस से प्रभावित अब कुल 151 देश/प्रदेश/क्षेत्र हो चुके हैं।

यह भी पढ़ें- कोरोना वायरस (Coronavirus) से जुड़ चुके हैं कई मिथ, न खाएं इनसे धोखा

भारत में नोवेल कोरोना वायरस अपडेट्स (Coronavirus Updates in India)

भारत में कोरोना वायरस के मामलों को लेकर भारत का स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय समय-समय पर आंकड़े जारी कर रहा है। 17 मार्च दोपहर 12 बजे के आसपास जारी जानकारी के मुताबिक, अभी तक 13,19,363 लोगों की एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग हो चुकी है। भारत में कोरोना वायरस टेस्ट में 126 संक्रमित लोगों की पुष्टि हुई थी। इसके अलावा, कोरोना वायरस से मृत्यु होने वाले लोगों की संख्या भी 3 हो चुकी है। दिल्ली, कर्नाटक और महाराष्ट्र में एक-एक लोगों की मौत हुई। अगर भारत में सबसे ज्यादा मामलों की बात करें, तो इसमें 36 केसों के साथ महाराष्ट्र सबसे ऊपर है, जिसके बाद केरला का 22 केस के साथ नंबर आता है। दिल्ली में अभी तक 7 मामले आ चुके हैं। इन 126 मामलों में से 13 लोगों का इलाज किया जा चुका है।

कोरोना वायरस का नया टेस्ट : सोशल डिस्टेंस को बनाए रखने की सलाह

भारत सरकार द्वारा देश में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सोशल डिस्टेंस बनाए रखने की सलाह दी गई है। जिसमें निम्नलिखित एहतियात बरतने को कहा गया है।

  • सभी शैक्षणिक संस्थान (स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय), जिम, म्यूजियम, स्विमिंग पूल, थियेटर, कल्चरल एंड सोशल सेंटर को बंद रखने की सलाह दी है और विद्यार्थियों को ऑनलाइन एजुकेशन के लिए प्रेरित किया जाए।
  • परीक्षाओं को पोस्टपोन करने की संभावनाओं के बारे में सोचा जाएगा। इसके अलावा, बच्चों के बीच एक मीटर की दूरी रखने के बाद ही वर्तमान में परीक्षाएं दी जा सकती हैं।
  • जहां भी जरूरी हो, वहां प्राइवेट सेक्टर ऑर्गेनाइजेशन/कंपनियों को अपने कर्मचारियों को घर से कार्य करने की अनुमति प्रदान करने के लिए आदेश दिए गए हैं।
  • जहां तक किया जा सके, सभी मीटिंग वीडियो कॉन्फ्रेंस के द्वारा की जाएं। इसके अलावा, मीटिंग को रीशेड्यूल या कम किया जा सकता है।
  • सभी रेस्टॉरेंट को साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखना चाहिए। जिन सतहों को बार-बार छूआ जाता हो, उसे बार-बार साफ करते रहें। सभी टेबलों के बीच कम से कम एक मीटर की दूरी रखें।
  • जो शादियां पहले से प्लान की जा चुकी हैं, उनमें आमंत्रित लोगों की संख्या कम करें और गैर-जरूरी भीड़भाड़ से बचें।

यह भी पढ़ें- सबसे खतरनाक वायरस ने ली थी 5 करोड़ लोगों की जान, जानें 21वीं सदी के 5 जानलेवा वायरस

कोरोना वायरस का नया टेस्ट : भारत सरकार की सलाह

कोरोना वायरस का नया टेस्ट के अलावा हमें उससे बचने के लिए भारत सरकार ने लोगों के लिए कुछ सलाह दी है। इन एहतियात रूपी सलाह को फॉलो करने के बाद आप कोरोना वायरस संक्रमण से काफी हद तक बच सकते हैं।

  • साफ सफाई का ध्यान रखना जरूरी है। हाथों को साबुन और पानी से अच्छी तरह से साफ करें
  • बेवजह लोगों से मिलने से बचें, भीड़ न लगाएं
  • आंखों, नाक और मुंह को टच करना एवॉइड करें।
  • छींकते या खांसते समय अपने मुंह और नाक को किसी टिश्यू पेपर या फिर कोहनी को मोड़कर ढकें।
  • अगर आपको बुखार, खांसी या सांस लेने में दिक्कत हो रही है, तो जितनी जल्दी हो सके डॉक्टर से मिलें।
  • अपने हेल्थ केयर प्रोवाइडर की हर सलाह मानें और पूरी जानकारी प्राप्त करते रहें।
  • भारत स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि अगर आप मास्क लगा रहे हैं तो उससे पहले अपने हाथों को एल्कोहॉल बेस्ड हैंड रब या फिर साबुन और पानी से अच्छी तरह धोएं।
  • अपने मुंह और नाक को मास्क से अच्छी तरह कवर करें कि उसमें किसी भी तरह का गैप न रहे।
  • एक बार इस्तेमाल किए गए मास्क को दोबारा इस्तेमाल न करें।
  • मास्क को पीछे से हटाएं और उसे इस्तेमाल करने के बाद आगे से न छूएं।
  • इस्तेमाल के बाद मास्क को तुरंत एक बंद डस्टबिन में फेंक दें।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

U.S. gives ’emergency’ authorization to new Roche coronavirus test that’s 10 times faster – https://fortune.com/2020/03/13/fda-emergency-authorization-roche-coronavirus-test/ – Accessed on 17/3/2020

Coronavirus – https://www.who.int/health-topics/coronavirus – Accessed on 17/3/2020

Coronavirus disease (COVID-19) outbreak – https://www.who.int/westernpacific/emergencies/covid-19 – Accessed on 17/3/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/index.html – Accessed on 17/3/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.nhs.uk/conditions/coronavirus-covid-19/ – Accessed on 17/3/2020

The Latest on the Coronavirus: ER Physicians in ICU with COVID-19 – https://www.healthline.com/health-news/what-to-know-about-the-mysterious-coronavirus-detected-in-china – Accessed on 17/3/2020

Coronavirus – https://www.webmd.com/lung/coronavirus#1 – Accessed on 17/3/2020

Coronavirus disease 2019 (COVID-19) – Situation Report – 56 – https://www.who.int/docs/default-source/coronaviruse/situation-reports/20200316-sitrep-56-covid-19.pdf?sfvrsn=9fda7db2_2 – Accessed on 17/3/2020

NOVEL CORONA VIRUS – https://www.mohfw.gov.in/ – Accessed on 17/3/2020

लेखक की तस्वीर badge
Surender aggarwal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x