home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री, एक सर्वे में सामने आई कई चौंकाने वाली बातें

लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री, एक सर्वे में सामने आई कई चौंकाने वाली बातें

कोरोना काल में #NewNormal के तहत जहां लोगों को छूना मना है, पास आना जाना मना है, सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना है। वहीं, सेक्स की इच्छा को तो दबाया नहीं जा सकता है। ऐसे में भारत जैसे देश में लोग आज भी सेक्स पर बात करना एक टैबू मानते हैं। लेकिन लॉकडाउन और कोरोना महामारी के बाद देश भर में लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री। ऐसा हम नहीं कह रहे हैं, इस बात का खुलासा किया है दैट्सपर्सनल डॉट कॉम में जारी हुई एक विश्लेषणात्मक रिपोर्ट में। इस रिसर्च को दैट्सपर्सनल डॉट कॉम ने इंडियन अनकवर्ड : इनसाइटफुल एनालिसिस ऑफ सेक्स प्रोडक्ट के नाम से जारी किया हैआइए जानते हैं कि भारत में कैसे लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री और कौन से राज्य लॉकडाउन में सेक्स टॉय की बढ़ी मांगें?

और पढ़ें : सोशल डिस्टेंसिंग के दौरान सेक्स टॉय से मिल सकता है सेक्स जैसा प्लेजर!

रिसर्च में क्या बात आई सामने?

सेक्स टॉयज की बिक्री करने वाली एक ऑनलाइन वेबसाइट दैट्सपर्सनल डॉट कॉम ने लॉकडाउन में एक रिसर्च किया। इसके बाद दैट्सपर्सनल डॉट कॉम ने अपनी रिपोर्ट ‘इंडिया अनकवर्ड : इनसाइटफुल एनालिसिस ऑफ सेक्स प्रोडक्ट्स’ नाम से जारी की है। इस वेबसाइट के विश्लेषणात्मक सर्वे (Analytical Survey) का ये चौथा संस्करण है। यह रिपोर्ट 2.2 करोड़ विजिटर्स और ऑनलाइन बेचे जाने वाले 335000 प्रोडक्ट्स पर की गई स्टडी के आधार पर तैयार किया गया है। जिसमें उन्होंने पाया कि 65 फीसदी तक लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री। इसके अलावा शहरों के आधार पर भी इस सर्वे में कई बातें सामने आई हैं।

[mc4wp_form id=”183492″]

किन शहरों में लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री?

sex toy-सेक्स टॉयज

‘इंडिया अनकवर्ड : इनसाइटफुल एनालिसिस ऑफ सेक्स प्रोडक्ट्स’ के ट्रेंड्स के अनुसार लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री का आंकड़ा 65 फीसदी रहा है। सेक्स प्रोडक्ट्स की बिक्री को लेकर इस सर्वे में आठ राज्यों की रैंकिंग की गई है। जो इस प्रकार हैं :

  1. महाराष्ट्र
  2. कर्नाटक
  3. तमिलनाडु
  4. उत्तर प्रदेश
  5. पश्चिम बंगाल
  6. गुजरात
  7. तेलंगाना
  8. मध्य प्रदेश

वर्ष 2019 के मुकाबले सेक्स प्रोडक्ट्स की बिक्री को लेकर पंजाब में 92 फीसदी और उत्तर प्रदेश में 75 फीसदी का उछाल दर्ज किया गया है। पंजाब और उत्तर प्रदेश में पुरुष ज्यादा सेक्स प्रोडक्ट्स खरीदे, जबकि कर्नाटक और तेलंगाना में महिलाओं ने ज्यादातर सेक्स प्रोडक्ट्स की खरीदारी की।

और पढ़ें : मूत्रमार्ग का हस्तमैथुन युवक को पड़ गया भारी, जानें यूरेथ्रल साउंडिंग क्या है?

किन मेट्रो सिटी में लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री?

अभी तो बात हो रही थी राज्यों की, लेकिन अगर हम शहरों की बात करें तो इस सर्वे में मेट्रो सिटी में लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री को दर्ज किया गया है। जिनका क्रम इस प्रकार है :

  1. मुंबई
  2. बेंगलूरु
  3. नई दिल्ली
  4. पुणे
  5. चेन्नई
  6. हैदराबाद
  7. कोलकाता
  8. अहमदाबाद

इस तरह से राज्य और शहर दोनों के आधार पर महाराष्ट्र में लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री को पाया गया है। हालांकि, नेशनल कैपिटल रीजन (NCR) की तुलना में मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजन (MMR) में सेक्स प्रोडक्ट्स की बिक्री 24 प्रतिशत ज्यादा हुई है। वहीं, पुणे जो कि महाराष्ट्र का ही एक शहर है, वहां पर भी सेक्स टॉयज की बिक्री अधिक होने का कारण उसे सर्वे में चौथे स्थान पर रखा गया है।

और पढ़ें : मॉर्निंग सेक्स के फायदे पाने के लिए जानिए कुछ बेहतरीन टिप्स

इसके अलावा कुछ शहर ऐसे भी हैं जो मेट्रो सिटी को नहीं है, लेकिन जानेमाने प्रसिद्ध शहर हैं। इस सर्वे में ऐसे भी शहरों को शामिल किया गया है। जहां पर सेक्स टॉय की बिक्री बढ़ी है :

  1. लखनऊ (उत्तर प्रदेश)
  2. जयपुर (राजस्थान)
  3. चंडीगढ़ (केंद्र शासित प्रदेश)
  4. इंदौर (मध्य प्रदेश)
  5. नोएडा (उत्तर प्रदेश)
  6. कोचि (केरल)
  7. गुवहाटी (असम)
  8. पटना (बिहार)
  9. भुवनेश्वर (उड़ीसा)
  10. गुरुग्राम (हरियाणा)

इसी सर्वे में हीरों का शहर कहे जाने वाला सूरत (गुजरात) भी पीछे नहीं रहा। सूरत में 3,897 रुपए तक की औसत कीमत के सेक्स प्रोडक्ट्स को सबसे ज्यादा ऑनलाइन ऑर्डर किया गया है। वहीं, बात की जाए छोटे शहरों की तो वहां पर भी लॉकडाउन में सेक्स टॉय की बिक्री बहुत हुई है। इस सर्वे में उन छोटे शहरो की भी रैंकिंग की गई है :

  1. पानीपत (हरियाणा)
  2. शिलांग (मेघालय)
  3. पुडुचेरी (केंद्र शासित प्रदेश)
  4. राउरकेला (पश्चिम बंगाल)
  5. इम्फाल (मणिपुर)
  6. भटिंडा (पंजाब)
  7. हरिद्वार (उत्तराखंड)
  8. पणजी (गोवा)
  9. तेजपुर (असम)
  10. डिब्रुगढ़ (असम)

और पढ़ें : पावर प्ले में रखते हैं इंटरेस्ट तो ट्राई करें सबमिसिव सेक्स

महिलाओं की तुलना में पुरुषों ने ज्यादा ऑर्डर किए सेक्स टॉय

sex toys in social distancing,सोशल डिस्टेंसिंग के दौरान सेक्स टॉय

‘इंडिया अनकवर्ड : इनसाइटफुल एनालिसिस ऑफ सेक्स प्रोडक्ट्स’ के मुताबिक पुरुषों ने महिलाओं से ज्यादा सेक्स टॉयज का ऑर्डर दिया है। 66 फीसदी तक पुरुषों ने सेक्स प्रोडक्ट्स को ऑनलाइन मंगाया और 34 फीसदी तक महिलाओं ने सेक्स टॉय की ऑनलाइन शॉपिंग की है। वहीं, इस सर्वे में शॉपिंग टाइमिंग का भी जिक्र किया गया, जिसमें ज्यादातर पुरुष रात 9 बजे से आधी रात तक सेक्स टॉय की शॉपिंग करते हैं और महिलाएं दोपहर 12 बजे से 3 बजे के बीच में सेक्स प्रोडक्ट की शॉपिंग करती हैं। जिसमें पुरुषों का पसंदीदा सेक्स प्रोडक्ट मेल पम्प पाया गया और ज्यादातर महिलाएं मसाजर का ऑर्डर देती पाई गई। इन्हीं सभी आंकड़ों में सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है कि पुरुष महिलाओं की तुलना में 25 प्रतिशत ज्यादा समय सेक्स प्रोडक्ट्स बेचने वाली वेबसाइट पर बिताए हैं। वहीं, महिलाओं की शॉपिंग बास्केट की साइज पुरुषों के बास्केट से 33 फीसदी बड़ी हुआ करती थी। कहने का मतलब ये है कि महिलाएं पुरुषों की तुलना में एक बार में ज्यादा सेक्स प्रोडक्ट्स को सेलेक्ट करती थी।

इस सर्वे में उम्र के हिसाब से भी सेक्स प्रोडक्ट्स की बिक्री के बारे में भी बात की गई है। जिसमें 18 से 24 साल तक के युवाओं ने 18 प्रतिशत सेक्स टॉय खरीदा। 18 से 24 साल के युवा वेबसाइट पर कॉन्डम खरीदने आते थे और सेक्स प्रोडक्ट्स देखकर कुछ और ही खरीद लेते हैं। वहीं, 25 से 34 साल के 61 फीसदी लोगों ने इस लॉकडाउन में सेक्स प्रोडक्ट्स की खरीदारी की है। 35 से 44 साल के लोगों 9 फीसदी ने सेक्स प्रोडक्ट्स खरीदे हैं और 45 साल से ऊपर के 12 प्रतिशत लोगों ने सेक्स टॉय के ऑर्डर दिए हैं।

और पढ़ें : जानें,सेक्स एजुकेशन क्या है ,और क्यों है समाज में जरूरी

इन शहरों की महिलाओं ने पुरुषों से ज्यादा ऑर्डर किए सेक्स प्रोडक्ट

सोशल डिसटेंसिंग के दौरान सेक्स

माना कि लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री में पुरुषों ने ज्यादा सेक्स प्रोडक्ट्स को ऑर्डर किया है, लेकिन कुछ शहरों की महिलाएं भी कम नहीं हैं। इस सर्वे में कुछ शहर ऐसे पाए गए हैं, जहां पर महिलाओं ने पुरुषों की तुलना में ज्यादा सेक्स प्रोडक्ट्स को ऑर्डर किया है :

  1. विजयवाड़ा (आंध्र प्रदेश)
  2. जमशेदपुर (झारखंड)
  3. बेलगाम (कर्नाटक)
  4. फरीदाबाद (हरियाणा)
  5. पानीपत (हरियाणा)
  6. वड़ोदरा (गुजरात)
  7. इम्फाल (मणिपुर)
  8. जबलपुर (मध्य प्रदेश)
  9. खड़गपुर (पश्चिम बंगाल)

इन शहरों की ज्यादातर सिंगल महिलाओं ने वाइब्रेटर को ऑर्डर किया है।

और पढ़ें : सेक्स को लेकर हमेशा रहे जागरूक, ताकि सुरक्षित सेक्स कर बीमारियों से कर सकें बचाव

लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री के अलावा इस सर्वे का सारांश जानें

इस सर्वे में पुरुषों और महिलाओं के सेक्सुअल सेटिस्फैक्शन को लेकर कई बातें सामने आई है, जिसे ही इस सर्वे का सारांश (Summary) माना गया है।

सेक्स टॉय के साथ सेक्स करने वाले कपल ज्यादा सैटिस्फाइड हुए

कपल के रूप में सेक्स के दौरान सेक्स टॉय इस्तेमाल ना करने से पहले 74% पुरुष सैटिस्फाइड होते थे, जबकि 86% पुरुषों ने पाया कि वे सेक्स के दौरान सेक्स टॉय का इस्तेमाल करने से ज्यादा सैटिस्फाइड हो रहे हैं। वहीं, महिलाएं बिना सेक्स टॉय के 68% ही संतुष्ट होती थी, जबकि 89% महिलाओं ने सेक्स टॉय के साथ ऑर्गेज्म और संतुष्ट महसूस किया।

हस्तमैथुन में सेक्स टॉय को माना बेहतर

जो पुरुष सिंगल है और बिना सेक्स टॉय से हस्तमैथुन करते हैं, ऐसे सिर्फ 54% पुरुष संतुष्ट हो पाते थे। सेक्स टॉय के साथ 71% पुरुष हस्तमैथुन के दौरान संतुष्ट हुए हैं। महिलाएं सिर्फ 28% बिना सेक्स टॉय के हस्तमैथुन में संतुष्ट हुई है, जबकि सेक्स टॉय के इस्तेमाल के बाद 83% महिलाओं ने हस्तमैथुन के दौरान खुद को संतुष्ट पाया।

कपल्स सेक्स प्रोडक्ट्स को क्यों खरीदते हैं?

हमारे समाज में ये माना जाता है कि सेक्स टॉयज सिर्फ सिंगल लोग खरीदते हैं। ऐसा नहीं है, इस लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री में कपल्स ने भी ज्यादातर सेक्स प्रोडक्ट्स खरीदे हैं।

मास्टरबेशन के लाभ-masturbation ke fayde

वहीं, दूसरी तरफ 33 फीसदी कपल्स ने इस बात को माना है कि सेक्स प्रोडक्ट्स ने उनकी बिगड़ती सेक्स लाइफ को बचाया है।

महिलाओं के लूब्रिकेंट के साथ सेक्स ज्यादा है पसंद

सेक्स लूब्रिकेंट

जैसा कि अक्सर देखा गया है कि महिलाओं के लिए सेक्सुअल इंटरकोर्स दर्द भरा हो सकता है। ऐसे में बिना लुब्रिकेंट्स का इस्तेमाल किए 31 प्रतिशत महिलाएं सेक्स के दौरान दर्द महसूस करती थी। जब उन्होंने लुब्रिकेंट का इस्तेमाल किया तो सिर्फ 7 फीसदी महिलाओं ने ही सेक्सुअल इंटरकोर्स के दौरान दर्द महसूस किया।

सेक्स प्रोडक्ट्स की बिक्री पर एक्सपर्ट का क्या कहना है?

वाराणसी (उत्तर प्रदेश) के आशा न्यूरोपैथी क्लिनिक के सेक्सोलॉजिस्ट डॉ. आशिष गुप्ता ने सेक्स प्रोडक्ट्स की बिक्री पर कहा कि, “कोरोना काल के दौरान लोग एक दूसरे के करीब नहीं आ सकते हैं, ऐसे में लॉकडाउन को दौरान उनके पास करने के लिए काम भी बहुत ज्यादा नहीं था। इस स्थिति में जो सिंगल लोग होंगे, वे सेक्सुअल प्लेजर के लिए मास्टरबेशन का सहारा लेंगे।”

डॉ. आशीष का कहना है कि, “जो कपल्स हैं उनके पास लॉकडाउन में साथ में समय बिताने का एक अच्छा मौका था। इस दौरान कपल्स ने अपनी सेक्स लाइफ को भी समय दिया। हालांकि, सेक्स के दौरान ज्यादातर महिलाओं को ऑर्गेज्म नहीं मिल पाता है। वहीं, अगर पुरुष के द्वारा बार-बार एक ही तरह की सेक्स पुजिशन अपनाई जाएं, तो भी महिलाओं का मन हट सकता है। इसलिए, सेक्स प्रोडक्टस का इस्तेमाल कपल्स में भी बढ़ रहा है। सेक्स टॉय का इस्तेमाल करना गलत बात नहीं है, बल्कि आपकी सेक्स लाइफ को ये एक अलग ही आयाम देता है। लेकिन सेक्स टॉय के इस्तेमाल के साथ ही इसकी साफ-सफाई का ध्यान भी रखना बेहद जरूरी है। ऐसा ना करने पर सेक्सुअल ट्रांसमिटेड इंफेक्शन होने का रिस्क भी बढ़ जाता है।”

इस तरह से आपने जाना कि लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री क्यों बढ़ी और सेक्स टॉय का इस्तेमाल करने वाले कपल्स की सेक्स लाइफ पहले से बेहतर हुई है। इस विषय में अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Sex-based differences in susceptibility to SARS-CoV infection. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5450662/. Accessed on 23/7/2020

India Uncovered: Insightful Analysis of Sex Products’ Trends https://www.thatspersonal.com/research-report/research-report-india-uncovered-2020.html# Accessed on 23/7/2020

Coronavirus – https://www.who.int/health-topics/coronavirus Accessed on 23/7/2020

Vibrators and other sex toys are commonly recommended to patients, but does size matter? Dimensions of commonly sold products https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25631708/ Accessed on 23/7/2020

Everything you ever wanted to know about sex toys but were too afraid to ask. https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/17407690/ Accessed on 23/7/2020

लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड