home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Colloidal Minerals: कोलॉयडल मिनरल्स क्या हैं?

परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|उपलब्ध
Colloidal Minerals: कोलॉयडल मिनरल्स क्या हैं?

परिचय

कोलॉयडल मिनरल्स (Colloidal Minerals) क्या हैं?

कोलॉयडल मिनरल्स क्ले और शैल डिपोजिट से पाया जाता है। बेहतर स्वास्थ्य और बीमारियों से दूर रहने के लिए सदियों से क्ले का प्रयोग दवा के तौर पर किया जा रहा है। आधुनिक दौर में क्ले आधारित उत्पादों के औषधीय उपयोग को सबसे पहले दक्षिणी यूटा रंचर द्वारा प्रोत्साहित किया गया था। अब इसे व्यापक रूप से बढ़ावा दिया जाता है।

सुरक्षा चिंताओं के बावजूद, इसका उपयोग सप्लीमेंट के तौर पर ऊर्जा बढ़ाने के लिए किया जाता है। डायबिटीज पेशेंट्स में ये बल्ड शुगर लेवल को नियंत्रित करता है। इसके अलवा ये गठिया के लक्षणों को कम करता है। मोतियाबिंद के इलाज में भी ये काफी लाभदायक है। ये हमारे शरीर से जहरीली भारी धातुओं को बाहर करने में भी मददगार है।

और पढ़ें: Canola Oil: कैनोला ऑयल क्या है?

उपयोग

कोलॉयडल मिनरल्स (Colloidal Minerals) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

इसका प्रयोग निम्नलिखित परेशानियों के लिए किया जाता है:

  • डायबिटीज पेशेंट्स में ब्लड शुगर लेवल को करे कंट्रोल (Controls Blood sugar in Diabetes patients)
  • आर्थराइटिस के लक्षण को करे दूर (Relieves the symptoms of Arthritis)
  • रक्त कोशिका को कम करता है (Lowers blood cell)
  • मोतियाबिंद में लाभदायक (Beneficial in cataract)
  • सफेद बालों से दिलाए निजात (Get rid of white hair)
  • शरीर से जहरीली भारी धातुओं को करे बाहर (Remove toxic hevy metals from body)
  • ओवरऑल स्वास्थ्य का रखे ध्यान (Take care of overall health)
  • दर्द से दिलाए राहत (Pain Relief)
  • कोल्ड और फ्लू से रखे दूर (Keeps away from cold and flu)
  • इम्यून सिस्टम को बनाए मजबूत (Strengthen Immune System)
  • एनर्जी लेवल बढ़ाता है (Boost Energy level)
  • स्किन में करे सुधार (Improves Skin)
  • हॉमोन को बैलेंस करता है (Balance Hormones)
  • शरीर में पीएच लेवल बनाए रखता है (Maintains Ph level in body)

यह कैसे काम करते हैं?

कोलॉयडल खनिज कैसे काम करते हैं इस बारे में कोई वैज्ञानिक जानकारी नहीं है। इसके बारे में अधिक जानने के लिए अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें। हालांकि कई रिसर्च के मुताबिक ये आपके शरीर की रासायनिक संरचना के साथ इंटरेक्ट कर शरीर के महत्वपूर्ण कार्यों के लिए खनिजों की आपूर्ति को बढ़ाता है।

सावधानियां और चेतावनी

कोलॉयडल मिनरल्स (Colloidal Minerals) के उपयोग से पहले मुझे किन बातों के बारे में मालूम होना चाहिए?

निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बालिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको कोलॉडल के किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको क्ले से एलर्जी है
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है। दिल संबंधित परेशानियों से ग्रसित लोगों को इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।
  • जिन लोगों के शरीर में आयरन की मात्रा अधिक हो उन्हें इसका प्रयोग नहीं करना चाहिए। इसका सेवन हानिकारक साबित हो सकता है।
  • विल्सन रोग से ग्रसित लोग भी इसे न लें। इससे आपकी स्थिती पहले से ज्यादा खराब हो सकती है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। कोलॉडल मिनरलिस का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

कितना सुरक्षित है इसका उपयोग?

कोलॉयडल मिलरल्स का उपयोग सेफ नहीं है। इन उत्पादों की सामग्री भिन्न होती है, जो मिट्टी के स्त्रोत पर निर्भर करती है। कुछ उत्पादों में एल्युमिनियम, आर्सेनिक, सीसा, बेरियम, निकल और टाइटेनियम जैसी धातु होती हैं जो हानिकारक साबित हो सकती हैं। कुछ उत्पादों में रेडिओएक्टिव मैटल हो सकते हैं जो चिंता का विषय है।

और पढ़ें: Clove : लौंग क्या है?

साइड इफेक्ट्स

कोलॉयडल मिनरल्स (Colloidal Minerals) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इन सप्लीमेंट्स में चांदी धातु होती है, जिसका प्रयोग गहने बनाने और दांत भरने के लिए किया जाता है। चांदी के छोटे कण तरल में निलंबित हो जाते हैं। कुछ महीनों और वर्षों में ये चांदी शरीर में निर्माण कर सकती है। कई बार शरीर के कुछ हिस्से नीले व भूरे रंग के हो जाते हैं। इसकी अत्यधिक खुराक से गुर्दे खराब व न्यूरोलॉजिकल समस्या हो सकती है।

हालांकि हर किसी को ये साइड इफेक्ट हो ऐसा जरूरी नहीं है, कुछ ऐसे भी साइड इफेक्ट हो सकते हैं, जो ऊपर बताए नहीं गए हैं। अगर आपको इनमें से कोई भी साइड इफेक्ट महसूस हो या आप इनके बारे में और जानना चाहते हैं तो नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: Ylang Ylang Oil: य्लांग य्लांग ऑयल क्या है?

डोसेज

कोलॉयडल मिनरल्स (Colloidal Minerals) को लेने की सही खुराक क्या है?

किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरूर लें। हर्बल सप्लिमेंट के उपयोग से जुड़े नियम, दवाओं के नियमों जितने सख्त नहीं होते हैं। इनकी उपयोगिता और सुरक्षा से जुड़े नियमों के लिए अभी और शोध की जरुरत है। इस हर्बल सप्लिमेंट के इस्तेमाल से पहले इसके फायदे और नुकसान की तुलना करना जरुरी है। इसकी डोज को लेकर अधिक जानकारी के लिए किसी हर्बल विशेषज्ञ या आयुर्वेदिक डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: Gooseberry: आंवला क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध हैं कोलॉयडल मिनरल्स (Colloidal Minerals)?

कोलॉयडल मिनरल्स निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

  • लिक्विड कोलॉयडल मिनरल (Liquid Colloidal Mineral)

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी प्रकार की मेडिकल सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है और ना ही इसके लिए जिम्मेदार है। हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में इस हर्बल से जुड़ी ज्यादातर जानकारियां देने की कोशिश की है, जो आपके काफी काम आ सकती हैं। अगर आपको ऊपर बताई गई कोई भी शारीरिक समस्या है तो इस हर्ब का इस्तेमाल आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। बस इस बात का ध्यान रखें कि हर हर्ब सुरक्षित नहीं होती। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें तभी इसका इस्तेमाल करें। लिक्विड कोलॉयडल मिनरल से जुड़ी यदि आप अन्य जानकारी चाहते हैं तो आप हमसे कमेंट कर पूछ सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

What’s the difference between ionic and colloidal minerals? https://goaskalice.columbia.edu/answered-questions/whats-difference-between-ionic-and-colloidal-mineralsAccessed November 11, 2019

NEW VISION INTERNATIONAL, INC., and NVI PROMOTIONS, L.L.C., corporations, and JASON P. BOREYKO and BENSON K. BOREYKO, individually and as officers of the corporations. https://www.ftc.gov/sites/default/files/documents/cases/1999/03/9623270newvisioncomplaint.htmAccessed November 11, 2019

Using Copper to Improve the Well-Being of the Skin – https://www.ingentaconnect.com/content/ben/ccb/2014/00000008/00000002/art00005

Colloidal Silver – https://www.nccih.nih.gov/health/colloidal-silver

Reducing the risk of skin pathologies in diabetics by using copper impregnated socks – https://www.sciencedirect.com/science/article/abs/pii/S0306987709003764

Consumer health – https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/consumer-health/expert-answers/colloidal-silver/faq-20058061

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 11/09/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x