home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Tolu Balsam: टॉलू बालसम क्या है?

परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|उपलब्ध
Tolu Balsam: टॉलू बालसम क्या है?

परिचय

टॉलू बालसम क्या है?

टॉलू बालसम एक जड़ी-बूटी है जो पेड़ पर उगती है। इसका बोटैनिकल नाम Myrospermum Toluiferum है। ये फबियासी परिवार से ताल्लुक रखता है। इसका पेड़ बहुत ऊंचा होता है। यह पेड़ कोलंबिया, पेरू, वेनेजुएला, अर्जेंटीना, ब्राजील, पैराग्वे और बोलीविया में पाया जाता है। इस हर्बल पौधे को पेरू का बालसम भी कहा जाता है, क्योंकि इसे मूल रूप से पेरू से निर्यात किया जाता था, लेकिन अब ऐसा नहीं है। इस पेड़ की राल सबसे मूल्यवान है। पहले के समय में मैक्सिको और अमेरिका में रहने वाली जनजातियां टॉलू बालसम का प्रयोग बाहरी घाव, अस्थमा, सर्दी, फ्लू और गठिया का रोग ठीक करने के लिए करती थीं। वहीं भारत की कुछ जगहों पर इसका उपयोग अंडरआर्म के डियो बनाने के लिए भी किया जाता है। यह लंग्स के लिए उपयोगी माना गया है। गुणकारी तत्व मौजूद होने की वजह से डॉक्टर इलाज के दौरान इससे बनी दवाओं से करते हैं।

उपयोग

टॉलू बालसम का उपयोग किस लिए किया जाता है?

इसका उपयोग निम्नलिखित शारीरिक परेशानियों को दूर करने में किया जाता है। जैसे-

  • औषधीय श्रेणी में होने की वजह से इसका प्रयोग लंबे समय से दवाएं बनाने के लिए किया जा रहा है।
  • यह कई सारे रोगों में असरदार है। इसकी खूशबू वनीला जैसी होती है और स्वाद में यह किसी कफ सिरप जैसा लगता है।
  • सालों पहले मैक्सिको और अमेरिका में रहने वाली जनजातियां टॉलू बालसम का प्रयोग बाहरी घाव, अस्थमा, सर्दी, फ्लू और गठिया का रोग ठीक करने के लिए करती थीं। देखा जाये तो अस्थमा (Asthma) की समस्या आजकल काफी आम हो गई है। इसके लिए लोग इन्हेलर के साथ-साथ अन्य दवाओं का भी सेवन करते हैं। यह समस्या अगर बढ़ जाए, तो सांस लेने में परेशानी हो सकती है। सांस लेने में परेशानी होने पर भी जान भी जा सकती है। वहीं गठिया जैसी बीमारी उम्र बढ़ने के साथ शुरू होती है। ऐसे में डॉक्टर से सलाह लेकर इस औषधि का सेवन शरीर को लाभ पहुंचाता है।
  • वहीं, भारत की कुछ जगहों पर इसका उपयोग अंडरआर्म के डियो बनाने के लिए भी किया जाता है।
  • यह लंग्स के लिए उपयोगी माना गया है। इसके अलावा ये सर्दी, ब्रोंकाइटिस, जुकाम, सिरदर्द, मोच और टीबी के लिए भी इसका प्रयोग किया जाता रहा है। अगर आप बार-बार बीमार पड़ते हैं या इंफेक्शन के शिकार होते हैं, तो इसके सेवन से आप बार-बार होने वाले सर्दी-जुकाम की समस्या से बच सकते हैं।
  • इसका उपयोग अल्सर और बालों की समस्या जैसे डैंड्रफ आदि की दवाओं बनाने में इसका इस्तेमाल किया जाता है। अल्सर की परेशानी भी किसी को भी हो सकती है। वैसे अलग-अलग तरह के होते हैं। अल्सर की समस्या मुंह या पेट में हो सकती है। ऐसे में डॉक्टर के सलाह अनुसार टॉलू बालसम का प्रयोग किया जा सकता हैं। वहीं अगर आप डैंड्रफ की समस्या से परेशान हैं, तो इसका प्रयोग काफी लाभकारी हो सकता है।

कैसे काम करता है टॉलू बालसम?

यह निम्नलिखित तरह से काम करता है।

  • इसकी खूशबू भी कुछ बीमारियों को ठीक करने में कारगर है।
  • इसमें एंटीसेप्टिक और एक्सपेक्टोरेंट एजेंट होते हैं।
  • त्वचा संबंधी समस्या के इलाज के लिए भी टॉलू बालसम का उपयोग होता है।
  • टॉलू बालसम की पत्तियों को पीसकर खूशबूदार तेल बनाया जाता है।
  • साथ ही इससे कई तरह के परफ्यूम भी बनते हैं।

यह जरूर ध्यान रखें की इसका सेवन अपनी इच्छा अनुसार न करें। टॉलू बालसम, हर्ब या किसी भी अन्य दवाओं के सेवन से पहले हमेशा हेल्थ एक्सपर्ट की सलाह लेने के बाद ही करना चाहिए।

सावधानियां और चेतावनी

कितना सुरक्षित है टॉलू बालसम का उपयोग?

टॉलू बालसम का ज्यादातर उपयोग सुगंध के लिए किया जाता है। निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • प्रेग्नेंट महिलाओं को ऐसे हर्बल का प्रयोग करने से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।
  • साथ ही स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी हर्बल दवाई लेने से पहले अपने हर्बलिस्ट से बात करनी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रहे हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको टॉलू बालसम के किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।
  • अगर कोई व्यक्ति बुखार से पीड़ित है तो उन्हें इसके सेवन से बचना चाहिए।
  • शरीर में सूजन होने की स्थिति में भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नहीं हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। टॉलू बालसम का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें: Alfalfa: अल्फाल्फा क्या है?

साइड इफेक्ट्स

टॉलू बालसम से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इसके सेवन से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। जैसे-

हालांकि, हर किसी को ये साइड इफेक्ट हो ऐसा जरूरी नहीं है। कुछ ऐसे भी साइड इफेक्ट हो सकते हैं, जो ऊपर बताए नहीं गए हैं। अगर आपको इनमें से कोई भी साइड इफेक्ट या कोई शारीरिक परेशानी महसूस हो तो आप इनके बारे में और जानना चाहते हैं, तो नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: Beetroot : चुकंदर क्या है?

[mc4wp_form id=”183492″]

डोसेज

टॉलू बालसम को लेने की सही खुराक क्या है?

टॉलू बालसम की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लिमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है टॉलू बालसम?

यह निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है। जैसे-

  • सिरप के रूप में
  • पाउडर की तरह
  • टिंचर

अगर आप टॉलू बालसम से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

TOLU BALSAM/https://www.webmd.com/vitamins/ai/ingredientmono-355/tolu-balsam / Accessed 9 Dec, 2019

Tolu Balsam/https://www.drugs.com/npp/tolu-balsam.html/Accessed 9 Dec, 2019

Balsam of Tolu/https://botanical.com/botanical/mgmh/b/baloft07.html /Accessed 9 Dec, 2019

Tolu Balsam/https://www.rxlist.com/tolu_balsam/supplements.htm/Accessed on 11/01/2020

 

लेखक की तस्वीर
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 20/07/2020 को
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड