आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

बेबी केयर प्रोडक्ट्स का चुनाव करते समय रखें इन बातों का ध्यान

बेबी केयर प्रोडक्ट्स का चुनाव करते समय रखें इन बातों का ध्यान

पैरेंट्स अपने नवजात शिशु की सुरक्षा और सेहत को लेकर काफी चिंतित रहते हैं। शिशु की सुरक्षा को लेकर वे किसी प्रकार का समझाैता नहीं करना चाहते हैं। अगर बच्चे की स्किन केयर की बात करें तो आजकल बाजार में कई तरह के बेबी केयर प्रोडक्ट उपल्बध हैं। लेकिन जरूरी नहीं है कि वे सभी शिशु की त्वचा के लिए सुरक्षित हो। बच्चे की त्वचा बहुज नाजुक होती है इसलिए उसे ध्यान में रखते हुए बेबी स्किन केयर प्रोडक्ट का चुनाव करना चाहिए। इसलिए बेच्चे के लिए कोई भी उत्पाद चुनते समय कई बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। इस बारे में डॉ शांति रॉय (प्रसव एवं शिशु रोग विशेषज्ञ, पटना) ने हैलो स्वास्थ्य को बताया कि है आपके लिए बेबी केयर प्रोडक्ट्स के बारे में खास जानकारियां।

बेबी केयर प्रोडक्ट्स (Baby care products)

  • स्किन केयर प्रोडक्ट्स (Skin care products)
  • मसाज ऑयल (Massage Oil)
  • बाथिंग प्रोडक्ट (Bathing Product)
  • बेबी शैम्पू (Baby Shampoo)
  • डायपर (Diaper)

और पढ़ें : ऐसी 5 बातें जो नवजात शिशु की देखभाल के लिए हैं जरूरी

स्किन केयर प्रोडक्ट्स (Skin Care Products)

शिशु की त्वचा बहुत ही नाजुक और संवेदनशील होती है। शिशु के लिए शुरूआती कुछ सालों तक अतिरिक्त सावधानी और देखभाल की जरूरत होती है। अपने शिशु के स्किन की देखभाल के लिए आप उस बेबी केयर प्रोडक्ट्स से संबंधित जानकारियां इकट्ठा कर लें। कौन सा प्रोडक्ट आपके बच्चे की त्वचा के लिए कितना सही है। ध्यान रखें कि बेबी स्किन के लिए प्रोडक्ट्स क्लीनिकली प्रमाणित होना चाहिए।

बेबी केयर प्रोडक्ट्स: बिब (Bib)

जब भी शिशु के लिए शॉपिंग पर जाएं, तो बेबी केयर प्रोडक्ट्स में ‘बिब’ खरीदना न भूलें। बिब स्तनपान (ब्रेस्ट-फीडिंग) कराते समय और कुछ खिलाते समय, बिब को बच्चे के गले में बांधा जाता है। यह बच्चे के कपड़ों को साफ रखने का एक अच्छा तरीका है। नवजात शिशु के मामलें में कॉटन से बने बिब बेहतर रहते हैं।

बेबी केयर प्रोडक्ट्स: दूध की बोतल और निप्पल (Milk bottle and nipple)

और पढ़ें : जब बच्चे के दांत आने लगें, तो इस तरह से कराएं स्तनपान

हालांकि शिशु के जन्म के बाद छ्ह साल तक मां का दूध ही पिलाना अच्छा होता है। लेकिन, कई माएं नौकरी में होती हैं, जिसकी वजह से वे ज्यादा समय तक शिशु को ब्रेस्ट फीडिंग नहीं करवा पाती हैं। कई मामलों में डॉक्टर्स बच्चों को दवा खिलाने को बोल सकते हैं, इन परिस्थितियों में बोतल होना बहुत जरूरी है। ताकि, मां की अनुपस्थिति में भी शिशु को बोतल से दूध या अन्य लिक्विड पिलाना आसान हो रहे।

[mc4wp_form id=”183492″]

बेबी केयर प्रोडक्ट्स: थर्मामीटर (Thermometer)

और पढ़ें : नवजात शिशु को बुखार होने पर करें ये 6 काम और ऐसा बिलकुल न करें

यदि शिशु का जन्म घर में हुआ हो, तो घर में एक थर्मामीटर का होना बहुत आवश्यक है। शिशु के जन्म के बाद शुरूआती कुछ दिनों तक शिशु को बुखार और जुकाम होने की शंका में यह बहुत काम आ सकता है।

बेबी केयर प्रोडक्ट्स: स्वैडलिंग क्लॉथ (Swaddling cloth)

और पढ़ें : कपड़े पहनाते वक्त अगर शिशु करता है परेशान तो अपनाएं ये टिप्स

स्वैडलिंग अपने बच्चे को एक पतली कंबल या चादर में लपेट कर रखने, और उसे सुरक्षित गोद में रखने की एक प्राचीन प्रथा है। कई संस्कृतियों ने सदियों से स्वैडलिंग का इस्तेमाल किया है। स्वैडलिंग में बच्चों को सीधा लपेट कर सुलाया जाता है, जिससे उनके हाथ और पांव सीधे रखने में मदद मिलती है।

बेबी केयर प्रोडक्ट्स: मसाज ऑयल (Massage Oil)

शिशु के मसाज के लिए हमेशा क्लीनिकली माइल्ड प्रमाणित मसाज ऑयल (बेबी केयर प्रोडक्ट्स) का चुनाव करें। चुनाव करते समय यह ध्यान रखें कि, यह चिकनाई रहित हो और शिशु के स्किन पर आसानी से लग सके। बेबी का मसाज ऑयल हल्का और सुरक्षित होना चाहिए। मसाज ऑयल से शिशु की त्वचा में नमी बनी रहती है।

बेबी केयर प्रोडक्ट्स: साबुन (Soap)

शिशु के लिए साबुन लेने से पहले उनमें यह सुनिश्चित कर लें कि उससे शिशु की आंखों में जलन न हो। इसलिए साबुत खरीदने से पहले इसे चेक कर लें। शिशु की त्वचा को पानी से साफ करने के बजाए उसे लिक्विड क्लींजर या सोप (साबुन) से साफ करना ज्यादा फायदेमंद रहता, क्योंकि इससे सफाई के साथ संक्रमण की भी खतरा कम रहता है।

और पढ़ें : 6 महीने के शिशु को कैसे दें सही भोजन?

बेबी केयर प्रोडक्ट्स: बाथिंग प्रोडक्ट (Bathing Product)

शिशु के लिए अलग से बाथिंग प्रोडक्ट आते हैं। बड़ों के लिए बनाए जाने वाले बाथिंग प्रोडक्ट से शिशु को नहलाने से उनमें मौजूद डिटर्जंट बच्चे की त्वचा में खुजली और संक्रमण पैदा कर सकता है। इसलिए शिशु के लिए नॉर्मल बाथिंग प्रोडक्ट का इस्तेमाल न करके उनके लिए अलग माइल्ड बेबी सोप से ही स्नान कराएं। ताकि ये बच्चे की त्वचा के संपर्क में आए तो भी उसे नुकसान न पहुंचा पाए। इसलिए यह ध्यान रखें कि बच्चों के लिए मार्केट में आने वाले बेबी प्रोडक्ट अच्छी कंपनी और क्वालिटी के हों। शिशु की अच्छी सेहत के लिए डॉक्टर द्वारा बताया गया साबुन बहुत माइल्ड होना चाहिए और बहुत हल्का एसिडिक जैसे कि ‘पी-एच 5.5 से 7.0’ होनी चाहिए।

बेबी केयर प्रोडक्ट्स: बेबी शैंपू (Baby Shampoo)

नर्स एसोसिएशन के अनुसार शैम्पू भी बच्चों के लिए क्लींजर जितना ही सुरक्षित होना चाहिए, ताकि उससे आंखों में जलन न हो तथा उनकी कोमलता को कोई नुकसान नहीं पहुंचे।

और पढ़ें: शिशु को डायपर रैशेज से बचाने के लिए 6 घरेलू उपाय

बेबी केयर प्रोडक्ट्स: डायपर्स (Diapers)

नवजात शिशु की त्वचा बहुत मुलायम होती है। डायपर में आप बायो-डिग्रेडेबल डायपर का ही इस्तेमाल करें। इसमें सोखने की अधिक क्षमता होती है और यह त्वचा को कोमल बनाए रखता है। यह शरीर के निचले हिस्से को सूखा रखता है। डायपर के कारण होने वाले रैशेज की रोकथाम करता है।

प्रोडक्ट पैकेजिंग में जरूर देखें:-

  • बेबी प्रोडक्ट लेने पहले ये चेक कर लें कि वाे प्रोडक्ट टेस्टिंग और क्लीनिकली माइल्ड प्रमाणित होना चाहिए।
  • गौर कीजिए केवल क्लीनिकली टेस्टेड लिखने से प्रोडक्ट प्रमाणित नहीं होती है। बच्चों के प्रोडक्ट पर क्लीनिकली माइल्ड प्रमाणित की सील अवश्य चेक करें।
  • पैकेजिंग पर जिन इनग्रेडिएंट का जिक्र है उनकी मार्जन ऑफ सेफ्टी लिखी होनी चाहिए कि वे कितनी मात्रा में हैं।
  • इसका पूरा फार्मूला सही तरीके से लिखा होना चाहिए।
  • प्रोडेक्ट माइक्रो-बायोलॉजिकली सेफ होना चाहिए।
  • जो खुशबू वाले प्रोडेक्ट हैं वे पूरी तरह से जांचे गए होने चाहिए कि उनसे त्वचा पर किसी तरह की साइड इफेक्ट्स न हो।
  • पैकेजिंग पर पेरेंटस के यूज करने की गाइडलाइन लिखी होनी चाहिए, कि उन्हें वह प्रोडेक्ट किस तरह से इस्तेमाल करना है।
  • पैकेजिंग ऐसी होनी चाहिए जिस पर बाहर के दूषित वातावरण और पानी आदि का कोई प्रभाव न पड़ें।

और पढ़ें: प्रसव के बाद देखभाल : इन बातों का हर मां को रखना चाहिए ध्यान

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में बेबी केयर प्रोडक्ट्स खरीदते वक्त किन सावधानियों को बरतना चाहिए इसकी जानकारी दी गई है। यदि आपका इससे जुड़ा कोई प्रश्न है या आप इससे जुड़ी अधिक जानकारी पाना चाहते हैं तो इसके लिए आप अपने चिकित्सक से कंसल्ट करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

5 tips for choosing safe baby products: https://www.reidhealth.org/blog/5-tips-for-choosing-safe-baby-products Accessed July 09, 2020

A Guide for First-Time Parents: https://kidshealth.org/en/parents/guide-parents.html Accessed July 09, 2020

Infant and toddler health: https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/infant-and-toddler-health/in-depth/newborn/art-20045498 Accessed July 09, 2020

Infant and Newborn Care: https://medlineplus.gov/infantandnewborncare.html Accessed July 09, 2020

लेखक की तस्वीर badge
Nikhil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 04/05/2021 को
डॉ. अभिषेक कानडे के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड