home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Inguinal hernia: इंग्वाइनल हर्निया क्या है?

परिचय |लक्षण |कारण |रिस्क फैक्टर |निदान और उपचार को समझें|जीवनशैली में क्या करें बदलाव या घरेलू उपचार
Inguinal hernia: इंग्वाइनल हर्निया क्या है?

परिचय

इंग्वाइनल हर्निया क्या है? (What is Inguinal hernia?)

इंग्वाइनल हर्निया तब होता है, जब टिशू जैसे आंत का हिस्सा पेट की मांसपेशियों या किसी कमजोर मांसपेशियों के आगे निकल जाएं। यह दर्दनाक हो सकता है, खासकर तब जब आप खांसी या वजन उठाने के दौरान भी पेशेंट को दर्द का अहसास होने लगता है।

इंग्वाइनल हर्निया (Inguinal hernia) हमेशा खतरनाक नहीं होता है। हालांकि यह खुद से ठीक भी नहीं हो सकता है, लेकिन वक्त रहते अगर इलाज नहीं किया गया, तो पीड़ित व्यक्ति को गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इंग्वाइनल हर्निया की वजह से तेज दर्द होता है या यह बड़ा हो जाता है, तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर सर्जरी कर सकते हैं। वैसे इंग्वाइनल हर्निया की सर्जरी सामान्य सर्जरी है। इसलिए इससे घबराना नहीं चाहिए।

और पढ़ें : स्किन टाइप के लिहाज से घर पर ही बनाएं अपना हैंड वॉश

कितना सामान्य है इंग्वाइनल हर्निया (How common is Inguinal hernia?)

इंग्वाइनल हर्निया (Inguinal hernia) पुरुषों में होने वाली बीमारी है। लेकिन यह गर्भवती महिलाओं को भी हो सकती है, क्योंकि गर्भावस्था के दौरान पेट पर अतिरिक्त दवाब होता है। डॉक्टर से मिलकर इसे समझना और इलाज करवाना आसान हो जाता है।

और पढ़ें : जानें हर्निया बेल्ट के फायदे और नुकसान

लक्षण

लक्षण जो इंग्वाइनल हर्निया को दर्शाते हैं? (Symptoms of Inguinal Hernia)

इंग्वाइनल हर्निया के कुछ सामान्य लक्षण:

  • प्यूबिक बोन के दोनों ओर के हिस्सों में एक उभार हो जाता है, जिसे साफ समझा जा सकता है। खांसने के दौरान दर्द या खिचाव महसूस होता है।
  • बढ़े हुए हिस्सों पर जलन या खुजली महसूस होना।
  • झुकने, खांसने या कुछ उठाने के दौरान जांघ (थाई) में परेशानी महसूस होना।
  • कमजोरी महसूस होना।

हर्निया (Hernia) को आसानी से पेट की ओर भेजा जा सकता है। ऐसा तब करें जब आप लेटे हुए हों। ऐसा नहीं कर पाने की स्थिति में आइस पैक लगाने से सूजन में कमी आ सकती है और हर्निया आसानी से अंदर चला जाता है।

और पढ़ें : Obsessive Compulsive Disorder: ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर क्या है?

इन्कार्सरैटेड हर्निया (Incarcerated Hernia)

अगर आप हर्निया को अंदर की ओर नहीं भेज पा रहें हैं, तो हर्निया पेट के ऊपरी सतह पर फस सकता है। ऐसा में ब्लड फ्लो रुक सकता है और अगर इलाज न किया जाए तो यह जानलेवा भी हो सकता है।

स्ट्रेंग्युलेटेड हर्निया के संकेत और लक्षण इस प्रकार हैं:

  • मितली या उल्टी करना।
  • बुखार आना।
  • अचानक तेज दर्द महसूस होना।
  • हर्निया का बढ़ा हुआ हिस्सा रेड, पर्पल या डार्क हो जाना।
  • रिलैक्स महसूस नहीं कर पाना।

यदि इनमें से कोई भी लक्षण दिखाई देते हैं, तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

बच्चों में इंग्वाइनल हर्निया के लक्षण (Inguinal Hernia in Child)

नवजात शिशुओं और बच्चों में इंग्वाइनल हर्निया (Inguinal Hernia) जन्म से ही होता है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि गर्भावस्था के दौरान गर्भ की त्वचा कमजोर हो जाती है। कभी-कभी हर्निया तभी दिखाई देगा जब शिशु रो रहा हो, खांस रहा हो या ऐसी स्थिति की वजह से तनाव ले रहा है। शिशु को भूख भी कम लग सकती है। बड़े बच्चों में खांसने या देर तक खड़े रहने की वजह से भी नजर आता है। इन लक्षणों के अलावा और भी लक्षण हो सकते हैं। इसलिए डॉक्टर से संपर्क करना बेहतर विकप्ल हो सकता है।

और पढ़ें : अपनी डायट में शामिल करें ये 7 चीजें, वायरल इंफेक्शन से रहेंगे कोसों दूर

डॉक्टर से कब मिलना चाहिए?

बढ़े हुए मांस की वजह से अगर आपको दर्द महसूस हो या कोई परेशानी महसूस होने पर डॉक्टर से मिलें। बढ़े हुए मांस (सूजन) को खड़े होने पर या उसे छूने पर आसानी से महसूस किया जा सकता है। ध्यान रखें की अगर सूजन रेड, पर्पल या डार्क हो रहा हो तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: फीमोरल हर्निया क्या है? जानें लक्षण और उपाय

कारण

किन कारणों से होता है इंग्वाइनल हर्निया? (Cause of Inguinal Hernia)

इंग्वाइनल हर्निया के कारण नहीं होते हैं। लेकिन कुछ ऐसे कारण हैं, जिनकी वजह से इंग्वाइनल हर्निया हो सकता है:

  • पेट पर जरूरत से ज्यादा दवाब डालना।
  • पेट की दीवार में पहले से मौजूद कमजोर जगह
  • टॉयलेट या मोशन के दौरान परेशानी महसूस होना।
  • ज्यादा थकने वाला काम करना।
  • गर्भावस्था के दौरान
  • सर्दी-खांसी की पुरानी बीमारी।

और पढ़ें: हर्निया के भयानक दर्द से बचाएंगी घर पर मौजूद ये चीजें

रिस्क फैक्टर

किन कारणों से बढ़ सकती है इंग्वाइनल हर्निया? (Risk factor of Inguinal Hernia)

निम्नलिखित कारणों की वजह से इंग्वाइनल हर्निया की समस्या बढ़ सकती है:

  • इंग्वाइनल हर्निया (Inguinal Hernia) का खतरा पुरुषों में ज्यादा होता है।
  • उम्र बढ़ने के साथ-साथ मसल का कमजोर होना।
  • ब्लड रिलेशन में किसी को इंग्वाइनल हर्निया होना।
  • ध्रूमपान की वजह से खांसी होना
  • कब्ज (Constipation) की समस्या होना।
  • प्रेग्नेंसी के दौरान पेट के मसल का कमजोर होना।
  • समय से पहले नवजात का जन्म या जन्म के दौरान नवजात का वजन कम होना।
  • पहले कभी इंग्वाइनल हर्निया हुआ हो। यहां तक की बचपन में इंग्वाइनल हर्निया (Inguinal Hernia) की समस्या हुई हो।

और पढ़ें : Bone test: बोन टेस्ट क्या है?

निदान और उपचार को समझें

दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने चिकित्सक से संपर्क करें और सलाह लें।

इंग्वाइनल हर्निया का निदान कैसे किया जाता है? (Diagnosis of Inguinal Hernia)

बढ़े या सूजे हुए हर्निया (Hernia) को डॉक्टर आसानी से पेट में हल्के दवाब से भेज देते हैं। लेकिन अगर ऐसा नहीं हो पाता है तो यह स्ट्रेंग्युलेटेड इंग्वाइनल हर्निया कहलाता है। शारीरिक जांच के दौरान डॉक्टर बीमारी को आसानी से समझ सकते हैं। जांच के दौरान डॉक्टर आपको खांसने और खड़े रहने के लिए कह सकते हैं।

इंग्वाइनल हर्निया का इलाज कैसे किया जाता है? (Treatment for Inguinal Hernia)

इंग्वाइनल हर्निया होने पर डॉक्टर सर्जरी की सलाह देते हैं। यह एक सामान्य सर्जरी है। इससे घबराने की जरूरत नहीं होती है। डॉक्टर सर्जरी के दो विकल्प दे सकते हैं। उनमें शामिल है हरनियोरैफी (ओपन रिपेयर) या लेप्रोस्कोपिक सर्जरी।

और पढ़ें : Dengue : डेंगू क्या है? जानिए इसके कारण, लक्षण और उपाय

जीवनशैली में क्या करें बदलाव या घरेलू उपचार

निम्नलिखित टिप्स अपना कर इंग्वाइनल हर्निया (Inguinal Hernia) से बचा जा सकता है:

  • वजन संतुलित रखें। डॉक्टर से आहार और एक्सरसाइज के बारे में समझें और उसे अपने जीवन में अपनाएं।
  • आहार में फाइबर की मात्रा ज्यादा लें। फल, सब्जियां और साबुत अनाज में फाइबर होता है, जो कब्ज (Constipation) और तनाव (Tension) को रोकने में मदद कर सकता है।
  • वजन वाले सामान को ध्यान पूर्वक उठाएं और कमर से झुकने की बजाए घुटने से झुकने की कोशिश करें।
  • ध्रूमपान (Smoking) न करें इसके सिर्फ एक साइड इफेक्ट नहीं होते हैं बल्कि यह पुरे शरीर के लिए हानिकारक है।
  • गारमेंट्स का चयन आरामदयाक को ध्यान में रखकर करें। डॉक्टर आपको हर्निया ट्रस इस्तेमाल करने की सलाह दे सकते हैं।

अगर इस बीमारी से जुड़े कोई प्रश्न हैं आपके पास तो समझने के लिए कृपया अपने चिकित्सक से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/02/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x