आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

प्रेग्नेंसी के दौरान ऑर्गेज्म हासिल करने से क्या बच्चे को हो सकता है नुकसान?

    प्रेग्नेंसी के दौरान ऑर्गेज्म हासिल करने से क्या बच्चे को हो सकता है नुकसान?

    प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को एक नहीं बल्कि कई सलाह दी जाती है। घर के लोग महिलाओं को बच्चे की अच्छे स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिए कई हिदायत देते हैं। जिनमें कुछ गलत भी होती हैं। जी हां! प्रेग्नेंसी के दौरान अक्सर यह कहा जाता है कि सेक्स करना सुरक्षित नहीं होता है, वरना होने वाले बच्चे को नुकसान पहुंच सकता है। हो सकता है कि आपको भी यही जानकारी हो, लेकिन यह सच नहीं है। जी हां! प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करना सुरक्षित होता है और प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy) हासिल करना भी पूरी तरह से सुरक्षित माना जाता है। अगर आप की प्रेग्नेंसी हेल्दी है, तो यकीनन डॉक्टर आपको इस तरह की सलाह बिल्कुल नहीं देंगे। जिन लोगों प्रेग्नेंसी की शुरुआत से ही कॉम्प्लिकेशंस होते हैं या फिर कुछ समस्याएं होती हैं, तो ऐसे में हो सकता है कि आपका डॉक्टर प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स के लिए मना कर दे। हम जानते हैं कि आपके मन में इस संबंध में बहुत सारे सवाल होंगे, तो आइए जानते हैं इस आर्टिकल के माध्यम से कि प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy) सुरक्षित है या फिर नहीं।

    और पढ़ें: Second Trimester Guide: प्रेग्नेंसी के सेकेंड ट्राइमेस्टर गाइड में किन बातों का रखना चाहिए ध्यान?

    प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy)

    जब भी आप डॉक्टर की विजिट के लिए जाते हैं तो आपके मन में एक नहीं बल्कि कई सवाल होते हैं। जिन महिलाओं के मन में सेक्स को लेकर सवाल होते हैं, वह या तो पूछती नहीं है या फिर पूछने में उन्हें झिझक होती है। आपको इस झिझक से बाहर निकलना होगा। अगर आपको किसी भी प्रकार की समस्या नहीं है, तो आप डॉक्टर से इस बारे में जानकारी जरूर लें। वैसे तो किसी प्रकार की समस्या या खास कंडीशन होने पर डॉक्टर प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स से मना कर सकते हैं लेकिन बेहतर होगा कि आप डॉक्टर से इस बारे में पूछें। यहां पर हम आपको ऐसी कुछ कंडीशन के बारे में बता रहे हैं, जिसमें डॉक्टर हो सकता है कि आप को सेक्स के लिए मना कर दें। जानिए यह क्या समस्या हो सकती है।

    • अगर आपकी फैमिली में प्रीटर्म लेबर की हिस्ट्री रही है या फिर आपको ऐसे लक्षण दिख रहे हैं, तो ऐसे में प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स नहीं करना चाहिए।
    • प्लेसेंटा प्रीविया (placenta previa) की समस्या होने पर भी प्रेग्नेंसी कॉम्प्लिकेटेड हो जाती है। ऐसे में भी डॉक्टर प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से मना करते हैं। अगर आपको पहले मिसकैरेज हो चुका है या फिर मिसकैरेज की हिस्ट्री रही है, तो ऐसे में भी सेक्स की सलाह नहीं दी जाती है।
    • कुछ महिलाओं को प्रेग्नेंसी के दौरान वजायनल ब्लीडिंग (Vaginal bleeding) होती है, जो की समस्या को बढ़ाने का काम करती है। ऐसे में डॉक्टर महिला को अधिक से अधिक आराम करने की सलाह देते हैं और साथ ही सेक्स करने के लिए भी मना कर सकते हैं।
    • अगर प्रेग्नेंट महिला को एम्निऑटिक लिक्विड लीक होने की समस्या हो रही है, तो ऐसे में भी डॉक्टर सेक्स को मना कर सकते हैं।
    • कुछ महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान हर्निया की समस्या होती है। हर्निया एक तरह त्वचा का उभार होता है, जो प्रेग्नेंसी के दौरान समस्या खड़ी कर सकता है। बेहतर होगा कि ऐसी महिलाओं को सेक्स से बचना चाहिए।

    और पढ़ें: Urine Tests During Pregnancy: प्रेग्नेंसी में यूरिन टेस्ट से घबराएं नहीं, क्योंकि यह गर्भवती महिला एवं गर्भ में पल रहे शिशु दोनों के लिए है जरूरी!

    जिन महिलाओं के मल्टीपल (multiples) प्रेग्नेंसी होती है, उनके लिए भी सेक्स के साथ जोखिम जुड़े हो सकते हैं। अगर महिलाओं को उपरोक्त दीए गए जोखिम नहीं है या कोई भी जोखिम बहुत कम है, तो ऐसे में प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy) सुरक्षित माना जाता है। इन सभी बातों की जानकारी आपको डॉक्टर से लेनी चाहिए। डॉक्टर आपको जो भी सलाह दें, उसे जरूर मानें।

    प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy) के दौरान हो सकता है यह महसूस!

    आपके मन में सवाल आ रहा होगा कि प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy) हासिल करने में या और सेक्स करने के दौरान क्या किसी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ता है, तो इसका जवाब है नहीं। आपको समस्या तो नहीं होगी लेकिन हां आपको कुछ बदलाव जरूर महसूस होंगे, जो आम दिनों में सेक्स करने पर आपको महसूस नहीं होते हैं। आइए जानते हैं कि इस दौरान आपको क्या महसूस हो सकता है।

    • आपको पेट में ऐंठन का एहसास हो सकता है। सेक्स करने के बाद या प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy) हासिल करने के दौरान पेल्विक रीजन में ब्लड का फ्लो बढ़ जाता है। जिस कारण से आपको पेट के निचले हिस्से में हल्की ऐंठन महसूस हो सकती है। यह किसी खतरे का संकेत नहीं है, क्योंकि पेट में पैदा होने वाली ऐंठन कुछ समय बाद ठीक हो जाती है। लेकिन अगर आपको सेक्स के बाद ऐंठन बढ़ गई है, तो ऐसे में लंबे समय तक इंतजार ना करें और डॉक्टर को जरूर दिखाएं।
    • वहीं कुछ महिलाओं को सेक्स के दौरान हल्की ब्लीडिंग भी हो सकती है। अगर आपको बहुत कम मात्रा में ब्लीडिंग हुई है, तो इसमें परेशानी की कोई बात नहीं है। अगर आपको अधिक मात्रा में ब्लीडिंग हो जाती है, तो यह जरूर चिंताजनक हो सकता है। ज्यादातर महिलाओं को इस तरह की समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता है। लेकिन कुछ महिलाओं को ऐसी दिक्कत हो सकती है।

    और पढ़ें: प्रेग्नेंसी ब्लड टेस्ट (Pregnancy Blood test) कब होता है जरूरी?

    • आपको हो सकता है कि कुछ कॉन्ट्रक्शन भी महसूस हो। सेक्स के दौरान यूट्रस कॉन्ट्रैक्ट करता है। यह करीब आधे से 1 घंटे तक भी हो सकता है। ये पोस्ट क्लाइमेक्स कॉन्ट्रक्शन प्रीटर्म लेबर का संकेत बिल्कुल भी नहीं है और ना ही बच्चे को नुकसान पहुंचता है।
    • आपको प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy) हासिल करने के बाद बच्चे की किक का एहसास कम हो सकता है लेकिन आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। ये बहुत ही सामान्य सी बात है।

    प्रेग्नेंसी में सेक्स करने के बाद आपको एक नहीं बल्कि कई फायदे होते हैं।प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy) हासिल करने के बाद आपको रिलैक्स फील होता है और शरीर में हो रहे परिवर्तन से जो अब तक आपको परेशानी हो रही थी, उससे भी रिलैक्स मिलता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इस दौरान ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन रिलीज होता है, जो आपको बेहतर महसूस कराता है। ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन दर्द से राहत दिलाने के साथ-साथ आपको खुशी का एहसास भी देता है।

    और पढ़ें: Toothpaste Pregnancy Test: क्या ये प्रेग्नेंसी टेस्ट देता है सही रिजल्ट?

    अब आप यह सोच रहे होंगे कि अगर किसी प्रकार की समस्या नहीं है, तो प्रेग्नेंसी में सेक्स करना सुरक्षित होता है, तो ऐसे में क्या प्रेग्नेंसी में मास्टरबेशन भी किया जा सकता है? इसका जवाब है ‘हां’ ।अगर आपको किसी प्रकार की समस्या नहीं है, तो आप प्रेग्नेंसी में वाइब्रेटर या सेक्सटॉय का इस्तेमाल कर सकते हैं। आपको एक बात जरूर ध्यान रखनी चाहिए कि आप वजाइना में जो भी कुछ डालते हैं, उसे साफ होना बहुत जरूरी है। अगर वह साफ नहीं होगा, तो आपको संक्रमण हो सकता है और साथ ही होने वाले बच्चे को भी खतरा बढ़ जाता है। कुछ बातों का ध्यान रख आप प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy) इंजॉय कर सकते हैं

    और पढ़ें: Pregnancy Rash: प्रेग्नेंसी में रैश के कारण क्या हो सकते हैं?

    इस आर्टिकल में हमने आपको प्रेग्नेंसी में ऑर्गेज्म (Orgasms during pregnancy) के बारे में अहम जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की ओर से दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको प्रेग्नेंसी के संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हैलो हेल्थ की वेबसाइट में आपको अधिक जानकारी मिल जाएगी।

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    सायकल की लेंथ

    (दिन)

    28

    ऑब्जेक्टिव्स

    (दिन)

    7

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 28/04/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: