जली हुई माचिस की तीली से लगाते थे काजल, क्विज से जानें मेकअप से जुड़े फैक्ट्स

By

प्राचीन काल से ग्रीस और रोम के लोग मेकअप का उपयोग सुंदरता बढ़ाने के लिए करते थे। उदाहरण के लिए प्राचीन मिस्रियों को ले लें जो लेड ओर (lead ore) और कॉपर (Copper) से बने मेकअप का इस्तेमाल करते थे। प्राचीन समय की महिलाओं द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले मेकअप प्रॉडक्ट्स काफी इनोवेटिव होते थे। उस समय लिप्स को डार्क करने के लिए बेरी का इस्तेमाल किया जाता था। वहीं आंखों में काजल या लाइनर लगाने के लिए जली हुई माचिस की तीलियों का इस्तेमाल किया जाता था। ऐसे मेकअप से जुड़े फैक्ट्स आप शायद नहीं जानते होंगे।

प्राचीन मिस्रवासियों ने आंखों के मेकअप के लिए एक विधि ईजाद की थी। इसे तैयार करने के लिए सीसा, जले हुए बादाम और तांबा के साथ कुछ अन्य पदार्थ मिलाया जाता था। इसे कोल कहा जाता था।

मिस्र की महारानी क्लियोपेट्रा के अप्रतिम सौंदर्य का राज उनके लिए खास तरीके से तैयार की गई मेकअप सामग्री थी। उनकी लिपस्टिक को एक विशेष तरह के गहरे लाल रंग के कीड़े से तैयार किया जाता था। इसके अलावा इसमें चीटियों के अंडे भी मिलाए जाते थे।

आज कॉस्मेटिक और मेकअप एक मल्टी-बीलियन डॉलर इंडस्ट्री बन गई है। आधुनिक समय में, सौंदर्य प्रसाधनों में उपयोग किए जाने वाले उत्पादों का निर्धारण उपभोक्ताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए सरकार के नियम अनुसार होता है। पुराने समय की तुलना में आज मेकअप अधिक आम है। ये मेकअप से जुड़े फैक्ट्स आपको पसंद आए होंगे हमें उम्मीद है। दूसरे फैक्ट्स जानने के लिए ये क्विज खेलें।

powered by Typeform

और पढ़ें:

ट्रेंड में है एयरब्रश मेकअप (Airbrush Makeup), जानिए इसे करने का तरीका

स्किन और मेकअप से जुड़े अहम सवाल के जवाब जानने के लिए खेलें क्विज

फेयरनेस क्रीम का एड करने पर भरना पड़ सकता है 50 लाख का जुर्माना, 5 साल की जेल भी

बार्बी डॉल के नए फीचर में दिखी विटिलिगो बीमारी, विविधता और समानता दिखाना उद्देश्य

Share now :

रिव्यू की तारीख फ़रवरी 24, 2020 | आखिरी बार संशोधित किया गया फ़रवरी 25, 2020