आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

null

हेमानजियोमस (Hemangiomas) : क्या आप जानते हैं इस सामान्य से दिखने वाली स्किन कंडिशन के बारे में

    हेमानजियोमस (Hemangiomas) : क्या आप जानते हैं इस सामान्य से दिखने वाली स्किन कंडिशन के बारे में

    एक्सर्टनल हेमानजियोमस (External Hemangiomas) तब होते हैं जब अतिरिक्त ब्लड वेसल्स डेवलप हो जाती हैं। ये स्किन पर रेड मार्क की तरह दिखाई देते हैं। उन्हें वैस्कुलर बर्थमार्क (Vascular birthmarks) या इंफेनटाइल हेमानजियोमस (Infantile hemangiomas) के नाम से भी जाना जाता है। ये आमतौर पर किसी परेशानी का कारण नहीं बनते और बिना किसी ट्रीटमेंट के ठीक हो जाते हैं। कई बार लोगों के साथ हेमानजियोमस के साथ दूसरी कंडिशन भी होती हैं।

    एक्सर्टनल हेमानजियोमस (Hemangiomas) स्किन सरफेस पर होने वाले लाल मार्क की तरह दिखाई देते हैं। कई लोग इनके चमकीले लाल निशान के चलते इन्हें स्ट्राबेरी मार्क भी कहते हैं। हेमानजियोमस बॉडी के अंदर भी होते हैं, लेकिन इस आर्टिकल में स्किन पर होने वाले निशानों के बारे में बताया जा रहा है।

    हेमानजियोमस (Hemangiomas) क्या है?

    हेमानजियोमस एक प्रकार का बिनाइन ट्यूमर है जो ब्लड वेसल्स को प्रभावित करता है। ऐसा तब होता है बहुत सारी ब्लड वेसल्स विकसित हो जाती हैं। ये आमतौर पर बच्चे पैदा होने के कुछ हफ्तों तक दिखाई देता है। कुछ को दिखने में अधिक समय लगता है क्योंकि ये दिखने में गहरे रंग के होते हैं।

    1 से 3 महीने के बीच इनकी ग्रोथ तेजी से होती है। 3 महीने में यह अपनी साइज के 80 प्रतिशत तक पहुंच जाते हैं और 5 महीने तक पूरी तरह बढ़ जाते हैं। जब बच्चा 12-15 महीने का होता है तो ये छोटे होना शुरू होते हैं और 3-10 साल की उम्र के बीच पूरी तरह खत्म हो जाते हैं। ये स्किन में कहीं भी डेवलप हो सकते हैं, लेकिन आमतौर पर ये सिर, गर्दन और कमर के आसपास अधिक होते हैं। कई लोग इनकी वजह से दर्द का अनुभव कर सकते हैं।

    फीमेल इंफेंट्स में एक्सर्टनल हेमानजियोमस (Hemangiomas) होने के चांसेज मेल बेबीज से अधिक होते हैं। वहीं प्रीटर्म बेबीज में इनके डेवलप होने की संभावना बढ़ जाती है। इनकी गहराई, साइज और शेप अलग-अलग हो सकता है।

    हेमानजियोमस के प्रकार (Hemangiomas Types)

    हेमानजियोमस (Hemangiomas) कई प्रकार के हो सकते हैं। जो निम्न हैं।

    और पढ़ें: ड्राय स्किन और स्किन डिहाइड्रेशन में संबंध है, जानिए यहां..

    कैपिलरी हेमानजियोमस (Capillary hemangiomas)

    ये स्किन सरफेस के पास दिखाई देते हैं। ये तब दिखाई देते हैं जब बल्ड वेसल्स जिन्हें कैपिलरी कहा जाता है वे डेवलप होती हैं। कनेक्टिव टिशूज इन कैपिलरीज को होल्ड करके रखते हैं। अगर ब्लड वेसल्स का ग्रुप बड़ा है तो हेमानजियोमा (Hemangioma) बड़ा हो सकता है और इसका टेक्चर स्पॉन्जी हो सकता है। यह प्रकार बच्चों को ही सबसे ज्यादा प्रभावित करता है।

    कैवर्नस हेमानजियोमस (Cavernous hemangiomas)

    त्वचा के नीचे की गहरी परतों में रक्त वाहिकाओं को प्रभावित करते हैं। वे तब होते हैं जब बड़ी रक्त वाहिकाएं फैल जाती हैं, या चौड़ी हो जाती हैं। इन रक्त वाहिकाएं एक साथ बहुत कसकर बंधी नहीं होती है, और जब रक्त रक्त वाहिकाओं के बीच रिक्त स्थान को भरता है तो ये विकसित होते हैं।

    लोब्यूलर कैपिलरी हेमानजियोमस (Lobular capillary hemangioma)

    ये तब विकसित होते हैं जब रक्त वाहिकाएं इतनी अधिक होती हैं कि वे एक गांठ का निर्माण करती हैं। इस प्रकार के हेमानजियोमस (Hemangiomas) से आसानी से रक्तस्राव हो सकता है। अन्य प्रकार के हेमानजियोमस बॉडी के अंदर डेवलप हो सकते हैं जैसे कि लिवर हेमानजियोमस (Liver hemangioma)।

    और पढ़ें: Hard skin: सख्त त्वचा: जानिए क्या है यह समस्या और क्या है इसका इलाज?

    हेमानजियोमस (Hemangiomas) का आकार और आकृति

    कुछ हेमानजियोमस छोटे होते हैं, जबकि अन्य एक विस्तृत क्षेत्र को कवर करते हैं। हेमानजियोमस आमतौर पर एक निश्चित आकार के साथ एक घाव के रूप में मौजूद होता है। कभी-कभी, एक एकल घाव अधिक टूटे हुए रूप के साथ व्यापक हो सकता है। शायद ही कभी, वे त्वचा पर कई जगहों पर दिखाई दे सकते हैं।

    हेमानजियोमस (Hemangiomas) के पहली बार दिखाई देने के बाद, इसका आकार और रक्त वाहिका आपूर्ति की मात्रा तेजी से बढ़ जाती है। इसके बाद यह स्किन में सेटल हो जाता है। कई वर्षों के बाद, यह अक्सर सिकुड़ने लगता है।

    और पढ़ें: त्वचा की देखभाल के लिए एएचए और बीएचए का क्या रोल है, जानिए यहां

    इस कंडिशन से जुड़ी जटिलताएं क्या हैं?

    हेमानजियोमस आमतौर पर जटिलताओं का कारण नहीं बनता है, लेकिन प्रकार के आधार पर निम्नलिखित संभव हैं:

    ब्लीडिंग यदि हेमानजियोमस (Hemangiomas) वाले व्यक्ति को मामूली खरोंच या कट लग जाता है जो उस त्वचा को प्रभावित करता है जहां निशान है, तो इससे रक्तस्राव हो सकता है।

    अल्सरेशन: कभी-कभी अल्सर बन सकता है। यह दर्दनाक हो सकता है, और हेमानजियोमस के गायब होने के बाद भी एक निशान रह सकता है। एक डॉक्टर संक्रमण को रोकने के लिए एंटीबायोटिक्स लिख सकता है।

    आंखों की समस्याएं: यदि आंख के आसपास हेमानजियोमस विकसित हो जाता है, तो यह आंख पर दबाव डाल सकता है और इसे ठीक से विकसित होने से रोक सकता है। आंखों की समस्याओं का खतरा हो सकता है, जैसे ग्लूकोमा। एक डॉक्टर इस जोखिम को कम करने के लिए जल्द से जल्द इलाज करेंगे।

    अन्य स्थितियां: कभी-कभी, हेमानजियोमस एक सिंड्रोम का संकेत हो सकता है जो शरीर के अन्य भागों को प्रभावित करता है, उदाहरण के लिए, मस्तिष्क, हृदय, रक्त वाहिकाओं या आंख।

    इस स्थिति का निदान कैसे किया जाता है? (Hemangioma Diagnosis)

    एक डॉक्टर आमतौर पर देखकर हेमानजियोमस (Hemangiomas) का निदान कर सकता है। आमतौर पर, उन्हें किसी और जांच या उपचार की आवश्यकता नहीं होती है। ये सिकुड़ते और गायब हो जाते हैं जब बच्चा लगभग 5-10 वर्ष का होता है। गायब होने के बाद, स्किन में निम्न परिवर्तन दिखाई दे सकते हैं:

    कॉस्मेटिक सर्जरी अक्सर किसी भी अनवांटेड अफेक्ट में सुधार कर सकती है।

    और पढ़ें: Triphala Benefits For Skin: त्वचा के लिए त्रिफला के फायदे सिर्फ एक नहीं, बल्कि हैं कईं!

    हेमानजियोमस का इलाज (Hemangioma treatment)

    हेमानजियोमस अगर प्रॉब्लम का कारण बन रहे हैं तो डॉक्टर बीटा ब्लॉकर प्रिस्क्राइब कर सकते हैं। जो अक्सर हार्ट कंडिशन्स के लिए भी प्रिस्क्राइब की जाती हैं। अध्ययनों से पता चलता है कि यह हेमानजियोमस (Hemangiomas) के आकार को कम कर सकता है। यह शिशु में होने वाली इस कंडिशन के लिए पहला उपचार है।

    हालांकि, एक डॉक्टर केवल आवश्यक होने पर ही इस दवा को लिखेंगे क्योंकि इससे हृदय गति और रक्तचाप पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। एक डॉक्टर इस दवा को लेने वाले किसी भी बच्चे को मॉनिटर करेंगे। हालांकि, हर कोई प्रोप्रानोलोल का उपयोग नहीं कर सकता है। उदाहरण के लिए, यह अस्थमा से पीड़ित बच्चों के लिए उपयुक्त नहीं है।

    यदि कोई बच्चा प्रोप्रानोलोल का उपयोग नहीं कर सकता है, तो डॉक्टर रक्त वाहिकाओं को सिकोड़ने के लिए ओरल या टॉपिकल कॉर्टिकोस्टेरॉइड लिख सकता है। हालांकि, इनका भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। यदि अल्सर विकिसत होता है, तो डॉक्टर एंटीबायोटिक्स लिख सकते हैं।

    सर्जरी (Surgery)

    यदि आवश्यक हो, तो एक डॉक्टर आसपास के ऊतकों को नुकसान पहुंचाने से रोकने के लिए सर्जरी की सिफारिश कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, यदि इसका आकार बड़ा है या ये आंख के पास है। सर्जन ट्यूमर को काट देगा और टांके का उपयोग करके घाव को बंद कर देगा।

    उम्मीद करते हैं कि आपको हेमानजियोमस (Hemangioma) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/07/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड