Scabies: स्केबीज क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण व बचाव

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 10, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

जानिए जरूरी बातें:

स्केबीज (Scabies) एक तरह से खुजली की बीमारी है और खुजली वाली स्किन पर होती है जिसमें आपकी त्वचा को “अंडर-अटैक” होता है, जिसे सरकोप्ट्स स्कैबीज के नाम से जाना जाता है। स्किन में जलन होती है।

खुजली को एक इंफेक्शन बीमारी माना जाता है जो एविडेंट पीजिकल संपर्क के माध्यम से जल्दी से फैल सकती है

खुजली की बीमारी (स्केबीज) कितनी कॉमन है?

स्केबीज (Scabies) एक आम बीमारी है क्योंकि हर साल लगभग 300 मिलियन केस दर्ज किए जाते हैं। यह स्किन संबंधी बीमारी किसी भी उम्र में मरीजों को हो सकता है, चाहे उनकी इंकम, सोश्यल लेवल और रहने की सिचवेशन कुछ भी हो। यह आपके जोखिम कारणों को कम करने के लिए निपटा जा सकता है।ज्यादा जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

और पढ़ें : Hematoma: हेमाटोमा क्या है ?

लक्षण

स्केबीज के लक्षण क्या हैं?

स्केबीज के इनिशल जोखिम के बाद आपको पहले लक्षण को नोटिस करने में 6 सप्ताह तक का समय लग सकता है। अगर आपके स्केबीज यानी खुजली की पहले से हिंस्ट्री है, तो आपको ज्यादा तेज़ी से लक्षण डेवेलोप होने का खतरा है।

स्केबीज या खुजली की बीमारी के सामान्य लक्षण हैं जैसे:

  • तीव्र इचिंग, अक्सर गंभीर और आमतौर पर रात में बदतर।
  • पिम्पल जैसा दाने
  • थिक इरिग्यलर बेरो ट्रेक
  • आपकी त्वचा पर छोटे फफोले या फुंसी जैसे धब्बे छोटी उभरी हुई या फीकी पड़ चुकी रेखाओं के रूप में दिखाई दे सकते हैं।
  • हो सकता है कि नॉर्वीजन या क्रस्टेड स्कैबीज़ हो जिसमें हजारों माइट्स और माइक्रोप स्किन पर की मोटी क्रस्ट होती है।
  • गाढ़ा, ग्रे क्रस्ट और छूने पर वे आसानी से उखड़ जाते हैं।

आदमी और बड़े बच्चों में, खुजली सबसे ज्यादा पाई जाती है जैसे:

  • उंगलियों के बीच
  • बगल में
  • कमर के आसपास।
  • कलाई के अंदरूनी हिस्सों में
  • अपने भीतर की कोहनी पर।
  • अपने पैरों के तलवों पर।
  • ब्रीड्स के आसपास
  • पुरुष जेनिटल के आसपास
  • नितंबों पर
  • घुटनों पर
  • कंधे पर ब्लेड

शिशुओं और छोटे बच्चों को बीमारी हो सकती है

ऊपर दिए गए उनमे से कुछ संकेत या लक्षण हो सकते हैं। अगर आपको किसी लक्षण के बारे में कोई चिंता है, तो क अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें : Hemophilia: हीमोफीलिया क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

मुझे अपने डॉक्टर से कब मिलना चाहिए?

अगर आपको स्केबीज के लक्षण हैं या खुजली होने की संभावना हैं, तो आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। खुजली वाली स्किन पर खुजली और छोटे छाले जैसे लक्षण और स्किन की कंडीशन जैसे कि सूजन या एक्जिमा जैसे होते हैं। डॉक्टर की मदद से, आप पक्का कारण जान सकते हैं और पूरा कर सकते हैं कि आपको सही इलाज हो।

क्या खुजली का कारण बनता है ?

यह आठ पैरों वाला माइट है जिसे केवल माइक्रोस्कोप से देखा जा सकता है जो मनुष्यों में स्केबीज या  खुजली का कारण बनता है,। उनकी बरीप्रडक्शन आदत आपकी स्किन के नीचे एक टनल के लिए खोदना है,धुन के लार्वा आपकी त्वचा की सतह पर बढ़ने लगते हैं, फिर वे आपकी स्किन के और जगहों या और लोगों की स्किन तक फैल सकते हैं। घुन, अंडे और उनके वेस्ट मुख्य कारण हैं जो आपको उनके शरीर के लिए एलर्जी की रिएक्शन के रूप में खुजली महसूस करते हैं।

अगर आपके करीबी फिजिकल संपर्क है और इंफेक्शन व्यक्ति के साथ कपड़े, तौलिये या बिस्तर शेर करते हैं, तो माइट्स आपके पास फैल सकते हैं और जिनके कारण आपको बीमारी हो सकती है।

आपको जानवरों की खुजली वाले माइट् के संपर्क से टेंपररी त्वचा की रिएक्शन भी हो सकती है।माइट की पहर स्पेशल अपने फेवरिट होस्ट से स्टिक्स जाती है, इसलिए इस प्रकार के माइट जल्द ही मर जाएंगे अगर उन्हें सूटेबल होस्ट नहीं मिला।

खुजली के जोखिम कारण:

खुजली के लिए मेरा जोखिम क्या हो सकता है?

आप स्केबीज के लिए अपना जोखिम बढ़ा सकते हैं अगर:

  • आपने इम्यून सिस्टम को कमजोर कर देते है
  • आप स्टेरॉयड या और उपचारों का उपयोग करते हैं जैसे अर्थराइटिस के लिए कुछ दवाएं।
  • आपकी स्किन सीधी किसी ऐसे व्यक्ति से संपर्क करती है जो इंफेक्शन है।
  • आप कीमोथेरेपी से गुजर रहे हैं।
  • आप इंफेक्टेड लोगों के साथ रहते हैं या आप खुजली के हाई प्रेवेलेन्स वाले जगह में रहते हैं

और पढ़ें  : Lazy Eye : लेजी आई (मंद दृष्टि) क्या है? जानें इसके लक्षण, कारण व उपचार

खुजली के निदान और उपचार:

दी गई जानकारी किसी भी मेडिकल एडवाइज का विकल्प नहीं है।ज्यादा जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

स्केबीज का निदान कैसे किया जाता है?

आपका डॉक्टर आपकी स्किन का ऑब्जर्व करके आपकी खुजली का निदान करता है।वह माइट्स के लक्षणों की सर्च कर सकते हैं, जिसमें स्पेश्यालिटी बोरो भी शामिल है। यह पूछने के साथ-साथ आपके लक्षणों के आधार पर कि क्या आपका इंफेक्टेड व्यक्ति के साथ कोई संपर्क है,डॉक्टर डिसीजन ले सकते हैं। माइक्रोस्कोप द्वारा जाँच की गई आपकी स्किन का टेढ़ा होना, निशान की उपस्थिति का सबसे मजबूत प्रमाण दे सकता है।

और पढ़ें :Intestinal Ischemia: जानें इंटेस्टाइनल इस्किमिया क्या है?

खुजली का इलाज करने के लिए, आपको दवाओं के साथ इंफेक्शन को दूर करने की जरूरत होती है क्योंकि वो अपने आप ही दूर नहीं जाते। डॉक्टर के प्रेस्क्रिप्शन के साथ कई क्रीम और लोशन अवेलिबल हैं। आप आमतौर पर दवा को अपने पूरे शरीर पर अपनी गर्दन के नीचे से लगाते हैं, और दवा को कम से कम आठ घंटे के लिए छोड़ देते हैं।

स्केबीज आसानी से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल जाती है, इसलिए सभी घर के व्यक्ति को उपचार के साथ-साथ माइट के फैलने से रोकने के लिए ज्यादातर रेकोमेडेट किया जाता है, हालांकि खुजली के इंफेक्शन के कोई संकेत या लक्षण नोट नहीं किए जाते हैं।

स्केबीज का इलाज करने के लिए आप नीचे दिए गए टॉपिकल क्रीम प्राप्त कर सकते हैं:

  • पर्मेथ्रिन क्रीम: यह एक टॉपिकल क्रीम है जिसमें खुजली और उनके अंडे मारने के लिए केमिकल होते हैं।आदमी, गर्भवती महिलाओं और बच्चों की उम्र 2 महीने और उससे ज्यादा हो सकती है।
  • बेंजाइल बेंजोएट लोशन
  • सल्फर मरहम
  • क्रोटामिटोन क्रीम: आप इसे दिन में एक बार दो दिनों के लिए लगा सकते हैं। अगर आप इसका अक्सर उपयोग करते हैं, तो यह इफेक्टविव नहीं हो सकता है। बच्चे या महिलाएं जो गर्भवती हैं या नर्सिंग हैं वे इसका उपयोग नहीं कर सकती हैं।
  • लिंडेन लोशन: यह आपके लिए प्रस्क्रिप्शन है अगर और उपचार आपके लिए उन लक्षणों की मदद नहीं करते हैं जो और अप्रोव उपचार लागू नहीं कर सकते हैं। 2 वर्ष से कम उम्र के बच्चे, जो महिलाएं गर्भवती या नर्सिंग हैं, बुजुर्ग हैं, या कोई भी जिनका वजन 110 पाउंड (50 किलोग्राम) से कम है, उन्हें इसका उपयोग करने की अनुमति नहीं है।

इसके अलावा, आइवरमेकटिन ओरल दवा बदली हुई इम्यून सिस्टम वाले लोगों के लिए है, जिन लोगों में पपड़ी है, या उन लोगों के लिए जो प्रेस्क्रिप्शन लोशन और क्रीम का जवाब नहीं देते हैं।

हालांकि ये दवाएं माइट को तुरंत मार देती हैं, लेकिन खुजली की सनसनी अगले कुछ हफ्तों तक रह सकती है। और टॉपिकल दवाएं, जैसे कि सल्फर को पेट्रोलोटम में मिश्रित किया जाता है, उन लोगों के लिए जो इन दवाओं का उपयोग नहीं करते हैं या नहीं कर सकते हैं, जिन्हें आप अपनी बीमारी के इलाज के लिए चुन सकते हैं।

एंटीहिस्टामाइन एलर्जी की रिएक्शन में मदद कर सकते हैं। स्टेरॉयड क्रीम भी खुजली से राहत के लिए प्रस्क्रिप्शन किया जा सकता है।

और पढ़ें :Jaundice: क्या होता है पीलिया? जानें इसके कारण लक्षण और उपाय

लाइफस्टाइल में बदलाव और घरेलू उपचार:

लाइफस्टाइल में बदलाव या घरेलू उपचार क्या हैं जो मुझे खुजली से निपटने में मदद कर सकते हैं?

नीचे दिए गए लाइफस्टाइल और घरेलू उपचार आपको खुजली से निपटने में मदद कर सकते हैं जैसे:

  • दवा लगाओ यह आपको खुजली से राहत देने में मदद कर सकता है
  • अच्छी स्वच्छता का अभ्यास करें। कपड़े, टावल शेर न करे।
  • इंफेक्टेड लोगों के साथ फिजिकल संपर्क से बचें।
  • ठंडा करें और अपनी त्वचा को भिगोएँ। ठंडे पानी में भिगोने या आपकी त्वचा के चिड़चिड़े जगोह में एक ठंडा गीला धोने वाला कपड़ा लगाने से खुजली कम हो सकती है।
  • सुथिंग लोशन लगाए।मामूली स्किन की जलन के दर्द और खुजली से राहत पाने में मदद करने के लिए कैलामाइन लोशन एक इफेक्टविव तरीका है।
  • इंफेक्टेड व्यक्ति द्वारा उपयोग किए जाने वाले कोस्टली कमरे को साफ करें। अपने कपड़ों को गर्म पानी से धोएं और 10 से 30 मिनट के लिए उन्हें सुखाने के लिए गर्म तापमान वाले ड्रायर का उपयोग करें।

उपरोक्त दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Betamethasone Valerate+Neomycin Cream : बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

जानिए बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Betamethasone Valerate+Neomycin Cream डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Sunil Kumar
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल फ़रवरी 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Levocetirizine + Phenylephrine: लिवोसिट्रीजिन + फेनिलेफ्रीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

जानिए लिवोसिट्रीजिन + फेनिलेफ्रीन की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Levocetirizine + Phenylephrine डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu Sharma
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल फ़रवरी 10, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Chlorpheniramine+Phenylephrine: क्लोरफेनीरामिन+फीनाइलेफ्रीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

जानिए क्लोरफेनीरामिन+फीनाइलेफ्रीन की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, क्लोरफेनीरामिन+फीनाइलेफ्रीन उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Chlorpheniramine+Phenylephrine डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mona Narang
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल दिसम्बर 11, 2019 . 6 मिनट में पढ़ें

Oak Bark: शाहबलूत की छाल क्या है?

जानिए शाहबलूत की छाल की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, शाहबलूत की छाल उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Oak Bark डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Sunil Kumar
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल दिसम्बर 10, 2019 . 3 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

इच गार्ड/Itch Guard

Itch Guard: इच गार्ड क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
प्रकाशित हुआ जून 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
दाद का आयुर्वेदिक इलाज

दाद का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? जानिए दवा और प्रभाव

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ जून 2, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

Crabs : क्रैबस क्या है ?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Anu Sharma
प्रकाशित हुआ अप्रैल 10, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Bacitracin+Neomycin+Polymyxin B: बेकिट्रासिन+नियोमायसिन+पोलीमैक्सिन बी

Bacitracin+Neomycin+Polymyxin B: बेकिट्रासिन+नियोमायसिन+पोलीमैक्सिन बी क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Sunil Kumar
प्रकाशित हुआ फ़रवरी 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें