आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

null

अपने लो कैलोरी डायट में शामिल कर सकते हैं आलमंड मिल्क, जानिए इसके फायदे यहां....

    अपने लो कैलोरी डायट में शामिल कर सकते हैं आलमंड मिल्क, जानिए इसके फायदे यहां....

    बदाम शरीर के लिए कई प्रकार से फायदेमंद है। इसे कई तरह के स्वास्थ्य लाभों से जोड़ा गया है। यह विटामिन, खनिज और प्रोटीन से भी समृद्ध होते हैं। आलमंड मिल्क (Almond Milk) स्वाद में हल्का होता है, इसलिए बहुत से लोग इसे प्लांट बेस्ट डायट की तुलना में एक अच्छा विकल्प मानते हैं। इसे डेयरी मिल्क के विकल्प के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है, इसलिए आप इसे कॉफी, दलिया या कई बेकिंग रेसिपी में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। बादाम का दूध आप कच्चे बादाम को भिगोकर, पीसकर और छान कर बना सकते हैं। इसमें कैल्शियम, राइबोफ्लेविन, विटामिन ई और विटामिन डी जैसे पोषक तत्व शामिल हो सकते हैं। यह उन लोगों के लिए बहुत अच्छा है, जो गाय का दूध (एक डेयरी उत्पाद) नहीं पी सकते हैं। बहुत से लोग इसे सिर्फ इसलिए पीते हैं, क्योंकि उन्हें इसका स्वाद पसंद है। आइए नजर डालते हैं आलमंड मिल्क (Almond Milk) के फायदों पर :

    और पढ़ें : बदाम और दूध सोने से पहले खाना है फायदेमंद, आएगी अच्छी नींद!

    जानिए आलमंड मिल्क के फायदों के बारे में (Know about the benefits of Almond Milk)

    आलमंड मिल्क यानि कि बादाम दूध शरीर के लिए कई प्रकार से फायदेमंद है, जानिए इसके बारे में यहां:

    इसमें कई पोषक तत्व पाए जाते हैं (Contains many nutrients)

    आलमंड मिल्क में विटामिन डी, कैल्शियम और प्रोटीन की अधिक मात्रा पायी जाती है। हालांकि, बादाम का दूध कई विटामिन और खनिजों, विशेष रूप से विटामिन ई में स्वाभाविक रूप से समृद्ध होता है।

    और पढ़ें: ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स के फायदे और नुकसान जानने के लिए करें बस एक क्लिक!

    यह लो कैलोरीज होता है (it is low calorie)

    आप अपने लो कैलोरी डायट में आलमंड मिल्क को शामिल कर सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि बाजार में मौजूद पैक्ड आलमंड मिल्क में पानी मिलाकर उसे पतला किया गया होता है। इसलिए इसे लो फैट मिल्क में गिन सकते हैं। एक कप बादाम के दूध में केवल 39 कैलोरी होती है, जो कि एक कप स्किम मिल्क में कैलोरी की आधी मात्रा होती है। हालांकि, सभी पैक्ड आलमंड मिल्क एक जैसे नहीं होते हैं। घर का बना बादाम का दूध और कुछ ब्रांडों में कैलोरी की संख्या बहुत अधिक हो सकती है, यह इस बात पर निर्भर करता है कि उनके प्रति कप में कितने बादाम की मात्रा शामिल है। इसके अतिरिक्त, कुछ उत्पादों में अतिरिक्त चीनी भी मिली होती होती है, जिससे लोगों को बचना चाहिए।

    और पढ़ें: वजन घटाने के लिए कम कैलोरी वाले फूड्स की कर रहे हैं तलाश? ये 400 कैलोरी की रेसिपीज आ सकती हैं काम

    यह डेयरी फ्री प्रोडक्ट है (Dairy free product)

    बादाम के दूध प्लांट बेस्ट होता है। जिन लोगों को लैक्टोज फ्री मिल्क की आवश्यकता होती है या जिन्हें पशु उत्पादन दूध से एलर्जी होती है, तो उनके लिए यह एक अच्छा विकल्प है। डेयरी मुक्त होने के कारण, बादाम के दूध में लैक्टोज बिल्कुल नहीं होता है। लैक्टोज, एक ऐसी स्थिति है जिसमें लोग लैक्टोज को आसानी से पचा नहीं पाते हैं, यह डेयरी दूध में पाई जाने वाली नेचुरल शुगर है। यह आनुवंशिकी, बढ़ती उम्र या कुछ चिकित्सीय स्थितियों के कारण हो सकता है। कुछ लोगों में इसके सेवन से पेट दर्द, सूजन और गैस सहित कई तरह के असहज लक्षण पैदा हो सकते हैं।

    और पढ़ें: बिना शुगर और डेयरी प्रोडक्ट के डायबिटीज में कॉफी का सेवन है फायदेमंद या नुकसानदायक?

    यह हृदय रोग के जोखिम को कम कर सकता है (May reduce the risk of heart disease)

    आलमंड मिल्क का नियमित सेवन से हृदय रोग का खतरा कम होता है। इसमें कई हेल्दी फैट्स भी पाए जाते हैं। बादाम एलडीएल यानी खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने व एचडीएल यानी अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बनाए रखने में सहायक हो सकता है। शोध में यह भी बताया गया है कि लगभग 45 ग्राम बादाम का दैनिक सेवन सीवीडी यानी हृदय संबंधी बीमारियों के जोखिम को कम कर सकता है। बादाम के दूध में विटामिन ई उच्च होता है और इसमें हेल्दी फैट्स भी होता है। इसे नियमित रूप से पीने से आपके दिल को फायदा हो सकता है।

    और पढ़ें: Blood Pressure and Heart Rate: क्या ब्लड प्रेशर और हार्ट रेट दोनों का लेवल एक साथ बढ़ सकता है?

    आलमंड मिल्क विटामिन डी का अच्छा सोर्स है (Almond milk is a good source of Vitamin D)

    बहुत से लोगों में विटामिन डी की कमी पायी जाती है। जिस कारण हड्डियों का राेग, थकान और कमजोर मांसपेशियों का खतरा बढ़ जाता है। मानव आहार में विटामिन डी के कुछ ही अच्छे स्रोत हैं, जिनमें से एक आलमंड ऑयल भी है। सभी प्रकार के दूध की तरह, बादाम के दूध में अक्सर अतिरिक्त विटामिन डी होता है। बस विटामिन डी की मात्रा सभी उत्पादों में एक-दूसरे से भिन्न हो सकती है। उदाहरण के लिए, 1 कप बादाम के दूध में 2.62 माइक्रोग्राम हो सकता है, जो आपके डीवी का 13% है। इस विटामिन डी के लिए आलमंड मिल्क एक अच्छा सोर्स है, जो कि यदि आप नियमित रूप से इसका सेवन करते हैं तो कमी को रोक सकते हैं।

    और पढ़ें: शिशु के लिए बहुत जरूरी होता है विटामिन डी, कमी होने पर हो सकती हैं ये समस्याएं!

    जानिए घर पर आलमंड मिल्क कैसे तैयार करें (Know how to prepare Almond Milk at home)

    बादाम का दूध बाजार में पैक्ड में उपलब्ध है। लेकिन इसे घर पर बनाना भी बेहद आसान है। आप इसे एक ब्लेंडर में, थोड़ा पानी और एक कप बादाम डालकर ब्लेंड करें। सबसे पहले, बदाम के छिल्के को उतार लें। इसके लिए आप बादाम को 8-12 घंटे या रात भर के लिए पानी में भिगोकर रख सकते हैं। फिर इसे आसानी से छील सकते हैं। इसके बाद, बादाम को 4 कप पानी के साथ ब्लेंडर में डालें और चिकना होने तक ब्लेंड करें।

    और पढ़ें: बच्चों के लिए गोट मिल्क फॉर्मुला का करना चाहते हैं चयन, तो जानिए इससे जुड़ी अहम जानकारी!

    बादाम दूध का उपयोग करने के टिप्स (Tips for using almond milk)

    नियमित दूध की तरह, बादाम का दूध का भी उपयोग कर सकते हैं, जैसे कि :

    • इसकी कॉफी या चाय बना कर पी सकते हैं।
    • इसे स्मूदी बनाने में इस्तेमाल कर सकते हैं।
    • इसे हलवा या आइसक्रीम बनाने में इस्तेमाल कर सकते हैं।
    • सूप, सॉस और सलाद ड्रेसिंग में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

    और पढ़ें: डायबिटीज में लाल प्याज : क्यों है जरूरी इस सूपरफूड का सेवन?

    जिन लोगों को किडनी स्टोन की समस्या होती है उन्हें बादाम के दूध का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। बादाम का दूध एक अत्यधिक बहुमुखी उत्पाद है और शाकाहारी लोगों और डेयरी से एलर्जी वाले लोगों के लिए एक बढ़िया दूध विकल्प है। लेकिन यह भी जरूरी नहीं है कि आलमंड मिल्क सभी के लिए फायदेमंद है। इसका उपयोग करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से भी बात कर लें। खुद के लिए आलमंड मिल्क के अधिक फायदे जानने के लिए डॉक्टर की सलाह लें।

    health-tool-icon

    बीएमआई कैलक्युलेटर

    अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 29/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड