आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

लहसुन और शहद के क्या हैं फायदे और किस तरह से कर सकते हैं आप इनका इस्तेमाल?

    लहसुन और शहद के क्या हैं फायदे और किस तरह से कर सकते हैं आप इनका इस्तेमाल?

    गार्लिक यानी लहसुन और शहद यानी हनी को लंबे समय से कई हेल्थ बेनिफिट्स के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है। इन दोनों का कॉम्बिनेशन क्लासिक हर्बल रेमेडीज में से एक है, जिन्हें सर्दी-जुकाम के साथ ही वजन को कम करने के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है। इन दोनों में इम्यून बूस्टिंग प्रॉपर्टीज हैं और ऐसा माना गया है कि इनमे मौजूद नेचुरल कंपाउंड्स का शरीर पर पॉजिटिव इफेक्ट्स पड़ते हैं। हालांकि, लहसुन और शहद (Garlic and Honey) का सेवन करना हर किसी को पसंद नहीं होता है। लेकिन, इसके फायदे अनगिनत हैं। आज हम लहसुन और शहद (Garlic and Honey) के बारे में ही बात करने वाले हैं। सबसे पहले इन दोनों के बारे में जान लेते हैं।

    लहसुन और शहद (Garlic and Honey) की प्रॉपर्टीज क्या हैं?

    गार्लिक यानी लहसुन में एलिसिन (Allicin) होता है, जो एक ऑर्गनोसल्फर कंपाउंड है। यह इम्युनिटी लेवल को बढ़ाने में मदद करता है। ऐसा पाया गया है कि गार्लिक में पाया जाने वाले ऑर्गनोसल्फर कंपाउंड में एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीमाइक्रोबियल और कार्डियोप्रोटेक्टिव एक्टिविटीज होती हैं। यही नहीं, शहद में भी बायो कंपाउंड्स होते हैं जिनमें एंटीमाइक्रोबियल और एंटी बैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती है। लहसुन और शहद (Garlic and Honey) दोनों के कॉम्बिनेशन को इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने और सम्पूर्ण स्वास्थ्य को सुधारने के लिए बेहतरीन माना जाता है। लहसुन को शहद के साथ क्रश करके लेना इसका एक बेहतरीन तरीका है। फर्मेन्टेड लहसुन और शहद को जबरदस्त स्वास्थ्य लाभ के लिए जाना जाता है। अब जानते हैं कि लहसुन और शहद (Garlic and Honey) के क्या फायदे हैं?

    और पढ़ें: क्या आप जानते हैं गर्भावस्था के दौरान शहद का इस्तेमाल कितना लाभदायक है?

    लहसुन और शहद (Garlic and Honey) के क्या फायदे हैं?

    लहसुन और शहद (Garlic and Honey) के फायदे अनेक हैं। आइए, जानें इसके कुछ लाभों के बारे में, जो इस प्रकार हैं:

    हार्ट अटैक (Heart attack) के रिस्क को कम करे

    गार्लिक को विभिन्न तरीकों से लिया जा सकता है। इसे एक ऐसा पावरफुल नेचुरल फ़ूड माना जाता है, जो हार्ट हेल्थ को मैंटेन रखने में मदद करता है। शोधकर्ता यह मानते हैं कि गार्लिक ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल लेवल को लो रखने में सहायता मिलती है। इसके साथ ही इसके सेवन से ब्लड क्लॉट्स से भी बचा जा सकता है। शहद फेनॉलिक कंपाउंड्स से भरपूर होता है, जो नेचुरल एंटीऑक्सीडेंट्स की तरह काम करता है और कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ को सुधारता है।

    और पढ़ें: गर्म पानी के साथ शहद और नींबू लेने से बढ़ती है इम्युनिटी, जानें इसके फायदे

    सर्दी और जुकाम (Cold)

    हनी में पावरफुल एंटीवायरल प्रॉपर्टीज होती हैं। एलिसिन (Allicin) गार्लिक में पाया जाने वाला मुख्य इंग्रीडिएंट है, जो शरीर में व्हाइट ब्लड सेल्स में डिजीज-फाइटिंग रिस्पॉन्स को इम्प्रूव करता है। फर्मेन्टेड गार्लिक सर्दी-जुकाम के लक्षणों की गंभीरता को कम करने में फायदेमंद हैं।

    स्किन (Skin) के लिए बेहतरीन

    अगर आप लहसुन और शहद (Garlic and Honey) के कॉम्बिनेशन को मिला कर अपनी त्वचा पर इस्तेमाल करेंगे, तो आपकी डल स्किन में निखार आएगा। स्किन के स्वास्थ्य के लिए इस मिक्सचर को रोजाना इस्तेमाल करें और इससे आपको बेहतरीन ग्लो मिलेगा।

    और पढ़ें: मधुमेह में शहद : क्या डायबिटिक पेशेंट चीनी की जगह खा सकते हैं शहद?

    इम्युनिटी हो मजबूत (Strong immunity)

    लहसुन और शहद (Garlic and Honey) को मिला इस्तेमाल करने से इम्युनिटी स्ट्रांग बनती है। इन दोनों के गुणों के कारण हमें बीमारियों से लड़ने में आसानी होती है। इसके अन्य हेल्थ बेनिफिट्स इस प्रकार हैं:

    • वेट लॉस कम करने में मददगार है।
    • ब्रेन हेल्थ को प्रोटेक्ट करते हैं।
    • बहुत अधिक क्लॉटिंग से बचाव होता है।
    • ब्लड वेसल्स को स्टिफ या हार्ड बनाने से बचता है।

    हालांकि, इन सब क्लेम्स को लेकर अभी पर्याप्त स्टडी नहीं की गयी है। लेकिन, लहसुन और शहद (Garlic and Honey) को एक साथ खाने से कोई हानि भी नहीं होती। अब जानिए कि गार्लिक और हनी को एक साथ आप कैसे ले सकते हैं?

    लहसुन और शहद,Garlic and Honey

    और पढ़ें: शहद के लाभ : शहद के 7 फायदे ऐसे जिनको सुनकर दंग रह जाएंगे

    लहसुन और शहद (Garlic and Honey) का इस्तेमाल कैसे करें?

    अगर आप लहसुन और शहद के फायदों को पाना चाहते हैं तो आपको रोजाना इन्हें अपने आहार में शामिल करना चाहिए। जानिए आप इनका कैसे सेवन कर सकते हैं?

    आप फर्मेन्टेड गार्लिक हनी का टॉनिक या काढ़ा दिन में एक बार ले सकते हैं। एक चम्मच हनी को एक लहसुन की कली के साथ रोजाना लेना, दिन की एक अच्छी डोज है। कुछ लोग ऐसा भी मानते हैं कि इसे खाली पेट लेना चाहिए। लेकिन, इस बारे में कोई साइंटिफिक स्टडी मौजूद नहीं है। अगर आप फर्मेन्टेड गार्लिक नहीं लेना चाहते हैं तो कई अन्य तरीके भी हैं, जिससे आप इन्हें अपनी डायट में शामिल कर सकते हैं। इसके कुछ उदाहरण इस प्रकार हैं:

    • आप गार्लिक को क्रश करके और हनी को अच्छे से मिक्स कर के एक मैरिनेड तैयार कर सकते हैं। किसी ग्रिल्ड डिश जैसे ग्रिल्ड पनीर, फिश आदि में आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।
    • सामान्य हनी की जगह, गार्लिक फ्लेवर्ड हनी का इस्तेमाल करें।
    • आप सलाद की ड्रेसिंग में भी इन दोनों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इन गार्लिक को क्रश कर के हनी में मिला कर आपको केवल सलाद के ऊपर डालना है।
    • आप सब्जियों को लहसुन और हनी के साथ पका सकते हैं। ऐसा करने से भी आपको इसके सभी गुण मिल जाएंगे और सब्जी का स्वाद भी अच्छा हो जाएगा। अब जानते हैं लहसुन और शहद (Garlic and Honey) के साइड इफेक्ट्स के बारे में।

    और पढ़ें: मुंहासों के लिए कैसे बनाएं दालचीनी और शहद का मास्क?

    क्या लहसुन और शहद (Garlic and Honey) के साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं?

    लहसुन और शहद (Garlic and Honey) में मौजूद न्यूट्रिशनल और हेल्थ कंपाउंड्स से कुछ लोगों को साइड इफेक्ट्स या रिएक्शंस हो सकते हैं। अगर आपको कोई भी परेशानी हो तो तुरंत डॉक्टर से बात करें। इनके संभावित इंटरैक्शन इस प्रकार हैं:

    गार्लिक इंटरैक्शन (Garlic interaction)

    लहसुन कुछ लोगों में एलर्जिक रिएक्शंस का कारण बन सकता है। गार्लिक सप्लीमेंट्स लेने और अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से ब्लड थिन हो सकता है और ब्लीडिंग का जोखिम बढ़ सकता है। इसी कारण गार्लिक ब्लड को पतला करने वाली दवाओं के साथ नेगटिव इंटरैक्शन कर सकता है। इसमें यह सब शामिल है:

    • सैलिसिलेट (Salicylate)
    • वार्फरिन (Warfarin)

    लहसुन एक अन्य एंटीवायरल ड्रग के साथ भी इंटरैक्ट कर सकता है, जिसे सक्विनेवीर (Saquinavir) कहा जाता है। लहसुन और शहद (Garlic and Honey) में गार्लिक इंटरैक्शन के बाद अब जानते हैं हनी इंटरेक्शन्स के बारे में।

    और पढ़ें: शिशु के लिए शहद : शुरुआती सालों में बन सकता है सच्चा साथी

    हनी इंटरैक्शन (honey interaction)

    हनी का सेवन करने से डायबिटीज से पीड़ित लोगों का ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है। ऐसे में उन्हें इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। हनी किसी अन्य ड्रग के साथ इंटरैक्ट नहीं करता है, लेकिन कुछ लोगों में इससे एलर्जिक रिएक्शंस हो सकते हैं। लेकिन, हनी में अन्य तरह के पराग कण (Pollens) होते हैं जो कुछ रिएक्शंस को ट्रिगर कर सकते हैं, जैसे:

    • खांसी
    • चेहरे या गले में सूजन
    • चक्कर आना
    • जी मिचलाना
    • उलटी आना
    • कमजोरी
    • बेहोशी
    • पसीना आना
    • स्किन रिएक्शंस
    • इरेगुलर हार्ट रिदम

    और पढ़ें: लिवर साफ करने के उपाय: हल्दी से लहसुन तक ये नैचुरल चीजें लिवर की सफाई में कर सकती हैं मदद

    यह तो थी जानकारी लहसुन और शहद (Garlic and Honey) के बारे में जिनका इस्तेमाल ट्रेडिशन मेडिसिन में किया जाता रहा है। हालांकि, इसके कई हेल्थ बेनिफिट्स हैं। लेकिन, इन्हें कितनी डोज में लेना चाहिए और इसके अन्य लाभों को लेकर अभी रिसर्च की जानी जरूरी है। आप रोजाना की डिशेस में इनका इस्तेमाल कर के इनके न्यूट्रिशनल और मेडिसिनल प्रॉपर्टीज को पा सकते हैं। अगर इस बारे में आपके मन में कोई भी सवाल है, तो डॉक्टर से अवश्य बात करें।

    आप हमारे फेसबुक पेज पर भी अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    health-tool-icon

    बीएमआर कैलक्युलेटर

    अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    The Health Benefits of Garlic. https://health.clevelandclinic.org/6-surprising-ways-garlic-boosts-your-health/ .Accessed on 2/6/22

    Garlic: a review of potential therapeutic effects.https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4103721/ .Accessed on 2/6/22

    Honey. https://www.mayoclinic.org/drugs-supplements-honey/art-20363819 .Accessed on 2/6/22

    Garlic and Honey.https://www.cdc.gov/botulism/prevention.html .Accessed on 2/6/22

    Herbs and Supplements. https://medlineplus.gov/druginfo/herb_All.html

    .Accessed on 2/6/22

    लेखक की तस्वीर badge
    AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: