home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

मुंहासों के लिए कैसे बनाएं दालचीनी और शहद का मास्क?

मुंहासों के लिए कैसे बनाएं दालचीनी और शहद का मास्क?

सुंदर दिखना हर किसी को पसंद है, मगर बहुत से लोगों को स्किन केयर की चिंता सताती है, तो ऐसे में मुंहासे आपके लिए किसी बुरे सपने से कम नहीं। कितनी बार तो मुंहासे दर्दनाक, असुविधाजनक और लगातार चेहरे पर निकलकर आपके चेहरे को नुकसान भी पहुंचाते हैं। लेकिन दालचीनी और शहद के नुस्खे और औषधीय उपाय मुंहासो को कम करने में आपकी मदद कर सकते हैं।

ऐसा ही एक आयुर्वेदिक उपाय है दालचीनी और शहद का फेस मास्क। हालांकि दालचीनी और शहद का मास्क को बनाते समय कुछ बातों को ध्यान में रखना चाहिए। यदि आप इतनी सावधानी बरतते है तो आपका उपचार बहुत सुखदायक हो सकता है और इस मास्क का उपयोग आप क्लींजर के रूप में अच्छी तरह कर सकते हैं। लेकिन इससे पहले जानिए कि मुंहासे होने के पीछे क्या कारण हैं। जानिए मुहांसों का कारण। इसके बाद जानेंगे दालचीनी और शहद के फेसमास्क से कैसे मुंहासों से छुटकारा पा सकते हैं।

और पढ़ें : ब्यूटी टिप्स : घर पर इस तरह बनाएं ब्लैकहेड मास्क

मुंहासे होने के क्या कारण हैं?

हमारी चेहरे की त्वचा में छोटे-छोटे होल्स होते हैं। इसमें सिबेसियस ग्लैंड से सीबम का रिसाव होता है। यह एक तैलीय पदार्थ होता है। जब यह सीबम (sebum) इन छिद्रों पर जमा हो जाता है, तो चेहर पर पिंपल होने लगते हैं, जिसे ‘एक्ने वल्गेरिस’ कहते हैं।

मुंहासे निकलने का कारण खराब खानपान, क्रीम, लोशन, एक्सपायरी क्रीम का अधिक इस्तेमाल करना, नींद पूरी न होना, पाचन तंत्र में खराबी होने और हार्मोन में बदलाव (hormone changes) आदि भी हो सकते हैं। इन सबके अलावा, तनाव (stress) भी मुंहासे का सबसे बड़ा कारण माना जाता है।

कैसे काम करता है दालचीनी और शहद का फेस मास्क

शहद में ज्यादातर फ्रुक्टोज और ग्लूकोज है। इसके अलावा शहद में प्रोटीन, अमीनो एसिड, विटामिन, खनिज और एंजाइम भी पाए जाते हैं। सदियों से, लोगों ने शहद को एक औषधीय उपचार के रूप में इस्तेमाल किया है। शहद का उपयोग रूसी, जलने-कटने और फंगल संक्रमण के इलाज के लिए किया जाता रहा है।

इतना ही नहीं कई स्किन केयर उत्पादों में भी शहद मिलाया जाता है। पर शहद की ताकत तब बढ़ जाती है जब उसके साथ दालचीनी का प्रयोग किया जाता है। मुंहासे के इलाज के लिए शहद और दालचीनी का उपयोग करने का मुख्य कारण यह है कि यह उन जीवाणुओं को मारने में मदद कर सकता है जो चेहरे पर खुले हुए छिद्रों को बढ़ाने में योगदान करते हैं। दालचीनी में रोगाणु रोकने के भी गुण होते हैं जिसकी मदद से वो चेहरे पर बढ़ने वाले मुंहासों पर नियंत्रण कर लेता है।

कैसे बनायें दलचीनी और शहद का फेस मास्क?

शहद और दालचीनी के फेस मास्क को अपने चेहरे पर लगाकर 30 मिनट के लिये छोड़े। इस मास्क का प्रभाव लगाने वाले व्यक्ति की त्वचा पर निर्भर करता है।

और पढ़ें : घर पर बनाएं ये व्हाइटहेड्स मास्क, चेहरा हो जाएगा खिला खिला

दालचीनी और शहद का फेस मास्क बनाने की विधि निम्नलिखित है:

  1. दो बड़े चम्मच शहद के लें और इसे एक चम्मच दालचीनी के साथ मिलाएं जब तक कि यह पेस्ट जैसा पदार्थ न बन जाए।
  2. सबसे पहले मास्क का प्रयोग करने के लिए हाथ पर लागायें। ताकि ये अंदाजा लग पाए कि कहीं यह पेस्ट आपके चेहरे को सूट करता है या नहीं।
  3. अपने चेहरे की त्वचा पर इस मास्क को लगाएं।
  4. फेस मास्क लगाकर रात भर इसको चहरे पर रहने दे और सुबह गर्म पानी से मुंह धो लें या तो इसे चेहरे पर लगाने के 30 मिनट बाद धो लें। ज्यादा गरम पानी से इसे धोने की कोशिश न करें वरना यह आपके चेहरे को सूखा कर सकता है।

ध्यान में रखें यह बातें:

ऐसा संभव हो सकता है कि शहद से आपकी त्वचा को एलर्जी हो। कुछ लोगों की त्वचा संवेदनशील होने के कारण, दालचीनी से अधिक परेशानी हो सकती है। इस कारण, शहद और दालचीनी के फेस मास्क को पूरे चेहरे पर लगाने से पहले हमेशा किसी एक हाथ पर परीक्षण करना महत्वपूर्ण है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान मुंहासे हैं तो घबराएं नहीं, अपनाएं इन घरेलू नुस्खों को

मुंहासे होने पर बरतें ये सावधानियां

ध्यान खें कि मुंहासे गंदगी से बहुत जल्दी फैलते हैं। इसलिए साफ-सफाई का खास ख्याल रखने की जरूरत है। अगर आपको मुंहासे हो भी जाते हैं, तो आपको कुछ बातों का खास ध्यान रखने की जरूरत है। नीचे हम आपको मुंहासों के दौरान कुछ सावधानियां बरतने की सलाह दे रहे हैं, जिनसे इस समस्या को बढ़ने से रोका जा सकता है :

बार-बार चेहरे पर हाथ न लगाएं

भले ही आप के हाथ कितने भी साफ-सुथरे क्यों न हों लेकिन, फिर भी बार-बार अपने हाथों से चेहरे को छूना बंद करें। जब चेहरे को साफ कर रहें है, तभी चेहरे की त्वचा छुएं। इसके अलावा, अपने स्मार्टफोन को अपने चेहरे की त्वचा से दूर रखें।

मेकअप करना अवॉइड करें

ऐसे बहुत-से कॉस्मेटिक हैं, जो चेहरे के दाग-धब्बे छिपाने के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। लकिन, ध्यान रखें कि मुंहासे होने के कारणों में कॉस्मेटिक भी एक वजह हो सकती है। इसलिए, जब तक मुंहासे ठीक न हों, तब तक किसी भी तरह का मेकअप न करें। सिर्फ डॉक्टर के सलाह अनुसार बताई गई क्रीम (medicated cream) ही मुंहासे पर लगाएं।

बालों को बांध कर रखें

चेहरे की त्वचा पर बार-बार अपने बालों को आने से बचाएं। अपने बालों को हमेशा साफ रखें और उन्हें बांध कर रखें या चेहरे पर आने से रोकें। ये भी स्किन पोर्स (skin pores) में सीबम होने का एक कारण हो सकता है।

और पढ़ें : न्यू मॉम के लिए सेल्फ केयर व पेरेंटिंग हैक्स और बॉडी इमेज

चेहरे को हाथ न लगाएं

घर से बाहर निकलते समय और कहीं बाहर से घर आने पर साफ और ताजे पानी से चेहरे को अच्छी तरह से धोएं। यह मुंहासे का इलाज करने के दौरान फॉलो की जाने वाली सबसे अहम बात है। इसके लिए किसी माइल्ड साबुन या फेसवॉश का इस्तेमाल कर सकते हैं। ध्यान रखें कि चेहरे को रगड़े नहीं। हल्के हाथों का इस्तेमाल करें। इसके बाद, डॉक्टर द्वारा निर्धारित क्रीम या लोशन मुंहासे वाली जगह पर लगाएं।

लेजर ट्रीटमेंट भी है मुंहासों का इलाज

आपको बता दें कि आजकल लेजर ट्रीटमेंट के जरिए भी लोग मुंहासों का इलाज कराते हैं। इस प्रक्रिया के दौरान चेहरे की डेट स्किन निकालने के लिए लेजर वेंड का इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि, ये ट्रीटमेंट थोड़ा महंगा हो सकता है।

तो आप मुंहासे दूर करने के लिए कौन सा उपाय करना पसंद करेंगे, हमारे फेसबुक पेज पर हमें जरूर बताएं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Honey in dermatology and skin care: a review. https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/24305429/. Accessed On 09 October, 2020.

Medicinal and cosmetic uses of Bee’s Honey – A review. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3611628/. Accessed On 09 October, 2020.

Bacterial Skin Infections: Impetigo and MRSA. https://www.health.ny.gov/diseases/communicable/athletic_skin_infections/bacterial.htm. Accessed On 09 October, 2020.

Use of Masks to Help Slow the Spread of COVID-19. https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/prevent-getting-sick/diy-cloth-face-coverings.html. Accessed On 09 October, 2020.

Getting Your Cloth Face Mask. https://www.phe.gov/facecovering/Pages/cover.aspx. Accessed On 09 October, 2020.

लेखक की तस्वीर
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित
अपडेटेड 08/07/2019
x