Pedicloryl : पेडिक्लोरील क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जून 19, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

फंक्शन

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) कैसे काम करती है?

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) का उपयोग इंसोम्निया के अल्पकालिक उपचार में किया जाता है। इसके अलावा यह दवा मुख्य रूप से मेडिकल प्रोसीजर के पहले व्यक्ति को बेहोश करने के लिए की जाती है। विशेषतौर पर बच्चों के लिए इस दवा का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें मुख्य तत्व के रूप में ट्राईक्लोफॉस पाया जाता है।

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) ओरल सोल्युशन एक हिप्नोटिक (hypnotic) है। यह शरीर में एक सक्रिय यौगिक के रूप में परिवर्तित हो जाता है, जो मस्तिष्क में नींद लाने का काम करता है। इससे नींद आने में लगने वाला समय कम हो जाता है और नींद की अवधि बढ़ जाती है।

और पढ़ें – Udiliv 300: उडिलिव 300 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डोसेज

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) का सामान्य डोज क्या है?

सामान्य खुराक 25-30 मिलीग्राम (1 साल तक ) और 250 से 500 मिलीग्राम (1-5 वर्ष की आयु) और 500mg-1000 मिलीग्राम (6-12 वर्ष) है। पेडिक्लोरील (Pedicloryl) की खुराक डॉक्टर द्वारा निर्धारित की जाती है और उसी के अनुसार मरीज को इसका सेवन करना चाहिए। दवा की खुराक मरीज की उम्र, स्वास्थ्य स्थिति, रोग और ट्रीटमेंट की वृद्धि पर निर्भर करती है। दवा का सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श करें। इसके अलावा खुराक लेने का तरीका लेबल पर दिया गया है उसे ध्यानपूर्वक पढ़ें।

और पढ़ें – Aceclo Plus: एसिक्लो प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

दवा की ओवरडोज की स्थिति में निम्न लक्षण दिखाई देने पर बिना देर किए तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

  • चक्कर आना
  • घबराहट
  • भूख न लगना
  • सांस लेने में तकलीफ
  • त्वचा पर लाल चकत्ते
  • पेट दर्द
  • पित्ती
  • बेचैनी
  • जी मचलना
  • अनियमित दिल की धड़कन आदि।

ओवरडोज के कारण होने वाले सभी साइड इफेक्ट्स और लक्षणों के बारे में यहां नहीं बताया जा सकता है। इसलिए, शरीर में किसी भी प्रकार की असुविधा या असामान्य लक्षण महसूस होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें – Citralka syrup: सिट्रलका सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) को डॉक्टर द्वारा बताए गए समय पर ही लेना चाहिए। हालांकि, डोज मिस होने पर तुरंत उसका सेवन करें, लेकिन अगर अगली खुराक का समय पास आ चुका है तो भूली हुई खुराक को छोड़कर, डॉक्टर द्वारा निर्धारित किए गए समय पर अगली खुराक का सेवन करें। कभी भी एक साथ दो खुराक न लें।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

उपयोग

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

इस दवा को अपने डॉक्टर द्वारा बताई गई खुराक और अवधि में लें। उपयोग से पहले दिशाओं के लिए लेबल की जांच करें। इसे दवा के साथ मिलने वाले मेजरिंग कप से ही मापें। दवा के इस्तेमाल से पहले बोतल को अच्छी तरह हिलाएं। पेडिक्लोरील ओरल सोल्युशन को भोजन के साथ या बिना भोजन के लिया जा सकता है, लेकिन बेहतर परिणामों के लिए इसे निश्चित समय पर लेना सबसे बेहतर है। अगर आपको पेडिक्लोरील की सही खुराक के बारे में नहीं पता है तो इसके लिए डॉक्टर या केमिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें – Karvol Plus: कारवोल प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

साइड इफेक्ट्स

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इस दवा के कुछ सामान्य दुष्प्रभावों में उल्टी, सुस्ती, मतली और बिगड़ा हुआ बॉडी को-ऑर्डिनेशन शामिल है। इसके दुष्प्रभाव के रूप में चक्कर आना भी शामिल है। इसे सावधानी के साथ इस्तेमाल किया जाना चाहिए। इस दवा के दुष्प्रभाव हर व्यक्ति के लिए अलग-अलग हो सकते हैं। यह उम्र, बीमारी की वजह और इलाज की प्रक्रिया पर निर्भर करता है। इस दवा के सामान्य दुष्प्रभावों से बचने के लिए आप नियमित अंतराल पर कई बार छोटी-छोटी मील्स लें। वसायुक्त, तले, मसालेदार और बहुत मीठे खाद्य पदार्थों से बचें।

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) के सभी साइड इफेक्ट्स को इस लिस्ट में शामिल नहीं किया जा सकता है। इसलिए किसी भी तरह की शरीर में असुविधा महसूस होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें – Nicotex: निकोटेक्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानियां और चेतावनी

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

पेडिक्लोरील (Pedicloryl) का इस्तेमाल करने से पहले आपको कई सारी सावधानियां बरतने की जरूरत पड़ सकती है। इस ओरल सस्पेंशन के सेवन से पहले निम्न जानकारी के बारे में जान लें-

  • अगर आप दवा में मौजूद सक्रिय घटक ट्राईक्लोफॉस से एलर्जिक हैं तो इसका सेवन बिलकुल न करें और अन्य विकल्पों का चयन करें। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श करें।
  • इस दवा के उपयोग से कुछ रोगियों में चक्कर आना या सुस्ती की समस्या हो सकती है। इसलिए, यह सलाह दी जाती है कि दवा के सेवन के तुरंत बाद आप ऐसी कोई भी गतिविधि न करें जिसमें हाई मेंटल फोकस की आवश्यकता होती है जैसे गाड़ी या ऑपरेटिंग मशीनरी चलाना।
  • इस दवा के विशेष रूप से लंबे समय तक उपयोग या अत्यधिक खुराक के बाद निर्भरता और दुरुपयोग का कारण बन सकती है। शराब या मादक द्रव्यों के ज्यादा सेवन की हिस्ट्री वाले लोगों को इस दवा पर ध्यान से इलाज किया जाना चाहिए।
  • ट्रीटमेंट के बंद होने के बाद विदड्रॉल सिम्प्टम का कारण बन सकती है। यह जोखिम विशेष रूप से तब अधिक होता है अगर उपचार अचानक बंद कर दिया जाता है। किसी भी असामान्य लक्षण जैसे कि अत्यधिक चिंता, चिड़चिड़ापन, मांसपेशियों में दर्द, भ्रम, बेचैनी आदि के मामले में आपातकालीन चिकित्सा उपचार की तलाश करें, अपने डॉक्टर से परामर्श के बिना इस दवा का उपयोग बंद न करें।
  • इस दवा का उपयोग अत्यधिक सावधानी के साथ किया जाना चाहिए क्योंकि रेस्पिरेटरी डिप्रेशन, कोमा और मृत्यु जैसे दुष्प्रभावों का खतरा भी हो सकता है। यह जोखिम विशेष रूप से अधिक है अगर इस दवा का उपयोग ओपिओइड (opioids) के साथ किया जाता है। इस दवा के साथ उपचार के दौरान किसी भी गंभीर दुष्प्रभाव के लिए रोगी की मॉनिटरिंग की सिफारिश की जाती है।
  • रोगी की स्थिति बिगड़ने के बढ़ते जोखिम के कारण रीनल इम्पेयरमेंट (renal impairment) वाले रोगियों के लिए इस दवा के उपयोग पर मनाही है।
  • पेडिक्लोरील (Pedicloryl) का उपयोग लिवर की बीमारी के रोगियों में सावधानी के साथ किया जाना चाहिए। पेडिक्लोरील के खुराक समायोजन की आवश्यकता हो सकती है। कृपया अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

और पढ़ें – Ondem: ओंडम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान पेडिक्लोरील (Pedicloryl) को लेना सुरक्षित है?

जब तक बहुत जरूरी न हो यह दवा गर्भवती महिलाओं में उपयोग के लिए अनुशंसित नहीं है। इस दवा को लेने से पहले डॉक्टर के साथ सभी जोखिमों और लाभों पर चर्चा की जानी चाहिए। स्तनपान के दौरान भी इस दवा का सेवन बहुत सावधानी के साथ करना चाहिए। ब्रेस्टफीडिंग तब तक नहीं करानी चाहिए जब तक कि मां का इलाज पूरा न हो जाए।

और पढ़ें – Avil: एविल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां पेडिक्लोरील (Pedicloryl) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

सभी दवाएं व्यक्ति से व्यक्ति के लिए अलग-अलग इंटरैक्ट करती हैं। किसी भी दवा को शुरू करने से पहले आपको अपने डॉक्टर के साथ सभी संभावित इंटरैक्शन की जांच करनी चाहिए। यह दवा बेंजोडायजेपाइन के साथ इंटरैक्ट कर सकती है।

चक्कर आना, सुस्ती और ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई जैसे केंद्रीय तंत्रिका तंत्र दुष्प्रभावों के बढ़ते जोखिम के कारण इस दवा को इस्तेमाल करते समय एल्कोहॉल न लेने की सिफारिश की जाती है।

और पढ़ें – Unienzyme: युनिएंजाइम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्टोरेज

मैं पेडिक्लोरील (Pedicloryl) को कैसे स्टोर करूं?

दवाई कमरे के सामान्य तापमान में स्टोर करें। साथ ही सुनिश्चित करें कि दवा पर सूर्य की सीधे किरणें और अन्य प्रकार की हीट न पड़े। पेडिक्लोरील (Pedicloryl) को बच्चों और पालतू जानवरों के संपर्क में न आने दें। इसको स्टोर करने के तरीके के बारे में आप इस पर लगे लेबल से भी जानकारी ले सकते हैं।

यहां दी गई जानकारी डॉक्टरी सलाह का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए डाॅक्टर से संपर्क करें। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी प्रकार की चिकित्सा सलाह, उपचार और निदान प्रदान नहीं करता।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Coronavirus Lockdown : क्या कोरोना के डर ने आपकी रातों की नींद चुरा ली है, ये उपाय आ सकते हैं आपके काम

महामारी में अनिद्रा की समस्या ज्यादातर लोगों को सता रही है। महामारी के कारण लोगों में अधिक चिंता बढ़ गई है जिसके कारण नींद न आने की समस्या हो रही है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
स्लीप, स्वस्थ जीवन अप्रैल 8, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

सोशल मीडिया और टीनएजर्स का उससे अधिक जुड़ाव मेंटल हेल्थ के लिए खतरनाक

सोशल मीडिया और टीनएज का संबंध गहरा हो चुका है। टीनएजर्स को भले ही इस बात की जानकारी न हो, लेकिन सोशल मीडिया के अधिक यूज से मेंटल हेल्थ पर बुरा प्रभाव पड़ता है। in hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
स्वास्थ्य बुलेटिन, लोकल खबरें मार्च 2, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Quiz: मूड स्विंग्स से जुड़ी ये जरूरी बातें नहीं जानते होंगे आप, क्विज खेलें और बढ़ाएं अपना ज्ञान

मूड स्विंग्स के लक्षण क्या होते हैं? मूड स्विंग्स से जूझ रहे लोगों का किस तरह ध्यान रखना चाहिए? खाने पीने की किन चीजों का असर हमारे मूड पर पड़ता है?

के द्वारा लिखा गया Mona narang
क्विज फ़रवरी 13, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

Insomnia: अनिद्रा क्या है?

जानिए अनिद्रा क्या है in hindi, अनिद्रा के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, Insomnia को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anoop Singh
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z फ़रवरी 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

बच्चों को नींद न आना-bacho-ko-neend-na-aana

बच्चों को नींद न आना नहीं है मामूली, उनकी अच्छी नींद के लिए अपनाएं ये टिप्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ मई 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
नींद की कमी/ nind na ane ka ilaj

नींद की कमी का करें इलाज, इससे हो सकती हैं कई बड़ी बीमारियां

के द्वारा लिखा गया shalu
प्रकाशित हुआ मई 12, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
महिला और पुरुषों के स्लीप पैटर्न

महिला और पुरुषों के स्लीप पैटर्न क्यों होते हैं अलग?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ मई 4, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
स्लीप हिप्नोसिस

क्या सच में स्लीप हिप्नोसिस से आती है गहरी नींद?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ अप्रैल 28, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें