Smuth Ointment : स्मूथ ऑइंटमेंट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 23, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

फंक्शन

स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) कैसे काम करता है?

स्मूथ क्रीम एक संयोजन दवा है जिसका उपयोग बवासीर के उपचार में किया जाता है। यह ऑइंटमेंट दर्द, सूजन, खुजली और गुदा क्षेत्र में समस्याओं से पीड़ित लोगों में स्टूल पास करने की परेशानी से राहत देता है। इस ऑइंटमेंट में चार मुख्य इंग्रिडेंट लिडोकेन / लिग्नोकेन, कैल्शियम डोबेसिलेट, हाइड्रोकार्टिसोन और जिंक (Lidocaine/lignocaine + Calcium Dobesilate + Hydrocortisone + Zinc) पाए जाते हैं।

लिडोकेन / लिग्नोकाइन

एक लोकल एनेस्थेटिक (local anesthetic) है जो पेन सिग्नल्स को दिमाग तक पहुंचने से ब्लॉक करता है। इससे दर्द का एहसास कम होता है।

कैल्शियम डोबेसिलेट

कैल्शियम डोबेसिलेट एक वासोप्रोटेक्टिव (vasoprotective) एजेंट है जो छोटी रक्त वाहिकाओं की दीवारों पर काम करता है और उनके रिसाव और नाजुकता को कम करता है। यह रक्त की चिपचिपाहट यानी ब्लड को थिन करके रक्त प्रवाह में सुधार करता है। इससे पाइल्स में होने वाली सूजन और लालिमा से राहत मिलता है। साथ ही हीलिंग को भी बढ़ावा मिलता है।

हाइड्रोकार्टिसोन

हाइड्रोकार्टिसोन एक स्टेरॉयड है जो पाइल्स (hemorrhoids) के कारण होने वाली लालिमा, खुजली और सूजन को कम करता है।

जिंक

जिंक एस्ट्रिजेंट और एंटीसेप्टिक की तरह काम करता है।

और पढ़ें : Betamethasone Valerate+Neomycin Cream : बेटामेथासोन वेलरेट+नियोमायसिन क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डोसेज

स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) का सामान्य डोज क्या है?

डॉक्टर स्थिति की गंभीरता के आधार पर दिन में एक या दो बार स्मूथ ऑइंटमेंट की एक पतली परत को प्रभावित क्षेत्र पर लगाने के लिए निर्देशित कर सकते हैं। जब तक डॉक्टर आपको ड्रेसिंग के लिए न कहें, तब तक ड्रेसिंग के साथ उपयोग न करें। यदि ट्रीटमेंट के 2 सप्ताह के भीतर कोई सुधार नहीं दिखता है, तो दोबारा निदान की आवश्यकता हो सकती है। यह ऑइंटमेंट केवल एक्सटर्नल यूज के लिए है। इस ऑइंटमेंट की मात्रा जितनी डॉक्टर द्वारा बताई जाए, उतनी ही उपयोग करनी चाहिए। ऑइंटमेंट की ज्यादा मात्रा अप्लाई करने से त्वचा को नुकसान पहुंच सकता है।

और पढ़ेंः Acemiz MR : एसीमिज एमआर क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) की खुराक मिस हो जाए तो क्या करूं?

स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) लगाना यदि भूल जाए तो याद आते ही उसे लगा लें। लेकिन, इसका यह मतलब नहीं है कि आपको जब याद आए तो ऑइंटमेंट को बढ़कर लगाना है। ऑइंटमेंट का उपयोग ज्यादा मात्रा में बिल्कुल न करें।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

निर्धारित खुराक से अधिक ऑइंटमेंट का उपयोग न करें। अधिक मात्रा में दवा लगाने से आपके लक्षणों में सुधार नहीं होगा; बल्कि वे विषाक्तता या गंभीर दुष्प्रभावों का कारण बन सकते हैं। यदि आपको लगता है कि आपने ऑइंटमेंट की ज्यादा खुराक लगा ली है और उसकी वजह से शरीर में कुछ असामान्य लक्षण दिखें, तो नजदीकी अस्पताल में डॉक्टर को दिखायें।

और पढ़ें : Chlorpheniramine Maleate: क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग

स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) का उपयोग आपके डॉक्टर द्वारा निर्देशित खुराक और ड्यूरेशन में ही किया जाना चाहिए।
  • ऑइंटमेंट को कैसे इस्तेमाल करना है इसके लिए पैकेज पर लिखे दिशा निर्देशों को अच्छी तरह से फॉलो करें। डोज को डॉक्टर के सुझाव के अनुसार ही लगाना चाहिए, न तो ज्यादा और न ही कम।
  • इस ऑइंटमेंट को लगाने से पहले सुनिश्चित करें कि प्रभावित हिस्सा साफ और सूखा हो। फिर इसे धीरे-धीरे रब करें ताकि ऑइंटमेंट त्वचा में आसानी से एब्सॉर्ब हो जाए।
  • ऑइंटमेंट को लगाने से पहले और बाद में अपने हाथों को अच्छी तरह से धोना सुनिश्चित करें।
  • अपने डॉक्टर से बात किए बिना अचानक इसका उपयोग करना बंद न करें, क्योंकि इससे आपकी स्थिति बिगड़ सकती है।
  • जब तक डॉक्टर न कहे, प्रभावित हिस्से की ड्रेसिंग न करें।
  • इस ऑइंटमेंट के इस्तेमाल के बाद यदि आपको ज्यादा इर्रिटेशन हो रही है, तो ऑइंटमेंट का उपयोग करना बंद कर दें और अपने डॉक्टर को बताएं।
  • स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) के उपयोग संबंधी अधिक जानकारी के लिए डॉक्टरी सलाह लें।

और पढ़ें : Atorvastatin : एटोरवास्टेटिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

स्मूथ ऑइंटमेंट के कुछ गंभीर दुष्प्रभाव में शामिल है

यह ऑइंटमेंट आपकी त्वचा से पास हो सकता है। नतीजन, एड्रेनल ग्लैंड (अधिवृक्क ग्रंथि) की समस्याओं का कारण बन सकता है। यह ज्यादातर उन लोगों में होता है जो बहुत लंबे समय तक स्मूथ ऑइंटमेंट का उपयोग करते हैं। या इसे एक बड़े प्रभावित हिस्से के लिए उपयोग करते हैं। डॉक्टर इस ऑइंटमेंट के साथ उपचार के दौरान और बाद में एड्रेनल ग्लैंड फंक्शन की जांच के लिए ब्लड टेस्ट भी कर सकते हैं।

प्रभावित हिस्से में ऑइंटमेंट के इस्तेमाल से कुछ त्वचा की समस्याएं जैसे- त्वचा का पतला होना, स्किन इंफेक्शन और एलर्जी प्रतिक्रियाएं देखने को मिल सकती हैं। अपने डॉक्टर को बताएं अगर आपको स्किन रिएक्शन के तौर पर दर्द, टेंडरनेस, सूजन, या हीलिंग प्रॉबल्म के लक्षण मिलते हैं।

आम दुष्प्रभाव

सभी दवाओं के कुछ कॉमन साइड इफेक्ट्स होते हैं। स्मूथ ऑइंटमेंट के सबसे आम दुष्प्रभावों में जलन, ईचिंग या स्किन इर्रिटेशन महसूस होना शामिल है। हालांकि, ये लक्षण अगर ज्यादा दिनों तक बने रहते हैं, तो इस स्तिथि में डॉक्टर से परामर्श लेना बहुत जरूरी हो जाता है।

ऑइंटमेंट का इस्तेमाल करने वाले सभी लोगों में ये लक्षण नजर आए ऐसा जरूरी नहीं है। कुछ साइड इफेक्ट्स ऐसे भी हैं, जिनके बारे में यहां पर नहीं बताया गया है। अगर आपको इससे होने वाले किसी भी तरह के साइड इफेक्ट को लेकर कोई सवाल है, तो आपने डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें : Fertisure M Tablet : फर्टिश्योर एम टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानियां और चेतावनी

स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

  • अगर आपको इस दवा में मौजूद किसी भी तत्व लिडोकेन / लिग्नोकेन, कैल्शियम डोबेसिलेट, हाइड्रोकार्टिसोन और जिंक (Lidocaine/lignocaine + Calcium Dobesilate + Hydrocortisone + Zinc) से एलर्जी है। या कोई अन्य एलर्जी है, तो ऑइंटमेंट का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं।
  • यह ऑइंटमेंट केवल बाहरी त्वचा पर उपयोग के लिए अनुशंसित है। इस ऑइंटमेंट को अपनी आंखों, नाक या मुंह के कॉन्टैक्ट में आने से बचाएं। यदि एक्सिडेंटल एक्सपोजर होता है, तो अपनी आंखों को पानी से धो लें और तत्काल चिकित्सा की तलाश करें।
  • स्मूथ ऑइंटमेंट का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर को दवाओं की वर्तमान लिस्ट, काउंटर प्रोडक्ट्स (जैसे विटामिन, हर्बल सप्लीमेंट, आदि), पहले से मौजूद बीमारियों और वर्तमान स्वास्थ्य स्थितियों (जैसे गर्भावस्था, सर्जरी, आदि) के बारे में सूचित करें।
  • स्मूथ ऑइंटमेंट 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोगों में पाइल्स से राहत के लिए टॉपिकल यूज के लिए निर्देशित की जाती है। इससे कम उम्र के लोगों को इसका इस्तेमाल नहीं करने की सलाह दी जाती है।
  • पाइल्स के बुजुर्ग रोगियों में इस ऑइंटमेंट के इस्तेमाल के दौरान विशेष सावधानी बरतने की जरूरत होती है।
  • इस ऑइंटमेंट को खुले घाव, सूखी या धूप में जली हुई त्वचा पर उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें
  • ऑइंटमेंट को अत्यधिक मात्रा में लगाने से बुरे परिणाम मिल सकते हैं। स्किन पीलिंग से बचने के लिए दवा की एक पतली परत या कम मात्रा का ही उपयोग करें।
  • वैसे तो स्मूथ ऑइंटमेंट किडनी डिजीज के रोगियों में उपयोग करने के लिए सुरक्षित है। हालांकि, उपलब्ध डेटा काफी सीमित है। इसलिए, कृपया अपने डॉक्टर से इस बारे में परामर्श करें।
और पढ़ें : Mucopain gel: म्यूकोपेन जेल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) को लगाना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी के दौरान इस ऑइंटमेंट का इस्तेमाल करना असुरक्षित हो सकता है। प्रमुख जन्म दोषों और गर्भपात के लिए इस ऑइंटमेंट से जुड़े जोखिम की जानकारी देने के लिए गर्भवती महिलाओं में स्मूथ ऑइंटमेंट के उपयोग की कोई नैदानिक ​​जानकारी उपलब्ध नहीं है। हालांकि, एनिमल स्टडीज में पाया गया है कि ऑइंटमेंट के उपयोग से डेवलपिंग बेबीज को कुछ जन्म संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। गर्भावस्था या स्तनपान के दौरान ऑइंटमेंट का प्रयोग करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानियां हो सकती हैं, इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं है। यानी स्मूथ ऑइंटमेंट का इस्तेमाल करने से प्रेग्नेंट और स्तनपान कराने वाली महिलाओं में कुछ जोखिम हो सकते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इस स्थिति में किसी भी दवा के इस्तेमाल से पहले डॉक्टर से रिस्क और बेनिफिट्स पर पहले से ही चर्चा करें।

और पढ़ें : Cifran CTH : सिफ्रान सीटीएच क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

  • बीटा-ब्लॉकर्स के साथ इस ऑइंटमेंट का इस्तेमाल ब्रैडीकार्डिया और हाइपोटेंशन के जोखिम को बढ़ाता है।
  • नॉरपेनेफ्रिन (Norepinephrine) और बीटा-ब्लॉकर्स हेपाटिक ब्लड फ्लो को कम (विषाक्तता में वृद्धि) करती हैं।
  • इसाड्राइन (isadrine) और ग्लूकेगॉन (glucagon) स्मूथ ऑइंटमेंट (लिडोकेन) की निकासी बढ़ाते हैं।
  • सिमेटिडाइन (Cimetidine) ऑइंटमेंट के प्लाज्मा कंसंट्रेशन को बढ़ाता है।
  • बार्बिटुरेट्स (Barbiturates) के साथ स्मूथ ऑइंटमेंट का इस्तेमाल माइक्रोसोमल एंजाइम के डीग्रेडेशन को प्रोत्साहित करते हैं जिससे ऑइंटमेंट की एक्टिविटी कम हो जाती है।
  • एंटीकॉनवल्सेन्ट्स/ Anticonvulsants (हाइडेंटोइन डेरिवेटिव्स) लिवर में बायोट्रांसफॉर्मेशन (ब्लड कंसंट्रेशन में कमी) में तेजी लाते हैं।
  • एंटीरैडियेटिक्स (amiodarone, verapamil, quinidine, aymalin) कार्डियक डिप्रेशन को बढ़ावा दे सकता है।
  • नोवोकेनैमाइड (novocainamide) के साथ ऑइंटमेंट का संयोजन सेंट्रल नर्वस सिस्टम (सीएनएस) की उत्तेजना को बढ़ा सकते हैं। यह मतिभ्रम (hallucination) का कारण बन सकता है।

यह ऑइंटमेंट अलग-अलग लोगों पर अलग-अलग तरीके से रिएक्शन करती है। ऐसे में डॉक्टरी सलाह लेने के बाद ही दवा का उपयोग करना चाहिए। इस दवा के साथ ऊपर बताई गई दवाओं के अलावा भी कुछ और दवाएं इंटरैक्ट कर सकती हैं इस बारे में पूरी जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श करें।

और पढ़ें- Budesonide : बुडेसोनाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) भोजन या एल्कोहॉल के साथ रिएक्शन करती है?

एल्कोहॉल के साथ स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) के इस्तेमाल से दवा का असर प्रभावित हो सकता है और इससे साइड इफेक्ट्स का खतरा भी बढ़ सकता है। यदि आप नियमित तौर पर एल्कोहॉल का सेवन करते हैं तो इस ऑइंटमेंट का इस्तेमाल करने के साथ शराब का सेवन करने को लेकर डॉक्टरी सलाह जरूर लें। एल्कोहॉल के साथ इस ऑइंटमेंट का इस्तेमाल करने से क्या प्रभाव हो सकते हैं इसको लेकर अभी पर्याप्त शोध नहीं किए गए हैं। इसलिए, बेहतर यही होगा कि आप डॉक्टरी सलाह लें।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

स्टोरेज

स्मूथ ऑइंटमेंट (Smuth Ointment) को कैसे करूं स्टोर?

इस दवा को कंटेनर या उस पैक में रखें, जो कसकर बंद हो सके। पैक या लेबल पर दिए गए निर्देशों के अनुसार इसे स्टोर करें। स्मूथ ऑइंटमेंट को सामान्य रूम टेम्प्रेचर पर ही स्टोर करें। साथ ही इसे सूरज की सीधी रोशनी और नमी से बचाकर रखें। इस क्रीम को स्टोर करने के लिए 20 से 25 डिग्री टेम्प्रेचर बेस्ट है, लेकिन फ्रिज में ऑइंटमेंट को स्टोर गलती से भी न करें। इसके अलावा सेफ्टी के लिए इसे बच्चों और पालतू जानवर की पहुंच से दूर रखना चाहिए। एक्सपायरी होने के पहले ही ऑइंटमेंट का इस्तेमाल कर लेना चाहिए। ऑइंटमेंट को उपयोग करने के बाद कैसे डिस्पोज करना है, इस बारे में फॉर्मासिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : Moisturex Soft Cream: मॉइस्चरेक्स सॉफ्ट क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

यह दवा किस रूप में उपलब्ध है?

यह दवा कैप्सूल और ऑइंटमेंट के रूप में मार्केट में उपलब्ध है।

उम्मीद है कि ये आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार होगा। इस आर्टिकल में बताए गए सभी दिशा-निर्देशों के बाद भी अपने डॉक्टर के द्वारा सलाह दिए जाने पर ही इस ऑइंटमेंट का उपयोग करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Fatty Liver : फैटी लिवर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

फैटी लिवर जो कि सिरोसिस के बाद लिवर फेलियर तक का कारण बन सकती है। आइए जानते हैं कि, इसे कैसे कंट्रोल किया जाए। Fatty Liver in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Throat Ulcers : गले में छाले क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

गले में छाले होने की वजह से आपको खाने-पीने, बात करने आदि में दर्द व परेशानी हो सकती है। आइए, जानते हैं कि गले में छाले के लक्षण, कारण और इलाज क्या होता है। Throat ulcer in Hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Fatigue : थकान क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

थकान की अनुभूति तो सब करते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं यह होता क्यों है? जानिये कैसे थकान को नैचुरल तरीके से कम किया जा सकता है। Fatigue in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Hepatitis : हेपेटाइटिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

लिवर में सूजन आने की समस्या को हेपेटाइटिस कहा जाता है। इससे बचने के उपाय व इलाज के बारे में विस्तार से जानते हैं। Hepatitis in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

पाइल्स का आयुर्वेदिक इलाज - Ayurvedic treatment of piles

बवासीर या पाइल्स का क्या है आयुर्वेदिक इलाज

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
प्रकाशित हुआ सितम्बर 2, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
कैल्शियम डोबेसिलेट

Calcium dobesilate : कैल्शियम डोबेसिलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

बवासीर (piles) का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? पाइल्स होने पर क्या करें और क्या न करें?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जून 15, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Weakness : कमजोरी

Weakness : कमजोरी क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
प्रकाशित हुआ जून 12, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें