Wild Thyme: वाइल्ड थाइम क्या है?

By Medically reviewed by Dr. Hemakshi J

परिचय

वाइल्ड थाइम (Wild Thyme) क्या है?

वाइल्ड थाइम एक हर्ब है जिसके फूलों का प्रयोग दवाइयों में किया जाता है। ये मिंट (पुदीना) परिवार का सदस्‍य है। इसका वैज्ञानिक नाम थाइमस पॉलीट्राइटिस (Thymus polytrichus) है। गर्मियों में इसकी बेल पर पिंक और डार्क पर्पल कलर के फूल लगते हैं। इसका प्रयोग कई डिशेज में भी किया जाता है। इसकी तेज गंध ऑरिगेनो से मिलती-जुलती होती है। 

वाइल्ड थाइम (Wild Thyme) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

बहुत सारे लोग इसे सास संबंधित परेशानियां जैसे कफ, ब्रोंकाइटिस और वायुमार्ग में सूजन के लिए लेते हैं। इसे किडनी संबंधित परेशानियां, आंतों में गैस और पेट में दर्द के लिए भी लिया जाता है। कुछ लोग दर्द से निजात पाने के लिए इसे सीधे स्किन पर लगाते हैं। वाइल्ड थाइम की रोजमेरी के साथ चाय बनाकर पीने से सिरर्दद और घबराहट में आराम मिलता है। जिन लोगों का डाइजेशन कमजोर है उनके लिए भी ये बेहद फायदेमंद है।

एंटी फंगल (Anti Fungal):

थाइम में थाइमोल पाया जाता है, जिसमें फंगल और वायरल संक्रमण को रोकने की क्षमता होती है। 

तनाव को करे दूर (Removes stress):

इसकी तेज गंध तनाव को दूर करने में मदद करता है। प्राचीन समय से तनाव से ग्रसित लोगों के इलाज के लिए इसका प्रयोग किया जा रहा है।

दिल को रखे स्वस्थ (Keep Heart Healthy):

इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स ऑक्सीडेटिल तनाव को दूर कर दिल, आंखों, नर्वस सिस्टम और त्वचा संबंधित परेशानियों से निजात दिलाता है। इसमें पाए जाने वाले पोटेशियम और मैंगनीज दिल के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं| यह एथेरोस्क्लेरोसिस को रोकने और स्ट्रोक, दिल के दौरे, और कोरोनरी हृदय रोगों के होने की संभावना को कम करते हैं।

पाचन संबंधित परेशानियों को करे दूर (Digestion related problems):

इसमें भरपूर मात्रा में कारवाकरोल होता है जो आंतों के स्वास्थ्य और पाचन में सुधार में मददगार है।

इन बीमारियों में मददगार:

  • किडनी संबंधित परेशानियां (Kidney Related Problems)
  • संक्रमण (Infection)
  • ब्लड सर्कुलेशन में सुधार (Improvement in blood circulation)
  • बेड कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए (To reduce bad cholesterol)
  • अर्थराइटिस (Arthritis)
  • एग्जीमा (Eczema)
  • ब्लैडर में किसी तरह की दिक्कत (Bladder related problems)
  • इसका उपयोग करने से नींद अच्छी आती है। जिन लोगों नींद न आने की समस्या है उनके लिए यह बेहद काम की हर्ब है।
  • इम्यून सिस्टम को स्टिमुलेट करने में भी यह सहायक है।

 हालांकि इन सभी उपयोगों के लिए वाइल्ड थाइम की प्रभावशीलता को निर्धारित करने के लिए अधिक शोध की आवश्यकता है।

कैसे काम करता है वाइल्ड थाइम (Wild Thyme)?

वाइल्ड थाइम में एरोमेटिक, एंटीसेप्टिक, स्टीमुलेंट, एंटीस्पास्मोडिक, डायूरेटिक गुण होते हैं, जो हमें कई परेशानियों से दूर रखने में मदद करते हैं। इस बारे में कोई पर्याप्त अध्ययन नहीं है कि वाइल्ड थाइम कैसे काम करता है। इस पर अधिक शोध होने की जरूरत है। अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

ये भी पढ़ें: Chocolate: चॉकलेट क्या है?

उपयोग

कितना सुरक्षित है वाइल्ड थाइम (Wild Thyme) का उपयोग ?

वाइल्ड थाइम का सीमित मात्रा में सेवन करना सबके लिए सुरक्षित है। ज्यादा मात्रा में इसका सेवन हानिकारक साबित हो सकता है। अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट या हर्बलिस्ट से परामर्श करें, यदि:

  • आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्ट फीडिंग करा रही हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इस दौरान गर्भवती मां की इम्यूनिटी काफी कमजोर होती है, ऐसे में  किसी भी तरह की दवाई लेने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लेनी चाहिए।
  • आप पहले से ही दूसरी दवाइयां ले रहे हैं या बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन वाली के दवाइयां ले रही हों।
  • आपको थाइम या दूसरी दवाओं या फिर हर्ब्स से एलर्जी है।
  • आपका थायरॉइड डिसऑर्डर है तो भी इसे एवॉइड करें। क्योंकि ये थायरॉइड एक्टिविटी को धीमे कर हॉर्मोन को प्रभावित कर सकता है। 
  • आपको कोई दूसरी तरह की बीमारी, डिसऑर्डर, या मेडिकल कंडीशन है। 
  • आपको किसी तरह की एलर्जी है। जैसे किसी खास तरह के खाने से, डाय से , प्रिजर्वेटिव या फिर जानवर से।
  • जिन लोगों को ओरिगेनो से एलर्जी है, उन्हें भी वाइल्ड थाइम से एलर्जी हो सकती है।

दवाइयों की तुलना में हर्ब्स लेने के लिए नियम ज्यादा  सख्त नहीं हैं। बहरहाल यह कितना सुरक्षित है इस बात की जानकारी के लिए अभी और भी रिसर्च की जरूरत है।  इस हर्ब को इस्तेमाल करने से पहले इसके रिस्क और फायदे को अच्छी तरह से समझ लें। हो सके तो अपने हर्बल स्पेशलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लेकर ही इसे यूज करें।

ये भी पढ़ें: Rice Bran Oil: राइस ब्रैन ऑयल क्या है?

साइड इफेक्ट्स

वाइल्ड थाइम (Wild Thyme) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

सामान्य मात्रा में इसका सेवन सुरक्षित है। दवा के रूप में कुछ समय के लिए इसे लेने से संभवतः कोई हानि नहीं है। लंबे समय तक इसे लेने से यह डाइजेस्टिव सिस्टम को डिस्टर्ब भी कर सकता है। आमतौर पर इसका तेल त्वचा के लिए सुरक्षित होता है, लेकिन कुछ लोगों में, ये तेल त्वचा पर इरिटेशन पैदा कर सकता है। हांलाकि इसका तेल औषधीय खुराक के रूप में लेना सुरक्षित है या नहीं? इस बात की ज्यादा जानकारी नहीं है।

ये भी पढ़ें: Fish Oil : फिश ऑयल क्या है?

डोसेज

वाइल्ड थाइम (Wild Thyme) को लेने की सही खुराक क्या है?

इस हर्बल सप्लिमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लिमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

ये भी पढ़ें: Thyme: थाइम क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है वाइल्ड थाइम (Wild Thyme)?

वाइल्ड थाम निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

  • रॉ वाइल्ड थाइम (Raw wild thyme)
  • कैप्सूल्स (Capsules)
  • सिरप (Syrup)
  • एसेंशियल ऑयल (Essential Oil)

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की मेडिकल सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है और ना ही इसके लिए जिम्मेदार है।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में इस हर्बल से जुड़ी ज्यादातर जानकारियां देने की कोशिश की है, जो आपके काफी काम आ सकती हैं। अगर आपको ऊपर बताई गई कोई सी भी शारीरिक समस्या है तो इस हर्ब का इस्तेमाल आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। बस इस बात का ध्यान रखें कि हर हर्ब सुरक्षित नहीं होती। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें तभी इसका इस्तेमाल करें। वाइल्ड थाइम से जुड़ी यदि आप अन्य जानकारी चाहते हैं तो आप हमसे कमेंट कर पूछ सकते हैं।

और भी पढ़ें:

Turmeric : हल्दी क्या है?

Chenopodium Oil: बथुए का तेल क्या है?

Safflower Oil: कुसुम का तेल क्या है?

Peanut Oil: मूंगफली का तेल क्या है?

Share now :

रिव्यू की तारीख मार्च 25, 2020 | आखिरी बार संशोधित किया गया मार्च 25, 2020

सूत्र
शायद आपको यह भी अच्छा लगे