backup og meta

Gelatin : जेलेटिन क्या है, इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है?


Smrit Singh द्वारा लिखित · अपडेटेड 14/10/2021

Gelatin : जेलेटिन क्या है, इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है?

परिचय

जेलेटिन (Gelatin) क्या होता है?

जेलेटिन पशु उत्पादों से बना एक प्रोटीन है। अमिनो एसिड होने की वजह से इसके काफी सारे स्वास्थ्य संबंधी लाभ हैं। लेकिन, जेलेटिन सबसे ज्यादा त्वचा और जोड़ों के दर्द में लाभदायक साबित होता है। इसके अलावा इसका उपयोग खाना, कॉस्मेटिक उत्पाद और दवाइयों के निर्माण के लिए भी किया जाता है।

इसमें मौजूद प्रोटीन की उच्च मात्रा इसे किसी बीमारी से रिकवर हो रहे मरीजों के लिए पहली पसंद बनाती है। उत्पाद जानवरों की मसल्स, हड्डियों और स्किन से कोलेजन (collagen) निकालकर उसे जेलेटिन में बदलते हैं, जो कि दिखने में कुछ-कुछ जेली जैसा होता है। इसमें आमतौर पर ग्लाइसिन, प्रोलाइन और वेलिन नामक अमिनो एसिड होते हैं।

वेलिन एक जरूरी अमिनो एसिड (amino acid) होता है, जिसका उत्पादन मानव शरीर नहीं कर सकता। इसलिए हमेशा ध्यान रखें कि इसे आहार द्वारा ही लिया जा सकता है।

और पढ़ें : Acai : असाई क्या है?

उपयोग

जेलेटिन (Gelatin) का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

जेलेटिन का इस्तेमाल कई कामों में किया जाता है जैसे :

खेलें क्विज : अच्छी नींद के जरूरी है जानना ये बातें, खेलें और जानें

यह कैसे काम करता है?

अभी इस बारे में कम ही अध्ययन हुआ है कि ये कैसे काम करता है। अधिक जानकारी के लिए किसी हर्बलिस्ट या डॉक्टर से बात करें।

हालांकि, इस बात की पुख्ता जानकारी है कि जिलेटिन (Gelatin) में कोलेजन होता है, जो कार्टिलेज और हड्डी निर्माण में सहायक होते हैं। यही कारण है कि कुछ लोगों को इस बात का यकीन है कि जिलेटिन गठिया और दूसरे जोड़ों के दर्द के इलाज में कारगर सिद्ध होता है।

और पढ़ें : इन प्रोटीन फूड्स को अपने रूटीन में शामिल कर, प्रोटीन की जरूरतों को पूरा करने में मदद करें

सावधानियां और चेतावनी

जेलेटिन (Gelatin) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

इसके इस्तेमाल से पहले अपने चिकित्सक, फार्मसिस्ट या हर्बलिस्ट से सलाह करें, अगर :

  • आप प्रेग्नेंट है या प्रेग्नेंसी का विचार कर रही हैं या बच्चे को स्तनपान कराती हैं, तो इस दौरान आपको डॉक्टर से बात करनी चाहिए, क्योंकि, इस अवस्था में आपको डॉक्टर की बताई दवाओं का ही सेवन करना चाहिए।
  • आपको सभी दवाओं के बारे में बताना चाहिए, जो आप डॉक्टरी सलाह या बिना किसी सलाह के सेवन कर रही हैं।
  • आपको हर्बल, दवा या किसी अन्य जड़ी-बूटी से कोई एलर्जी तो नहीं।
  • आपको किसी दूसरी चीजों से एलर्जी तो नहीं, जैसे, कोई खाने की चीज, रंग, खाने को सुरक्षित रखने वाले पदार्थ या जानवरों से।
  • किसी भी हर्बल सप्लिमेंट (herbal supplement) के सेवन करने के नियम उतने ही सख्त होते हैं, जितने कि अंग्रेजी दावा के। सुरक्षा के लिहाज से, अभी इसमें और अध्ययन की जरूरत है। जेलेटिन के सेवन से होने वाले फायदे से पहले आपको उसके खतरों को समझ लेना चाहिए। ज्यादा जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट से बात करें।

और पढ़ें : क्या आप जानते हैं दूध से एलर्जी (Milk Intolerance) का कारण सिर्फ लैक्टोज नहीं है?

जेलेटिन (Gelatin) कितना सुरक्षित है?

जेलेटिन का भोजन के रूप में सेवन सुरक्षित है और कुछ हद तक दवा के रूप में जेलेटिन की बड़ी मात्रा का इस्तेमाल भी सेफ है। इस बात के प्रमाण हैं कि आप छह महीने तक रोजाना 10 ग्राम जेलेटिन का सेवन बिना किसी नुकसान के कर सकते हैं। हालांकि,जेलेटिन जानवरों से प्राप्त होता है, इसलिए, सुरक्षा की दृष्टि से इसके इस्तेमाल में चिंता रहती है। कुछ लोगों को इस बात का डर होता है कि जेलेटिन के निर्माण और पैकेजिंग के दौरान जेलेटिन दूषित हो सकता है। फिर भी कुछ डॉक्टर पशुओं से निकाले के गए सप्लिमेंट से परहेज करने की सलाह देते हैं, जैसे कि जेलेटिन।

जेलेटिन वाले सभी खाद्य पदार्थ सुरक्षित नहीं होते हैं। अगर आपको कोई भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या है तो, जेलेटिन युक्त पदार्थों को इस्तेमाल करने से पहले एक बार उसमें मौजूद फैट और शुगर की मात्रा जरूर जांच लें।

पदार्थों में जेलेटिन की गुणवत्ता निम्नलिखित कारणों पर निर्भर कर सकती है-

  • जानवर के स्वास्थ्य पर, जिससे इसे निकाला गया है
  • इसे बनाने की प्रक्रिया पर
  • पदार्थों में मौजूद अन्य सामाग्रियों पर

और पढ़ें : Kidney Beans : राजमा क्या है?

जेलेटिन के साइड इफैक्ट

जेलेटिन (Gelatin) से मुझे किस तरह के साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इसके उपयोग के कारण ऐसा हो सकता है :

  • खराब स्वाद
  • पेट मे भारीपन
  • सीने में जलन
  • सूजन
  • डकार
  • कुछ लोगों को एलर्जी की भी शिकायत हो सकती है।

इसके सेवन से बोवाइन स्पौंजीफॉर्म एन्सेफैलोपैथी (bovine spongiform encephalopathy) पशु जनित रोगों के होने की आशंका बढ़ जाती है। इसके अलावा एनआईएच (NIH) के मुताबिक 6 महीने तक सिर्फ 10 ग्राम तक ही जेलेटिन का मुंह से सेवन करना सुरक्षित हो सकता है।

चूंकि ये जानवरों से बनने वाला प्रोडक्ट है, इसलिए विगन या वैजीटेरियन डाइट में इसे शामिल नहीं किया जा सकता।

जरूरी नहीं कि दिए गए साइड इफेक्ट्स का ही आपको सामना करना पड़े। ये किसी अन्य प्रकार के भी हो सकते हैं, जिन्हें यहां शामिल नहीं किया गया है। अगर आपको साइड इफेक्ट को लेकर कोई शंका है, तो अपने डॉक्टर से बात करें।

दी गई जानकारी को चिकित्सा सलाह के रूप में न देखें। हमेशा दवा का इस्तेमाल करने से पहले अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें : Mace: जावित्री क्या है?

डोसेज

जेलेटिन (Gelatin) की सामान्य खुराक क्या है?

वयस्कों के लिए (18 वर्ष की उम्र से ज्यादा)

मुंह से सेवनः

बढ़ती उम्र के लक्षणों को रोकने के लिएः 5 ग्राम जेलेटिन (वैलनैक्स, निट्टा जेलेटिन) को 8 हफ्तों तक इस्तेमाल किया जा सकता है।

इस हर्बल सप्लिमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग-अलग हो सकती है। इसकी खुराक- उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लिमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसकी अपनी उचित खुराक के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से बात करें।

उपलब्ध

जेलेटिन (Gelatin) किस-किस रूप में आता है?

जेलेटिन इस तरीके से उपलब्ध है :

इसे अन्य खाद्य उत्पादों के रूप में भी ग्रहण किया जा सकता है। इसके स्वास्थ्य लाभ बहुत हैं लेकिन इसका सेवन डॉक्टर की सलाह से ही करें

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।


Smrit Singh द्वारा लिखित · अपडेटेड 14/10/2021

advertisement iconadvertisement

Was this article helpful?

advertisement iconadvertisement
advertisement iconadvertisement