home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Isoxsuprine : आईसॉक्ससुप्रीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) का उपयोग किसलिए किया जाता है?|आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) को इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?|आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) का इस्तेमाल करने से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?|कौन सी दवाएं आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) के साथ नहीं ली जा सकती हैं?|डाॅक्टर की सलाह
Isoxsuprine : आईसॉक्ससुप्रीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

यह दवा रक्त वाहिकाओं (Blood Vessels) से जुड़े कुछ रोगों (जैसे आर्टेरिया स्क्लेरोसिस ब्लू टेरेन, रेनाड डिजीज, बर्जर डिजीज, सेरिब्रोवैस्कुलर इंसफिशिएंसी) में दूसरे ट्रीटमेंट के साथ इस्तेमाल होती है। यह दवा ब्लड वेसेल्स को फैलाकर ब्लड के प्रवाह को बढ़ाने का काम करती है। जिससे शरीर के अंगों (जैसे हाथ/पैर,दिमाग) में ब्लड आसानी से पहुंच सके। इससे हाथों और पैरों का ठंडा होना, सुन्न पड़ना, झुनझुनी होना और निर्णय लेने की कमी होना आदि लक्षण कम होते हैं।

इस दवा का उपयोग टोकोलिटिक के रूप में किया जाता है जो यूट्राइन की स्मूद मसल्स को रिलैक्स करता है और प्री मैच्योर यूट्राइन कॉन्ट्रैक्शन को रोकता है।

मैं आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) को कैसे इस्तेमाल करूं?

डॉक्टर के निर्देश के मुताबिक इस दवा को आमतौर पर दिन में तीन से चार बार भोजन या बिना भोजन के साथ खाएं। इस दवा की खुराक आपकी मेडिकल स्थिति और इलाज के प्रति आप कितने संवेदनशील हैं, इस बार पर आधारित होती है।

इस दवा के ज्यादा से ज्यादा फायदे के लिए नियमित रूप से इसका सेवन करें। याद रखें रोजाना इस दवा को एक ही समय पर लें।

अगर आपकी स्वास्थ्य स्थिति ऐसे ही बनी रहती है या और अधिक खराब स्थिति में पहुंच जाती है तो ऐसी स्थिति में आप अपने डॉक्टर को बताएं।

मैं आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) को कैसे स्टोर करूं?

आईसॉक्ससुप्रीन को प्रकाश और नमी से दूर कमरे के तापमान पर स्टोर करना बेहतर होता है। आईसॉक्ससुप्रीन को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह में न रखें। मार्केट में आईसॉक्ससुप्रीन के अलग-अलग ब्रांड हैं जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा- निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। जब भी इस दवा को खरीदें सबसे पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने फार्मासिस्ट से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। बिना निर्देश के आईसॉक्ससुप्रीन को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुका है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है तो इसे नष्ट कर दें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने फार्मासिस्ट से संपर्क कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें : हार्ट अटैक और कार्डिएक अरेस्ट में क्या अंतर है ?

आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) को इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

आईसॉक्ससुप्रीन को लेने से पहले आप अपने डॉक्टर को बताएं अगर आपको इस दवा से या कोई दूसरी तरह की एलर्जी हो। इस प्रोडक्ट में कुछ निष्क्रिय सामग्री होते हैं जो एलर्जी या दूसरे तरह की समस्या पैदा कर सकते हैं। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात करें।

कुछ निश्चित मेडिकल स्थिति में आपको इस दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। अगर आपको असामान्य ब्लीडिंग की समस्या या आप गर्भवती हों तो इस स्थिति में इस दवा को इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

इस दवा को लेने से पहले आप अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को अपनी मेडिकल हिस्ट्री के बारे में बताएं अगर आपको ये सारी समस्याएं हैं जैसे ब्लीडिंग की समस्या, मोतियाबिंद, हार्ट की बीमारी (जिसमें हार्ट अटैक शामिल है)।

इस दवा के इस्तेमाल से आपको सिर चकराने की समस्या हो सकती है। इस स्थिति में जब तक आप सुनिश्चित ना हो जाएं तब तक ना तो ड्राइव करें ना ही कोई मशीनरी इस्तेमाल करें और ना ही कोई ऐसी एक्टिविटी करें जिसमें सतर्क रहने की जरूरत हो। एल्कोहॉल का इस्तेमाल सीमित मात्रा में करें।

सिर चकराने और सिर हल्का होने की समस्या को कम करने के लिए, अगर आप अगर बैठे हैं या लेटे हैं तो इस स्थिति में धीरे-धीरे उठें।

प्रेग्नेंसी के दौरान अगर इस दवा की जरूरत हो तभी इसका इस्तेमाल करना चाहिए। इस दवा के नुकसान और फायदों के बारे में डॉक्टर से चर्चा करें।

अभी इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि यह दवा ब्रेस्ट मिल्क में प्रवेश करती है या नहीं।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान महिलाओं में आईसॉक्ससुप्रीन के इस्तेमाल को लेकर अभी पर्याप्त जानकारी नहीं है। आईसॉक्ससुप्रीन लेने से पहले इसके फायदे और नुकसान के बारे में जानने के लिए डॉक्टर से जरूर सलाह लें। युएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के अनुसार आईसॉक्ससुप्रीन प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी सी (pregnancy risk category C) के अंतर्गत आती है।

एफडीए प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी का संदर्भ नीचे दिया गया है,

  • A= कोई नुकसान नहीं
  • B= कुछ शोध में कोई नुकसान नहीं
  • C= थोड़ा नुकसान हो सकता है
  • D= नुकसान का पॉजिटिव प्रमाण
  • X= विरोधाभाषी (CONTRAINDICATED)
  • N= कुछ पता नहीं

यह भी पढ़ें- महिलाओं को इन वजहों से होती है प्रेग्नेंसी में चिंता, ये हैं लक्षण

आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) का इस्तेमाल करने से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इस दवा के इस्तेमाल से सिर चकराना, फ्लशिंग, पेट खराब होना, मिचली, कांपना या नर्वसनेस आदि हो सकते हैं। अगर ये लक्षण बने रहते हैं या और अधिक खराब स्थिति में पहुंच जाते हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

याद रखें कि डॉक्टर ने इस दवा को प्रिस्क्राइब किया है क्योंकि वह जानता है कि इस दवा के नुकसान की तुलना में फायदे ज्यादा हैं। ऐसे कई सारे लोग हैं जिनको इस दवा को इस्तेमाल करने के बावजूद कोई भी साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं।

अगर आपको ये सारे संभावित, लेकिन गंभीर साइड इफेक्ट्स महसूस होते हैं तो तुरंत डॉक्टर को बताएं, जैसे दिल की धड़कन तेज होना या कमजोरी आदि। ग्लाइकैमिया की परेशानी भी हो सकती है।

अगर कभी- कभी होने वाले लेकिन गंभीर साइड इफेक्ट्स महसूस हों तो आपको तुरंत मेडिकल अटेंशन की जरूरत है जैसे सीने में दर्द आदि।

इस दवा के इस्तेमाल से बहुत गंभीर एलर्जिक रिएक्शन कभी- कभी होते हैं। अगर आपको ये सारे एलर्जिक रिएक्शन महसूस हों तो आपको तुरंत मेडिकल अटेंशन की जरूरत है जैसे, चकते पड़ना, खुजली/सूजन (खासतौर पर चेहरे/जीभ/गले पर), सिर चकराना, सांस लेने में दिक्कत होना आदि।

सभी लोगों को ये सारे साइड इफेक्ट्स महसूस नहीं होते हैं। यहां पर कुछ साइड इफेक्ट्स नहीं बताए गए हैं। अगर आपको इन साइड इफेक्ट्स को लेकर कोई चिंता है तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

ये भी पढ़ें : मेफ्टल फोर्टे क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

कौन सी दवाएं आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) के साथ नहीं ली जा सकती हैं?

इस दवा को लेने से पहले अपनी सभी प्रिस्क्रिप्शन ड्रग, नॉन प्रिस्क्रिप्शन ड्रग या हर्बल प्रोडक्ट जिनका इस्तेमाल आप कर रहें हैं, उनके बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं।

कुछ प्रोडक्ट्स में ऐसी सामग्री होती है जिनके इस्तेमाल से हार्ट रेट या ब्लड प्रेशर प्रभावित होता है। अपने फार्मासिस्ट को बताएं कि कौन से प्रोडक्ट आप इस्तेमाल कर रहें हैं और उन प्रोडक्ट्स को कैसे इस्तेमाल करना है?

अगर आप वर्तमान में कोई दवा ले रहें हैं तो आईसॉक्ससुप्रीन उसके साथ इंटरैक्ट कर सकती है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित होगा या फिर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इस चीज को रोकने के लिए आप उन दवाओं (जिनमें प्रिस्क्रिप्शन ड्रग, नॉनप्रिस्क्रिप्शन ड्रग और हर्बल प्रोडक्ट शामिल हैं) की लिस्ट रखें और उन्हें डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ शेयर करें। सुरक्षा के लिहाज से आप बिना डॉक्टर के सहमति के ना तो कोई दवा शुरू करें, ना ही बंद करें और ना ही उसकी खुराक को बदलें।

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) लेना सुरक्षित है?

आईसॉक्ससुप्रीन भोजन या एल्कोहॉल के साथ इंटरैक्ट कर सकती है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित हो सकता है या गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। अगर आप इस दवा के साथ भोजन या एल्कोहॉल लेना चाहते हैं तो इन बारे में डॉक्टर से चर्चा करें।

आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

आईसॉक्ससुप्रीन आपकी स्वास्थ्य स्थिति के अनुसार इंटरैक्ट कर सकती है। इससे आपकी स्वास्थ्य स्थिति और अधिक खराब हो सकती है या ड्रग का एक्शन प्रभावित हो सकता है। इसलिए अपने मौजूदा स्थिति के बारे में डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं।

डाॅक्टर की सलाह

नीचे दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

आईसॉक्ससुप्रीन (Isoxsuprine) कैसे उपलब्ध है?

आईसॉक्ससुप्रीन निम्नलिखित खुराक और क्षमता में उपलब्ध है;

  • ओरल टैबलेट

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में आप अपने लोकल इमरजेंसी सेवाओं को कॉल करें या फिर अपने नजदीकी इमरजेंसी वार्ड पर जाएं

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर आप आईसॉक्ससुप्रीन की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें। डबल खुराक ना लें।

[mc4wp_form id=”183492″]

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सक सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

यह भी पढ़ें- बड़े ब्रांड्स की 27 दवाइयां हुईं क्वॉलिटी टेस्ट में फेल

Rheumatoid arthritis : रयूमेटाइड अर्थराइटिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

Muscular dystrophy : मस्क्युलर डिस्ट्रॉफी क्या है?

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Anoop Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 22/05/2020 को
Mayank Khandelwal के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड