Metformin+Teneligliptin: मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    Metformin+Teneligliptin: मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    उपयोग

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन (Metformin+Teneligliptin) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

    मेटाफॉर्मिन+ टेनेलिग्लिप्टिन का इस्तेमाल टाइप-2 डायबिटीज के इलाज में किया जाता है। यह दो एंटीडायबिटीज दवाइयों का कॉम्बिनेशन है। मेटफॉरमिन एक एंटीडायबिटिक दवा है। यह लिवर में ग्लूकोज के प्रोडक्शन को कम करती है, जिससे आंत से ग्लूकोज के सोखने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है और इंसुलिन के प्रति बॉडी ज्यादा संवेदनशील हो जाती है।

    टेनेलिग्लिप्टिन एक डाइपेप्टिडायल पेप्टिडेज-4 इनहिबिटर (dipeptidyl peptidase-4) दवा है। यह पेनक्रियाज से इंसुलिन के स्राव को बढ़ाकर कार्य करती है और ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाने वाले हॉर्मोन को कम करती है। इसे खाना खाने से पहले और बाद में ब्लड शुगर का स्तर कम हो जाता है। दोनों का एक साथ इस्तेमाल करने से ब्लड शुगर पर बेहतर निंयत्रण स्थापित किया जा सकता है।

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन (Metformin+Teneligliptin) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

    • मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन का इस्तेमाल भोजन के साथ करें, इससे पेट खराब होने की संभावना कम हो जाएगी। इससे आपका वजन बढ़ने की संभावना भी हो सकती है। अन्य डायबिटीज की दवाओं की तुलना में वजन बढ़ने और कम ब्लड शुगर की संभावना कम होती है।
    • यदि सामान्य एनेस्थेटिक के तहत आपकी सर्जरी हुई है, तो डायबिटीज के उपचार के संबंध में अपने डॉक्टर को अवश्य सूचित करें।

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन (Metformin+Teneligliptin) को कैसे स्टोर करना चाहिए?

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन को किसी पैकेट या एयर टाइट कंटेनर में स्टोर करें। पैकेज या लेबल पर छपे दिशा निर्देशों के मुताबिक ही, इसे स्टोर करें। इस बात का खास ध्यान रखें कि यह दवा घर के पालतू जानवरों, बच्चों और अन्य लोगों की पहुंच से दूर रहे।

    सावधानियां और चेतावनी

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन (Metformin+Teneligliptin) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

    • उन लोगों में मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए, जिन्हें इस दवा या अन्य किसी मेडिसिन से एलर्जी है। किडनी, लिवर, कंजेस्टिव हार्ट फेलियर, लेक्टिक एसिडोसिस या डायबेटिक कीटोएसिडोसिस (diabetic ketoacidosis) समस्याओं से पीड़ित लोगों को इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।
    • यदि आपको सांस तेज चलने का अहसास हो, लगातार उबकाई, उल्टी और पेट दर्द का अहसास हो तुरंत अपने डॉक्टर को सूचित करें। हालांकि, बेहद ही कम मामलों में ऐसा अनुभव होता है।

    क्या मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन (Metformin+Teneligliptin) को प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लेना सुरक्षित है?

    प्रेग्नेंसी: प्रेग्नेंट महिलाओं का मेटाबॉलिज्म और हॉर्मोन अलग तरीके से कार्य करते हैं। इस दौरान ली जाने वाली हर दवा मेटाबोलाइट होकर शिशु की बॉडी तक पहुंचती है और इसका उस पर प्रभाव पड़ता है। प्रेग्नेंसी में इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें। हर प्रेग्नेंसी में इसका असर अलग तरह से पड़ सकता है। प्रेग्नेंसी के दूसरे और तीसरे ट्रैमेस्टर के दौरान ही जरूरी हेल्थ कारणों की वजह से इसका इस्तेमाल डॉक्टर की निगरानी में किया जा सकता है।

    स्तनपान: स्तनपान के दौरान यह दोनों ही दवाइयां मां के दूध के जरिए शिशु की बॉडी में पहुंच सकती हैं। यह प्रक्रिया शिशु की सेहत पर असर डाल सकती है। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान किसी भी दवा का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन को ब्रेस्टफीडिंग कैटेगरी B में रखा गया है।

    एफडीए द्वारा निर्धारित गर्भावस्था के लिए रिस्क केटेगरी-

    • A= कोई जोखिम नहीं
    • B= कुछ अध्ययनों में कोई जोखिम नहीं
    • C= कुछ जोखिम हो सकता है
    • D= जोखिम के सकारात्मक सबूत
    • X= विरोधाभाषी
    • N= अज्ञात

    दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अगर आपको मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन का सेवन करना है तो पहले इस बारे में डॉक्टर को जानकारी जरूर दें। साथ उन्हें ये भी बताएं कि कहीं आपको कोई हेल्थ कंडीशन तो नहीं है।

    और पढ़ें :Calcium Gluconate + Calcium Lactobionate : कैल्शियम ग्लूकोनेट + कैल्शियम लैक्टोबायोनेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    साइड इफेक्टस

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन (Metformin+Teneligliptin) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन से आपको निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

    और पढ़ें :Candibiotic Plus Ear Drop: कैंडीबायोटिक प्लस इयर ड्रॉप क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    ये जरूरी बातें जानें

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन (Metformin+Teneligliptin) के साथ कौन सी दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं?

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन के साथ एंटीडायबिटीज दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं, क्योंकि इस कॉम्बिनेशन और अन्य डायबिटीज की दवाइयों का बॉडी पर समान प्रभाव पड़ सकता है। इससे ब्लड शुगर लेवल अत्यधिक नीचे गिर सकता है। ऐसी स्थिति में मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन के साथ एंटीडायबिटिक दवाइयां इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

    क्या एल्कोहॉल के साथ मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन का इस्तेमाल सुरक्षित है?

    एल्कोहोल के साथ मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन का सेवन करना असुरक्षित हो सकता है। इससे लेक्टिक एसिडोसिस (lactic acidosis) की संभावना बढ़ जाएगी। लेक्टिक एसिडोसिस, वह स्थिति है जब बॉडी गैर उपयोग में लाए गए, लेक्टिक एसिड को अधिक मात्रा में प्रोड्यूस करने लगती है। यह स्थिति खाली पेट, खराब खान-पान या हेपेटिक इंपेयरमेंट (hepatic impairment) का खतरा बढ़ जाएगा। हेपेटिक इंपेयरमेंट वह स्थिति है, जब लिवर का बॉडी से दवाइयों को बाहर निकालने का तरीका बदल जाता है या वह इस कार्य को ठीक से नहीं कर पाता।

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन (Metformin+Teneligliptin) का हेल्थ पर क्या असर पड़ सकता है?

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन आपकी हेल्थ को प्रभावित कर सकती है या दवा के कार्य करने का परिवर्तित हो सकता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपनी मौजूदा हेल्थ के बारे में फार्मासिस्ट या डॉक्टर को जरूर सूचित करें।

    [mc4wp_form id=”183492″]

    और पढ़ें :Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol: पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामडोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    डोसेज

    ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

    आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन (Metformin+Teneligliptin) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

    मेटफॉरमिन+टेनेलिग्लिप्टिन का डोज मिस हो जाता है तो जल्द से जल्द इसे लें। हालांकि, यदि आपका अगली खुराक का समय नजदीक आ गया है तो भूले हुए डोज को ना खाएं। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक न खाएं।

    और पढ़ें :Anovate: एनोवेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    उम्मीद करते हैं आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इस आर्टिकल में हमने आपको इन दोनों दवाओं के कॉम्बिनेशन की जानकारी देने की कोशिश की है। हमने जाना कि ये दवाई किस तरह से असर करती है और कौन-कौन सी बीमारियों में असर करती है। अगर आपके मन में इससे जुड़े और कोई सवाल हैं, तो हमसे हमारे फेसबुक पेज पर जरूर पूछें। हम आपके सारे सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे।

    उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अगर आपको इस ड्रग के बारे में अधिक जानकारी चाहिए तो बेहतर होगा कि आप एक्सपर्ट से इस बारे में राय जरूर लें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. हेमाक्षी जत्तानी

    डेंटिस्ट्री · Consultant Orthodontist


    Sunil Kumar द्वारा लिखित · अपडेटेड 29/07/2020

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement