backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना
Table of Content

Zenflox OZ: जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट क्या है?

के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड डॉ. पूजा दाफळ · Hello Swasthya


sudhir Ginnore द्वारा लिखित · अपडेटेड 26/05/2020

Zenflox OZ: जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट क्या है?

परिचय

जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट क्या है?

जेनफ्लोक्स ओजेड  दो दवाओं ओफ़्लॉक्सासिन और ऑर्नडाज़ोल के संयोजन से मिलकर बनी है। जेनफ्लोक्स ओजेड का इस्तेमाल निमोनिया, वजाइना, यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन, डायरिया, टीबी, गोनोरिया, क्लैमाइडिया, गर्भाशय ग्रीवा,और श्वसन तंत्र संक्रमण के इलाज करने में किया जाता है। इस दवाई को लेने पर भूख न लगना, पेट में दर्द जैसे साइड इफेक्ट दिखाई देते हैं। अगर किसी को मिर्गी, लिवर, किडनी की बीमारी या मसल्स में कमजोरी हैं तो इस दवाई के इस्तेमाल से बचना चाहिए।

और पढ़ें- O2 Tablet : ओ2 टैबलेट क्या है?

उपयोग

जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट के उपयोग 

Zenflox OZ का प्रयोग निम्नलिखित स्थितियों को रोकने या इलाज करने के लिए किया जाता है:

  • गोनोरिया: असुरक्षित यौन संबंध बनाने से बैक्टीरियल इंफेक्शन होने का डर रहता है। इंफेक्शन के कारण वजाइना में होने वाले गोनोरिया का इलाज करने के लिए इस दवाई का इस्तेमाल किया जाता है।
  • निमोनिया: निमोनिया का इलाज करने के लिए भी Zenflox OZ का इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि यह बैक्टीरिया के कारण होता है।
  • दस्त- दस्त खत्म करने करने के लिए भी यह दवाई खाने की सलाह दी जाती है।
  •  दांतों में इंफेक्शन- अगर दांत में इंफेक्शन हो गया है और यह एनारोबिक बैक्टीरिया के कारण हुआ है तब भी इसी दवाई के जरिए इलाज किया जाता है।
  • पेट में इंफेक्शन- पेट में बैक्टीरियल इंफेक्शन होने पर भी यही दवाई दी जाती है।
  • वजाइना में इंफेक्शन- वजाइना में बैक्टीरयल इंफेक्शन या यूरिन में इंफेक्शन होने पर भी यही दवाई मरीज को दी जाती है।
  • त्वचा रोग- स्किन में इंफेक्शन अगर बैक्टीरिया की वजह से हुआ है तब भी  Zenflox OZ का इस्तेमाल किया जाता है।
  • साइनस इंफेक्शन- बैक्टीरिया के कारण होने वाली साइनस की सूजन और संक्रमण का इलाज करने के लिए उपयोग किया जाता है।
  • अन्य: फेफड़े के फोड़े के विभिन्न मामलों का इलाज करने के लिए उपयोग किया जाता है।

और पढ़ें- डेट रेप ड्रग्स क्या है? इससे कैसे बचें?

साइड-इफेक्ट

जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट के साइड-इफेक्ट – 

जेनफ्लोक्स ओजेड लेने से निम्न साइड इफेक्ट हो सकते हैं। जानिए जेनफ्लोक्स ओजेड के साइड इफेक्ट –

  • पेट में दर्द
  • चिंता (anxiety)
  • काला स्टूल
  • बुखार
  • यूरिन पास करने में दर्द
  • भूख का कम होना।
  • जोड़ों का दर्द।
  • स्वाद में बदलाव।
  • पेट में ज्यादा गैस बनना
  • नाक बहना।
  • जी मिचलाना और उल्टी।
  • उनींदापन।
  • सिर चकराना
  • सांस लेने में तकलीफ
  • हाथ या पैर का हिलना
  • त्वचा लाल चकत्ते और खुजली।
  • त्वचा पर लाल धब्बे
  • और पढ़ें- क्या आप भी हाथों को तब तक धुलते रहते हैं जब तक त्वचा लाल नहीं हो जाती? हो सकता है ओसीडी

    सेवन विधि

    जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट कैसे लें –

    जेनफ्लोक्स ओजेड दवाई टैबलेट, ड्राप और सिरप में उपलब्ध है। Zenflox OZ टेबलेट खाने के साथ या बाद में एक गिलास पानी के साथ ली जा सकती है।  Zenflox OZ टेबलेट को कभी भी चबा कर या क्रश कर नहीं खाया जाता बल्कि इसे पानी के साथ निगला जाता है। Zenflox OZ टेबलेट की दो खुराक को 8-10 घंटे के अंतराल में ही लिया जाना चाहिए। जेनफ्लोक्स ओजेड सिरप ले रहे हैं तो लेने से पहले बोतल को हिलाएं।

    टैबलेट कैसे काम करती है

    जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट कैसे काम करती है – 

    Zenflox OZ में Ofloxacin और Ornidazole दोनों होते हैं। ओफ़्लॉक्सासिन ओरनीडाजोल दोनों मिलकर बैक्टीरिया कोशिकाओं के डीएनए संश्लेषण को बाधित कर उन्हें ख़त्म कर देते है। ऑर्निडाजोल डीएनए स्ट्रैंड को तोड़ता है जिससे रोगाणुओं के डीएनए को नुकसान पहुंचता है और इंफेक्शन खत्म हो जाता है।

    और पढ़ें- कोरोना वायरस से सावधानी : क्या करें, क्या न करें? एक्सपर्ट ने दिया आपके हर सवाल का जवाब

    टैबलेट कब इस्तेमाल न करें

    जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट को कब इस्तेमाल न करें  – 

    अगर आपको जेनफ्लोक्स ओजेड दवाई से एलर्जी है तो डॉक्टर से इस दवाई के बदले दूसरी वैकल्पिक दवाई लिखने को कहें। अगर कभी टेंडन में चोट पहुंची है तो यह दवाई न लें। मिर्गी होने पर यह दवाई नहीं लेना चाहिए क्योंकि इसे लेने से मिर्गी के दौरे बढ़ जाते हैं। थकान और कमजोरी है तो यह दवाई न लें। अगर कोई मरीज डायलिसिस पर है और उसे किडनी या लिवर की बीमारी है तो ऐसे केस में तब तक दवाई न लें जब तक डॉक्टर यह दवाई लेने को न कहें।

    चेतावनी

    जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट से जुड़ी चेतावनी – 

    जेनफ्लोक्स ओजेड दवाई का डॉक्टर से पूछे बिना लंबे समय तक सेवन नहीं करना चाहिए। दो खुराकों के बीच अंतराल जरूर रखें। दवाई के साइड इफेक्ट न हो, इसलिए संतुलित मात्रा में तरल पदार्थ का सेवन जरूर करें। इस दवाई को खाली पेट कभी न लें, जब तक डॉक्टर न कहें।

    दूसरी चीजों के साथ जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट ले सकते हैं या नहीं – 

    सभी दवाइयां हर व्यक्ति के हिसाब से अलग-अलग असर करती है। जेनफ्लोक्स ओजेड शराब के साथ लेने की सलाह नहीं दी जाती है। इस दवाई को शराब के साथ लेने पर साइड इफेक्ट जैसे कमजोरी, थकान, चक्कर आना, कॉन्संट्रेट में कमी आदि दिखाई देते हैं। अगर लिवर से जुड़ी बीमारी है तो इस दवाई को लेने से मना किया जाता है। डॉक्टर इस दवाई को देने से पहले मरीज की मेडिकल हिस्ट्री चेक करते हैं, इसके बाद ही डॉक्टर जेनफ्लोक्स ओजेड लेने की सलाह देते हैं।

    और पढ़ें- ऑटिज्म की समस्या को दूर करने के लिए 5 प्रभावी दवाईयां

    ज्यादातर पूछे जाने वाले सवाल

    जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट से जुड़े ज्यादातर पूछे जाने वाले सवाल – 

    1. अगर गलती से जेनफ्लोक्स ओजेड टैबलेट की ओवरडोज़ ले ली है तब क्या करना चाहिए?

    जेनफ्लोक्स ओजेड टेबलेट की ओवरडोज लेने से शरीर पर अवांछनीय प्रभाव दिखाई दे सकते हैं। हमेशा डॉक्टर द्वारा बताई गई खुराक का सख्ती से पालन करें। ओवरडोज के किसी भी लक्षण के मामले में तुरंत चिकित्सीय सहायता लें।

    • अगर जेनफ्लोक्स ओजेड की डोज मिस हो जाएं तब क्या होगा?

    डॉक्टर द्वारा बताई गई डोज हमेशा वक्त पर लेना चाहिए। अगर एक डोज मिस हो गई है तो डबल डोज न लें। ज्यादा डोज लेने से भी शरीर में दिक्कत हो सकती है। इसलिए बताई गई डोज को मिस न करें।

    •  अगर एक्सपायर जेनफ्लोक्स ओजेड ले ली है तब क्या होगा?

    एक्सपायर दवाई का सेवन करने से बचना चाहिए। हालांकि एक्सपायर जेनफ्लोक्स ओजेड का कोई साइड इफेक्ट नहीं दिखाई देते हैं।

    • क्या गर्भावस्था के दौरान और स्तनपान कराने वाली जेनफ्लोक्स ओजेड का सेवन कर सकती है?

    गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस दवाई के सेवन की सलाह नही दी जाती है। इस दवाई के सेवन से गर्भावस्था और स्तनपान कराने पर शिशु में हानिकारक प्रभाव देखने का मिल सकते है।

    1. क्या जेनफ्लोक्स ओजेड दवाई के सेवन के बाद ड्राइविंग करना या भारी मशीनरी को संचालित करना सुरक्षित है?

    जेनफ्लोक्स ओजेड दवाई के सेवन के बाद दुष्प्रभावों के रूप में निद्रा, चक्कर आना, ब्लड प्रेशर का कम होना और सिरदर्द जैसा अनुभव हो सकता है इसलिए इस दवाई के सेवन के बाद ड्राइविंग करना या भारी मशीनरी संचालित करना सुरक्षित नही है।

    [mc4wp_form id=’183492″]

     हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है, अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

    संबंधित लेख:

    Drug allergy : ड्रग एलर्जी क्या है?

    Aceclofenac : एसिक्लोफेनाक क्या है?

    Akurit 4: अकुरिट 4 क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

    Allopurinol : अल्लोपुरिनॉल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    डिस्क्लेमर

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड

    डॉ. पूजा दाफळ

    · Hello Swasthya


    sudhir Ginnore द्वारा लिखित · अपडेटेड 26/05/2020

    ad iconadvertisement

    Was this article helpful?

    ad iconadvertisement
    ad iconadvertisement