लिवर साफ करने के उपाय: हल्दी से लहसुन तक ये नैचुरल चीजें लिवर की सफाई में कर सकती हैं मदद

Medically reviewed by | By

Update Date मई 28, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

लिवर डायजेस्टिव सिस्टम का इम्पॉरटेंट पार्ट होता है। ये पेट के दाहिनी ओर नीचे की तरफ स्थित होता है। साथ ही लिवर बॉडी के कई फंक्शन को कंट्रोल करने का काम करता है। शरीर में पैदा होने वाले टॉक्सिन्स को भी लिवर बाहर निकालने का काम करता है। लिवर की खराबी से व्यक्ति को हेपेटाइटिस, फैटी लिवर, लिवर सिरोसिस, एल्कोहॉलिक लिवर डिजीज और लिवर कैंसर जैसी बीमारियां हो सकती हैं। एक स्वस्थ्य शरीर के लिए हेल्दी लिवर का होना भी बहुत जरूरी है। अगर लिवर में टॉक्सिंस रहते हैं तो शरीर को कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। लिवर साफ करने के उपाय के बारे में अगर आप जानते हैं तो लिवर को साफ रखना आसान हो सकता है। लिवर साफ करने के उपाय बहुत मुश्किल नहीं है, बल्कि आप अपने घर में ही इन्हें अपनाकर लिवर की समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं। जानिए क्या हैं लिवर साफ करने के उपाय।

यह भी पढ़ें : इंट्रावेनस इंजेक्शन (Intravenous injection) क्या है? जानें इससे जुड़ी सावधानियां

लिवर साफ करने के उपाय : एल्कोहॉल का न करें सेवन

लिवर में कई कारणों से टॉक्सिन बनते हैं। उनमें से एक कारण एल्कोहॉल भी हो सकता है। अगर आप एल्कोहॉल का अधिक सेवन करते हैं तो आपको इसे तुरंत बंद कर देना चाहिए। लिवर के लिए शराब का अधिक सेवन करना खतरनाक साबित हो सकता है। आपके लिए जानना बहुत जरूरी है कि 90% से अधिक एल्कोहॉल आपके लिवर में मेटाबोलाइज्ड होती है। लिवर एंजाइम एल्कोहॉल को एसिटल्डिहाइड में मेटाबोलाइज करते हैं, जो कि कैंसर कॉजिंग केमिकल है। एसिटल्डिहाइड टॉक्सिन होता है, जिसे लिवर एसिटेट में कंवर्ट कर देता है। एसिटेट बाद में बॉडी से बाहर निकल जाता है। जबकि स्टडी में ये बात सामने आई है कि कम मात्रा में लिया गया एल्कोहॉल हार्ट हेल्थ के लिए अच्छा होता है। अगर लिवर में अधिक टॉक्सिन बनने लगते हैं तो लिवर अपना काम धीमा कर देता है या फिर बंद कर देता है। लिवर का मुख्य कार्य वेस्ट को फिल्टर करना और साथ ही अन्य टॉक्सिन को शरीर से बाहर निकालना होता है। अब तो आप समझ ही गए होंगे कि अधिक शराब के सेवन से लिवर अपना काम सही से नहीं कर पाता है।

यह भी पढ़ें : सूखी खांसी को टिकने नहीं देंगे ये घरेलू उपाय

लिवर साफ करने के उपाय : हल्दी का करें उपयोग

हल्दी का प्रयोग भारतीय घरों में रोजाना किया जाता है। हल्दी के बिना खाना अधूरा सा लगता है। हल्दी लिवर का डिटॉक्सीफिकेशन करने का काम करती है। अगर रोजाना आधा चम्मच हल्दी का प्रयोग किया जाए को लिवर को साफ किया जा सकता है। आप चाहे तो आधा कप हल्दी को एक ग्लास गुनगुने पानी में मिलाकर पी सकते हैं। ऐसा करने से लिवर को बहुत राहत मिलेगी। अगर आपको हल्दी को दूध में मिलाकर पीने की आदत है तो आप इस उपाय को भी अपना सकते हैं।

यह भी पढ़ें; Diosmin: डिओसमिन क्या है?

लिवर साफ करने के उपाय : कम शुगर लें

liver

अगर आप लिवर की सफाई करना चाहती हैं तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखने की जरूरत है। टेबल शुगर और एडेड शुगर को अवॉइड करना शुरू कर दें। अधिक मात्रा में शुगर लेने से एक प्रकार का एंजाइम बनता है जो डिटॉक्टिफिकेशन के लिए जरूरी होता है। इस कारण से अधिक मात्रा में इंसुलिन बनने लगता है। दिन में अधिक नहीं बल्कि 20-30 ग्राम शुगर ही लें।

लिवर साफ करने के उपाय : अधिक मात्रा में पिएं पानी

पानी सिर्फ प्यास बुझाने का ही काम नहीं करता है। पानी बॉडी के टेम्प्रेचर को मेंटेन करने का काम भी करता है। साथ ही ये ज्वाइंट्स के लिए लुब्रिकेंट्स का काम करता है। डायजेशन में हेल्प करने के साथ ही पानी शरीर के टॉक्सिंस को बाहर निकालने का काम भी करता है। पानी शरीर में युरिनेशन, ब्रीथिंग और स्वेटिंग के माध्यम से वेस्ट प्रोडक्ट को बाहर निकालने का काम करता है। एक दिन में पुरुषों को करीब 3.7 लीटर पानी आठ से नौ ग्लास पानी जरूर पीना चाहिए। वहीं महिलाओं को एक दिन में 2.7 लीटर पानी पीना चाहिए।

यह भी पढ़ें : पिंपल ने अब पीठ का भी कर दिया है बुरा हाल? तो करना होगा ये उपाय

लिवर साफ करने के उपाय : लें अच्छी नींद

ज्यादा काम और कम सोने वाले लोगों को लगता है कि उनकी इस आदत का शरीर पर बुरा असर नहीं पड़ेगा, लेकिन ऐसा  नहीं है। जो लोग पर्याप्त मात्रा में नींद नहीं लेते हैं, उनके शरीर में टॉक्सिंस की मात्रा बढ़ती जाती है। क्वालिटी स्लीप लेने वाले लोगों को इस प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ता है। अच्छी नींद लेने से दिगाग भी प्रॉपर काम करता है। दिमाग को पता होता है कि पूरे दिन में शरीर में इकट्ठे हुए टॉक्सिन्स को कैसे हटाना है। जब नींद पूरी नहीं होती है तो दिमाग प्रॉपर काम नहीं कर पाता है और उसे ये भी नहीं पता होता है कि वेस्ट प्रोडक्ट को शरीर से कैसे बाहर किया जाए। अच्छी नींद न लेने से डिप्रेशन, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट डिसीज, टाइप 2 डायबिटीज या मोटापे की समस्या हो सकती है।

लिवर साफ करने के उपाय : खाने में एंटीऑक्सीडेंट्स फूड

खाने में एंटीऑक्सीडेंट्स फूड को शामिल करने से लिवर को साफ करने में हेल्प मिलेगी। एंटीऑक्सीडेंट्स फ्री रेडिकल्स के कारण होने वाले डैमेज से सेल्स यानी कोशिका को बचाने के काम करता है। फ्री रेडिकल्स के कारण ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस कंडीशन हो सकती है। बॉडी से नैचुरली सेलुलर प्रॉसेस के लिए मॉलिक्यूल प्रोयड्यूस होता है। एल्कोहॉल, टबैको, पूअर डायट और प्रदूषण के कारण शरीर में फ्री रेडिकल्स प्रोड्यूस हो सकते हैं। एंटीऑक्सीडेंट रिच डायट लेने से शरीर फ्री रेडिकल्स से आसानी से फाइट करने के लिए रेडी हो जाता है। एंटीऑक्सीडेंट जैसे कि विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई आदि को खाने में जरूर शामिल करें।

यह भी पढ़ें : रिसर्च : टार्ट चेरी जूस (tart cherry juice) से एक्सरसाइज परफॉर्मेंस में होता है इंप्रूवमेंट

लिवर साफ करने के उपाय : लहसुन का सेवन

लहसुन के खास गुण के कारण ही इसे खाने में यूज किया जाता है। गार्लिक लिवर को साफ करने में मदद करता है। लहसुन लिवर एंजाइम को एक्टिव करता है जो शरीर को टॉक्सिंस को बाहर निकालने में मदद करता है। लहसुन में एलिसिन और सेलेनियम पाया जाता है। ये दोनों यौगिक लिवर की सफाई के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। वैसे तो लहसुन का उपयोग खाने में किया जाता है, लेकिन आप रोजाना सुबह एक से दो लहसुन की कली पानी के साथ ले सकते हैं। अगर आप लहसुन का सेवन करते हैं तो ये आपके लिए बेहतरीन उपाय साबित हो सकता है।

अगर आपको लिवर की कोई भी समस्या है तो बेहतर होगा कि इस बारे में डॉक्टर से पहले बात करें। बिना डॉक्टर की सलाह से कोई उपाय न करें।

और पढ़ें : 

घी को अब न कहें अनहेल्दी, ये है एक सुपरफूड, जानें इस बारे में क्या कहते हैं हमारे एक्सपर्ट?

जानें क्यों होता है बिकनी लाइन का कालापन और इसे दूर करने के आसान उपाय

शेविंग के तुरंत बाद आ जाते हैं पिंपल? तो रखना होगा इन बातों का ध्यान

एड़ी में मोच और दर्द को दूर करने के लिए करें ये आसान एक्सरसाइज

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Budd-Chiari syndrome : बड चैरी सिंड्रोम क्या है?

जानिए बड चैरी सिंड्रोम क्या है in hindi, बड चैरी सिंड्रोम के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, Budd Chiari syndrome को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Anoop Singh
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z फ़रवरी 2, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

किसी को कैंसर, तो किसी को लिवर की समस्या, 2019 में ये रहे सेलिब्रिटी के हेल्थ इश्यू

साल 2019 में सेलिब्रिटी के हेल्थ इश्यू की जानकारी in hindi. इस साल सेलिब्रटी के हेल्थ इश्यू ने जहां एक ओर उनके फैंस को परेशान किया वहीं दूसरी ओर सेलिब्रटी के हौसले से फैंस की हिम्मत भी बढ़ी। celebrities health ssue

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Bhawana Awasthi
स्वास्थ्य बुलेटिन, लोकल खबरें दिसम्बर 25, 2019 . 5 मिनट में पढ़ें

Marsh marigold: मार्श मारीगोल्ड क्या है?

जानिए मार्श मारीगोल्ड की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, मार्श मारीगोल्ड उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक,marsh marigold डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
Written by Sunil Kumar
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल दिसम्बर 16, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

गर्भधारण से पहले शराब पीना क्यों है खतरनाक?

गर्भधारण से पहले शराब पीना क्यों तुरंत बंद करें जानिए in hindi, गर्भधारण से पहले शराब पीना शिशु को डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारी दे सकता है, Alcohol before consive क्यों छोड़ देना चाहिए?

Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
Written by Nidhi Sinha
प्रेग्नेंसी प्लानिंग, प्रेग्नेंसी दिसम्बर 9, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें