अगर आपको एक्सरसाइज के दौरान दमा के लक्षण (Asthma Symptoms) महसूस होते है, तो डॉक्टर से आपको बात कर के उन्हें टेस्ट करवाना चाहिए। ताकि आपमें इसके लक्षण आगे न बढ़ पाएं।

आपके डॉक्टर आपकी शारीरिक गतिविधि से पहले, आपकी ब्रिदिंग की जांच कर सकते हैं। वह यह चैक करेंगे कि आपके फेफड़े कैसे काम कर रहे हैं। इसके अलावा यह भी चैक करेंगे कि क्या एक्सरसाइज आपके अस्थमा के प्रॉब्लम (Asthma Problem) को ट्रिगर कर रहा है।

अस्थमा के मरीजों के लिए एक्सरसाइज के दोरान अगर प्रॅाब्लम बढ़ रही है, तो आपको अस्थमा एक्शन प्लान बनाने के लिए अपने चिकित्सक के साथ भी काम करना चाहिए। यानि कि आपको डाॅक्टर द्वारा बताए गए एक्सरसाइज रूटिन और मेडिकेशन (Medication) को फॉलो करें।

और पढ़ें: अस्थमा और हार्ट पेशेंट के लिए जरूरी है पूरे साल फेस मास्क का इस्तेमाल

अस्थमा के मरीजों के लिए एक्सरसाइज (Exercise of asthma patient) :इन बातों का रखें ध्यान

नियमित रूप से एक्सरसाइज हम सभी के लिए कितनी जरूरी है, यह हम सभी जानते हैं। यदि आपको एलर्जिक अस्थमा है, तो इन टिप्स को अपनाकर आप सुरक्षित एक्सरसाइज कर सकते हैं, जैसे कि:

दमा के मरीजों के लिए जरूरी है कि आप वो एक्सरसाइज के दौरान अपना खास ध्यान रखें। अधिक प्रॉबल्म होने पर डॉक्टर से मिलें।