home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

सिगार का सेवन करने से होने वाली सेहत संबंधी समस्याएं और जोखिम

सिगार का सेवन करने से होने वाली सेहत संबंधी समस्याएं और जोखिम

बहुत से लोगों को ऐसा लगता है,सिगार का सेवन (Cigar smoking) करना सिगरेट पीने की तुलना में सेहत के लिए कम नुकसानदायक होता है। आपको बता दें सिगार भी बाकी धूम्रपान की तरह ही नुकसानदायक होता है। सिगार में सिगरेट की अपेक्षा अधिक धुंआ होता है। सिगार में सिगरेट की तुलना में अधिक तंबाकू उपयोग किया जाता है। एक सिगार में जितना तंबाकू (Tobacco) भरा होता है,एक पैकेट सिगरेट में उतनी तंबाकू का उपयोग किया जाता है। एक सिगार में 100 से 200 मिलीग्राम निकोटीन होता है,जबकि एक सिगरेट में लगभग कुछ आठ मिलीग्राम निकोटीन होता है। सिगरेट का सेवन करने वाले लोग दिन भर में कई बार इसका सेवन करते हैं जबकि सिगार का सेवन करने वाले लोग सिगरेट की तुलना में कम उपयोग करते हैं। सिगार से निकलने वाला धुंआ सिगरेट की तुलना में अधिक होता है जिसके चलते ये कई बीमारियों का कारण हो सकता है।

और पढ़ें: यदि आप धूम्रपान बंद कर देते हैं तो जानें स्मोकिंग कैलक्युलेटर से कितने पैसे बचा सकते हैं

सिगार कितने प्रकार (Types of Cigar) के होते हैं?

साधारण रूप से सिगार तीन प्रकार के होते हैं, जो इस प्रकार से हैं-

बड़ा सिगार: एक बड़ा सिगार पीने में आम तौर पर एक से दो घंटे लगते हैं। जितना समय एक पैकेट सिगरेट पीने में लगता है। उतना समय एक बड़ी सिगार पीने में लगता है।

सिगारिलो (3–4 इंच): सिगारिलो तीन से चीर इंच का होता है, सिगारिलो में आमतौर पर लगभग 3 ग्राम तम्बाकू होता है और फिल्टर शामिल नहीं होता है।

छोटा सिगार: एक छोटा सिगार आमतौर पर सिगरेट के आकार के समान होता है और इसमें आमतौर पर एक फिल्टर लगा होता है।

[mc4wp_form id=”183492″]

सिगरेट और सिगार से जुड़े फैक्ट्स (Facts of Cigarette and Cigar)

आइए सिगार के बारे में कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों पर एक नजर डालें। जिसमें से कुछ आपको आश्चर्यचकित कर सकते हैं-

अधिक तंबाकू होता है

आम तौर पर एक सिगरेट में एक ग्राम से कम तंबाकू होता है, जबकि एक सिगार में 5 से 17 ग्राम तंबाकू होता है। जिससे यह साफ पता चलता है, सिगार का सेवन कई समस्याएं पैदा कर सकता है।

नशे की लत

जो लोग सिगार का सेवन (Cigar smoking) करते हैं, उनमें समय-समय पर सिगार के लिए मुँह में सलाइवा बनने लगता है। यह बहुत जल्दी इंसान की तलब को बढ़ा देता है जिससे धूम्रपान करने वाला व्यक्ति नशे की लत का शिकार हो जाता है और लगातार सिगार के माध्यम से निकोटीन अवशोषित करने लगता है। एक सिगार में निकोटीन की मात्रा सिगरेट से कई गुना अधिक होता है। एक सिगरेट में एक से दो मिलीग्राम निकोटीन होता है, जबकि एक सिगार में 100 से 200 मिलीग्राम निकोटीन होता है। वहीं कुछ सिगार में 400 मिलीग्राम से ज्यादा निकोटीन होता है।

सिगार के सेवन से होने वाली स्वास्थ्य समस्याएं

धूम्रपान चाहे किसी भी प्रकार का हो वह सेहत के लिए हानिकारक ही होता है। कुछ धूम्रपान सेहत पर कम प्रभाव डालते हैं तो कुछ सेहत पर अधिक प्रभाव डालते हैं। वैसे ही आज हम सिगार के सेवन से होने वाली स्वास्थ्य समस्याओं के बारे में बात करने वाले हैं। सिगार धूम्रपान से गंभीर स्वास्थ्य जोखिम होते हैं, जिनमें शामिल हैं।

और पढ़ें: तंबाकू का सेवन करने से आप और आपके परिवार को हो सकता है कोरोना का खतरा

कैंसर (Cancer)

सिगार में मौजूद तंबाकू के धुएं में ऐसे केमिकल होते हैं जो कैंसर का कारण बन सकते हैं नियमित रूप से सिगार का सेवन करने से मुंह, गले, ग्रासनली और स्वरयंत्र के कैंसर सहित कई प्रकार के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। सिगार का सेवन करने से ओरल कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। इसके साथ-साथ दांतों में सड़न हो सकती है जिससे मसूड़ों की बीमारी हो सकती है।

फेफड़े और हृदय रोग (Lungs & Heart disease)

नियमित रूप से सिगार के सेवन करने से फेफड़े के रोग का खतरा बढ़ जाता है, जिसमें एम्फाइजिमा और क्रॉनिक ब्रोंकाइटिस भी शामिल है। यह हृदय रोग के खतरे को भी बढ़ा सकता है, जैसे कि कोरोनरी धमनी रोग।

और पढ़ें: निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरिपी (NRT) की मदद से धूम्रपान छोड़ना होगा आसान, जानें इसके बारे में

इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Erectile dysfunction)

धूम्रपान के सेवन करने वाले लोगों में नपुंसक होने की संभावना अधिक होती है। क्योंकि धूम्रपान के प्रतिकूल प्रभाव धूम्रपान परिसंचरण, हार्मोन और तंत्रिका तंत्र पर होता है। सिगार धूम्रपान और विशेष रूप से सेकेंड हैंड धुएं के संपर्क में, विशेष रूप से स्तंभन के लिए महत्वपूर्ण कारक दिखाए गए हैं।

नोट: सिगरेट के सेवन करने वाले जब सिगार का सेवन करने लगते हैं तो वह उनके लिए अधिक हानिकारक हो सकता है। क्योंकि जिस प्रकार पहले आप सिगरेट के धुएं को सांस के माध्यम से अंदर लेते हैं, उसी प्रकार सिगार का धुंआ अंदर आपकी सांस के माध्यम से अंदर जाता है। जितना अधिक गहराई से आप सिगार का सेवन करते हैं, उतना अधिक उसके जोखिम बढ़ जाते हैं। हालांकि कभी-कभी सिगार का सेवन के स्वास्थ्य प्रभाव स्पष्ट नहीं होते हैं। सिगरेट का सेवन और सिगार का सेवन करने के बीच चयन करने के बजाय, तंबाकू को पूरी तरह से छोड़ने का प्रयास करना चाहिए।। तंबाकू का कोई सुरक्षित रूप नहीं है।

और पढ़ें: निकोटिन रिप्लेसमेंट थेरिपी (NRT) की मदद से धूम्रपान छोड़ना होगा आसान, जानें इसके बारे में

योग से पाएं आपकी खुशियों का रास्ता, जानें इस बारे में अधिक इस वीडियो के माध्यम से:

और पढ़ें: स्क्वामस सेल कार्सिनोमा: लंग कैंसर के इस टाइप के बारे में जानते हैं आप? स्मोकिंग है इसका पहला कारण

निकोटीन रिप्लेसमेंट थेरिपी (Nicotine replacement therapy)

सिगार का सेवन करने वालों के लिए सहायता के रूप में निकोटीन रिप्लेसमेंट थेरिपी (एनआरटी) की प्रभावशीलता पर बहुत सारे शोध तो नही हुए हैं। हालांकि, अगर आपको लगता है कि आप सिगार पर शारीरिक रूप से निर्भर हो गए हैं, तो आप निकोटीन के आदी हो गए हैं और निकोटीन रिप्लेसमेंट थेरिपी (Nicotine replacement therapy) इसमें आपकी मदद कर सकता है।

और पढ़ें: तंबाकू का सेवन करने से आप और आपके परिवार को हो सकता है कोरोना का खतरा

निकोटीन छोड़ना मुश्किल क्यों होता है?

यह केमिकल सभी तंबाकू उत्पादों में होता है। यह अस्थायी रूप से आपको शांत और संतुष्ट महसूस कराता है। इसके साथ ही आप अधिक सतर्क और फोकस्ड महसूस करते हैं। जितना अधिक आप धूम्रपान करते हैं, निकोटीन आपको उतना ही अच्छा महसूस कराता है। आप इसके बिना “सामान्य” महसूस नहीं करते हैं। इसको छोड़ना भी बहुत कठिन है, क्योंकि धूम्रपान आपके जीवन का एक बड़ा हिस्सा बन जाता है। जब तक इससे आपको बीमारी नहीं होती है, इसका सेवन करने वालों को यह बहुत सामान्य लगता है।

सिगार की लत कैसे रोकें

सिगार की लत को छुड़ाने के लिए आप किसी नशा मुक्ति केंद्र या चिकित्सक, मेडिकेशन की मदद ले सकते हैं।

ऊपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

ब्रिटेन में हुए एक रिसर्च के अनुसार उन बच्चों को धूम्रपान की लत लगने की ज्यादा आशंका होती है, जिन्होंने एक बार भी सिगरेट पी हो। इसलिए स्मोकिंग या सिगार का सेवन कभी भी ना करें। अगर आपको स्मोकिंग की आदत लग गई है, तो इससे दूर रहें। क्योंकि शायद आप इसे अपने तनाव को दूर करने के लिए या फिर दोस्तों का साथ देने के लिए कर रहें हों पर आप गंभीर बीमारियों को भी न्योता दे रहें हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Absorption of nicotine by man during cigar smoking https://europepmc.org/backend/ptpmcrender.fcgi?accid=PMC1667943&blobtype=pdf Accessed on 17-08-2020

Cigars https://www.cdc.gov/tobacco/data_statistics/fact_sheets/tobacco_industry/cigars/index.htmAccessed on 17-08-2020

Surveillance of Nicotine and pH in Cigarette and Cigar Filler https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5628511/Accessed on 17-08-2020

Is Any Type of Smoking Safe? https://www.cancer.org/cancer/cancer-causes/tobacco-and-cancer/is-any-type-of-smoking-safe.htmlAccessed on 17-08-2020

 

लेखक की तस्वीर badge
shalu द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 17/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड